Calcium dobesilate : कैल्शियम डोबेसिलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अगस्त 20, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

फंक्शन

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) कैसे काम करता है?

कैल्शियम डोबेसिलेट एक वासोप्रोटेक्टिव है। कैल्शियम डोबेसिलेट का उपयोग क्रोनिक वेनस इन्सफिशिएंसी, बवासीर और मधुमेह संबंधी रेटिनोपैथी के उपचार में किया जाता है। यह डोबेसिलिक एसिड का कैल्शियम सॉल्ट है। यह दवा 18 वर्ष से कम आयु के रोगियों में उपयोग करने के लिए अनुशंसित नहीं है। कैल्शियम डोबेसिलेट स्मॉल वेसल्स की दीवारों पर काम करता है और उनके रिसाव और फ्रेजिलिटी को कम करता है। यह रक्त की चिपचिपाहट / थिकनेस को कम करके रक्त के प्रवाह को भी बेहतर बनाता है।

और पढ़ें: Aciloc RD : एसिलोक RD क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डोसेज

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) की सामान्य डोज क्या है?

  • डायबिटिक माइक्रोएंजियोपैथी (Diabetic Microangiopathy): बीमारी की क्रोनिक प्रकृति के कारण, हर व्यक्ति के लिए अलग खुराक को निर्धारित करना बेहतर होता है। प्रारंभिक उपचार और मामले की गंभीरता के अनुसार 1.5-2 ग्राम / दिन में दवा की डोज दी जा सकती है। इस दवा की मेंटेनेंस डोज 1 ग्राम / दिन है।
  • अन्य वस्कुलर डिसऑर्डर (Vascular Disorder) में 0.5-1 ग्राम / दिन दवा की डोज देने की सलाह दी जाती है।

इस दवा के डोज के लिए आपको अपने डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए। बिना डॉक्टर के परामर्श के आपको किसी भी दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।

और पढ़ें : Mahacef Plus: महासेफ प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) की खुराक मिस हो जाए तो क्या करें?

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) की खुराक अगर गलती से मिस हो जाए या उसका समय आप भूल हो जाए तो जितनी जल्दी आपको याद आए, वैसे ही आपको दवा का सेवन कर लेना चाहिए। लेकिन, अगर आपकी दूसरी खुराक का समय हो गया है तो छूटी हुई डोज को न लें। दवा का डबल डोज एक साथ कभी भी ना लें। ऐसा करना आपकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है।

और पढ़ें : Saridon: सेरिडॉन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

अगर गलती से आपने कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) का ओवर डोज ले लिया है तो आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। ओवरडोज की स्थिति में मेडिकल इमरजेंसी की जरुरत पड़ सकती है।

और पढ़ें : Deriphyllin: डेरिफीलिन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • डॉक्टर ने आपको जैसे दवा को लेना निर्धारित किया है, उसे वैसे ही लें। कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) का सेवन भोजन के साथ ही किया जाना चाहिए।
  • दवा को तोड़े या कुचले नहीं, इसे सीधा पानी के साथ निगल लें।
  • दवा से आपको ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके, इसके लिए दवा को रोजाना एक ही समय पर लें।
  • ध्यान दें, दवा की डोज को खुद से न बदलें।

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) के उपयोग के बारे में अधिक जानकारी के लिए दवा के साथ मिलने वाले लीफ़्लेट्स को पढ़ें।

और पढ़ें:  Albendazole : एल्बेंडाजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

सभी दवाओं की तरह, इस दवा का दुष्प्रभाव हो सकता है। हालांकि, जरूरी नहीं है कि हर कोई इन लक्षणों को महसूस करे।कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) के कुछ गंभीर और आम साइड इफेक्ट्स इस प्रकार हैं-

ऊपर बताए गए दुष्प्रभाव के अलावा भी कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। अगर आपको दवा के इस्तेमाल के दौरान कोई भी असामान्य लक्षण दिखें, तो डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें।

और पढ़ें : Caldikind Plus: कैलडिकाइंड प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानी और चेतावनी

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) टैबलेट का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

रीनल इम्पेयरमेंट (Renal impairment)

गंभीर प्रतिकूल प्रभाव के बढ़ते जोखिम के कारण गुर्दे की बीमारी और एक्टिव किडनी डिजीज की मेडिकल हिस्ट्री वाले रोगियों में इस दवा का उपयोग सावधानी के साथ किया जाना चाहिए। किसी भी असामान्य लक्षण को तुरंत डॉक्टर को बताएं। नैदानिक ​​स्थिति के आधार पर उपयुक्त डोज एडजस्टमेंट या अल्टरनेटिव ट्रीटमेंट की आवश्यकता हो सकती है।

ब्लड सेल्स काउंट (blood cell count)

यह दवा वाइट ब्लड सेल्स काउंट को कम कर सकती है। इस दवा के साथ उपचार के दौरान ब्लड सेल्स काउंट की नजदीकी निगरानी आवश्यक है। यदि सफेद रक्त कोशिका की संख्या कम होती है, तो उपचार शुरू न करें। नैदानिक ​​स्थिति के आधार पर डॉक्टर डोज एडजस्ट या एक उपयुक्त विकल्प की सलाह दे सकते हैं।

और पढ़ेंः Acetaminophen : एसिटामिनोफेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्रिएटिनिन टेस्ट

यह दवा क्रिएटिनिन टेस्ट के परिणामों को प्रभावित कर सकती है। यह सलाह दी जाती है कि आप क्रिएटिनिन टेस्ट से पहले इस दवा के साथ उपचार के बारे में डॉक्टर को सूचित करें।

और पढ़ें : Librium 10: लिब्रियम 10 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) को लेना सुरक्षित है?

यह दवा गर्भवती महिलाओं में और स्तनपान के दौरान उपयोग करने के लिए अनुशंसित नहीं है जब तक कि बहुत आवश्यक न हो। इस दवा को लेने से पहले डॉक्टर के साथ सभी जोखिमों और लाभों पर चर्चा की जानी चाहिए।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

सभी दवाएं हर व्यक्ति से अलग-अलग इंटरैक्ट करती हैं। किसी भी दवा को शुरू करने से पहले आपको अपने डॉक्टर के साथ सभी संभावित इंटरैक्शन की जांच करनी चाहिए। कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) नीचे लिखी इन दवाओं के साथ रिएक्ट कर सकती है। जैसे-

  • बिसफॉस्फोनेट्स (Bisphosphonates)
  • साइक्लिंस (Cyclins)
  • डिजिटॉक्सिन (Digitoxin)
  • एस्ट्रामस्टीन (Estramustine)
  • स्ट्रोंटियम (Strontium)
  • कोलेस्टीरामाइन (Cholestyramine)

हालांकि, ऊपर बताई गई दवाओं की लिस्ट के अलावा भी कुछ दवाएं कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) के साथ इंटरैक्ट कर सकती हैं। इसलिए, डॉक्टर को आपके द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली सभी दवाओं, काउंटर प्रोडक्ट्स, हर्बल प्रोडक्ट्स और हेल्थ सप्लिमेंट्स के बारे में जानकारी होनी चाहिए।

और पढ़ें : Rebamipide: रेबामिपाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स, डोज और सावधानियां

क्या कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) भोजन या शराब के साथ रिएक्शन करती है?

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) के साथ एल्कोहॉल के सेवन की सिफारिश नहीं की जाती है। इस विषय में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें। यह दवा किस तरह के खाद्य पदार्थ के साथ इंटरैक्ट कर सकती है, इसके बारे में डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह जरूर लें

और पढ़ें : Carbidopa+Levodopa: कार्बिडोपा+लेवोडोपा क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

स्टोरेज

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) को कैसे स्टोर करें?

कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) को रूम टेम्पेरेचर में ही रखें। डायरेक्ट सन लाइट और नमी वाली जगहों पर ना रखें। बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखें। कैल्शियम डोबेसिलेट (Calcium dobesilate) के एक्सपायर होने के पहले ही इसका सेवन कर लें। इस दवा को कैसे डिस्पोज करना है, इस बारे में फॉर्मासिस्ट से सलाह लेनी चाहिए।

और पढ़ें : Acemiz Plus: एसमीज प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

किस रूप में उपलब्ध है?

यह दवा टैबलेट और कैप्सूल के रूप में उपलब्ध है।

इस आर्टिकल में बताए गए सभी दिशा-निर्देशों के बाद भी अपने डॉक्टर के द्वारा सलाह दिए जाने पर ही इस टैबलेट का सेवन करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Fatty Liver : फैटी लिवर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

फैटी लिवर जो कि सिरोसिस के बाद लिवर फेलियर तक का कारण बन सकती है। आइए जानते हैं कि, इसे कैसे कंट्रोल किया जाए। Fatty Liver in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Throat Ulcers : गले में छाले क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

गले में छाले होने की वजह से आपको खाने-पीने, बात करने आदि में दर्द व परेशानी हो सकती है। आइए, जानते हैं कि गले में छाले के लक्षण, कारण और इलाज क्या होता है। Throat ulcer in Hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Fatigue : थकान क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

थकान की अनुभूति तो सब करते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं यह होता क्यों है? जानिये कैसे थकान को नैचुरल तरीके से कम किया जा सकता है। Fatigue in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Hepatitis : हेपेटाइटिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

लिवर में सूजन आने की समस्या को हेपेटाइटिस कहा जाता है। इससे बचने के उपाय व इलाज के बारे में विस्तार से जानते हैं। Hepatitis in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

पाइल्स का आयुर्वेदिक इलाज - Ayurvedic treatment of piles

बवासीर या पाइल्स का क्या है आयुर्वेदिक इलाज

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
प्रकाशित हुआ सितम्बर 2, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
स्मूथ ऑइंटमेंट

Smuth Ointment : स्मूथ ऑइंटमेंट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जुलाई 23, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

बवासीर (piles) का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? पाइल्स होने पर क्या करें और क्या न करें?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जून 15, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Weakness : कमजोरी

Weakness : कमजोरी क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
प्रकाशित हुआ जून 12, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें