खरबूज के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Muskmelon (Kharbuja)

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जून 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

परिचय

खरबूज क्या है?

खरबूज एक मौसमी फल है जिसे आमतौर पर गर्मियों के दिनों में सबसे अधिक खाया जाता है। इसे खरबूजा या कैंटालूप (cantaloupe) भी कहा जाता है। खरबूज का वैज्ञानिका नाम कुकुमिस मेलो (Cucumis melo var. cantalupensis) है और खरबूज कुकुरबिटेसी (Cucurbitaceae) प्रजाति से संबंधित होता है। खरबूज के कई प्रकार होते हैं। इसके अधिकतर प्रकार के फलों में से कस्तूरी जैसी गंध आती रहती है, जिस वजह से इसे कस्तूरी भी कहा जाता है। खरबूज एक लता होती है जिसका फल गोल आकार का लगभग एक फुटबॉल के बराबर का हो सकता है। गर्मियों में इसका सेवन करना काफी फायदेमंद माना जता है। इसमें पानी की भरपूर मात्रा पाई जाती है, जिसके सेवन से शरीर हाइड्रेट और ठंडा बना रह सकता है। खरबूज के सेवन से गर्मी के मौसम में बहुत ज्यादा प्यास लगने की समस्या को भी दूर किया जा सकता है। इसके अलावा, औषधीय गुणों के तौर पर खरबूज के फल और खरबूज के बीजों का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। खरबूज का फल कई क्षेत्रों में कच्चा या पके हुए रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके कच्चे फल का इस्तेमाल सब्जी बनाने के लिए किय जा सकता है। खरबूजे के फल आमतौर पर मध्य एशियाई देशों जैसे, तुर्कमेनिस्तान और उज्बेकिस्तान में पाए जा सकते हैं।

खरबूज को अंग्रेजी में मस्कमेलन (Muskmelon), मेलन (Melon) या चीबुड फ्रूट (chibud fruit) भी कहते हैं। इसके फल का स्वाद मिठास भरा हो सकता है। वहीं, खरबूज के बीजों की गिरी से मेवा बनाया जा सकता है जिसका इस्तेमाल कई तरह की मिठाईयों को बनाने और उनके स्वाद को बढ़ाने में किया जा सकता है। साथ ही, खरबूज के बीज का इस्तेमाल तील बानाने के लिए भी किया जा सकत है। खरबूज के फल में कैल्शियम, आयरन, विटामिन ए और विटामिन सी  काफी उच्च मात्रा में पाई जा सकती है, जिसकी वजह से इसका इस्तेमाल एक औषधी के तौर पर विभिन्न स्वास्थ्य स्थितियों के उपचार में भी किया जा सकता है।

और पढ़ेंः सिंघाड़ा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Singhara (Water chestnut)

खरबूज का उपयोग कैसे किया जाता है?

खरबूज का उपयोग निम्नलिखित स्वास्थ्य स्थितियों को बेहतर बनाने और उनका उपचार करने के लिए किया जा सकता है, जिसमें शामिल हैंः

वजन कम करने के लिए

खरबूज फाइबर युक्त फल होता है, जो वजन को कम करने में मदद कर सकता है। इसके फाइबर के गुण खाने को अच्छे से पचाने के साथ-साथ भूख को शांत करने में भी मदद कर सकते हैं।

कैंसर की रोकथाम के लिए

खरबूजे में एंटी-कैंसर गुण पाए जा सकते हैं जो कैंसर के जोखिम को कम कर सकते हैं।

डायबिटीज के लिए

खरबूज में ऑक्सीकाइन पाया जा सकता है, जो ब्लड में शुगर के लेवल को संतुलित करने में मदद कर सकता है। जो मधुमेह के जोखिम को काफी हद तक कम कर सकता है।

स्ट्रेस दूर करे

इसके ऑक्सिडेटिव गुण स्ट्रेस को भी दूर करने में मदद कर सकते हैं।

किडनी स्टोन के लिए

खरबूजे के फल में साइट्रेट और कैल्शियम के गुण पाए जा सकते हैं, जो ऑक्सालेट क्रिस्टल को बढ़ने से रोक सकते हैं और किडनी स्टोन के विकास को रोकने में शरीर की मदद कर सकते हैं। ऐसे लोग जिनके यूरिन में साइट्रेट की कम मात्रा बनती है, उनके लिए खरबूजे का सेवन करना काफी लाभकारी साबित हो सकता है।

और पढ़ेंः पाठा (साइक्लिया पेल्टाटा) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Patha plant (Cyclea Peltata)

इसके अलावा, निम्न स्वास्थ्य स्थितियों के उपचार के लिए भी खरबूजे का सेवन किया जा सकता हैः

हालांकि, एक बात का ध्यान रखें कि इसके किसी भी रूप या किसी भी तरह के उपचार में इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

और पढ़ेंः कदम्ब के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Kadamba Tree (Neolamarckia cadamba)

खरबूज कैसे काम करता है?

खरबूज में 90 फीसदी तक पानी की मात्र पाई जाती है। इसलिए गर्मियों में खरबूजे का सेवन करना बहुत लाभकारी साबित हो सकता है। वहीं, खरबूजे के बीज में 40 से 50 फीसदी तेल पाया जा सकता है, जो विभिन्न तरह का शारीरिक दर्द को दूर करने में मदद कर सकते हैं।

प्रति 100 ग्राम खरबूज में पोषक तत्वों की मात्रा

  • कैलोरी – 34
  • टोटल फैट – 0.2 ग्राम
  • सोडियम – 16 मिग्रा
  • पोटैशियम – 267 मिग्रा
  • टोटल कार्बोहाइड्रेट – 8 ग्राम
  • डायटरी फाइबर – 0.9 ग्राम
  • शुगर – 8 ग्राम
  • प्रोटीन – 0.8 ग्राम
  • विटामिन ए – 67%
  • विटामिन सी – 61%
  • विटामिन बी6 – 5%
  • आयरन – 1%
  • मैग्नीशियम – 3%
और पढ़ेंः अर्जुन की छाल के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Arjun Ki Chaal (Terminalia Arjuna)

उपयोग

खरबूज का उपयोग करना कितना सुरक्षित है?

विभिन्न शोधों के मुताबिक, खरबूज के फल और बीजों का सेवन करना एक औषधी के रूप में लाभकारी माना जा सकता है। हालांकि, आपको इसका सेवन हमेशा अपने डॉक्टर के निर्देश पर ही करना चाहिए। आपको इसके ओवरडोज से भी बचना चाहिए। सिर्फ उतनी ही खुराक का सेवन करें, जितना आपके डॉक्टर द्वारा निर्देशित किया गया हो।

और पढ़ेंः पुष्करमूल के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Pushkarmool (Inula racemosa)

साइड इफेक्ट्स

खरबूज से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

अध्ययनों के मुताबिक एक औषधी के तौर पर खरबूज का सेवन करना पूरी तरह से सुरक्षित हो सकता है। वैसे तो इससे किसी तरह के गंभीर दुष्प्रभाव के मामले नहीं मिलते हैं। खरबूजे में फाइबर की उच्च मात्रा पाई जाती है, जिसके अधिक सेवन से गैस और पेट में सूजन की समस्या हो सकती है। इसलिए, इसके सेवन से पहले अपने डॉक्टर की उचित सलाह लें। साथ ही, अगर आपको इसके सेवन से किसी भी तरह के साइड इफेक्ट्स दिखाई दें, तो तुरंत इसका सेवन करना बंद करें और अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

साथ ही आपको इसके सेवन से पहले निम्न स्थितियों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए, अगरः

  • आपको खरबूज या इसमें पाए जाने वाले किसी भी तरह के रसायन से एलर्जी होने का खतरा हो।
  • अगर आप प्रेग्नेंट हैं या प्रेग्नेंसी प्लानिंग कर रही हैं।
  • अगर आप गर्भनिरोधक गोलियों का नियमित सेवन करते हैं।
  • किसी भी तरह के विटामिन या मेडिकल स्टोर पर मिलने वाले दवाओं का सेवन करते हैं।
  • अगर आपको कोई गंभीर शारीरिक स्थिति हो, जैसे- कैंसर या लिवर से जुड़ी कोई समस्या।
  • खांसी, जुकाम या बुखार होने पर भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह काफी ठंडा होता है।

साथ ही, कभी भी खाली पेट खरबूज नहीं खाना चाहिए। खाली पेट खरबूजा खाने से एबडोमन में पित्त संबंधी समस्‍याएं हो सकती हैं।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

और पढ़ेंः शतावरी के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Asparagus (Shatavari Powder)

डोसेज

खरबूज को लेने की सही खुराक क्या है?

खरबूज का इस्तेमाल आप विभिन्न रूपों में कर सकते हैं। इसकी मात्रा आपके स्वास्थ्य स्थिति, उम्र और लिंग के आधार पर आपके डॉक्टर द्वारा निर्धारित की जा सकती है। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

प्रतिदिन खरबूज के सेवन की अधिकतम खुराक हो सकती हैः

  • खरबूजे का बीज – 2 ग्राम
  • खरबूजे के बीज का चूर्ण – 5 से 10 ग्राम
  • खरबूजे का फल – 20 से 30 ग्राम
और पढ़ेंः क्षीर चम्पा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Plumeria (Champa)

उपलब्ध

यह किन रूपों में उपलब्ध है?

खरबूज के निम्न रूपों का इस्तेमाल आप इस तरह से कर सकते हैंः

  • खरबूजे का फल
  • खरबूजे का बीज
  • खरबूजे की जड़

अगर आपका इससे जुड़ा किसी तरह का कोई सवाल है तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। 

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

High Triglycerides : हाई ट्राइग्लिसराइड्स क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

हाई ट्राइग्लिसराइड्स (High Triglycerides) की जानकारी in hindi, उसके निदान और उपचार, कारण, लक्षण, घरेलू उपचार, High Triglycerides के खतरे के बारे में जानें |

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

डबल डायबिटीज की समस्या के बारे में जानकारी होना है जरूरी, जानिए क्या रखनी चाहिए सावधानी

डबल डायबिटीज की जानकारी in hindi. डबल डायबिटीज की समस्या में व्यक्ति के शरीर में टाइप 1 डायबिटीज के साथ ही इंसुलिन रजिस्टेंस भी उत्पन्न हो जाता है। Double diabetes, Insulin

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
डायबिटीज, हेल्थ सेंटर्स मई 26, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

क्या ब्राउन शुगर से ज्यादा हेल्दी है स्टीविया? जानें स्टीविया के फायदे और नुकसान

स्टीविया के फायदे क्या है और इसके नुकसान क्या हैं? वजन घटाने के लिए शुगर, ब्राउन शुगर कितना हेल्दी है। स्टीविया के फायदे in Hindi, Benefits of stevia vs brown sugar

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन अप्रैल 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Japanese Persimmon: जापानी परसीमन क्या है?

जापानी परसीमन को जापानी फल के नाम से भी जाना जाता है। फल के रूप में यह स्वादिष्ट होता है लेकिन इसके पत्तों और फल का दवाई के रूप में भी प्रयोग होता है। Japanese Persimmon in Hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Anu sharma

Recommended for you

fasting tips for diabetes patient-डायबिटीज के मरीजों के लिए उपवास

फास्टिंग के दौरान डायबिटीज के मरीज रखें इन बातों का रखें ध्यान

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
प्रकाशित हुआ अगस्त 13, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Istamet Tablet इस्टामेट टैबलेट

Istamet Tablet : इस्टामेट टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ जुलाई 16, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
इंसुलिन पंप

क्या है इंसुलिन पंप, डायबिटीज से इसका क्या है संबंध, और इसे कैसे करना चाहिए इस्तेमाल?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ जुलाई 15, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
डायबिटिक न्यूरोपैथी

जानें क्या है डायबिटिक न्यूरोपैथी, आखिर क्यों होती है यह बीमारी?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ जुलाई 9, 2020 . 8 मिनट में पढ़ें