home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

बॉडी मसाज के लिए यूज कर सकते हैं अलग-अलग प्रकार के तेल

बॉडी मसाज के लिए यूज कर सकते हैं अलग-अलग प्रकार के तेल

हममें से ज्यादातर लोग जानते हैं कि बॉडी मसाज करना कितना महत्वपूर्ण होता है। यह शरीर की नसों को जीवित ही नहीं करता बल्कि मन और आत्मा को भी शांति एवं राहत प्रदान करता है। बॉडी मसाज की प्लानिंग करने से पहले मन में यह सवाल उठता है कि बॉडी मसाज के लिए किस ऑइल का इस्तेमाल किया जाए। वास्तव में बॉडी मसाज के लिए इस तरह के ऑइल का चुनाव करना चाहिए जो शरीर के विकारों को तो दूर करे ही साथ में उसकी भिनी खूशबू से मन और आत्मा को तरोताजा करती रहे। बाजारों में कई तरह के बॉडी मसाज ऑयल उपलब्ध हैं जिनका उपयोग विभिन्न तरह के स्पा में भी किया जाता है।

आज हम आपको बॉडी मसाज के लिए उपयोग में आने वाले कुछ सर्वोत्तम ऑयल के बारे में बताएंगे। तो आईये जानते है क्या है ऐसे तेल जिसक उपयोग हम बॉडी मसाज के लिए कर सकते है:

जोजोबा ऑइल:

इस ऑइल में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाया जाता है और इस ऑइल से शरीर एवं चेहरे पर मसाज करने से मुंहासे, त्वचा की एलर्जी और पीठ की समस्याओं से राहत मिलती है। जोजोबा के पेड़ से मोम निकलता है उसे ही जोजोबा ऑइल के नाम से जाना जाता है और इस ऑइल से पूरे शरीर का मसाज करने पर कई प्राकृतिक फायदे होते हैं। यह देखने में स्किन के सीबम की तरह होता है क्योंकि इसमें मोम एस्टर होता है। यह शरीर में सीबम को बनाए रखने में मदद करता है।

ऑलिव ऑइल :

ऑलिव ऑइल में जिंक, मैग्नीशियम, विटामिन E, कैल्शिय एवं आयरन जैसे कई पोषक तत्व पाये जाते हैं जो त्वचा को स्वस्थ रखने में बहुत फायदेमंद होते हैं। ऑलिव ऑइल सभी प्रकार की त्वचा के लिए अच्छा होता है और इस ऑइल से मसाज करने पर शरीर की कठोरता या कड़ापन दूर होता है और शरीर की त्वचा मुलायम बनती है।

बॉडी मसाज

सरसों का तेल:

यह बॉडी ऑयल थकान भरी मासपेशियों का दर्द भगाने में लाभकारी होता है। यह हड्डियों को भी मजबूत करता है। इस ऑइल से शरीर की पूरी थकान खत्म हो जाती है।

लेमन ग्रास ऑइल:

भाप के आसवन की प्रक्रिया द्वारा लेमनग्रास की पत्तियों को हल्का सूखाकर या ताजे पत्तियों से यह तेल बनाया जाता है। शरीर की थकान दूर करने में यह ऑइल बहुत फायदेमंद होता है। यह पैरासिम्पैथेटिक तंत्रिका तंत्र को सुदृढ करता है और सिरदर्द एवं तंत्रिकाओं से जुड़ी समस्या से छुटकारा दिलाता है। यह ऑइल श्वसन से जुड़े विकारों में फायदेमंद होता है और मांसपेशियों में तनाव को कम करने, शरीर में ऐंठन,दीमक की बीमारियों एवं बुखार में अत्यंत उपयोगी हो सकता है।

बोरेज ऑइल:

ऑयल में मिनरल्स, विटामिन, गामा लिनोलेनिक एसिड, ओमेगा-6 फैटी एसिड मौजूद होता है जो शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है। बोराज के ऑइल से मसाज करने पर शरीर में मौजूद कई विकार आसानी से दूर हो जाते हैं। सोरायसिस और एक्जिमा के इलाज में भी बोराज ऑइल का उपयोग किया जाता है।

आलमंड ऑइल:

शरीर के मसाज के लिए यह सबसे अधिक लोकप्रिय ऑइल है। यह ऑइल बादाम से निकाला जाता है और पीले रंग का होता है। बादाम के तेल में ओलेइक और लिनोलेइक एसिड पाया जाता है और इस ऑइल से शरीर एवं चेहरे पर मसाज करने से शरीर की त्वचा कोमल और मुलायम होती है और यह ऑयल त्वचा को नमी प्रदान करने का भी कार्य करता है। इसके अलावा मांसपेशियों में दर्द एवं तकलीफ को दूर करने में भी सहायता करता है।

कोकोनट का तेल:

इस ऑइल को अन्य ऑइल की अपेक्षा अधिक गाढ़ा एवं भारी माना जाता है। लेकिन इस ऑइल में अधिक चिकनाहट नहीं होती है। नारियल के तेल में लैक्रिक एवं लौरिक एसिड पाया जाता है जो एंटी-माइक्रोबियल एजेंट का काम करता है और यह हमारी त्वचा को हानिकारक रोगाणुओं से बचाता है। इसमें फैटी एसिड की परत होती है इसलिए यह त्वचा की नमी को लंबे समय तक बनाए रखता है। विटामिन ई की उपस्थिति के कारण त्वचा फिर से जीवंत हो उठती है और तरोताजा बनी रहती है।

बॉडी मसाज

एवाकाडो ऑइल:

इस ऑइल में एंटी-रिंकल और एंटी-बैक्टीरियल गुण पाया जाता है जो बढ़ती उम्र के कारण होने वाली झुर्रियों एवं दाग-धब्बों को कम करता है। एवोकैडो ऑयल में विटामिन A, D और पोटैशियम पाया जाता है और इससे शरीर पर मसाज करने से रैशेज और एक्जिमा की समस्या दूर हो जाती है। इसके अलावा एवोकैडो ऑयल में पैंथोथेनिक एसिड भी पाया जाता है जो त्वचा के लिए मॉश्चराइजर का काम करता है और स्किन को लचीला बनाता है।

केस्‍टर ऑइल:

इस तेल के दोनों ही त्‍वचा और बालों पर अच्‍छे असर होते हैं। यह गाढा और चिपचिपा तेल हर तरह कि स्‍किन को सूट करता है। यह चेहरे से झुर्रियों को भी दूर करता है।

अंगूर के बीज का तेल:

इस ऑइल से बिल्‍कुल भी एलर्जी नहीं होती और त्‍वचा पर इसके बहुत से फायदे भी हैं। अगर साफ और कोमल त्‍वचा चाहिये तो इससे बॉडी मसाज करें।

इन सभी तरह के ऑइल से आप अपनी बॉडी की मसाज कर सकते है। यह सभी अलग अलग तरीके के ऑइल्स से मालिश करने से आपके बॉडी में एक अलग सी ऊर्जा और फ्रेशनेस आप महसूस करने लगेंगे और साथ दर्द से भी राहत मिलेगी।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Sushmita Rajpurohit द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 01/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x