home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Labdanum: लाबडानम क्या है?

परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनियां|साइड इफेक्ट्स|रिएक्शन |डोसेज|उपलब्ध
Labdanum: लाबडानम क्या है?

परिचय

लाबडानम (Labdanum) क्या है?

लाबडानम एक सदाबहार झाड़ है। जिसकी लंबाई 150 सेंटीमीटर यानी कि लगभग 5 फीट होती है। इसके फूल जून के महीने में निकलते हैं, जो देखने में भिंडी के फूल की तरह होते हैं। पंखुड़ियां सफेद होती हैं और अंदर मेजेंटा रंग के शेड होते हैं। इससे आकर्षक महक आती है। ये मुख्य रूप से देवदार के पेड़ों के आसपास और दानेदार पहाड़ियों पर पाया जाता है।

लाबडानम एक चिपचिपी राल है, जो रॉकरोज (rockrose) प्रजाति के पौधे की पत्तियों और तनों से बनती है। लाबडानम का इस्तेमाल राल, पत्तियों, डंठल और फूलों से एक्स्ट्रैक्ट करके बनाए गए विभिन्न प्रोडक्ट्स के लिए किया जाता है। इसकी पत्तियां, तने और फूलों से दवाएं बनती हैं। इसका इस्तेमाल ब्रॉन्काइटिस, डायरिया, एडिमा, हर्निया, ट्यूमर, लेप्रोसी और स्पलीन में समस्या में किया जाता है।

इसके अलावा इस जड़ी-बूटी की मदद से सीने में जकड़न को कम किया जाता है। आंत की समस्याओं के इलाज के लिए भी इस जड़ी-बूटी का इस्तेमाल किया जाता है। लाबडानम का प्रयोग कुछ लोग चोट से बह रहे खून पर ड्राइंग एजेंट के रूप में करते हैं। इस जड़ी-बूटी का प्रयोग एसेंशियल ऑयल के रूप में किया जाता है। इसके साथ ही इसके फूलों का प्रयोग इत्र बनाने के लिए भी किया जाता है। इसका प्रयोग कीड़े-मकेड़ों को मारने के लिए भी किया जाता है।

और पढ़ें: Papaya: पपीता क्या है?

यह कैसे कार्य करता है?

लाबडानम में कुछ ऐसे पदार्थ होते हैं, जो मानव कोशिकाओं में वायरस के फैलने को रोकते हैं।

उपयोग

लाबडानम (Labdanum) का इस्तेमाल किसलिए होता है?

लाबडानम का इस्तेमाल ब्रोंकाइटिस, फेफड़ों की अन्य समस्या, डायरिया, बॉडी में पानी जमा होना (edema), हर्निया, गाठों, लेप्रोसी और मासिक धर्म की समस्याओं में होता है। इसके अलावा लाबडानम का इस्तेमाल सीने की जकड़न को ढीला करने, वायरल इंफेक्शन को रोकने, बाॅवेल को ठीक करने और टॉनिक के रूप में इम्यून सिस्टम को स्टिमुलेंट करने के लिए होता है।

  • कुछ लोग त्वचा के कटने, घाव, झुर्रियों और त्वचा की जलन में सीधे ही लाबडानम को स्किन पर लगाते हैं।
  • एरोमाथेरेपी (aromatherapy) में लाबडानम ऑयल का इस्तेमाल तनाव को कम करने और जकड़न से राहत पाने के लिए किया जाता है।
  • खाने और बेवरेज में लाबडानम की कई फॉर्म (लाबडानम एब्सोल्यूट, लाबडानम ओलेसरिन और लाबडानम ऑयल) को फ्लेवर के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है।
  • कोस्मेटिक में खुशबू के तौर पर लाबडानम का इस्तेमाल किया जाता है।

हालांकि, उपरोक्त परिस्थितियों में लाबडानम की प्रभाविकता का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है।

यह कितना सुरक्षित है?

खाने की मात्रा में मौखिक रूप से लाबडानम का सेवन करना सुरक्षित हो सकता है। हालांकि, इसे त्वचा पर लगाना भी सुरक्षित हो सकता है लेकिन, कुछ लोगों की त्वचा पर यह एलर्जिक रिएक्शन दिखा सकता है। दवा के तौर पर मौखिक रूप से लाबडानम का सेवन करना सेवन करना कितना सुरक्षित है या संभावित रूप से इसके क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं? इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नही है।

और पढ़ें: Ginger : अदरक क्या है?

सावधानियां और चेतावनियां

लाबडानम का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

इसका उपयोग करना पूरी तरह सुरक्षित है। बस इसे गर्भवती महिला और कुछ विशेष दवाओं का सेवन करने वालों को खाने से बचना चाहिए। इसके अलावा, ज्यादा मात्रा में इस का सेवन करने से आपको पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। कुछ लोगों को इससे एलर्जी भी हो सकती है। वहीं, गर्भवती महिलाओं द्वारा सेवन करने से भ्रूण को नुकसान पहुंच सकता है। इसलिए अगर आप इसका सेवन कर रहे हैं तो अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट ले बात जरूर कर लें।

लाबडानम का उपयोग कितना सुरक्षित है?

