डिलिवरी के वक्त स्टूल पास होना नॉर्मल है?

By Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar

प्रेग्नेंसी की आखिरी तिमाही के दौरान स्टूल पास करने में समस्या हो सकती है। आपको ऐसा महसूस होगा कि वाशरूम तो जाना है, लेकिन प्रेशर के बावजूद भी स्टूल पास नहीं हो रहा है। अब बात डिलिवरी के समय की करते हैं क्योंकि उस दौरान भी आपको प्रेशर देकर ही बच्चे को पुश करना होता है। डिलिवरी के दौरान स्टूल पास होना आम बात है। डिलिवरी के समय डॉक्टर आपको पुश करने के लिए कहते हैं। पुश करने के दौरान अगर स्टूल हो जाए तो इसे सामान्य ही कहेंगे। आपको इस दौरान यूरिन भी पास हो सकती है। ये शर्म की बात बिलकुल नहीं है। आपका डॉक्टर इस स्थिति को समझता है और इसके लिए कुछ उपाय भी किए जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें : नॉर्मल डिलिवरी में मदद कर सकती हैं ये एक्सरसाइज, जानें करने का तरीका

डिलिवरी के दौरान क्यों पास होता है स्टूल?

ये शारीरिक प्रक्रिया है। आप इसे इस तरह से समझिए कि स्टूल पास करते समय जो मसल्स काम करती हैं, वही मसल्स डिलिवरी के समय पुश करते हुए भी काम करती हैं। लेबर के दौरान आपको एक्सट्रा प्रेशर देने की जरूरत पड़ती है। इस वजह से कोलन और रेक्टम पर ज्यादा प्रेशर पड़ता है। बच्चा बर्थ कैनाल की ओर बढ़ता है तो कोलन और रेक्टम में प्रेशर बढ़ जाता है। आप इस तरह से समझिए कि कोलन एक ट्यूब के समान है, जिसमें टूथपेस्ट भरा है, जब बच्चा मां की बर्थ कैनाल की ओर खिसकता है तो उस ट्यूब में प्रेशर पड़ता है। अब आपको समझ आ गया होगा कि डिलिवरी के समय स्टूल पास होना सामान्य क्रिया है।

क्या इससे बचा जा सकता है?

एनीमा

वैसे ये आम प्रक्रिया है, इसमे शर्म आने जैसी कोई बात नहीं है। डॉक्टर डिलिवरी से पहले पेट को साफ करने के लिए प्री-लेबर एनीमा ( Pre-labor enema) देते हैं। इस दौरान स्टूल पाथ में एक छोटी ट्यूब लगाई जाती है और सांस खींचने को बोला जाता है। तरल पदार्थ एनस के मार्ग से अंदर चला जाता है। आपको कुछ देर बाद एहसास होगा कि आपको स्टूल पास करना है। एक बार वाशरूम से आने के बाद आपको फिर से यही लग सकता है। जब तक पेट पूरा साफ नहीं हो जाता है, आपको ऐसा ही लगेगा।

क्या एपिड्यूरल से बढ़ जाते हैं स्टूल के चांस?

ऐसा जरूरी नहीं है। अगर आपको एपिड्यूरल दिया गया है तो आपको सेंसेशन नहीं लगेगा। अगर आपके रेक्टम में स्टूल है तो ये पुश करने के दौरान बाहर आ सकता है। ऐसा तब भी हो सकता है जब आपका बेबी बर्थ कैनाल से बाहर आ रहा हो। एपिड्यूरल के बाद आपको स्टूल पास करने के दौरान किसी भी तरह का एहसास नहीं होगा।

यह भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान डांस करने से होते हैं ये 11 फायदे

तो क्या आपके मन में घबराहट है?

अब आपके मन में एक बात तो जरूर आ रही होगी कि डॉक्टर या फिर पार्टनर के सामने अगर पुश के दौरान स्टूल हो जाता है तो मुझे अच्छा नहीं लगेगा या फिर वो लोग क्या सोचेंगे। आप ऐसा बिल्कुल न सोचें क्योंकि ये एक शारीरिक क्रिया है। अगर ऐसा हो भी जाता है तो कोई बात नहीं। डिलिवरी के समय में महिलाओं को असहनीय दर्द होता है, अगर ऐसे में कोई भी समस्या हो जाती है तो डॉक्टर उसे हैंडल कर लेते हैं।

क्या डिलिवरी के दौरान स्टूल से बचा जा सकता है?

डिलिवरी के दौरान स्टूल न आएं, इसके लिए डॉक्टर कुछ उपाय करते हैं। साथ ही आप भी अगर कुछ बातों पर ध्यान दें तो इससे बच सकती हैं।

अर्ली लेबर स्टेज में एनीमा का प्रयोग

अगर आप घर में हैं और लेबर पेन स्टार्ट हो गया है तो यकीनन आप हॉस्पिटल जाएंगी। उस दौरान डॉक्टर चेक करने के बाद आपके पेट को साफ करने के लिए एनीमा देगा। इसे देने के बाद आपको वाशरूम जाने की जरूरत पड़ेगी। जब तक आपका पेट पूरी तरह से साफ नहीं हो जाता है, आपको वाशरूम जाना पड़ सकता है। ऐसा होने के बाद आपको बहुत रिलैक्स फील होगा।

यह भी पढ़ें : डिलिवरी के वक्त होती हैं ऐसी 10 चीजें, जान लें इनके बारे में

स्टूल को न करें अवॉयड

अगर आपको अर्ली लेबर के दौरान ऐसा महसूस हो रहा है कि वाशरूम जाना है, तो जरूर जाएं। संकुचन के कारण स्टूल पास न करने की भूल न करें। आप आराम से वॉशरूम जाएं। आप चाहे तो ये काम हॉस्पिटल में भी कर सकती हैं। आपको ऐसा करने के बाद अच्छा महसूस होगा।

मेडिसिन भी दे सकता है डॉक्टर

अगर आपको डिलिवरी से पहले कब्ज की समस्या रह चुकी हैं तो डॉक्टर इस समस्या से निपटने के लिए आपको मेडिसिन भी दे सकता है। इसे लेने के बाद आपका पेट साफ हो जाएगा।

डिलिवरी से पहले खाने पर दें ध्यान

हो सकता है कि आपको डिलिवरी से पहले भूख लग रही हो या आपका मन कुछ भी खाने का कर रहा हो। डिलिवरी से पहले मीट, बर्गर या हैवी खाने के बारे में सोचना छोड़ दें। आपको ऐसे समय में तरल पदार्थ लेना चाहिए। अगर आप हैवी फूड लेती हैं तो इसे पचने में बहुत समय लगेगा।

प्रेग्नेंसी के दौरान कब्ज का करें इलाज

अगर आपको प्रेग्नेंसी के दौरान कब्ज है तो डॉक्टर से संपर्क कर इलाज करवाएं। प्रेग्नेंसी के दौरान स्टूल ठीक से पास होगा तो आपको डिलिवरी के समय समस्या नहीं होगी।

डिलिवरी के दौरान स्टूल को लेकर आपके मन में कोई भी प्रश्न हो तो एक बार अपने डॉक्टर से जरूर परामर्श करें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सक सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

यह भी पढ़ें :जानिए क्या है प्रीटर्म डिलिवरी? क्या हैं इसके कारण?

यह भी पढ़ें :डिलिवरी के बाद बॉडी को शेप में लाने के लिए महिलाएं करती हैं ये गलतियां

यह भी पढ़ें :डिलिवरी के वक्त दिया जाता एपिड्यूरल एनेस्थिसिया, जानें क्या हो सकते हैं इसके साइड इफेक्ट्स?

अभी शेयर करें

रिव्यू की तारीख दिसम्बर 4, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया दिसम्बर 4, 2019

सूत्र
शायद आपको यह भी अच्छा लगे