home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Omee Tablet: ओमी टेबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|यह जरूरी बातें जानें|डोसेज
Omee Tablet: ओमी टेबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग

ओमी टेबलेट (Omee Tablet) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

ओमी टेबलेट का इस्तेमाल पेट में बनने वाले एसिड और अल्सर के इलाज के लिए किया जाता है। इसका एक्टिव इनग्रीडिएंट ओमेप्राजोल है। यह पेट में एसिड की मात्रा को कम करता है। इसके साथ यह एसिड के कारण पेट और खाने की नली में हुए नुकसान को भी ठीक करती है। यह हृदय में जलन, खाने को निगलने में हो रही परेशानी और लंबे समय से खांसी जैसे लक्षण से राहत दिलाने का काम करती है।

मैं ओमी टेबलेट (Omee Tablet) को कैसे इस्तेमाल करूं?

  • इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले उसके लेबल पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें। अपने डॉक्टर से दवा को इस्तेमाल करने का तरीका पूछें। आमतौर पर इसकी दिन में एक खुराक रिकमेंड की जाती है। आपका डॉक्टर इसे जैसे आपको रिकमेंड करें आप उसी अनुसार इसका सेवन करें।
  • आमतौर पर इसे खाना खाने से पहले लिया जाता है।
  • दवा की डोज मरीज की मेडिकल कंडिशन और ट्रीटमेंट पर निर्भर करती है। बच्चों में इसकी खुराक उनके वजन पर निर्भर करती है। कभी भी बिना डॉक्टर की सलाह के दवा की खुराक में किसी तरह का कोई बदलाव न करें।
  • दवा को कभी न तो तोड़े और न ही चबाएं। दवा को हमेशा पानी से निगल कर लें। दवा के अच्छे परिणाम पाने के लिए दवा का सेवन रोजाना एक ही समय पर करें। इस दवा का सेवन 14 दिन से ज्यादा नहीं करना चाहिए।
  • अगर दवा को खाने के बाद आपकी हालत पहले से ज्यादा खराब हो रही है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

मैं ओमी टेबलेट (Omee Tablet) को कैसे स्टोर करूं?

ओमी टेबलेट के रख-रखाव के लिए कमरे का तापमान सबसे बेहतर होता है। दवा को सीधे धूप और नमी से बचाकर स्टोर करें। दवा को डैमेज होने से बचाने के लिए बाथरूम या फ्रीज में इसे स्टोर न करें। दवा के लेबल पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। बिना निर्देश के किसी भी दवा को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर दवा एक्सपायर हो चुकी है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है, तो इसका इस्तेमाल न करें। इसे कैसे नष्ट करना है इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ें: नींद की गोलियां (Sleeping Pills): किस हद तक सही और कब खतरनाक?

सावधानियां और चेतावनी

ओमी टेबलेट (Omee Tablet) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

ओमी टेबलेट का इस्तेमाल करने से पहले निम्नलिखित स्थितियों के बारे में डॉक्टर को जरूर बताएं:

  • अगर आपको किसी दवा या खाने की चीज से एलर्जी है तो इस बारे में अपने डॉक्टर को जरूर बताएं।
  • डॉक्टर को अपनी मेडिकल हिस्ट्री के बारे में जरूर बताएं। खासतौर पर अगर आपको लिवर संबंधित कोई रोग है।
  • यदि आपकी कोई सर्जरी होने वाली है तो आप इस दवा को ले रहे हैं ये अपने डॉक्टर को जरूर बताएं।
  • यदि आप वर्तमान में कोई दवा, विटामिन, न्यूट्रिश्नल सप्लिमेंट्स और हर्बल उत्पाद ले रहे हैं या लेने की योजना बना रहे हैं तो इसके बारे में डॉक्टर को जरूर बताएं।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान ओमी टेबलेट (Omee Tablet) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इसका इस्तेमाल करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानियां हो सकती हैं इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं है। ऐसे में इसके इस्तेमाल से पहले हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें। अगर आप प्रेग्नेंसी के दिनों में इसका सेवन करना चाहती हैं, तो अपने डॉक्टर की देख-रेख में ही करें।

[mc4wp_form id=”183492″]

और पढ़ें: बच्चों के डिसऑर्डर पेरेंट्स को भी करते हैं परेशान, जानें इनके लक्षण

साइड इफेक्ट्स

ओमी टेबलेट (Omee Tablet) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

आपको निम्नलिखित में से कोई लक्षण महसूस हो तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें:

सामान्य साइड इफेक्ट्स:

  • फीवर
  • सर्दी के लक्षण जैसे नाक बहना, छींक आना, गला खराब होना
  • पेट में दर्द या गैस बनना
  • गले में खराश
  • हल्के दस्त
  • जी मिचलाना या उल्टी होना
  • सिरदर्द

हालांकि, इसका इस्तेमाल करने वाले लोगों में इस तरह के लक्षण नजर आए ऐसा जरूरी नहीं है। कुछ साइड इफेक्ट्स ऐसे भी हैं, जिनके बारे में यहां पर नहीं बताया गया है। अगर आप किसी भी तरह का जोखिम महसूस करते हैं, तो अपने डॉक्टर से बात करें।

यह जरूरी बातें जानें

कौन सी दवाएं ओमी टेबलेट (Omee Tablet) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

यदि आप वर्तमान में कोई दवा ले रहे हैं तो उसके साथ ओमी टेबलेट रिएक्ट कर सकती है। ऐसा करने से दवा का असर प्रभावित हो सकता है। इतना ही नहीं इससे साइड इफेक्ट्स होने का खतरा भी ज्यादा रहता है। दवा से होने वाले दुष्परिणामों से बचने के लिए आपको सभी दवाओं की लिस्ट बनानी चाहिए जिनका आप सेवन कर रहे हैं। इस लिस्ट में उन दवाओं को भी शामिल करें जिन्हें आप डॉक्टर के प्रस्क्रिप्शन के बिना मेडिकल स्टोर से खरीद कर ले रहे हैं। अगर आप किसी हर्बल या विटामिन का सेवन कर रहे हैं तो इसकी जानकारी भी आप अपने डॉक्टर को जरूर दें। अपनी सुरक्षा के लिए, अपने डॉक्टर की स्वीकृति के बिना किसी-भी दवा को खुद से इस्तेमाल करना शुरू न करें, ना ही दवा लेना बंद करें और ना ही खुराक को बदलें।

ओमी टेबलेट के साथ नीचे बताई दवाओं को रिकमेंड नहीं किया जाता है। अगर किसी भी दवा का सेवन पहले से करते हैं, तो अपने स्वास्थ्य विशेषज्ञ को जरूर बताएं।

  • सीटालोप्राम (Citalopram)
  • क्लोपिडोग्रेल (Clopidogrel)
  • क्लोजापिन (Clozapine)
  • डैसाटिनिब (Dasatinib)
  • डेलावीरडीने (Delavirdine)
  • अटाजेनावीर (Atazanavir)
  • बेंडामुस्तिन (Bendamustine)
  • बोसुतिनीब (Bosutinib)
  • निलोटिनिब (Nilotinib)
  • पैजोपानिब (Pazopanib)
  • टोपोटेकन (Topotecan)
  • टैक्रोलीमस (Tacrolimus)
  • लेडीपासवीर (Ledipasvir)
  • ऐर्लोटिनिब (Erlotinib)
  • एसलीकारबजेपीने आसेटेट (Eslicarbazepine Acetate)
  • इंडिनावीर (Indinavir)
  • केटोकोनाजोल (Ketoconazole)
  • मिथोट्रेक्सेट (Methotrexate)
  • नेलफिनवीर (Nelfinavir)
  • सक्विनावीर (Saquinavir)

निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ ओमी टेबलेट का उपयोग करने से कुछ साइड इफेक्ट्स का खतरा बढ़ सकता है। यदि दोनों दवाएं एक साथ निर्धारित की जाती हैं, तो आपका डॉक्टर खुराक को बदल सकता है।

  • आर्मोडैफिनिल (Armodafinil)
  • कार्बामाजेपिन (Carbamazepine)
  • फ्लुकोनाजोले (Fluconazole)
  • जिन्को बाइलोबा (Ginkgo Biloba)
  • टिपरणवीर (Tipranavir)
  • डिसुलफिराम (Disulfiram)
  • वार्फरिन (Warfarin)
  • आयरन (Iron)
  • लेवोथायरोक्सिन (Levothyroxine)
  • राल्टेगरावीर (Raltegravir)
  • डिजोक्सिन (Digoxin)
  • वोरिकोनाजोल (Voriconazole)
  • सीलोस्टैजोल (Cilostazol)
  • ट्राईएजोलम (Triazolam)

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ ओमी टेबलेट (Omee Tablet) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

अगर किसी खास डायट या एल्कोहॉल के साथ ओमी टेबलेट का सेवन किया जाए तो इसके परिणाम खतरनाक हो सकते हैं। इसलिए इसे किस तरह के खाद्य पदार्थों के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है या अल्कोहॉल के साथ ले सकते हैं या नहीं इसके बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बातचीत करें।

ओमी टेबलेट (Omee Tablet) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

कई मामलों में ओमी टेबलेट का सेवन घातक साबित हो सकता है। इसलिए जरूरी है कि इसके इस्तेमाल से पहले अपने स्वास्थ्य की मौजूदा स्थिती के बारे में अपने डॉक्टर को जरूर बताएं। खासतौर पर अगर आपको निम्नलिखित में से कोई परेशानी है:

और पढ़ें- सोने से पहले ब्लडप्रेशर की दवा लेने से कम होगा हार्ट अटैक का खतरा

डोसेज

यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प न मानें। किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

ओमी टेबलेट (Omee Tablet) की व्यस्कों के लिए क्या डोज है?

ड्यूडिनल अल्सर (Duodenal Ulcer):

4 से 8 हफ्तों के लिए, खाना खाने से पहले मौखिक रूप से 20 मिलीग्राम

गैस्ट्रिक अल्सर(Gastric Ulcer):

4 से 8 हफ्तों के लिए, खाना खाने से पहले मौखिक रूप से 40 मिलीग्राम

इरोसिव एसोफैगिटिस (Erosive Esophagitis):

20 मिलीग्राम खाना खाने से पहले। डॉक्टर आपकी ये डोस बढ़ाकर 40 मिलीग्राम भी कर सकता है।

जोलिंगर एलिसन सिंड्रोम (Zollinger-Ellison Syndrome):

शुरुआत में 60 मिलीग्राम दिन में एक बार। इसकी खुराक पेशेंट की स्थिती के अनुसार अलग भी हो सकती है।

गैस्ट्रोएसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज:

4 से 8 हफ्तों के लिए, शुरुआत में 20 मिलीग्राम दिन में एक बार। इसकी खुराक पेशेंट की स्थिती के अनुसार अलग भी हो सकती है।

मल्टीपल एंडोक्राइन एडिनोमास:

शुरुआत में खाना खाने से पहले 60 मिलीग्राम। इसके बाद 120 मिलीग्राम दिन में तीन बार।

डिस्पेसिया:

20 मिलीग्राम 14 दिनों तक रोजाना दिन में एक बार खाना खाने से पहले

ओमी टेबलेट (Omee Tablet) की बच्चों के लिए क्या डोज है?

इरोसिव एसोफैगिटिस:

0.7 मिलीग्राम/किलोग्राम/डोज दिन में एक बार

गैस्ट्रोफेगल रिफलक्स डिजीज:

0.7 मिलीग्राम/किलोग्राम/डोज दिन में एक बार

ओमी टेबलेट (Omee Tablet) किन रूपों में उपलब्ध है?

ओमी टेबलेट निम्नलिखित रूपों और डोसेज में उपलब्ध है:

  • कैप्सूल 10 मिलीग्राम; 20 मिलीग्राम ; 40 मिलीग्राम
  • सस्पेंशन 2.5 मिलीग्राम; 10 मिलीग्राम

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड में जाएं।

ओवरडोज के निम्नलिखित लक्षण देखें जा सकते हैः

  • भ्रम
  • धुंधला दिखाई देना
  • सुस्ती
  • पसीना
  • सिरदर्द
  • मुंह सूखना
  • हार्ट बीट तेज होना
  • मिचली

अगर एक खुराक लेना भूल जाएं तो क्या करना चाहिए?

अगर ओमी टेबलेट की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Omeprazole/ https://www.drugs.com/omeprazole.html. Accessed December 06, 2019.

Omeprazole/https://medlineplus.gov/druginfo/meds/a693050.html  Accessed December 06, 2019.

Omeprazole/https://www.nhs.uk/medicines/omeprazole/  Accessed December 06, 2019.

Omeprazole (Oral Route)/https://www.mayoclinic.org/drugs-supplements/omeprazole-oral-route/description/drg-20066836  Accessed December 06, 2019.

Omeprazole/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK539786/ Accessed on 16th May 2021

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 16/05/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड