home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Khella: खेला क्या है?

परिचय|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|किन रूपों में उपलब्ध है खेला (Khella)?
Khella: खेला क्या है?

परिचय

खेला (Khella) क्या है?

खेला एक पौधा है। इसका वानस्पातिक नाम Ammi visnaga है। ये Apiaceae परिवार से ताल्लुख रखता है। इसके सूखे और पके फलों का प्रयोग दवाओं में किया जाता है। आमतौर पर लोग खेला में सक्रिय रसायनों में से एक खेलिन(khellin) को हटाकर इसका अर्क तैयार करते हैं। इस अर्क को एक तरल पदार्थ में घोलकर दवा के रूप में उपयोग किया जाता है। ये दिल संबंधित परेशानियों से लेकर किडनी स्टोन और डायबिटीज के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

खेला (Khella) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

किडनी स्टोन (Kidney Stone):

जानवरों पर किए गए एक शोध के अनुसार, hyperoxaluria (गुर्दे की पथरी के निर्माण को बढ़ावा देती है) से ग्रसित चूहों में खेला से किडनी स्टोन का खतरा कम देखने को मिला। ये शोध यूरोलॉजिकल रिसर्च में 2011 में छपा था। फाइटोमेडिसिन, 2010 में छपे एक शोध के मुताबिक, गुर्दे की कोशिकाओं पर किए गए प्रयोगशाला परीक्षणों में पाया गया कि खेला गुर्दे की पथरी के निर्माण से होने वाली कोशिका क्षति को रोकने में मदद करता है।

डायबिटीज (Diabetes):

कई शोध के अनुसार, डायबिटीज के पेशेंट्स के लिए खेला बेहद लाभकारी है। जर्नल ऑफ हर्बल फार्माकोथेरेपी, 2002 में छपे एक शोध के अनुसार, डायबिटीज से ग्रसित चूहों को खेला एक्सट्रेक्ट देने से उनाक ब्लड शुगर लेवल नियंत्रण में पाया गया।

स्किन संबंधित परेशानियों के लिए (Skin Related Problems):

स्किन संबंधित परेशानियां जैसे एलोपेसिया एरीटा, सोरायसिस, और विटिलिगो के लिए इसे स्किन पर लगाकर प्रयोग किया जाता है। इसे जख्मों को भरने और कीड़ों के कांटने पर भी उपयोगी माना जाता है।

इन परेशानियों में भी मददगार:

कैसे काम करता है खेला (Khella)?

खेला कैसे काम करता है इस बारे में कोई वैज्ञानिक जानकारी नहीं है। इसके बारे में अधिक जानने के लिए अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें। हालांकि, कुछ शोध बताते हैं कि इसमें ऐसे रसायन होते हैं जो रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करने, दिल के संकुचन में कमी, फेफडों को ओपन करने, गुड कोल्स्ट्ऱॉल, बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने में मदद करता है। कई दवाएं जैसे अमियोडेरोन, निफेडिपिन और क्रॉमोलिन में भी खेला का इस्तेमाल किया जाता है।

सावधानियां और चेतावनी

कितना सुरक्षित है खेला (Khella) का उपयोग?

निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको खेला या किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।
  • अगर आपको लिवर संबंधित कोई परेशानी है तो इसका इस्तेमाल बिल्कुल न करें। आपकी परेशानी पहले से ज्यादा हो सकती है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। खेला का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

इन दवाओं के साथ न करें खेला का सेवन:

  • डिजोक्सिन: इस हर्ब के साथ डिजोक्सिन लेने से दवा का असर प्रभावित हो सकता है। इसलिए अगर आप दवा ले रहे हैं तो खेला को एवॉइड करें।
  • लिवर की परेशानियों के लिए दवा: लिवर के किसी रोग के लिए अगर आप दवा ले रहे हैं तो भी इस हर्ब का प्रयोग न करें।

और पढ़ें: Globe flower: ग्लोब फ्लावर क्या है?

साइड इफेक्ट्स

खेला (Khella) से मुझे क्या साइड-इफेक्ट्स हो सकते हैं?

खेला से लिवर संबंधित परेशानियां, उल्टी, कब्ज, भूख न लगना, सिरदर्द, इनसोमनिया खुजली और नींद न आना जैसे साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। स्किन पर इसे लगाने से त्वचा सूरज की रोशनी के प्रति सेंसिटिव हो सकती है। इससे स्किन कैंसर होने का खतरा रहता है।

हालांकि, हर किसी को ये साइड इफेक्ट हो ऐसा जरूरी नहीं है, कुछ ऐसे भी साइड इफेक्ट हो सकते हैं, जो ऊपर बताए नहीं गए हैं। अगर आपको इनमें से कोई भी साइड इफेक्ट महसूस हो या आप इनके बारे में और जानना चाहते हैं तो नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

डोसेज

खेला (Khella) को लेने की सही खुराक क्या है?

कोलेस्ट्रॉल को रेगुलेट करने के लिए: 20 मिलीग्राम की टैबलेट रिकमेंड की जाती है

विटिलिगो: एक टीस्पून क्रश बीजों को एक कप पानी में 25 मिनट के लिए भिगोकर रखें या फिर 1:3 ड्राय लिक्वीड एक्सट्रेक्ट की 20 से 60 ड्रॉप्स पीनी में डालकर दिन में एक से चार बार इस्तेमाल करें।

यहां दी हुई जानकारियों का इस्तेमाल डॉक्टरी सलाह के विकल्प के रूप में ना करें। इस हर्बल सप्लीमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

और पढ़ें: Sweet Vernal Grass: स्वीट वर्नल ग्रास क्या है?

किन रूपों में उपलब्ध है खेला (Khella)?

खेला निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

  • लिक्विड एक्सट्रेक्ट (Liquid Extract)
  • टिंचर (Tinture)
  • इन्फ्यूजन (Infusion)
  • सॉल्यूशन (Solution)

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में इस हर्बल से जुड़ी ज्यादातर जानकारियां देने की कोशिश की है, जो आपके काफी काम आ सकती हैं। अगर आपको ऊपर बताई गई कोई सी भी शारीरिक समस्या है तो इस हर्ब का इस्तेमाल आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। बस इस बात का ध्यान रखें कि हर हर्ब सुरक्षित नहीं होती। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें तभी इसका इस्तेमाल करें। खेला से जुड़ी यदि आप अन्य जानकारी चाहते हैं तो आप हमसे कमेंट कर पूछ सकते हैं।

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 28/05/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x