इसका उपयोग हर उम्र के लोगों के लिए सुरक्षित है, लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि इसको ज्यादा से ज्यादा खाया जाए। निश्चित मात्रा में सेवन करने से पर पूरी तरह से सुरक्षित है। इसलिए सेवन से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट की राय ले लें।

साइड इफेक्ट्स

लाबडानम (Labdanum) के सेवन से मुझे क्या साइड इफेक्ट हो सकते हैं?

इस जड़ी-बूटी को उपयोग यूं तो पूर तरह सुरक्षित माना गया है, लेकिन इसे फूड के रूप में ज्यादा मात्रा में नहींं खाया जा सकता है। इसे त्वचा पर औषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है। जिससे कुछ लोगों को इस जड़ी-बूटी से स्किन एलर्जी हो सकती है। वहीं, इसे अगर ओरल मेडिसिन के रूप में इस्तेमाल किया जाता है तो ये कितना सुरक्षित है, इस पर अभी तक कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। इसलिए हो न हो इसके कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इसकी मात्रा और दवा को अपने आप से न प्रयोग करें। इसके लिए आप अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से जरूर परामर्श ले लें।

आयुर्वेद के मुताबिक प्रकृति दोष को समझने के लिए वीडियो देख लें एक्सपर्ट की राय

रिएक्शन

लाबडानम (Labdanum) के साथ मुझ पर क्या प्रभाव पड़ सकता है?

लाबडानम आपकी मौजूदा दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकता है या इसके उपयोग से दवा का कार्य करने का तरीका परिवर्तित हो सकता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें: Jasmine : चमेली क्या है?

डोसेज

लाबडानम (Labdanum) का सामान्य डोज क्या है?

हर मरीज के मामले में औषधियों का डोज अलग हो सकता है। जो डोज आप ले रहे हैं वो आपकी उम्र, हेल्थ और दूसरे अन्य कारकों पर निर्भर करता है। औषधियां हमेशा ही सुरक्षित नहीं होती हैं। लाबडानम के उपयुक्त डोज के लिए अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से सलाह लें। प्रोडक्ट के पैकेज पर छपे दिशा निर्देशों का सावधानी पूर्वक पालन करें। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

उपलब्ध

लाबडानम किन रूपों में उपलब्ध है?

यह जड़ी-बूटी निम्न रूप में उपलब्ध होती है।

हमें उम्मीद है कि लाबडानम पर आधारित लिखा यह लेख आपको पसंद आया होगा। इसमें हमने इस हर्ब से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी देने की कोशिश की। उम्मीद है हैलो हेल्थ द्वारा दी गईं जानकारियां आपके लिए उपयोगी साबित होंगी। अगर आपको यहां बताई गई किसी प्रकार की स्वास्थ्य से संबंधित समस्या है तो आप इस हर्ब का उपयोग डॉक्टर की सलाह पर कर सकते हैं।

अगर आपको इस जड़ी-बूटी से जुड़े किसी अन्य सवाल का जवाब जानना है, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स की सहायता से देने की कोशिश करेंगे। अपना ध्यान रखिए और स्वस्थ रहिए। हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है, अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

बिना एक्सपर्ट की सलाह इसका न करें सेवन, न ही त्वचा पर लगाएं

वैसे तो लाबडानम का इस्तेमाल कई प्रकार की बीमारियों के उपचार के लिए किया जाता है। जैसे अपर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इंफेक्शन, चेस्ट कंजेशन, डायरिया, बावेल से जुड़ी समस्या, हीलिंग कट, घाव, इरिटेशन को दूर करने के लिए स्किन पर सीधे तौर पर लगाने के साथ हर्निया, लेप्रोसी, मासिक धर्म से जुड़ी परेशानी, इम्यून सिस्टम को बढ़ाने, एडीमा और अन्य बीमारियों के उपचार में इसका इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन इसका इस्तेमाल कभी भी बिना किसी एक्सपर्ट डॉक्टर और हर्बलिस्ट की सलाह के नहीं करना चाहिए। वहीं एक्सपर्ट की सलाह लेने जाएं तो उन्हें अपने उम्र के साथ इस दवा के सेवन के पूर्व किसी अन्य दवा का सेवन करते हैं या नहीं उसके बारे में भी विचार विमर्श कर लें उसके बाद ही दवा की का सेवन करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Gastroprotective effect of aqueous extract of Cistus incanus L. in rats/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/7784302/Accessed on 11 sept 2020

Severe bradycardia and prolonged hypotension in ciguatera/http://www.smj.org.sg/article/severe-bradycardia-and-prolonged-hypotension-ciguatera / Accessed on 11 sept 2020

FOOD AND DRUG ADMINISTRATION/https://www.accessdata.fda.gov/scripts/cdrh/cfdocs/cfcfr/CFRSearch.cfm?fr=172.510 / Accessed on 11 sept 2020

CYSTUS052, a polyphenol-rich plant extract, exerts anti-influenza virus activity in mice/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/17573133/ / Accessed on 11 sept 2020

A polyphenol rich plant extract, CYSTUS052, exerts anti influenza virus activity in cell culture without toxic side effects or the tendency to induce viral resistance/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/17572513/ / Accessed on 11 sept 2020

Cistus ladanifer contact dermatitis/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/11683839/ / Accessed on 11 sept 2020

लेखक की तस्वीर
Dr. Hemakshi J के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Sunil Kumar द्वारा लिखित
अपडेटेड 07/04/2020
x