बच्चे को खुद कपड़ा पहनना कैसे सिखाएं ?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट दिसम्बर 13, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

शुरुआत में बच्चों को कपड़े पहनाना एक टास्क से कम नहीं होता है। धीरे-धीरे जब बच्चा खुद कपड़े पहनना सीख जाता है तो उसमें एक आत्मविश्वास और स्वतंत्रता का निर्माण होता है। छोटे बच्चों में यह एक उपलब्धि की भावना देता है। एक बार जब बच्चा खुद तैयार होने लगता है तब तो आपके लिए ये बस काम बन जाता है। इसके अलावा, कपड़े पहनने से बच्चे को कई अन्य कौशल विकसित करने में मदद मिलती है, जिसमें शामिल हैं :

  • इससे वह बटन बंद करने से लेकर जिप लगाना सीख जाता है।
  • एक पैर पर खड़े होकर पैंट को पहनना।
  • उसे ये मालूम होता है कि कौन सा कपड़ा पहले पहना जाता है।
  • इसके अलावा, बच्चे को अलग अलग फैब्रिक, रंग और कपड़ों के बारे में जानकारी होती है।
  • किसी पार्टी या फिर मौसम के अनुसार कपड़े पहनना सीखता है।

यह भी पढ़ें : नवजात शिशु को घर लाने से पहले इस तरह तैयार करें शिशु का घर

कैसे सिखाएं बच्चे को कपड़े पहनना?

अक्सर छोटे बच्चे मोजे, जूते या टोपी जैसे कपड़ों के बारे में जानने लगते हैं। कभी-कभी वे उन्हें खुद से डालने की कोशिश भी करते हैं। बच्चे जिन कपड़ों को पसंद करते हैं और निकालते हैं आप उनके नाम बताकर उन्हें कपड़ों से जुड़ी बातें बता सकते हैं। जैसे ये कौन सा रंग है, इसे क्या कहते हैं आदि।

कम विकल्प से करें शुरूआत

अपने बच्चे को कपड़े पहनाने के लिए उसे कम ऑप्शन देकर शुरू कर सकते हैं। जब आपको लगे ये सही समय है बच्चे को कपड़ों के बारे में बताने का तो उनके हाथ में आसान कपड़े बताकर उसके नाम बताएं। ऐसा कर उन्हें उनके नाम याद करने में आसानी होगी।

इनमें शामिल हो सकते हैं:

यह भी पढ़ें : शिशु को डायपर रैशेज से बचाने के लिए घरेलू उपाय

  • ढीली, लास्टिक वाली पैंट
  • बड़े बटन वाले कपड़े
  • जंपर्स, टी-शर्ट और अंडरवियर
  • ऐसे कपड़े जो आपके बच्चे के लिए आसान और आरामदायक हों।

कपड़े पहनना एक-एक करके सिखाएं

कपड़े पहनना सीखाने के लिए आप बहुत सारे तरीके अपना सकते हैं। इसे आप छोटे-छोटे हिस्सों में बांट सकते हैं। जैसे अंडरवियर में पांव डालना, इसके बाद टी-शर्ट, शॉर्ट्स, मोजे और जूते। आप एक-एक स्टेप कर बच्चे को उसकी उम्र और कौशल के आधार पर उसे कपड़े पहनना सिखाएं। उदाहरण के लिए, आप इस तरह से शॉर्ट्स डालने के लिए सीखा सकते हैं :

  • सबसे पहले बताएं शॉर्ट्स सीधी कहा से होती है।
  • कमरबंद के सामने की तरफ से पकड़ना सीखाएं।
  • कैसे पैंट को पकड़कर एक पैर उसमें से निकालना है।ॉ
  • शॉर्ट्स को ऊपर करें।

बच्चे से बात करने से पता चलता है कि उसे क्या करना है। शुरुआती चरणों में, सरल शब्द या वाक्यांश बोलें। जैसे- शर्ट पहनो। ऐसा करने से धीरे-धीरे आपके बच्चे की भाषा विकसित होती है।

यह भी पढ़ें : नवजात शिशु को घर लाने से पहले इस तरह तैयार करें शिशु का घर

बारी-बारी अलग तरह के कपड़ों को पहनना सिखाएं

अपने बच्चे को अलग-अलग कपड़े पहनना सिखाने का एक अच्छा तरीका है कि प्रत्येक कार्य को छोटे चरणों में तोड़ दिया जाए और पहले उसे अंतिम चरण सिखाया जाए। एक बार जब आपका बच्चा कार्य का अंतिम चरण कर सकता है, तो उसे दूसरा-अंतिम चरण सिखाएं, फिर तीसरा-अंतिम चरण।

उदाहरण के लिए, जब शॉर्ट्स डालते हैं, तो बच्चे को शॉर्ट्स का सही तरीके से पहनने में मदद कर सकते हैं। कमरबंद को पकड़ें और पैर डालें। फिर अपने बच्चे को अंतिम चरण सिखाएं – अपनी कमर तक शॉर्ट्स को खुद से खींचना।

जब बच्चा ऐसा कर सकता है, तो उसे ये सिखाएं कि कैसे एक पैर को हवा में कैर पैंट पहनते हैं और अंतिम में ऊपर खींचते हैं। जब तक बच्चा सभी सीख नहीं लेता है, आप उन्हें बार-बार बताते रहें। 

यह भी पढ़ें : बच्चे की मिट्टी खाने की आदत छुड़ाने के उपाय

बच्चे को कपड़े पहनने के लिए सीखने में मदद करने के टिप्स :

यदि आप बच्चे के प्रति सकारात्मक और सहायक होते हैं, तो आपका बच्चा चीजों को जल्दी सिखेगा। वो कुछ भी नया करे तो उसकी प्रशंसा करें। भले ही आपके बच्चे ने पैंट उल्टी पहनी हो आप उसके लिए ताली बजाएंगे तो यह उसे आगे प्रयास करने में मदद करेगा। वो चीजों को दोबारा करने की कोशिश करेगा।

समय निर्धारित करना 

  • अपनी निगरानी में उसे कपड़े पहनने की कोशिश कराएं। आपके पीछे से वो खुद से पहनेगा तो गिर भी सकता है।
  • यदि आप अक्सर सुबह उठते हैं, तो रात को अपने बच्चे के साथ कपड़े चुनने की कोशिश करें।
  • जब आप जल्दी में हों, तो अपने बच्चे को आसान काम करने दें और मुश्किल कामों में उसकी मदद करें।
  • जब आप और आपका बच्चा जल्दी या थके हुए न हों तो कपड़े पहनने का अभ्यास करें।

उपयुक्त कपड़े चुनना

कपड़े पहनना सीखने का आसान करने के लिए बच्चे को दो विकल्पों में से कपड़े पसंद करने दें। बड़े बच्चे अपने स्वयं के कपड़े चुनने में सक्षम हो सकते हैं। कपड़े चुनते समय मौसम के बारे में बताएं। अपने बच्चे से पूछें कि बाहर गर्म है या ठंडा, बारिश है या धूप। इससे उनमें मौसम के हिसाब से कपड़ों की समझ पैदा होगी।

ह भी पढ़ें : 6 महीने के शिशु को कैसे दें सही भोजन?

बच्चे को गंदे और साफ कपड़ों में अंतर सिखाएं

बच्चों को गंदे और साफ कपड़ों में अंतर के बारे में बताएं। उदाहरण के लिए गंदे कपड़े धोने की टोकरी में जाते हैं। जो वो साफ होकर वापस आपकी अल्मारी में आ जाते हैं तो आप उन्हें दोबारा पहन सकते हैं। आप कुछ सरल दिशानिर्देश उन्हें दे सकते हैं, जैसे हर दिन साफ ​​अंडरवियर और मोजे पहनना।

यह बातें बच्चों को कपड़े पहनना सीखने में करेंगी मदद

  • अपने बच्चे को ड्रेसिंग कार्यों के लिए बैठाएं। कुछ बच्चों के लिए कुर्सी या बिस्तर पर बैठने की तुलना में फर्श पर बैठना आसान हो सकता है।
  • कपड़ों को अलमारी में रखें जो बच्चे को आसानी से मिल सकें। कपड़ों के चित्र या शब्द के साथ उन कपड़ों का वर्णन करें जो दराज में हैं।
  • ऐसे कपड़े पहनाएं जिनमें आगे और पीछे की आसानी से पहचान हो जाए – उदाहरण के लिए, आगे की तरफ एक तस्वीर।

बच्चे को कपड़े पहनाना सीखाने से पहले कपड़े उतारना सीखाएं। पहनने की तुलना में कपड़ों को उतारना आसान होता है। अपने सामने उन्हें खुद कपड़े उतारने को कहें। इससे आपके बच्चे का आत्मविश्वास बढ़ेगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

संबंधित लेख: