प्रेग्नेंसी में सेक्स, कैफीन और चीज को लेकर महिलाएं रहती हैं कंफ्यूज

Medically reviewed by | By

Update Date फ़रवरी 17, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

प्रेग्नेंसी के समय महिलाओं के मन में एक साथ बहुत सारे प्रश्न आते हैं। ये प्रश्न उनके स्वास्थ्य से जुड़े हुए होते हैं। मां के स्वास्थ्य का सीधा असर बच्चे पर भी पड़ता है। प्रेग्नेंसी के दौरान खाना क्या सही रहेगा? ये महत्वपूर्ण प्रश्न है। महिलाओं को प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करना सही रहेगा या नहीं या कैफीन और चीज की कितनी मात्रा लेना चाहिए ? ये प्रश्न भी हो सकते हैं। इसको लेकर एक स्टडी की गई। करीब 1000 महिलाओं में किए गए सर्वे के मुताबिक पाया गया कि 59 प्रतिशत महिलाएं अपनी इच्छा के अनुसार प्रेग्नेंसी में कुछ तय नहीं कर पाती हैं। इसकी मुख्य वजह होती है जानकारी को लेकर शंका। महिलाओं को नहीं पता होता है कि उन्हें प्रेग्नेंसी के समय में क्या करना चाहिए और क्या नहीं?

यह भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी में नुकसान से बचने के 9 टिप्स

किन बातों का रहता है कंफ्यूजन

प्रेग्नेंसी के दौरान खाना ही महत्वपूर्ण नहीं होता है। महिलाओं को मेडिसिन को लेकर भी कंफ्यूजन महसूस होता है। करीब 10 में से 3 महिलाओं को महसूस हुआ कि प्रेग्नेंसी में कौन सी दवा उनके लिए सुरक्षित रहेगी। जबकि 10 महिलाओं को ये नहीं समझ आ रहा था कि उन्हें पीठ के बल सोना चाहिए या नहीं। कुछ महिलाओं के मन में शराब और मूंगफली को लेकर भी कंफ्यूजन पैदा हुआ। खाने को लेकर भी महिलाओं के बीच कई तरह की बातें होती हैं जिसके कारण कंफ्यूजन की स्थिति पैदा हो सकती है।

प्रेग्नेंसी के दौरान खाना और विटामिन

रिसर्च के दौरान ये बात भी सामने आई कि महिलाओं को नहीं पता था कि किस विटामिन को कितनी मात्रा में लेना चाहिए। प्रेग्नेंसी में कौन सी चीज खाने से वजन बढ़ेगा और कितना वजन बढ़ना सही रहेगा। एक ही समय में इतनी सारी बातों को लेकर कुछ महिलाओं के लिए यह चुनौतीपूर्ण स्थिति बन गई थी। गर्भावस्था रोमांचक समय होता है, लेकिन ऐसी समस्याएं आने पर महिलाएं परेशान भी हो सकती हैं। डॉक्टर प्रेग्नेंसी से पहले ही महिलाओं को विटामिन और अन्य सप्लीमेंट लेने की सलाह देता है।

यह भी पढ़ें : दूसरे बच्चे में 18 महीने का गैप रखना क्यों है जरूरी?

जानकारी लेने के बाद ही उठाएं कदम

भले ही प्रेग्नेंसी के दौरान खाना आपका मुख्य विषय हो या नहीं, लेकिन गर्भावस्था के दौरान कोई भी कदम उठाने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से जरूर पूछें। प्रेग्नेंसी में निश्चित मात्रा में कैफीन का सेवन करना चाहिए। अगर कोई महिला एक दिन में एक कप कॉफी पीती है तो उसके होने वाले बच्चे पर कोई भी नकारात्मक असर नहीं पड़ेगा। प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स को लेकर हैलो स्वास्थय ने कोलकाता के फोर्टिस हॉस्पिटल की कंसल्टेंट गायनोलॉजिस्‍ट डॉ. सगारिका बसु से बात की उन्होंने कहा कि,’ प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से किसी प्रकार की समस्या नहीं होती है। प्रेग्नेंसी को लेकर अगर कोई भी कॉम्प्लिकेशन नहीं है तो सेक्स किया जा सकता है। एक बात का ध्यान रखें कि सेक्स करते समय महिला को कोई समस्या न महसूस हो। अगर महिला को कोई परेशानी नहीं है तो सेक्स को प्रेग्नेंसी के आखिरी महीने तक किया जा सकता है।’

यह भी पढ़ें : प्रेग्नेंट होने के लिए सेक्स के अलावा इन बातों का भी रखें ध्यान

स्टडी में महिलाओं ने बताई ये बात

स्टडी के दौरान महिलाओं ने अपने कंफ्यूजन के बारे में बातें शेयर की। 10 महिलाओं में छह ने महसूस किया कि वे गर्भावस्था के लिए पर्याप्त रूप से तैयार नहीं थी। चार में से एक महिला ने गर्भावस्था के दौरान एक्सरसाइज को लेकर शंका जताई वहीं, 37 प्रतिशत महिलाओं ने प्रेग्नेंसी के दौरान खाना कैसा होना चाहिए, इस बारे में शंका प्रकट की। अन्य लोगों ने अन्य महिलाएं सप्लिमेंट्स (31 प्रतिशत), क्रेविंग (16 प्रतिशत) और क्लीनिंग प्रोडक्ट (19 प्रतिशत) को लेकर भ्रमित दिखीं।

यह भी पढ़ें : मां और शिशु दोनों के लिए बेहद जरूरी है प्री-प्रेग्नेंसी चेकअप

हमारे आसपास 73 प्रतिशत विश्वास दिलाने वाली किताबें होती हैं, जिनसे लोग जानकारी लेते हैं। स्टडी के दौरान 58 प्रतिशत लोग ऐसे भी थे जिन्होंने गर्भावस्था के बीच में ही अपनी खानपान की आदतों को बदल लिया। स्टडी के दौरान ये बात भी सामने आई कि जिन महिलाओं के मन में प्रश्न थे, करीब 26 प्रतिशत महिलाओं ने वन पोल (इंटरनेट से) की हेल्प से उत्तर जानने की कोशिश की। महिलाओं के सर्वे में केवल दो तिहाई लोगों को ही जानकारी थी प्रेग्नेंसी में कौन सा विटामिन और सप्लिमेंट लेना चाहिए?

स्टडी के दौरान इन प्रश्नों के लेकर था कंफ्यूजन

स्टडी में जिन महिलाओं को शामिल किया गया था, उनसे कुछ प्रश्न पूछे गए थे। कुछ प्रश्न जैसे-

1. क्या दवा लेना सुरक्षित है?

2. कैफीन कितना लेना चाहिए?

3. सही मात्रा में वजन कितना बढ़ना चाहिए?

4. आपको किस विटामिन की अधिक आवश्यकता है?

5. किस तरह का व्यायाम सुरक्षित है?

6. किस बीमारी के दौरान सेक्स करना सही रहेगा?

7. कौन सी चीज खाना सुरक्षित है?

यह भी पढ़ें : 4 में से 1 महिला करती है दूसरे बच्चे की प्लानिंग, जानें इसके फायदे और चुनौतियां

8. प्रेग्नेंसी के दौरान क्या उठाना सही रहेगा?

9. आपको पर्याप्त आयरन कैसे मिलता है?

10. कौन से क्लीनिंग प्रोडक्ट प्रेग्नेंसी के दौरान सुरक्षित रहेंगे?

11. मॉर्निंग सिकनेस और इससे संबंधित बातें जानती हैं आप?

12. आपको फोलिक एसिड कब लेना चाहिए?

13. क्या आपको पीठ के बल सोना चाहिए?

14. प्रेग्नेंसी के दौरान मछली खाना सुरक्षित है या नहीं?

15. विमान से यात्रा करना कब ठीक रहेगा?

16. किसी भी हेल्दी फूड को किस हद तक खाया जा सकता है?

17. कौन सा जानवर आसपास सुरक्षित है?

18. यौन संबंध क्या प्रेग्नेंसी के दौरान नहीं बनना चाहिए?

प्रेग्नेंसी के दौरान अगर आपके मन में कोई भी प्रश्न हो तो एक बार डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। डॉक्टर आपको प्रेग्नेंसी के दौरान संबंधित विटामिन, खाने में पौष्टक आहार, प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स आदि के बारे में उचित राय देंगे। अगर आपके पार्टनर के मन में भी प्रेग्नेंसी को लेकर कोई प्रश्न है तो वो भी पूछ सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

और पढ़ें-

मरेना (Mirena) हटाने के बाद प्रेग्नेंट हुआ जा सकता है?

प्रेग्नेंसी के दौरान भूलकर भी न लगवाएं ये तीन वैक्सीन, हो सकता है खतरा

हनीमून के बाद बेबीमून, इन जरूरी बातों का ध्यान रखकर इसे बनाएं यादगार

फर्स्ट ट्राइमेस्टर वाली गर्भवती महिलाओं के लिए 4 पोष्टिक रेसिपीज

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    क्या डिलिवरी के बाद मां को अपना प्लासेंटा खाना चाहिए?

    प्लासेंटा खाना चाहिए या नहीं की जानकारी in hindi. क्या आपने कभी सुना है कि प्लासेंटा को खाया भी जाता है। जानवर अक्सर बच्चे को जन्म देने के बाद Placenta को खा जाते हैं। कुछ कल्चरल में भी इसे खाया जाता है।

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Bhawana Awasthi
    डिलिवरी केयर, प्रेग्नेंसी दिसम्बर 31, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    प्रेग्नेंसी में फ्रीक्वेंट यूरिनेशन क्यों होता है?

    कई बार महिलाएं फ्रीक्वेंट यूरिनेशन के कारण परेशान हो जाती है। आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि प्रेग्नेंसी के दौरान सभी महिलाओं को ये समस्या होती है

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Bhawana Awasthi
    प्रेग्नेंसी प्लानिंग, प्रेग्नेंसी दिसम्बर 30, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    क्या आप सरोगेसी और सरोगेट मां के बारे में जानते हैं ये बातें?

    सरोगेट मां की जानकारी in hindi. सरोगेट मां डोनर के बच्चे को जन्म देती है। सरोगेसी एक मेडिकल समस्या का चिकित्सीय समाधान है। बच्चे की चाह रखने वाले कपल्स Surrogate Maa का सहारा ले सकते हैं।

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Bhawana Awasthi
    प्रेग्नेंसी प्लानिंग, प्रेग्नेंसी दिसम्बर 27, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    जान लें कि क्यों जरूरी है दूसरा बच्चा?

    दूसरा बच्चा प्लान करने से होने वाले फायदों की जानकारी in hindi. दूसरा बच्चा प्लान करने के बारे सोचना हो सकता हो कि आपके लिए कठिन हो। अगर आप second baby planning कर रही हैं तो आपको इसके फायदे जरूर जानने चाहिए।

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Bhawana Awasthi
    प्रेग्नेंसी प्लानिंग, प्रेग्नेंसी दिसम्बर 26, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    Recommended for you

    Diet in Piles - पाइल्स में डायट

    पाइल्स में डायट पर ध्यान देना होता है जरूरी, इन फूड्स का करें सेवन

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Surender Aggarwal
    Published on मई 26, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    कोउवाडे सिंड्रोम

    कोउवाडे सिंड्रोम क्या है, पिता पर क्या पड़ता है असर?

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Bhawana Awasthi
    Published on जनवरी 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    Lohri Healthy Recipes 2020: लोहड़ी हेल्दी रेसिपी

    Lohri Healthy Recipes 2020: लोहड़ी हेल्दी रेसिपी के साथ जमकर करें सेलिब्रेशन

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Surender Aggarwal
    Published on जनवरी 13, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
    प्रेग्नेंसी में सेक्स

    प्रेग्नेंसी में सेक्स: क्या आखिरी तीन महीनों में सेक्स करना हानिकारक है?

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Bhawana Awasthi
    Published on जनवरी 4, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें