रुजुता दिवेकरः ब्रेन हैल्थ के लिए जरुरी है लोअर स्ट्रैंथ एक्सरसाइज

By Medically reviewed by Dr. Pranali Patil

डायटिशियन रुजुता दिवेकर सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर आए दिन अपने फॉलोअर्स के लिए अलग-अलग हेैल्दी टिप्स और एक्सरसाइज शेयर करती रहती हैं। वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे यानि 10 अक्टूबर को रुजुता दिवेकर ने इंस्टाग्राम और फेसबुक पर ब्रेन हैल्थ के लिए कुछ एक्सरसाइज शेयर की है।

तीन मिनट के इस विडियो में रुजुता लोगों के चाल यानि की चलने के तरीके (Gait) में आने वाले बदलाव के बारे में बात कर रही हैं। कैसे लोगों की चाल समय के साथ बदलती है और कैसे वह बदली हुई चाल किसी बीमारी की तरफ इशारा करती है यह सब उन्होंने विडियो में समझाया है।

रुजुता ने बताया है कि एक उम्र के बाद जैसे कि 50-60 साल की उम्र के दौरान या आसपास लोगों के चलने का तरीका बदल जाता है जिसे गेट (Gait) कहा जाता है। अगर आपके आसपास या घर में कोई है जिसकी चाल में बदलाव आया है तो उसका कारण लोअर बॉडी में स्ट्रेंथ की कमी है। ऐसे लोगों की जल्दी ही एक्सरसाइज या जिम की मदद से अपने लोअर बॉडी स्ट्रेंथ पर काम करना चाहिए।

बदलते समय के साथ खान-पान और दूसरे कारणों की वजह से बढ़ती उम्र में लोगों की चाल में बदलाव आ जाता है। इस बदलाव का मुख्य कारण है लोअर बॉडी पार्ट में स्ट्रेंथ की कमी। इस बदलती चाल (Gait) के साथ जुड़ा है दिमाग की किसी बीमारी जैसे की भूलने की बीमारी, सोचने की क्षमता कम हो जाना या अल्जाइमर। 

रुजुता बताती हैं कि चाल के बदलाव का मुख्य कारण है बाएं और दाहिने पैर में असमान ताकत। दोनो पैर मे समान ताकत नहीं होने की वजह से एक पैर दूसरे पैर का बोझ उठाने के लिए कॉंपनशेट करता है जिसकी वजह से चाल में बदलाव आता है और व्यक्ति एक तरफ झुक कर चलने लगता है। 

इनमें से कोई भी लोवर स्ट्रेैंथ एक्सरसाइज आप किसी ट्रेनर की देखरेख में कर सकते हैंः

  • स्क्वाट
  • स्टिफ लेग डेडलिफ्ट
  • लेग प्रेस
  • लेग एक्सटेंशन
  • काल्फ रेज,मशीन या हील रेज

ऐसे कोई भी लक्षण दिखते ही तुरंत जिम जाना शुरु करें या लोउर बॉडी पार्ट में ताकत के लिए एक्सरसाइज करना शुरु करें। 12 हफ्ते की लोअर बॉडी एक्सरसाइज से यह परेशानी कम और कंट्रोल हो सकती है।

अभी शेयर करें

रिव्यू की तारीख अक्टूबर 11, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया अक्टूबर 11, 2019

शायद आपको यह भी अच्छा लगे