दस्त से राहत पाने के लिए आसान घरेलू उपाय

Medically reviewed by | By

Update Date मई 27, 2020
Share now

दस्त (Loose Motion) की समस्या किसी को भी हो जाती है। कई बार खाना ठीक से पचने के कारण भी दस्त की समस्या हो जाती है। इसके अलावा, बैक्टीरिया और वायरस भी दस्त का कारण हो सकते हैं। दस्त लगने पर हमारे शरीर से लगातार पानी की कमी होती रहती है। इस वजह से कमजोरी, भूख की कमी, उल्टी, मतली जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। इस आर्टिकल में हम आपको दस्त की दवा लेने के साथ ही दस्त से बचने के घरेलू उपाय बताएंगे। आइए जानते हैं दस्त रोकने के घरेलू उपाय और नुस्खे क्या हैं।

अदरक:

अदरक का उपयोग पाचन को मजबूत बनाने के लिए किया जाता है। इसलिए, अदरक का उपयोग दस्त रोकने के घरेलू उपाय का एक अच्छा विकल्प साबित होता है। इसके लिए एक चम्मच अदरक के पाउडर को थोड़े-से जीरा पाउडर और दालचीनी पाउडर के साथ शहद में मिलाएं और इसे दिन में तीन बार लें। इसके अलावा, आप अदरक की चाय का भी उपयोग कर सकते हैं। अदरक की चाय को पीने से पेट में उठने वाले दर्द से राहत मिलती है, जोकि दस्त के कारण होती है। आप अदरक के रस के साथ नींबू के रस को बराबर मात्रा में मिलाए। फिर इसमें थोड़ी मात्रा में काली मिर्च को मिलाकर दिन में दो से तीन बार इसका सेवन करें। 

केले का सेवन:

केले का सेवन दस्त को ठीक करने में आपकी मदद कर सकता है। केले में मौजूद पेक्टिन एक प्रकार का घुलनशील फाइबर है, जो आंत में तरल पदार्थों के अवशोषण करने में मदद करता है। इससे आप पानी की कमी से भी बच पाते हैं। जब भी आप को दस्त हों, तो आपको नाश्ते के रूप में एक से दो केले खाने से फायदा हो सकता है। इसके अलावा, केले के साथ इमली के चूर्ण को मिलाकर उसमें स्वादानुसार एक चुटकी नमक मिलाकर खाने से डायरिया में राहत मिलती है।

दही का सेवन:

खाने के साथ दही का सेवन दस्त से उबरने में मदद करने का एक प्रभावी तरीका होता है। दस्त में पाए जाने वाले बैक्टीरिया आपकी आंत में जाकर सुरक्षा प्रदान करने वाली एक परत बनाते हैं। यह आपके अंदर के विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने में मदद करते हैं। इसलिए, जब भी आप को दस्त हों, तो आप दही का सेवन करें। लेकिन, ध्यान रहे जब तक आपके पेट और पाचन तंत्र से संबंधित बीमारी (जिसमें दस्त भी शामिल हैं) ठीक नहीं हो जाती, तब तक आप दही के अलावा अन्य डेयरी उत्पादों का सेवन न करें। यह आपके स्वास्थ्य को और बिगाड़ सकते हैं।

मेथी के बीज:

मेथी के बीज में मौजूद चिकनेपन के कारण उन्हें दस्त के लिए एक उपयोगी प्राकृतिक औषधि माना जाता है। इसके लिए आप दही के साथ एक चम्मच मेथी के बीज मिलाकर खा सकते हैं। इसके अलावा, आप चाहें तो, दो चम्मच मेथी के बीज और थोड़ा-सा भुना हुआ जीरा मिलाकर और दिन में दो से तीन बार सेवन कर सकते हैं।

संतरे के छिल्के:

संतरे के छिल्कों में पाचन को सही करने की क्षमता पाई जाती है, इसलिए इनकी चाय का उपयोग आप दस्त को ठीक करने में कर सकते हैं। इसके लिए आप सबसे पहले संतरे को धोकर उसका छिल्का उतार लें। फिर, आधे कप गर्म पानी में संतरे के छिल्कों को डालकर थोड़ी देर उबालें। कुछ देर बाद, इसमें शहद या शक्कर मिलाएं। इस चाय का दिन में दो से तीन बार सेवन करने से दस्त में राहत मिल सकती है।

नारियल पानी:

बार-बार दस्‍त लगने के कारण आपके शरीर में पानी की कमी हो सकती है लेकिन, नारियल पानी का उपयोग कर आप डिहाइड्रेशन का इलाज कर सकते हैं। नारियल पानी का इस्तेमाल आपके शरीर में खोए हुए पोषक तत्‍व और तरल पदार्थ की कमी को पूरा करता है। इसके लिए आपको नियमित रूप से दिन में एक से दो गिलास नारियल पानी पीने की आवश्‍यकता है। यह आपके शरीर को ऊर्जा दिलाने के साथ ही दस्‍त को कम करने में सहायक हो सकता है।

तो अगर आपको दस्त की समस्या होती है, तो आप ऊपर बताए गए दस्त के घरेलू उपाय अपना सकते हैं। लेकिन, अगर आपको लगे कि यह ठीक नहीं हो रहे हैं, तो बेहतर है कि बिना देरी किए आप डॉक्टर से सलाह ले लें।

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"