Cremaffin : क्रेमाफीन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट सितम्बर 20, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें
इस आर्टिकल में

क्रेमाफीन (Cremaffin) का उपयोग किसके लिए किया जाता है?

क्रेमाफीन (Cremaffin) दवा का उपयोग आमतौर पर कब्ज दूर करने के लिए किया जाता है।  क्रेमाफीन एक लिक्विड लैक्सेटीव है। इसमें दोअलग-अलग दवाओं लिक्विड पैराफिन  (Liquid Paraffin) और मैग्नीशियम हाइड्रॉक्साइड (Magnesium hydroxide) का मिश्रण होता है। 

मैग्नीशियम हाइड्रॉक्साइड (Magnesium hydroxide)

  •   मैग्नीशियम हाइड्रॉक्साइड आंतों में पानी को बनाए रखता है और कठोर मल को नरम करने में मददगार होता है। जिससे कब्ज से राहत मिलती है।

पैराफिन लिक्विड (Liquid Paraffin)

  •   लिक्विड पैराफिन मल में पानी और वसा की मात्रा को बनाए रखता है।

क्रेमाफीन और क्रेमाफीन प्लस में बस एक इंग्रीडिएंट्स का फर्क होता है। क्रेमाफिन प्लस में सोडियम पिको सल्फेट भी होता है, जो स्टूल को सॉफ्ट बनाने में मदद करता है।

क्रेमाफीन (Cremaffin) का उपयोगः

  •   कब्ज
  •   पेट के अल्सर
  •   मलाशय और गुदा में दर्द
  •   पेट में अम्ल
  •   हर्निया
  •   बच्चों में कब्ज
  •   कोलोनोस्कोपी
  •   एसिड न्यूट्रलाइजर
  •   अपच
  •   आंतों में पानी को बढ़ाना
  •   मल को नरम करने
  •   सीने में जलन
  •   कोलोनोस्कोपी से पहले आंत को खाली करना

बताए गए लक्षणों के अलावा अन्य उपयोगों के लिए भी क्रेमाफीन निर्धारित की जा सकती है, अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें : Ibugesic Plus : इबूगेसिक प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्रेमाफीन (Cremaffin) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

क्रेमाफीन (Cremaffin) का इस्तेमाल रोगी की स्वास्थ्य अवस्था को देखते हुए निर्धारित किया जाता है। इसकी खुराक हमेशा सोते समय ही लेनी चाहिए। लेकिन अगर जरूरी हो तो सुबह में भी इसकी खुराक ली जा सकती है। खुराक लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श लेना जरूरी होता है। इस दवा का उपयोग रोगी की उम्र, वजन और बीमारी पर निर्भर करता है।

पहली बार दवा की खुराक लेने से पहले इसके पैकेट में दिए गये लीफलेट को पढ़ना चाहिए। अगर आप इसकी खुराक लेना भूल जाते हैं या खुराक लेने में देरी करते हैं या खुराक लेने के बाद उल्टी हो जाती है तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात करें।

और पढ़ें : कंटोला (कर्कोटकी) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Kantola (Karkotaki)

मैं क्रेमाफीन (Cremaffin) को कैसे स्टोर करूं?

क्रेमाफीन (Cremaffin) के रख-रखाव के लिए तापमान 28 डिग्री सेल्सियल से कम होना चाहिए। आमतौर पर इसके लिए कमरे का तापमान सबसे बेहतर होता है। इसे धूप के सीधे प्रभाव या नमी से भी दूर रखना होता है। क्रेमाफीन को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह में न रखें। मार्केट में क्रेमाफीन के अलग-अलग ब्रांड है जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। 

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

बिना निर्देश के क्रेमाफीन को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुका है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है तो इसका इस्तेमाल न करें। जब भी क्रेमाफीन खरीदें सबसे पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़े या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ें : अस्थिसंहार के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Hadjod (Cissus Quadrangularis)

क्रेमाफीन (Cremaffin) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

क्रेमाफीन दवा के इस्तेमाल के बारे में सफदरजंग हाॅस्पिटल के फिजिश्यन डा अशोक रामपाल का कहना है कि ये दवा 12 से 24 घंटे में अपना असर करने लगती है, हालांकि कभी-कभी इसके असर नजर आने में 2 से 3 दिन का भी समय लग सकता है। साथ ही इसका उपयोग करने से पहले इन स्थितियों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें अगरः

  •       रोगी को क्रेमाफीन या इससे शामिल किसी भी रसायन से एलर्जी हो
  •       बिना डॉक्टर की सलाह के किसी दूसरे रोगी को इसकी खुराक न दें
  •       6 माह से छोटी उम्र के शिशुओं को इसकी खुराक न दें
  •       गुर्दे से जुड़ी समस्या होने पर सावधानी बरतें
  •       आंतों में रुकावट होने पर
  •       एपेंडिसाइटिस की स्थिती होने पर
  •       दवा का इस्तेमाल करने से पहले अपने खून की जांच करवाएं
  •       लिवर की स्थिती की जांच करवाएं
  •       हमेशा पैकेजिंग पर एक्सपायरी की जांच करें
  •       दवा के पैकेज पर लिखे लीफलेट को पढ़ना चाहिए
  •       जो महिलाएं प्रेग्नेंट हैं या प्रेग्नेंट होने की योजना बना रहीं हैं उन्हें इसके इस्तेमाल से पहले अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए
  •       ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाएं इसका इस्तेमाल न करें
  •       खुराक लेने के बाद वाहन न चलाएं
  •       भावनात्मक स्थिती में किसी तरह का बदलाव नजर आए तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें

और पढ़ें : Evion LC : एवियन एलसी क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान क्रेमाफीन (Cremaffin) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी के दौरान कब्ज, एसिडिटी और पेट की सम्सयाओं से छटकारा पाने के लिए क्रेमाफिन सिरप का इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन, इसकी खुराक डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही निर्धारित करें।

अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) के मुताबिक, क्रेमाफिन दवा को प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी की श्रेणी ‘A’ में रखा गया है।

FDA प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • A= कोई खतरा नहीं
  • B= कुछ अध्ययनों में खतरा पाया गया
  • C= कुछ खतरे हो सकते हैं
  • D= खतरे के पॉजिटिव एविडेंस मौजूद हैं
  • X= कॉन्ट्रेनडिकेटेड (Contraindicated)
  • N= पता नहीं

और पढ़ें : पारिजात (हरसिंगार) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Night Jasmine (Harsingar)

क्रेमाफीन (Cremaffin) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

नीचे क्रेमाफीन के सेवन से होने वाले कुछ संभावित दुष्प्रभावों की लिस्ट है। अगर आपको निम्नलिखित दुष्प्रभावों में से कोई भी लक्षण नजर आए तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें और इसका सेवन तुरंत रोक देः 

  •       पेट दर्द
  •       चक्कर आना
  •       मतली
  •       उल्टी
  •       डिहाईड्रेशन
  •       दस्त
  •       थकान
  •       भूख में कमी
  •       गुदा में जलन
  •       मांसपेशियों में दर्द
  •       त्वचा में खुजली
  •       सूजन
  •       मामूली ह्रदय समस्या
  •       फ्लशिंग (चेहरे, काम, गर्दन में गर्मी की भावना)
  •       पेट में ऐंठन
  •       आंखों या होंठों में सूजन

इसके इस्तेमाल के कारण होने वाले सभी दुष्प्रभाव यहां पर नहीं बताएं गए हैं। अगर आप किसी भी तरह का जोखिम महसूस करते हैं तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें : दूर्वा (दूब) घास के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Durva Grass (Bermuda grass)

कौन सी दवाएं क्रेमाफीन (Cremaffin) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

अगर आप किसी तरह की दवा का सेवन कर रहे हैं, तो उसके साथ क्रेमाफीन इस्तेमाल करने से पहले यह जरूर जान लें कि उसके साथ इसका इस्तेमाल करने से आपको किस तरह की परेशानी हो सकती है। साथ ही यह आपकी दवा के असर को भी प्रभावित कर सकती है। बिना डॉक्टर की सलाह के इसका सेवन न करें। 

  •   एल्कोहॉल (Alcohol)
  •   फुरोसेमीड (Furosemide)
  •   केटोकॉज़ोल (Ketoconazole)
  •   डायजोक्सिन (Digoxin)
  •   प्रेडनिसोलोन (Prednisolone)
  •    टेट्रासाइक्लिन एंटीबायोटिक (tetracycline hydrochloride)
  •   अमोक्सिलिन (Amoxicillin)
  •    राल्टेगरावीर (Raltegravir)
  •    डॉक्सीसाइक्लिन (Doxycycline)
  •    कैलेक्सेट (Kalexate)
  •     एसप्रिन (Aspirin)
  •     डोलटग्रेविर ड्यूट्रेबिस (Dolutegravir dutrebis)
  •     लेक्टूलोज़ (Lactulose)
  •     कैल्शियम कार्बोनेट (Calcium carbonate)
  •     मैग्निशियम  कार्बोनेट (Magnesium carbonate)

और पढ़ें : Domperidone : डॉमपेरिडॉन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ क्रेमाफीन (Cremaffin) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

अगर किसी भी भोजन या एल्कोहॉल के साथ क्रेमाफीन का सेवन किया जाए तो इसके परिणाम खतरनाक हो सकते हैं। इसलिए इसे किस तरह के खाद्य पदार्थों के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है इसके बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बातचीत करें।

और पढ़ें : करौंदा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Karonda (Carissa carandas)

क्रेमाफीन (Cremaffin) से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

क्रेमाफीन का इस्तेमाल आपकी सेहत के लिए कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपनी मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें। इसका अधिक सेवन किडनी और लिवर के लिए खतरनाक हो सकता है। अगर किसी भी तरह के लक्षण या बीमारी की स्थिती है तो आपने डॉक्टर से संपर्क करें। 

  •   एलर्जी होने पर
  •   पेट में गंभीर दर्द होने पर
  •   आंत की बीमारी
  •   पेंचदार आंत
  •   डायवर्टीकुलिटिस
  •   गुर्दे की बीमारी
  •   आंतों में रुकावट
  •   डायरिया
  •   लिवर की बीमारी
  •   प्रेग्नेंसी
  •   ब्रेस्टफीडिंग
  •    किसी विटामिन का इस्तेमाल

और पढ़ें : अस्थिसंहार के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Hadjod (Cissus Quadrangularis)

क्रेमाफीन (Cremaffin) के खुराक को समझें 

नीचे दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें : भुई आंवला के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Bhumi Amla

क्रेमाफीन (Cremaffin) कैसे उपलब्ध है?

क्रेमाफीन निम्नलिखित खुराकों के तौर पर उपलब्ध है:

क्रेमाफीन सिरपः 200 मिली, 170 मिली, 150 मिली

क्रेमाफीन वैरिएंट और कंपोजिशनः

  •   क्रेमाफीन प्लस सिरप
  •   सोडियम पिकोसल्फेटः 3.33 मिग्रा
  •   पैराफिन लिक्विडः 1.25 मिली
  •   मैग्नीशियम हाइड्रॉक्साइडः 3.75 मिली
  •   क्रेमाफीन शुगर फ्री सिरप मिक्सेड फ्रूट
  •   पैराफिन लिक्विडः 3.75 मिली
  •   मैग्नीशियम हाइड्रॉक्साइडः 11.25 मिली
  •   क्रेमाफीन फ्रेश 5 मिग्रा टैबलेट
  •   बिसाकोडाइलः 5 मिग्रा

और पढ़ें : चिचिण्डा के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Snake Gourd (Chinchida)

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में अपनी स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड जाएं। अगर ओवरडोज की कुछ ही समय में लिया हो तो रोगी को तुरंत उल्टी करने का प्रयास करना चाहिए। 

ओवरडोज के लक्षणः

  •   दस्त
  •   पेट दर्द
  •   उलटी
  •   भूख में कमी
  •   चक्कर आना
  •   मिलती
  •    गुदा में जलन

और पढ़ें : पीला कनेर के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Yellow Kaner

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर क्रेमाफीन की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें। 

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सक सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

और पढ़ें : Duphaston : डुफास्टोन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Tusq-D Lozenges : टस्क-डी लॉजेंजेस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

टस्क-डी लॉजेंजेस जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, टस्क-डी लॉजेंजेस का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Tusq-D Lozenges डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल अगस्त 28, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Drotin Plus Tablet : ड्रोटिन प्लस टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

ड्रोटिन प्लस टैबलेट की जानकारी in hindi, दवा के साइड इफेक्ट क्या है, ड्रोटावेरिन और पैरासिटामोल दवा किस काम में आती है, रिएक्शन, उपयोग, Drotin Plus Tablet

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल अगस्त 28, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Duzela 20 Capsule : डूजेला 20 कैप्सूल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डूजेला 20 कैप्सूल जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, डूजेला 20 कैप्सूल का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Duzela 20 Capsule डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल अगस्त 28, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Allercet Cold Tablet : अल्लर्सेट कोल्ड टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

अल्लर्सेट कोल्ड टैबलेट की जानकारी in hindi, दवा के साइड इफेक्ट क्या है, लिवोसिट्रिजिन, पैरासिटामोल और फेनिलफ्रिन दवा किस काम में आती है, रिएक्शन, उपयोग, Allercet Cold Tablet

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z अगस्त 27, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

एजेक्ट एमआर टैबलेट

Drotin-M Tablet : ड्रोटिन-एम टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ अगस्त 31, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
सेटसिप एल टैबलेट

Cetcip L Tablet : सेटसिप एल टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 31, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
जोरल एम1 टैबलेट

Zoryl M1 Tablet : जोरल एम1 टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 31, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
क्लोनाफिट टैबलेट

Clonafit Tablet : क्लोनाफिट टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 31, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें