आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स : बच्चे की ग्रोथ के महत्वपूर्ण चरण, जानिए विस्तार से!

टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स : बच्चे की ग्रोथ के महत्वपूर्ण चरण, जानिए विस्तार से!

शिशु की सही ग्रोथ और विकास माता-पिता के लिए हमेशा चिंता का विषय रहता है खासतौर पर टोडलर्स का। टोडलर 1 से 3 साल तक के बच्चे को कहा जाता है। यह उम्र नई चुनौतियों और डेवलपमेंट मायलस्टोन्स से भरी होती है। यह वो समय है जब पेरेंट्स अपने बच्चे में बहुत अधिक बदलाव को नोटिस करते हैं। लेकिन, आप कैसे अंदाजा लगा सकते हैं कि आपका टोडलर ठीक से ग्रो कर रहा है या नहीं? आज हम टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) यानी टोडलर की ग्रोथ के बारे में बात करेंगे। जानिए टोडलर के विकास और ग्रोथ के बारे में विस्तार से।

टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स कब होता है? (Toddler Growth Spurts)

पेरेंट्स के रूप में आप टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) के सही स्टेजेस के बारे में जानने के लिए उत्सुक होंगे। यही नहीं, आप अपने बच्चे के विकास से जुड़ी हर खास जानकारी के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते होंगे। टोडलर ग्रोथ में अधिक उछाल दो से चार साल की उम्र के बीच आता है। लेकिन, कुछ बच्चे टोडलर स्टेज के दौरान धीरे-धीरे बढ़ते हैं हालांकि कुछ बच्चों में यह ग्रोथ तेजी से होती है। ऐसा ही बच्चों के वजन के साथ भी होता है। हालांकि, जब बात ग्रोथ की आती है तो एक बाद पेरेंट्स के लिए जानना बेहद जरूरी है कि हर बच्चा अलग होता है। ऐसे में जरूरी नहीं है कि आपका बच्चा भी वैसे ही बढे जैसे अन्य बच्चे। जानते हैं इससे जुड़े कुछ महत्वपूर्ण फैक्टर्स के बारे में।

Toddler Growth Spurts

और पढ़ें : जानें इस इंटरव्यू में कि ऑटिस्टिक बच्चे की पेरेटिंग में क्या-क्या चैलेंजस होते हैं

टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स के फैक्टर्स (Toddler Growth Spurts Factors)

टोडलर एक साल में दो से तीन इंच तक बढ़ सकते हैं। बच्चों की ग्रोथ में एक और चीज मुख्य भूमिका निभाती है और वो है जेनेटिक्स। अगर आपको लगता है कि आपके बच्चे की ग्रोथ धीरे-धीरे हो रही है तो भी चिंता न करें। हो सकता है कि उनकी ग्रोथ कुछ समय के बाद हो। जेनेटिक्स के साथ ही टोडलर की ग्रोथ अन्य फैक्टर्स पर भी निर्भर करती है। जैसे:

  • मेडिकल कंडीशंस Medical Conditions) : अगर बच्चे को कोई समस्या है जिनमें फूड एलर्जी (Food Allergy), गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल डिसऑर्डर (Gastrointestinal Disorders), हार्ट प्रॉब्लम्स (Heart Problems) आदि शामिल है। इनके कारण भी उनकी ग्रोथ प्रभावित हो सकती है।
  • न्यूट्रिशन (Nutrition) : कुपोषित टोडलर की नेचुरल ग्रोथ रेट कम हो सकती है। इसलिए बच्चों के लिए पौष्टिक और संतुलित आहार बेहद जरूरी है।
  • नींद (Sleep) : ऐसा भी पाया गया है कि नींद बच्चे की ग्रोथ को प्रभावित कर सकती है। 70 to 80 प्रतिशत ग्रोथ हॉर्मोन्स तब रिलीज होते हैं जब बच्चा सोता है। यानी, नींद में बच्चे का विकास होता है।
  • भावनात्मक कारण (Emotional State) : जिस बच्चे को सही से माता-पिता या परिवार का सपोर्ट नहीं मिल पाता या जो तनाव में होता है। उसका विकास भी सही से नहीं हो पाता। अब जानते हैं टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) के चरणों के बारे में

और पढ़ें : ऑनलाइन स्कूलिंग से बच्चों की मेंटल हेल्थ पर पड़ता है पॉजिटिव इफेक्ट, जानिए कैसे

टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स के चरण कौन से हैं? (Toddler Growth Spurts Stages)

शिशु के जन्म से बाद से ही उनमें लगातार विकास होता रहता है। हालांकि अलग-अलग बच्चों में विकास विभिन्न तरीकों से हो सकता है। जैसे कुछ बच्चे बोलना जल्दी शुरू कर देते हैं तो कुछ बच्चे चलना। टोडलर में विकास के चरण इस प्रकार हैं:

  • पहला साल (Year One) : पहले साल में बच्चा थोड़ा बढ़ता है, लेकिन इस दौरान बच्चे की ऊंचाई चार से पांच इंच और वजन महीने में 200 से 300 ग्राम तक बढ़ सकता है।
  • दूसरा साल (Year Two) : दूसरे साल में टोडलर तीन से चार इंच बढ़ सकता है और उसका वजन भी डेढ़ से दो किलो तक बढ़ सकता है। तीन साल के होने तक अधिकतर बच्चे अपनी वयस्क होने तक की आधी हाइट तक बढ़ जाते हैं।
  • तीसरा साल (Year Three) : तीसरे साल के खत्म होने तक आपका टोडलर दो से तीन इंच और बढ़ सकता है और अपने जन्म के समय की हाइट से दोगुना हो सकता है। इस समय उनकी टांगे लंबी हो जाती है और आपको उनके फेस स्ट्रक्चर में भी बदलाव देख सकते हैं। तीन साल तक होने पर बच्चा छोटे बच्चे की तरह नहीं लगता।

एक बार जब बच्चा टोडलर की उम्र से बड़ा हो जाएगा, तो उसका वजन और हाइट बढ़ना जारी रहेगी। स्कूल जाने वाले बच्चे यानी चार से दस साल तक के बच्चे हर साल दो इंच तक ग्रो करते हैं और उनका 3 किलो तक वजन बढ़ जाता है। जानिए आपका टोडलर सही से ग्रो कर रहा है या नहीं?

और पढ़ें : बच्चे का बदलता व्यवहार हो सकता है बिहेवियरल डिसऑर्डर का संकेत!

सामान्य टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स के लक्षण क्या हैं? (Common Toddler Growth Spurt Symptoms)

यह उम्र बच्चे की उम्र के उन चरणों में से एक है जहां वो कई महत्वपूर्ण परिवर्तनों से गुजरता है। जहां उसका वजन और हाइट तेजी से बढ़ते हैं। इसके साथ ही उसमें कई मानसिक बदलाव भी आते हैं। टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) के बारे में डॉक्टर आपको सही राय दे सकते हैं। इसलिए आपको अपने टोडलर की ग्रोथ को लेकर कोई भी समस्या है तो अपने डॉक्टर से सम्पर्क अवश्य करें। सामान्य टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) के कुछ लक्षण इस प्रकार हैं

भूख का बढ़ना (Increased Appetite)

जैसे-जैसे टोडलर ग्रो करता है और उसका वजन बढ़ता है, वैसे-वैसे उनकी कैलोरी की मात्रा भी बढ़ती जाएगी। ऐसे समय में बच्चे की भूख में वृद्धि होना सामान्य है। क्योंकि, इस उम्र के बच्चे बहुत सक्रिय होते हैं। यह इस बात कभी संकेत है कि आपका बच्चा सामान्य टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) से गुजर रहा है।

क्रेविंग्स (Cravings)

टोडलर के लिए अपने पसंद के आहार को प्राथमिकता देना कोई असामान्य बात नहीं है। लेकिन, ग्रोथ के इस समय में उन्हें सामान्य से अधिक क्रेविंग हो सकती है। वो ऐसी चीजों की मांग भी कर सकते हैं। जिनमें विटामिन या मिनरल्स हों। इनकी इस दौरान उन्हें बेहद जरूरत भी होती है।

और पढ़ें : लॉकडाउन में स्कूल बंद होने की वजह से बच्चों की मेंटल हेल्थ पर पड़ रहा है असर, जानिए

ग्रोइंग पेन (Growing Pains)

बच्चे ग्रोथ के इस पड़ाव पर हल्के दर्द या कष्ट का भी अनुभव कर सकते हैं। इनके कारण उनका थका हुआ, चिड़चिड़ा या गुस्से में होना आदि सामान्य है।

टोडलर ग्रोथ सपर्ट्स

सुस्ती (Sleepiness)

बड़ा होना कोई आसान काम नहीं है। इस दौरान टोडलर सामान्य से अधिक थका हुआ महसूस कर सकते हैं। इस बात का ध्यान रखें कि आपका बच्चा पूरी नींद लें। क्योंकि, इस दौरान उनका शरीर ग्रोथ हॉर्मोन्स रिलीज करता है।

कपड़ों और जूतों का छोटा होना (Outgrowing Clothes and Shoes)

कपड़ों और जूतों का छोटा होना टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) का समय लक्षण है। अगर आप भी यह नोटिस कर रहे हैं तो समझ जाए कि आपका टोडलर सामान्य रूप से बढ़ रहा है।

Quiz : 5 साल के बच्चे के लिए परफेक्ट आहार क्या है?

मूड में बदलाव (Mood Shifts)

ग्रोथ के दौरान होने वाले शारीरिक बदलाव के कारण बच्चा थका हुआ और गुस्सैल हो सकता है। यही नहीं, हार्मोनल लेवल में बदलाव भी उनके मूड पर प्रभाव डाल सकता है।

और पढ़ें : क्या आईवीएफ प्रॉसेस में जुड़वा बच्चे प्लान करना सेफ है?

नए स्किल (New Skills)

दिमाग का बढ़ना टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) का महत्वपूर्ण हिस्सा है। इस दौरान बच्चे कई एरियाज में ग्रो करते हैं, जैसे लैंग्वेज या मोटर स्किल्स। इस दौरान वो बहुत कुछ सीखता है। टोडलर के माता-पिता के लिए कुछ टिप्स इस प्रकार हैं:

माता-पिता क्या कर सकते हैं?

सामान्यता टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) की टाइमलाइन 12 महीने से लेकर 36 महीने तक का समय होता है। अधिकतर माता-पिता के लिए यह समझना मुश्किल होता है कि उनके बच्चे की सही ग्रोथ हो रही है या नहीं। टोडलर की सही ग्रोथ के कुछ टिप्स इस प्रकार हैं:

और पढ़ें : जब बच्चे स्कूल नहीं जाते तो पैरेंट्स क्या करें

फूड प्रेफ़रेंस (Food Preferences)

टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) के दौरान आपको अपने बच्चे के खाने-पीने का खास ध्यान रखना चाहिए। ज्यादातर मामलों में, टोडलर की भूख को संतुष्ट करने के लिए माता-पिता कुछ भी असाधारण करने की आवश्यकता नहीं होती है। लेकिन, बच्चे के आसपास कई अनहेल्दी विकल्प मौजूद होते हैं। ऐसे में बच्चे को क्या खिलाना है और क्या नहीं, इस बात का ख्याल रखना आवश्यक है। यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं, जो इसमें आपको मदद कर सकते हैं:

टोडलर ग्रोथ सपर्ट्स

और पढ़ें : मां का गर्भ होता है बच्चे का पहला स्कूल, जानें क्या सीखता है बच्चा पेट के अंदर?

अन्य टिप्स (Other Tips)

मिशिगन यूनिवर्सिटी ऑफ (University of Michigan) के अनुसार माता-पिता अपने बच्चे के विकास और ग्रोथ में मदद कर सकते हैं। अगर माता-पिता थोड़ा धैर्य रखते हैं और बच्चे को प्यार करते हैं, तो इससे बच्चे को भी आत्मविश्वास प्राप्त होता है। अपने बच्चे की ग्रोथ, विकास या सम्पूर्ण स्वास्थ्य के ट्रैक को बनाए रखने के लिए समय-समय पर डॉक्टर की सलाह लेना भी आवश्यक है। टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) के लिए टिप्स इस प्रकार हैं:

  • टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) का समय मुश्किल हो सकता है और ऐसे में उनको अधिक भूख लगना भी सामान्य है। लेकिन, आप उनकी भूख को शांत करने के लिए उन्हें जरूरत से अधिक न खिलाएं।
  • अगर आपके ट्विन्स, ट्रिप्लेट्स हैं तो डॉक्टर से संपर्क करें। क्योंकि ऐसे में बच्चों कि जरूरतों अलग होती हैं
  • बच्चे को नियमित मील और नींद लेने दें।
  • हर बच्चे की ग्रोथ और जरूरतें अलग होती है। अगर आपको लगता है कि आपका बच्चा सही से ग्रो नहीं कर पा रहा है तो तुरंत विशेषज्ञ से मिलें।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में बेस्ट डीएचए सप्लिमेंट : मां और बच्चे दोनों के संपूर्ण विकास के लिए है जरूरी!

टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स (Toddler Growth Spurts) के बारे में आप जान ही चुके होंगे। यह समय बच्चे और माता पिता दोनों के लिए बेहद खास होता है। पेरेंट्स अपने बच्चे में बहुत अधिक बदलाव नोटिस करते हैं जैसे उनका बोलना, चलना, खेलना, नई चीजों को सीखना। अपने बच्चे की ग्रोथ में मदद करने के लिए जरूरी है उसे समझना। अगर किन्हीं कारणों से आपके बच्चे की ग्रोथ अन्य बच्चों की तरह नहीं हो पा रही है, तो इसके लिए खुद या बच्चे को जिम्मेदार न मानें। बल्कि, डॉक्टर या किसी विशेषज्ञ से बात करें ताकि आप इसका सही कारण जान सकें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Growth and Your 1- to 2-Year-Old. https://kidshealth.org/en/parents/grow12yr.html .Accessed on 23/5/21

The Growing Child: 2-Year-Olds.https://www.hopkinsmedicine.org/health/wellness-and-prevention/the-growing-child-2yearolds .Accessed on 23/5/21

Growth and Development, Ages 12 to 24 Months. https://www.uofmhealth.org/health-library/te7089 .Accessed on 23/5/21

The Growing Child: 3-Year-Olds. https://www.urmc.rochester.edu/encyclopedia/content.aspx?contenttypeid=90&contentid=P02296 .Accessed on 23/5/21

Toddler Growth Spurts. https://www.happies.org/health/toddler-growth-spurts .Accessed on 23/5/21

Is Your Child Growing Normally?. https://www.magicfoundation.org/Is-My-Child-Growing.Accessed on 23/5/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/07/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड