Makhana : मखाना क्या है?

Medically reviewed by | By

Update Date मई 21, 2020
Share now

परिचय

मखाना क्या है?

मखाना सूखा मेवा है जिसे फॉक्स नट्स के नाम से जाना जाता है। इसे आर्गेनिक हर्ब भी कहते हैं क्योंकि इसे बिना किसी रासायनिक खाद या कीटनाशक के मदद से उगाया जाता है। ज्यादातर इसका प्रयोग मिठाइयों में होता है। मखाना खाने के फायदे बहुत है क्योंकि मखाने में प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम और सोडियम पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। 100 ग्राम मखाने में 350 कैलोरी होती।

मखाना में पोषण तत्व अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं, जो आपके लिए एक परफेक्ट हेल्दी स्नैक हो सकता है। अगर कोई अपना वजन घटाना चाहता है तो मखाना खाना उसके लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके अलावा मखाना बहुत कम कैलोरी का होता है। 100 ग्राम मखाना में 347 कैलोरी पाई जाती है। इसके अलावा 100 ग्राम मखाने में निम्न न्यूट्रीशन पाए जाते हैं : 

यह भी पढ़ें : गाय, भैंस ही नहीं गधे और सुअर के दूध में भी छुपा है पोषक तत्वों का खजाना

मखाना कैसे काम करता है?

आयुर्वेद के अनुसार, मखाना (Makhana) शरीर को ठंडा और शांति देने वाला होता है । मखाना (Makhana) गर्भधारण करने में मदद पहुंचाता है साथ ही मखाने में मौजूद प्रोटीन मसल्स बनाने और फिट रखने में मदद करता है।

यह भी पढ़ें : Papaya : पपीता क्या है?

उपयोग

मखाना (Makhana) के उपयोग

  • बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करने के लिए
  • स्ट्रेस दूर करने मे
  • मांसपेशियों की मजबूती
  • दिल से जुडी बीमारियों को दूर करने के लिए
  • मखानों में कोलेस्ट्रॉल, सोडियम और फैट कम मात्रा में होता है। इसलिए भूख लगने पर यह नाश्ते का आदर्श विकल्प साबित हो सकता है। 
  • मखानों में मैग्नीशियम काफी उच्च मात्रा में वहीं सोडियम काफी काम मात्रा में पाया जाता है। यही कारण है कि यह हृदय रोग और मोटापे से पीड़ित लोगों के बेहद फायदेमंद होता है। 
  • मखाने में कैल्शियम और आयरन भरपूर मात्रा में होने के कारण गर्भवती को मखाना दिया जाता है। यह गर्भवती महिलाओं में उच्च रक्तचाप और मधुमेह रोकने में मदद करता है। 
  • कहा जाता है मखाने कॉफी की लत छुड़ाने में भी मदद कर सकते हैं। 
  • उच्च मात्रा में कैल्शियम होने के कारण यह हड्डी और दांतों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। 
  • मखाना ब्लड में धीरे-धीरे ग्लूकोज छोड़ते हैं। जिससे लंबे समय तक भूख नहीं लगती। इसलिए यह वजन घटाने में मदद करता है। 
  • मखानों में फाइबर भरपूर मात्रा में होता है, जो कि हाजमे को अच्छा रखने लिए काफी फायदेमंद होता है। 
  • मखाना शीघ्रपतन से बचता है और वीर्य की गुणवत्ता और मात्रा को बढ़ाने में मदद करता है।
  • मखाने में एस्ट्रिंजेंट नामक तत्त्व होता है जो किडनी की बीमारी को दूर रखने में आपकी मदद करता है।

सावधानियां और चेतावनी

मखाना का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट या हर्बलिस्ट से परामर्श करें, यदि:

  • अगर आप प्रेगनेंट है या उसके बारे में सोच रही है, या फिर बच्चे को दूध पिला रही है, तो इस दौरान आपको डॉक्टर से बात करनी चाहिए क्योंकि इस अवस्था मे आपको डॉक्टर की बताई दवाओं का ही सेवन करना चाहिए। हालांकि, आयुर्वेद के अनुसार, यह शरीर को ठंडा और शांति देने वाला होता है और गर्भधारण करने में मदद पहुंचाता है, 
  • आप डॉक्टरी सलाह या बिना किसी सलाह वाली दवाओं का सेवन कर रही है 
  • आपको मखाना या उसके किसी सबटेंस, दवा या किसी अन्य जुड़ी बूटी से कोई एलर्जी तो नहीं
  • आपको किसी दूसरी चीजों से एलर्जी तो नहीं जैसे, खाने,रंग, खाने को सुरक्षित रखने वाले पदार्थ या जानवरों से।

किसी भी हर्बल के सेवन करने के नियम उतने ही सख्त होते है जितने कि अंग्रेजी दावा के । सुरक्षा के लिहाज से अभी इसमें और अध्ययन की जरूरत है। हर्बल सप्पलीमेंट के सेवन से होने वाले फायदे से पहले आपको इसके खतरों को समझ लेना चाहिए। ज्यादा जानकारी के लिए अपने हर्बल एक्सपर्ट से बात कीजिये।

यह भी पढ़ें : Marijuana : मारिजुआना क्या है?

साइड इफेक्ट

मखाना के इस्तेमाल से मुझे क्या साइड इफेक्ट हो सकते है?

मखाना खाने के कई स्वास्थ्य लाभ हैं। लेकिन जब कोई चीज ज्यादा मात्रा में खाई जाती है तो उसके नुकसान भी हैं। इसी तरह मखाना खाने पर आपको भी कुछ साइड इफेक्ट्स का सामना करना पड़ सकता है।  

एलर्जी

कई लोगों को मखाने से एलर्जी होती है। अगर आपको मखाने का सेवन करने पर एलर्जी के कोई भी लक्षण दिखाई देते हैं तो आप तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें। 

यह भी पढ़ें : बॉडी पार्ट जैसे दिखने वाले फूड, उन्हीं अंगों के लिए होते हैं फायदेमंद भी

एंटी एरिदमिक

मखाना की एंटी एरिदमिक होती है। अगर किसी भी व्यक्ति का एरिदमिया का इलाज चल रहा है तो तो मखाना का सेवन नहीं करना चाहिए। इस संबंध में आपको अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

ब्लड शुगर लेवल

मखाना शरीर में ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद करता है। डायबिटीज के मरीज को मखाना डॉक्टर से परामर्श पर ही खाना चाहिए। क्योंकि अगर पेशेंट को इंसुलिन की दवा दी जा रही है तो उसका शुगर लेवल और भी अधिक कम हो जाएगा। 

यह भी पढ़ें : कोकोनट वॉटर से वेट लॉस होता है, क्या आप इस बारे में जानते हैं?

कब्ज की शिकायत

अधिक मात्रा में मखाना का सेवन करने से कब्ज, पेट फूलना और सूजन की समस्या हो सकती है। अगर आप पहले से ही कब्ज से पीड़ित हैं, तो मखाना खाने से आपको बचना चाहिए। 

मात्रा/ डोज़

मखाना के सेवन की सामान्य खुराक क्या है?

  • रात को सोने से पहले दूध के साथ मखाना लेने से नींद अच्छी आती है. साथ ही स्ट्रेस भी कम होता है.
  • इसके औषधीय गुणों के चलते अमरीकन हर्बल फूड प्रोडक्ट एसोसिएशन द्वारा इसे क्लास वन फूड का दर्जा दिया गया है । यह जीर्ण अतिसार, ल्यूकोरिया, शुक्राणुओं की कमी की समस्या में कारगर सिद्ध हो सकता है ।
  • यह एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर है। इसलिए श्वसनतंत्र, ब्लेडर एवं जनन तंत्र से संबंधित बीमारियों में यह लाभप्रद होता है। 
  • मखाना का नियमित सेवन करने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल और कमर और घुटने के दर्द में आराम रहता है। 
  • प्रसव के बाद महिलाओं में आई कमजोरी को दूर करने के लिए इसे दिया जाता है 

दी गई किसी भी जानकारी को मेडिकल एडवाइस के रूप में ना देखे । उपयोग से पहले अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से अपनी सही खुराक के बारे में बात करे।

मखाना किस रूप में आता है? 

  • मखाना सूखे मेवे के रूप में आता है

 


हेल्लो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

और पढ़ें:-

रुजुता दिवेकर : नवरात्रि व्रत के दौरान खाने में जरूर शामिल करें ये फूड्स

एलर्जी से हैं परेशान? तो खाएं ये पावर फूड

घर पर ही शानदार बाइसेप्स और ट्राइसेप्स कैसे बनाएं?

5 भारतीय फूड जो शरीर को स्वस्थ रखने में हैं मददगार

संबंधित लेख:

सूत्र

How to have makhana for weight loss and 5 other health benefits https://timesofindia.indiatimes.com/life-style/health-fitness/weight-loss/how-to-have-makhana-for-weight-loss-and-5-other-health-benefits/photostory/70213235.cms  Accessed 27/1/2020

Makhana: The wonder food that comes with weight loss and heart benefits https://www.thehealthsite.com/fitness/diet/makhana-the-wonder-food-that-comes-with-weight-loss-and-heart-benefits-677086/ Accessed 27/1/2020

Current Advances in the Metabolomics Study on Lotus Seeds https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4913082/ Accessed 27/1/2020

The Power of the Lotus https://www.healthline.com/health/8-uses-for-lotus Accessed 27/1/2020

Lotus seeds facts and health benefits https://www.healthbenefitstimes.com/lotus-seeds/ Accessed 27/1/2020

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Jewelweed: जुअलवीड क्या है?

जुअलवीड क्या है? jewelweed का इस्तेमाल किसलिए किया जाता है? किन लोगों को जुअलवीड का प्रयोग नहीं करना चाहिए? जानिए इसके साइड इफेक्ट्स...

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Mona Narang

Palm Oil : ताड़ का तेल क्या है ?

जानिए ताड़ का तेल की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, ताड़ का तेल के उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, Palm Oil डोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

Medically reviewed by Dr. Abhishek Kanade
Written by Nikhil Kumar

कृष्ण जन्माष्टमी व्रत के पहले और बाद में बरतें ये सावधानियां

 कृष्ण जन्माष्टमी का पावन पर्व आ चुका है और हम सभी इस पर्व को उत्साह के साथ मनाने की तैयारी कर रहे हैं। ये पर्व कृष्ण जी के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है। व्रत के दौरान सही खानपान लें।

Medically reviewed by Dr. Shruthi Shridhar
Written by Bhawana Awasthi
फन फैक्ट्स अगस्त 22, 2019

पढ़ें मखाना खाने के फायदे, शायद नहीं होगा पता

जानिए मखाना खाने के फायदे in Hindi, मखाने के फायदे, Benefits of Makhana, प्रेगनेंसी में मखाना खाने के फायदे, दूध और मखाने खाने के फायदे, खाली पेट मखाने खाने के फायदे, मखाने खाने का तरीका।

Medically reviewed by Dr. Pooja Bhardwaj
Written by Aamir Khan