Teneligliptin: टेनेलिग्लिप्टिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Medically reviewed by | By

Update Date जुलाई 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

जानिए मूल बातें

टेनेलिग्लिप्टिन (Teneligliptin) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

टेनेलिग्लिप्टिन प्रॉपर डाइट और एक्सरसाइज प्रोग्राम के साथ हाई ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए टेनेलिग्लिप्टिन का इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे लोग जिन्हें टाइप 2 डायबिटीज है तो उनमें यह दवा इस्तेमाल की जाती है। हाई ब्लड शुगर को कंट्रोल करने से किडनी की समस्या, अंधापन, नर्व की समस्या, सेक्शुअल प्रॉब्लम आदि को रोकने में मदद मिलती है। सही तरीके से डायबिटीज को कंट्रोल करने से हार्ट अटैक या स्ट्रोक के खतरे को कम किया जा सकता है।

टेनेलिग्लिप्टिन एक डायबिटीज ड्रग है जो नैचुरल पदार्थ इंक्रेटिन (Incretin) के लेवल को बढ़ाने का काम करता है। आपको बता दें कि इंक्रेटिन इंसुलिन के रिलीज को बढ़ाकर ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में मदद करता है। इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें : Disodium hydrogen citrate : डाईसोडियम हाइड्रोजन साइट्रेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

मैं टेनेलिग्लिप्टिन (Teneligliptin) का कैसे इस्तेमाल करूं?

टेनेलिग्लिप्टिन को शुरू करने से पहले फार्मासिस्ट द्वारा प्रदान किए गए रोगी सूचना पत्रक (Patient information leaflet) को पढ़ें। डॉक्टर के निर्देश के अनुसार इस दवा को रोजाना एक बार भोजन के साथ या बिना भोजन के खाएं। इस दवा की खुराक आपकी मेडिकल स्थिति, आप इलाज के प्रति कितने संवेदनशील है और आप जो भी दवाइयां ले रहें हैं, इस बात पर निर्भर करता है।

इस दवा के ज्यादा फायदे लेने के लिए आप इसका नियमित रूप से इस्तेमाल करें। याद रखें इस दवा को रोजाना एक ही समय पर लें। इसके अलावा डॉक्टर द्वारा बताए गए एक्सरसाइज प्रोग्राम, डाइट प्लान को ध्यानपूर्वक फॉलो करें।

डॉक्टर के निर्देश के अनुसार अपने ब्लड शुगर को नियमित रूप से चेक करें। इस रिजल्ट को अपने पास रखें और अपने डॉक्टर से शेयर करें। अगर आपका ब्लड शुगर बहुत अधिक है या बहुत कम है तो इस बारे में डॉक्टर से बात करें।

मैं टेनेलिग्लिप्टिन (Teneligliptin) को कैसे स्टोर करूं?

टेनेलिग्लिप्टिन को प्रकाश और नमी से दूर कमरे के तापमान पर स्टोर करना बेहतर होता है। टेनेलिग्लिप्टिन को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह में न रखें। मार्केट में टेनेलीग्लिप्टिन के अलग-अलग ब्रांड हैं जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा-निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। जब भी इस दवा को खरीदें सबसे पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने फार्मासिस्ट से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

बिना निर्देश के टेनेलिग्लिप्टिन को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुका है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है तो इसे नष्ट कर दें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने फार्मासिस्ट से संपर्क कर सकते हैं।

सावधानियां एवं चेतावनी

टेनेलिग्लिप्टिन (Teneligliptin) के इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

अगर आपको इस दवा से एलर्जी है या किसी दूसरी तरह की एलर्जी है तो इस दवा को इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर को बताएं। इस दवा में कुछ निष्क्रिय सामग्री होती है जिससे एलर्जी या दूसरी तरह की समस्या होती है। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर को बताएं।

इस दवा को शुरू करने से पहले अपने मेडिकल हिस्ट्री के बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं खासकर अगर पैंक्रियाज की बीमारी (पैंक्रियाटाइटिस), गालब्लैडर में पथरी (गालस्टोन, gallstone), या हार्ट फेलियर आदि हो।

बहुत कम या बहुत ज्यादा ब्लड शुगर के कारण आपको धुंधला दिखाई देना, सुस्ती या सिर चकराने की समस्या हो सकती है। ऐसी स्थिति में जब तक आप यह सुनिश्चित ना कर लें कि आप सुरक्षित हैं, तब तक आप ना तो ड्राइव करें, ना ही कोई मशीनरी इस्तेमाल करें और ना कोई ऐसा काम करें जिसमें सतर्क रहने की जरूरत हो।

सर्जरी होने के पहले आप अपने डॉक्टर या डेंटिस्ट को उन दवाइयों (जिसमें प्रिस्क्रिप्शन ड्रग, नॉनप्रिस्क्रिप्शन ड्रग और हर्बल प्रोडक्ट शामिल हैं) के बारे में बताएं जिसका आप इस्तेमाल कर रहें हैं। 

और पढ़ें – Chlorzoxazone : क्लोरजोक्सॉन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स सावधानियां

जानिए इसके साइड इफेक्ट

टेनेलिग्लिप्टिन (Teneligliptin) के इस्तेमाल से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इस दवा को इस्तेमाल करने से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हैं;

सभी लोगों को ये सारे साइड इफेक्ट्स महसूस नहीं होते हैं। हालांकि, यहां कुछ साइड इफेक्ट्स के बारे में नहीं बताया गया है। अगर आपको इन साइड इफेक्ट्स को लेकर कोई चिंता है तो इस बारे में अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें।

और पढ़ें – चिचिण्डा के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Snake Gourd (Chinchida)

इन जरूरी बातों को जानें

कौन सी दवाएं टेनेलिग्लिप्टिन (Teneligliptin) के साथ नहीं ली जा सकती हैं?

अगर आप वर्तमान में कोई दवा ले रहें हैं तो टेनेलिग्लिप्टिन उसके साथ इंटरैक्ट कर सकता है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित होगा या फिर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इसको रोकने के लिए आप उन दवाओं (जिनमें प्रिस्क्रिप्शन ड्रग, नॉनप्रिस्क्रिप्शन ड्रग और हर्बल प्रोडक्ट शामिल हैं) की लिस्ट रखें और उन्हें डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ शेयर करें। सुरक्षा के लिहाज से आप बिना डॉक्टर के सहमति के ना तो कोई दवा अपने आप शुरू करें और ना ही बंद करें और ना ही उसकी खुराक को बदलें।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान टेनेलिग्लिप्टिन (Teneligliptin) लेना सुरक्षित है?

महिलाओं में प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान टेनेलीग्लिप्टिन के इस्तेमाल को लेकर अभी पर्याप्त जानकारी नहीं है। टेनेलीग्लिप्टिन का इस्तेमाल करने से पहले इसके फायदों और नुकसान को लेकर डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें। प्रेग्नेंसी के दौरान आप इस दवा का तभी इस्तेमाल करें जब इसकी जरूरत हो क्योंकि प्रेग्नेंसी की वजह से डायबिटीज की समस्या बढ़ सकती है। इसलिए प्रेग्नेंसी के दौरान ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने के लिए आप डॉक्टर से चर्चा करें।

यह दवा ब्रेस्ट मिल्क में प्रवेश करती है या नहीं इस बारे अभी पर्याप्त जानकारी मौजूद नहीं है। इसलिए ब्रेस्टफीडिंग कराने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

टेनेलिग्लिप्टिन (Teneligliptin) का इस्तेमाल करने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

टेनेलीग्लिप्टिन आपकी स्वास्थ्य स्थिति के साथ इंटरैक्ट कर सकती है। इस वजह से आपकी स्वास्थ्य स्थिति और अधिक खराब हो सकती है या साइड इफेक्ट्स होने का खतरा बढ़ सकता है। इसलिए अपने मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति के बारे में  या फार्मासिस्ट को बताएं।

क्या भोजन और एल्कोहॉल के साथ टेनेलिग्लिप्टिन (Teneligliptin) लेना सुरक्षित है?

यह दवा आपके भोजन या एल्कोहॉल के साथ इंटरैक्ट कर सकती है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित हो सकता है या फिर आपकी स्वास्थ्य स्थिति और अधिक खराब हो सकती है। इसलिए भोजन और एल्कोहॉल के साथ इस दवा को इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें – अस्थिसंहार के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Hadjod (Cissus Quadrangularis)

डॉक्टर की सलाह

टेनेलिग्लिप्टिन (Teneligliptin) कैसे उपलब्ध होता है? 

टेनेलिग्लिप्टिन निम्नलिखित खुराक और क्षमता में उपलब्ध है;

  • टैबलेट 20 मिलीग्राम- इसे रोज लेने की सलाह दी जाती है।
  • यदि दवा असर नहीं कर रही है तो इसकी खुराक को बढ़ाकर 40 मिलीग्राम किया जा सकता है।

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में आप अपने लोकल इमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या नजदीकी इमरजेंसी वार्ड में जाएं। 

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर आप टेनलीग्लिप्टिन की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें। डबल खुराक ना लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

High Triglycerides : हाई ट्राइग्लिसराइड्स क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

हाई ट्राइग्लिसराइड्स (High Triglycerides) की जानकारी in hindi, उसके निदान और उपचार, कारण, लक्षण, घरेलू उपचार, High Triglycerides के खतरे के बारे में जानें |

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Ankita Mishra
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

ब्रिटल डायबिटीज (Brittle Diabetes) क्या होता है, जानिए क्या रखनी चाहिए सावधानी ?

ब्रिटल डायबिटीज की समस्या होने पर ब्लड में ग्लूकोज के लेवल में स्विंग यानी बदलाव आने शुरू हो जाते हैं। ब्रिटल डायबिटीज की समस्या रेयर होती है, लेकिन इससे सावधानी जरूरी है। Brittle diabetes

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Bhawana Awasthi
हेल्थ सेंटर्स, डायबिटीज मई 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

एलएडीए डायबिटीज क्या है, टाइप-1 और टाइप-2 से कैसे है अलग

एलएडीए डायबिटीज एक ऑटोइम्यून रिएक्शन है, जो कि मधुमेह का ही एक प्रकार है। आइए, जानते हैं कि, यह टाइप-1 डायबिटीज और टाइप-2 डायबिटीज से कैसे अलग है।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Surender Aggarwal
हेल्थ सेंटर्स, डायबिटीज मई 26, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

डबल डायबिटीज की समस्या के बारे में जानकारी होना है जरूरी, जानिए क्या रखनी चाहिए सावधानी

डबल डायबिटीज की जानकारी in hindi. डबल डायबिटीज की समस्या में व्यक्ति के शरीर में टाइप 1 डायबिटीज के साथ ही इंसुलिन रजिस्टेंस भी उत्पन्न हो जाता है। Double diabetes, Insulin

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Bhawana Awasthi
हेल्थ सेंटर्स, डायबिटीज मई 26, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

इंसुलिन रेजिस्टेंट

क्या आप जानते हैं वजन, बीपी और कोलेस्ट्रोल बढ़ने से इंसुलिन रेजिस्टेंस भी बढ़ सकता है?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
Published on जुलाई 10, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
डायबिटिक न्यूरोपैथी

जानें क्या है डायबिटिक न्यूरोपैथी, आखिर क्यों होती है यह बीमारी?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
Published on जुलाई 9, 2020 . 8 मिनट में पढ़ें
ग्लिजिड एम (Glizid M)

Glizid M : ग्लिजिड एम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
Published on जुलाई 3, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
खरबूज - Melon

खरबूज के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Muskmelon (Kharbuja)

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Ankita Mishra
Published on जून 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें