Breast biopsy: ब्रेस्ट बायोप्सी क्या है?

By Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar

परिभाषा

ब्रेस्ट बायोप्सी (Breast biopsy) क्या है?

ब्रेस्ट बायोप्सी एक प्रक्रिया है जिसमें आपका डॉक्टर ब्रेस्ट टिशू के छोटे से हिस्से का नमूना लेकर उसे लैबोरेट्री में जांच के लिए भेजता है।

ब्रेस्ट बायोप्सी ब्रेस्ट के संदिग्ध हिस्से का मूल्यांकन यह पता लगाने के लिए किया जाता है कि कहीं वह ब्रेस्ट कैंसर तो नहीं है। ब्रेस्ट बायोप्सी की प्रक्रिया कई तरह की होती है।

ब्रेस्ट बायोप्सी में ब्रेस्ट टिशू का नमूना मिलता है जिसके आधार पर डॉक्टर उन सेल्स की असामान्यातओं की जांच करता है जिससे ब्रेस्ट में गांठ बनी है, इसके अलावा ब्रेस्ट में होने वाले अन्य बदलाव, या मैमोग्राम या अल्ट्रासाउंड के विषय में संदिग्ध निष्कर्ष का मूल्यांकन और निदान करता है। ब्रेस्ट बायोप्सी की लैब रिपोर्ट की मदद से डॉक्टर यह निर्धारित करता है कि आपको अतिरिक्त सर्जरी या अन्य उपचार की आवश्यकता है या नहीं।

यह भी पढ़ें : HCG Blood Test: जानें क्या है एचसीजी ब्लड टेस्ट?

ब्रेस्ट बायोप्सी (Breast biopsy) क्यों की जाती है?

ब्रेस्ट बायोप्सी करने के कई कारण हैंः

  • आपको या आपके डॉक्टर को आपके ब्रेस्ट में गांठ या कुछ सख्त महसूस होता है और डॉक्टर को ब्रेस्ट कैंसर का संदेह हो
  • आपके मैमोग्राम में ब्रेस्ट का संदिग्ध हिस्सा दिखता है
  • अल्ट्रासाउंड में संदिग्ध हिस्सा दिखता है
  • ब्रेस्ट MRI में भी संदिग्ध हिस्से का पता चलता है
  • आपके निप्पल या एरयोलर में असामान्य बदलाव, जिसमें क्रस्टिंग, स्केलिंग, डिंपलिंग स्किन या ब्लड डिस्जार्च होना शामिल है।

यह भी पढ़ें : 5 Steps: ब्रेस्ट कैंसर की जांच ऐसे करें

एहतियात/चेतावनी

ब्रेस्ट बायोप्सी (Breast biopsy) से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

कुछ सामान्य जानकारी है जिसके बारे में आपको ब्रेस्ट बायोप्सी से पहले पता होना चाहिएः

ब्रेस्ट बायोप्सी के साथ जुड़े जोखिमों में शामिल हैं:

  • ब्रेस्ट में सूजन या उभार ज़्यादा होना
  • संक्रमण या बोयप्सी साइट से खून आना
  • ब्रेस्ट में बदलाव, यह इस बात पर निर्भर करता है कि कितने टिशू निकाले गए हैं और ब्रेस्ट कैसे ठीक हो रहा है।
  • अतिरिक्त सर्जरी और अन्य उपचार, बायोप्सी के परिणामों पर निर्भर करते हैं
  • यदि आपको बुखार आ रहा है, बायोप्सी साइट पर लाल या गर्म महसूस हो, या बायोप्सी वाली जगह से असामान्य रिसाव हो, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। यह संक्रमण के संकेत हो सकते हैं, जिसका तुरंत उपचार किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें: ब्रेस्ट कैंसर से डरें नहीं, आसानी से इससे बचा जा सकता है

प्रक्रिया

ब्रेस्ट बायोप्सी के लिए कैसे तैयारी करें?

ब्रेस्ट बायोप्सी से पहले अपने डॉक्टर को बताएं यदि आपकोः

  • किसी तरह की एलर्जी है
  • पिछले 7 दिनों में एस्प्रिन लिया हो
  • ब्लड थिनर दवाइयां (एंटीकोआगुलेंट्स) ले रहे हैं
  • ज्यादा देर तक पेट के बल नहीं सो सकतें

यदि आपकी बायोप्सी मैग्नेटिक रेज़ोनेंस इमेजिंग (MRI) के इस्तेमाल से की जानी है, तो अपने डॉक्टर को बताएं कि आपके पास कार्डिएक पेसमेकर या आपके शरीर में कोई इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस तो प्रत्यारोपित नहीं है। यदि आप प्रग्नेंट है या आपको लगता है कि शायद आप प्रेग्नेंट हैं, तो डॉक्टर को बताएं। क्योंकि आमतौर पर इन हालातों में MRI की सलाह नहीं दी जाती है।

अपॉइन्मेंट के दिन ब्रा पहनें। आपकी हेल्थ केयर टीम बायोप्सी प्रक्रिया के बाद उस जगह पर कोल्ड पैक रख सकती है और ब्रा कोल्ड पैक को उसी स्थान पर बने रहने में मदद करने के साथ ही ब्रेस्ट को भी सपोर्ट करेगी।

ब्रेस्ट बायोप्सी (Breast biopsy) के दौरान क्या होता है?

सर्जिकल बायोप्सी के दौरान आपके ब्रेस्ट मास का एक हिस्सा जांच के लिए निकाला जाता है। सर्जिकल बायोप्सी ऑपरेशन थिएटर में की जाती है। आपको बेहोश किया जाता है और लोकल एनेस्थीसिया से ब्रेस्ट को सुन्न किया जाता है।

यदि आपका ब्रेस्ट मास महसूस नहीं होता है, तो रेडियोलॉडिस्ट वायर लोकलाइज़ेशन नामक तकनीक का इस्तेमाल करके सर्जन को मास के रास्ते का मैप दिखाएगा। वायर लोकलाइजेशन के दौरान एक पतली तार की नोक ब्रेस्ट मास के अंदर या इसके माध्यम से डाली जाती है। यह आमतौर पर सर्जरी से तुरंत पहले किया जाता है।

सर्जरी के दौरान सर्जन तार के साथ ही पूरे ब्रेस्ट मास को निकालने का प्रयास करता है। पूरा मास निकाल लिया गया है या नहीं यह सुनिश्चित करने के लिए टिशू को हॉस्पिटल लैब में भेजा जाता है जिससे इस बात की पुष्टि होती है कि ब्रेस्ट कैंसर का पता चला या नहीं। मार्जिन्स (पॉजिटिव मार्जिन्स) में कैंसर सेल्स मौजूद हैं या नहीं यह पता लगाने के लिए मास के किनारों का मूल्यांकन किया जाता है।

यदि मार्जिन्स में कैंसर सेल्स हैं, तो आपको एक और सर्जरी के लिए कहा जाएगा ताकि और टिशू निकाले जा सकें। यदि मार्जिन्स क्लियर है, तो इसका मतलब है कैंसर को हटा दिया गया है।

ब्रेस्ट बायोप्सी (Breast biopsy) के बाद क्या होता है?

इस प्रकिया के बाद आपको बैंडेज लगते हैं और बायोप्सी वाली जगह पर आइस पैक के साथ ही आपको घर आना होगा। आपको थोड़ा आराम की जरूरत है। वैसे एक दिन के अंदर ही आप अपना सामान्य काम कर सकते हैं। कोर बायोप्सी प्रक्रिया के बाद ब्रूज़िंग (चोट का निशान) आम बात है।

ब्रेस्ट बायोप्सी के बाद दर्द और असुविधा को कम करने के लिए, आप एसिटामिनोफेन युक्त गैर-एस्पिरिन दर्द निवारक दवा ले सकते हैं और सूजन को कम करने के लिए ठंडा पैक इस्तेमाल कर सकते हैं।

ब्रेस्ट बायोप्सी के बारे में किसी तरह का प्रश्न होने पर और उसे बेहतर तरीके से समझने के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

परिणामों को समझें

मेरे रिजल्ट का क्या मतलब है?

पैथोलॉजी रिपोर्ट में सेल्स के नमूनों के आकार और निरंतरता, बायोप्सी साइट के स्थान और क्या कैंसर, नॉनकैंसरस या प्री कैंसरस सेल्स मौजूद हैं, के बारे में विस्तार से बताया जाता है।

यदि आपके ब्रेस्ट बायोप्सी का परिणाम ब्रेस्ट में सामान्य या सौम्य बदलाव दिखाता है, तो आपके डॉक्टर को यह देखने की जरूरत है कि क्या रेडियोलॉजिस्ट और पैथोलॉजिस्ट रिपोर्ट से सहमत हैं या नहीं। कई बार इन दोनों विशेषज्ञों की राय अलग हो सकती है। उदाहरण के लिए, आपके रेडियोलॉजिस्ट को मैमोग्राम रिजल्ट में अधिक संदिग्ध घाव जैसे ब्रेस्ट कैंसर या प्रीकैंसरस घाव का पता चलता है, लेकिन आपकी पैथोलॉजी रिपोर्ट में ब्रेस्ट टिशू सामान्य आते हैं, तो ऐसे में आपको दूसरी सर्जरी की ज़रूरत होगी ताकि और टिशू निकालकर उस हिस्से का मूल्यांकन किया जा सके।

यदि आपकी पैथोलॉजी रिपोर्ट में ब्रेस्ट कैंसर की पुष्टि होती है, तो इसमें कैंसर के बारे में जानकारी होगी, जैसे कि आपको किस तरह का ब्रेस्ट कैंसर है। इसके अलावा कैंसर हार्मोन रिसेप्टर पॉज़िटिव है या निगेटिव इस बारे में जानकारी शामिल होती है। इसके आधार पर आप और आपका डॉक्टर आपकी ज़रूरत के अनुसार उपचार योजना बना सकते हैं।

सभी लैब और अस्पताल के आधार पर ब्रेस्ट बायोप्सी की सामान्य सीमा अलग-अलग हो सकती है। परीक्षण परिणाम से जुड़े किसी भी सवाल के लिए कृपया अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी तरह की चिकित्सा सलाह, निदान और उपचार प्रदान नहीं करता है।

और पढ़ें: Skin biopsy: जानें स्किन बायोप्सी क्या है?

अभी शेयर करें

रिव्यू की तारीख सितम्बर 20, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया सितम्बर 20, 2019

सूत्र