Valerian : वेलेरियन क्या है?

By Medically reviewed by Dr. Pooja Bhardwaj

उपयोग

वेलेरियन किस लिए उपयोग किया जाता है?

वेलेरियन का इस्तेमाल निम्नलिखित चिकित्सा स्थितियों के लिए किया जाता है, जैसे:

  • नींद संबंधी विकार, विशेष रूप से सोने में असमर्थता (अनिद्रा)
  • चिंता और तनाव
  • नर्वस अस्थमा
  • हिस्टीरिकल स्टेट्स
  • उत्तेजना
  • बीमारी का डर (हाइपोकॉन्ड्रिया)
  • सिर दर्द
  • माइग्रेन
  • पेट खराब
  • डिप्रेशन
  • हल्के झटके
  • मिरगी
  • ध्यान लगाने में दिक्कत
  • एक बीमारी जिसमे गहन थकान, नींद की असामान्यता और दर्द होता है
  • मांसपेशियों और जोड़ों का दर्द
  • मासिक धर्म और रजोनिवृत्ति से जुड़े लक्षण

जब वेलेरियन हॉप्स को नींबू बाम, या अन्य जड़ी-बूटियों के साथ मिलाकर बनाया जाता है तो, यह तंद्रा, के उपचार में सहायक होता है । बेचैनी और नींद की बीमारी के दौरान भी कभी कभी वेलेरियन को नहाने के पानी में मिलाया जाता है।

इसके और भी उपयोग है । ज्यादा जानकारी के लिए डॉक्टर या हर्बलिस्ट से बात करे ।

यह कैसे काम करता है?

वेलेरियन मस्तिष्क और नर्वस सिस्टम पे एक दर्द निवारक या शामक की तरह काम करता है। अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से बात करें।

यह भी पढ़ें : Calendula: केलैन्डयुला क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

वेलेरियन का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट या हर्बलिस्ट से परामर्श करें, यदि:

  • अगर आप प्रेगनेंट है या उसके बारे में सोच रही है, या फिर बच्चे को दूध पिला रही है, तो इस दौरान आपको डॉक्टर से बात करनी चाहिए क्योंकि इस अवस्था मे आपको डॉक्टर की बताई दवाओं का ही सेवन करना चाहिए।
  • आप डॉक्टरी सलाह या बिना किसी सलाह वाली दवाओं का सेवन कर रही है ।
  • आपको वेलेरियन या उसके किसी सबटेंस, दवा या किसी अन्य जुड़ी बूटी से कोई एलर्जी तो नहीं
  • आपको किसी दूसरी चीजों से एलर्जी तो नहीं जैसे, खाने,रंग, खाने को सुरक्षित रखने वाले पदार्थ या जानवरों से।

किसी भी हर्बल सप्पलीमेंट के सेवन करने के नियम उतने ही सख्त होते है जितने कि अंग्रेजी दावा के । सुरक्षा के लिहाज से अभी इसमें और अध्ययन की जरूरत है । हर्बल सप्पलीमेंट के सेवन से होने वाले फायदे से पहले आपको इसके खतरों को समझ लेना चाहिए। ज्यादा जानकारी के लिए अपने हर्बल एक्सपर्ट से बात कीजिये।

वेलेरियन कितना सुरक्षित है?

बच्चे:

बिना डॉक्टरी सलाह के बच्चे को वेलेरियन न दें। 3 वर्ष से छोटे बच्चों को वेलेरियन नहीं लेना चाहिए क्योंकि इस उम्र के बच्चों के लिए ये कितना खतरनाक हो सकता है अभी इस बात पे प्रॉपर स्टडी नहीं कि गई है ।

गर्भावस्था और स्तनपान:

अभी इस बात की कोई विश्वसनीय जानकारी मौजूद नहीं है कि,

यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करवा रही हैं तो वेलेरियन आपके लिए कितना सुरक्षित है, । किसी भी खतरे से बेहतर है कि आप इसका परहेज करें ।

सर्जरी:

सर्जरी होने के दो हफ्ते पहले से वेलेरियन लेना बंद करें।

यह भी पढ़ें : गर्भावस्था में पालतू जानवर से हो सकता है नुकसान, बरतें ये सावधानियां

साइड इफेक्ट

वेलेरियन से मुझे किस तरह के साइड इफेक्ट हो सकते हैं?

वेलेरियन कुछ साइड इफेक्ट पैदा कर सकता है जैसे:

  • सरदर्द
  • उतेजना
  • बेचैनी
  • अनिद्रा (कुछ लोगों में)

यदि आप लंबे समय से वेलेरियन का प्रयोग कर रहे है, तो इसका इस्तेमाल बंद करने से होने वाले साइड इफेक्ट से बचने के लिए हफ्ते दर हफ्ते इसकी खुराक कम करते जाइए ।

ये जरूरी नहीं कि सभी को ऐसे ही साइड इफेक्ट का सामना करना पड़े । इसके साइड इफेक्ट दूसरे तरह के भी हो सकते है जिनका जिक्र ना किया गया हो । यदि आपको साइड इफेक्ट को लेकर कोई चिंता है, तो कृपया अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से परामर्श करें।

यह भी पढ़ें : Ezetimibe + Atorvastatin : इजेटिमिब + एटोरवास्टेटिन क्या है? जानें इसका उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सहभागिता/इंटरेक्शन

वेलेरियन के साथ मेरे क्या इंटरेक्शन हो सकते है?

ये आपकी मौजूदा हेल्थ कंडिसन्स और दवाओं पे विपरीत असर डाल सकता है । उपयोग से पहले एक बार अपने हर्बलिस्ट या वैद से बात कीजिए।

जो मेडिसिन वेलेरियन के साथ इंटरेक्ट कर सकती है,उनमे शामिल है:

शराब

शराब से नींद और तंद्रा की शिकायत हो सकती है तो वही वेलेरियन भी नींद और उनींदापन का कारण हो सकता है। शराब के साथ बड़ी मात्रा में वेलेरियन लेने से बहुत अधिक नींद आ सकती है।

अल्प्राज़ोलम (ज़ानाक्स)

वेलेरियन, लिवर द्वारा अल्प्राजोलम की तोड़ने की क्रिया को कम कर सकता है । अल्प्राजोलम के साथ वेलेरियन लेने से अल्प्राजोलम के प्रभाव और दुष्प्रभाव बढ़ सकते हैं जैसे कि भयंकर नींद आना।

सेडेटिव दवाएं (बेंज़ोडायजेपाइन)

वेलेरियन निद्रा और तंद्रा का कारण हो सकता है। नींद और तंद्रा का कारण बनने वाली दवाओं को शामक या नींद लाने वाली या दर्द निवारक कहा जाता है। शामक दवाओं के साथ वेलेरियन लेने से बहुत अधिक नींद आ सकती है।

इन शामक दवाओं में से कुछ में अल्प्राजोलम (ज़ैनक्स), क्लोनाज़ेपम (क्लोनोपिन), डायज़ेपम (वैलियम), लोरज़ेपम (अतीवन), मिडाज़ोलम (वर्सेड, टेम्डाज़ेपम (रेस्टोरिल), ट्रायज़ोलम (हैलियन), और अन्य शामिल हैं।

शामक दवाओं (सीएनएस अवसाद)

वेलेरियन नींद और उनींदापन का कारण हो सकता है। नींद आने वाली दवाओं को शामक कहा जाता है। शामक दवाओं के साथ वेलेरियन लेने से बहुत अधिक नींद आ सकती है। सर्जरी में इस्तेमाल होने वाली शामक दवाओं के साथ वेलेरियन लेने से लंबे समय तक बेहोशी हो सकती है।

कुछ शामक दवाओं में पेंटोबार्बिटल (नेम्बुतल), फेनोबार्बिटल (ल्यूमिनल), सेकोबार्बिटल (सेकोनल), थियोओपेंटल (पेंटोथल), फेंटेनाइल (ड्यूरेजेसिक, सब्लिमेज), मॉर्फिन, प्रोपोफोल (डिप्रीवन), और अन्य शामिल हैं।

लीवर द्वारा दवाएं बदली गईं

वेलेरियन उस क्रिया के प्रभाव को कम कर सकता है जहां लिवर कुछ दवाओं को जल्दी तोड़ देता है। ऐसी दवाओं के साथ वेलेरियन के इस्तेमाल से उनके इफेक्ट और साइड इफेक्ट हो सकते है। वेलेरियन लेने से पहले, अपने डॉक्टर को उन सभी दवाओं के बारे में सूचित करें जो लिवर द्वारा बदली जा सकती है ।

लिवर द्वारा बदली गई कुछ दवाओं में लवस्टैटिन (मेवाकोर), केटोकोनैजोल (निज़ोरल), इट्राकोनाज़ोल (स्पोरानॉक्स), फेक्सोफेनाडाइन (एलेग्रा), ट्रायाज़ोलम (हाल्कियन, और कई अन्य) शामिल हैं।

मात्रा/ डोज़

दी गई जानकारी को चिकित्सा सलाह के रूप में ना देखे। हमेशा इस दवा का उपयोग करने से पहले अपने हर्बलिस्ट या चिकित्सक से परामर्श करें।

वेलेरियन के लिए सामान्य खुराक क्या है?

नीद ना आने की समस्या के लिए (अनिद्रा):

चाय: 1 कप उबलते पानी में 1 चम्मच (2 से 3 ग्राम) सूखे रूट या जड़ डालें, 5 से 10 मिनट तक रहने दे।

टिंचर (1: 5): मानक खुराक एक से डेढ़ चम्मच (4 से 6 मिलीलीटर) है।

फ्लूइड एक्सट्रेक्ट (1: 1): मानक खुराक आधा से एक चम्मच (1 से 2 मिलीलीटर) है।

सूखे पाउडर एक्सट्रैक्ट (4: 1): मानक खुराक 250 से 600 मिलीग्राम है।

400-900 मिलीग्राम वेलेरियन एक्सट्रेक्ट या अर्क का उपयोग सोने से 2 घंटे पहले 28 दिनों तक किया जाता है।

वेलेरियन एक्सट्रेक्ट/अर्क 120 मिलीग्राम, नींबू बाम 80 मिलीग्राम एक्सट्रेक्ट के साथ, 30 दिनों तक रोजाना 3 बार उपयोग किया जाता है।

एक कॉम्बिनेशन उत्पाद: जिसमें वैलेरियन अर्क 187 मिलीग्राम और हॉप्स अर्क 41.9 मिलीग्राम प्रति टैबलेट है, 2 टैबलेट 28 दिनों के लिए सोते समय मानक रूप से लिया जाता है ।

सोने से 30 मिनट से 2 घंटे पहले वेलेरियन लें। नींद में सुधार होने पर 2 से 6 सप्ताह तक वैलेरियन लेते रहें।

चिंता के लिए:

मानक खुराक 120 से 200 मिलीग्राम, प्रति दिन 3 से 4 बार है।

इस हर्बल सप्लीमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। कृपया अपनी सही खुराक के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह ले।

वेलेरियन किस रूप में आता है?

वेलेरियन निम्नलिखित खुराक रूपों में उपलब्ध हो सकता है:

  • वेलेरियन कैप्सूल और टैबलेट
  • वेलेरियन अर्क/एक्सट्रेक्ट
  • वैलेरियन चाय
  • वेलेरियन टिंचर

हेलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

और पढ़ें : Asthalin : अस्थलीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सूत्र

रिव्यू की तारीख जुलाई 9, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया अक्टूबर 15, 2019