home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

अगर आपको है इंसोम्निया की प्रॉब्लम, तो इसे दूर करें इन एक्यूप्रेशर पॉइंट्स से

अगर आपको है इंसोम्निया की प्रॉब्लम, तो इसे दूर करें इन एक्यूप्रेशर पॉइंट्स से

अच्छी नींद सेहत के लिए कितनी जरूरी है, यह सभी जानते हैं। लेकिन लोगों के बीच बढ़ता तनाव, कई बार उन्हें अनिद्रा की समस्या का शिकार बना देता है। नींद की कमी शरीर में कई प्रकार के विकारों का कारण बन सकती है। अगर आप लंबे समय से नींद की समस्या से परेशान हैं, तो यह समस्या आप में अवसाद को भी जन्म दे सकती है। यह शरीर में कई हाॅर्मोंस में असंतुलन का कारण बन सकती है। इसकी कमी आपकाे दिनभर थकान का एहसास दिला सकती है। अगर, आप इस नींद की समस्या से परेशान हैं, तो अच्छी नींद के लिए आप एक्यूप्रेशर ट्रीटमेंट को भी अपना सकते हैं। हमारे शरीर में कई ऐसे पाॅइंट्स होते हैं, जिन्हें दबाने से नींद की समस्या कम होती है। जानें यहां, प्रेशर पॉइंट्स फॉर स्लीप के बारे में।

“जिन लोगों में नींद की समस्या लंबे समय से चली आ रही है, उनके लिए एक्यूप्रेशर थेरिपी एक इलाज के तौर पर मददगार है। यह स्ट्रेस वाले हॉर्मोंस को नियंत्रिण करती है। हॉर्मोन, हमारे शरीर में रिलीज होने वाले केमिकल्स हैं, सभी हॉर्मोंस की अलग-अलग भूमिका होती है। नींद के लिए मेलाटोनिन नामक हॉर्मोन होता है। तो एक्यूप्रेशर पॉइंटस प्रेशर द्वारा इस हॉर्मोन पर ध्यान देकर उसे ठीक किया जाता है। अच्छी नींद के लिए इसमें बॉडी मसाज के साथ, शरीर के एक्यूपॉइंट्स पर दबाव दिया जाता है।” – केंद्रीय चिकित्सा केंद्र के एक्यू स्पेशलिस्ट डॉक्टर गोपाल गोस्वामी के अनुसार।

और पढ़ें: नींद की कमी का करें इलाज, इससे हो सकती हैं कई बड़ी बीमारियां

नींद की समस्या (insomnia) और प्रेशर पॉइंट्स में संबंध

वैसे तो अनिद्रा एक आम विकार है, लेकिन एक बड़ी हेल्थ प्रॉब्लम भी है। अधिकतर मामलों में देखा जाए, तो खराब नींद ही कहीं न कहीं कई बड़ी बीमारियों का कारण बनती है। जिन लोगाें को नींद की समस्या है, उनके लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स थेरिपी एक अच्छा विकल्प है। एक्यूप्रेशर एक चाइनीज थेरिपी है और इसमें नींद के विकार सहित कई बीमारियों का इलाज किया जाता है। मानव शरीर में कई ऐसे पॉइंट्स के समूह हैं, जिन्हें एक्यूपॉइंट कहा जाता है। प्रेशर पॉइंट्स फॉर स्लीप की बाते करें, तो एक्यूप्रेशर में भी तीन प्रकार के पॉइंट्स होते हैं, पहला लोकल पाइंट, दूसरा टेंडर पाइंट और तीसरा डिस्टल पॉइंट। इन्हें प्रेशर पॉइंट्स को प्रेस करने से असंतुलित हॉर्मोंस, संतुलित होते हैं और स्ट्रेस से भी आराममिलता है।

नींद की कमी के कुछ लक्षण (insomnia symptoms)

आपकी नींद की कमी आप में तनाव का भी रूप ले लेती है। इसलिए समय रहते इसका उपचार बहुत जरूरी है। यदि आपमें नींद की कमी के लक्षण हैं, तो कुछ बातों का ध्यान रखें, जैसे कि:

  • हर समय उबासी लेते रहना
  • अत्यधिक नींद आना
  • चिड़चिड़ापन महसूस हाेना
  • किसी काम में मन न लगना
  • थकावट महसूस होना
  • बात-बात में गुस्सा आना
  • किसी से बात करने में मन न लगना
  • रोने का मन करना
  • सिर में दर्द बने रहना
  • नकारात्मक ख्याल मन में आना

जानें प्रेशर पॉइंट्स फॉर स्लीप के बारे में क्या कहती है रिसर्च?

एक्यूप्रेशर चिकित्सा काे हजारों वर्षों से इस्तेमाल किया जा रहा है। इसे किसी भी रोग के इलाज का विकल्प नहीं कह सकते हैं। लेकिन इसका इस्तेमाल काफी हद तक, आपकी समस्या में आराम दे सकता है। 25 प्रतिभागियों पर किए हुए एक अध्ययन में पाया गया कि जिन्हें इंसोम्निया की प्रॉब्लम है। उन पर पांच सप्ताह तक हुए एक्यूप्रेशर उपचार के बाद, उनकी नींद की समस्या में सुधार देखा गया। इसी तरह, साल 2011 में 45 पोस्टमेनोपॉजल महिलाओं के पर (जिन्हें अनिद्रा की समस्या थी), 4 सप्ताह तक हुए अध्ययन में सामान परिणाम पाया गया।

और पढ़ें- एंटी-स्लीपिंग पिल्स : सर्दी-जुकाम की दवा ने आपकी नींद तो नहीं उड़ा दी?

7 प्रेशर पॉइंट्स फॉर स्लीप (5 Pressure Points for Sleep)

हर किसी को अच्छी हेल्थ के लिए, एक दिन में 8 से 9 घंटे की नींद लेनी चाहिए। इसमें होने वाली कमी कई हेल्थ प्राॅब्लम का कारण बन सकती है। अगर आप इंसोम्निया के पेशेंट हैं, तो यह 5 प्रेशर पॉइंस के बारे में जानना आपके लिए बेहद जरूरी है। इन प्रेशर पॉइंट्स के कई फायदे हैं, जैसे नींद की समस्या तो दूर होती ही है, साथ में कई असंतुलित हॉर्मोंस में भी बैलेंस होता है।

1- एन मियां पॉइंट (An Mian)

प्रेशर पॉइंट्स फॉर स्लीप की बात करें, तो इंसोम्निया के इलाज के लिए यह एक्यूप्रेशर पॉइंट काफी लाभकारी हैं। चिकित्सक द्वारा इसे नींद के विकार, तनाव और चक्कर जैसी समस्या के लिए भी प्रभावकारी उपचार माना है एन मियां पॉइंट गर्दन के ठीक पीछे की तरफ दाेनो ओर होता है। यानि, आपके दोनों कानों के पीछे की तरफ, जो हड्डी वाला हिस्सा होता है। उस पॉइंट काे धीरे-धीरे कर के 10 मिनट तक हल्के हाथों से प्रेस करें। इससे आपको काफी आराम मिलेगा और नींद की समस्या भी काफी दूर होगी।

और पढ़ेंः Quiz : बच्चों की नींद के लिए क्या है जरूरी?

2- फुट प्रेशर पॉइंट (Foot Massage Pressure Points)

अगर आपको नींद की समस्या है, तो इस फुट प्रेशर पाॅइंट को जरूरी ट्राय करें। पैरों को आराम मिलने से अच्छी नींद आती है। इसलिए सोने से पहले फुट मसाज और पैरों के कुछ पॉइंटस को प्रेस करें। इसे करने के लिए आप पहले नारियल के तेल से कुछ मिनट के लिए पैरों की मसाज करें। इसके बाद आप अंगूठे के ऊपर के भाग से तलवे के बीचों-बीच दिए प्रेशर पाॅइंट को प्रेस करें। इससे मेलाटोनिन नामक हॉर्मोन में सुधार होता है। तनाव की समस्या भी इससे दूर होती है।

और पढ़ें : नींद और सपने से जुड़ी मजेदार बातें

3- ट्राय रिस्ट प्रेशर पाॅइंट (Tri Wrist Pressure Point)

यह प्रेशर पाॅइंट हॉर्मोन को संतुलन करने के लेकर, तनाव को दूर करने में प्रभावकारी है। इसे करने के लिए एक सीट पर बैठ जाएं और अपने टखने को विपरीत घुटने के ऊपर रखें, लगभग 3 इंच की दूरी हो। अपनी पिंडली के बोन को पीछे की ओर लेकर जाएं और पीठ के ऊपरी हिस्से पर प्रेशर पॉइंट पर हल्के हाथों से दबाव डालें। इसी के साथ पीठ की मसाज करें। ऐसा 10 मिनट तक करें।

और पढ़ेंः इंसोम्निया में मददगार साबित हो सकती हैं नींद की गोली!

4- मिडिल रिस्ट प्रेशर पाॅइंट ( Middle Wrist Pressure Point)

प्रेशर पॉइंट्स फॉर स्लीप की बात करें, तो अनिद्रा की समस्या काे दूर करने के लिए आप हाथों की कलाई के मीडिल पॉइंट को प्रेस करें। कई अध्ययनों में यह भी पाया गया है कि कलाई के ऊपर दिए गए एक्यूप्रेशर पाॅइंट को प्रेस करने से नींद समेत और भी कई विकार दूर होते हैं। 50 बुजर्गों पर किए गए एक शोध में, यह परिणाम पाया गया है कि इस प्रेशर पॉइंट को 5 सप्ताह तक लगातर करने से उनकी नींद की समस्या में काफी हद तक आराम मिला। इसे करने के लिए आप पहले हाथों की मालिश करें और फिर कलाई के ऊपरी हिस्से में साइड के तरफ हल्के हाथों से 5 से 7 मिनट के लिए प्रेशर पॉइंट पर प्रेस करें। 3 सप्ताह तक लगतार करने से तनाव और नींद की समस्या में काफी आराम होगा।

और पढ़ें : चिंता और तनाव को करना है दूर तो कुछ अच्छा खाएं

5- थ्री यीन(Three yin intersection)

नींद की समस्या को दूर करने के लिए यह सबसे अच्छा पॉइंट माना जाता है। इसे करने से आपको काफी आराम महसूस होगा। यह पाॅइंट पैर के तलवे में होता है। इसे करने के लिए तलवों की 3 मिनट मसाज करें। इसके बाद, आप तलवे में ऊपर से लेकर नीचे तक पेन की सहायता से सभी पॉइंट्स को प्रेस करें। पहला पाॅइंट आपको तलवे के मध्य में और बाकी पाॅइंट्स तलवे के बनावट में बाहर की तरफ निकले हिस्से में देखने काे मिलेगा। इन पॉइंटस को प्रेस करने से आपको बहुत आराम मिलेगा और दिमाग भी शांत होगा।

और पढ़ें : नींद की दिक्कत के लिए ले रहे हैं स्लीपिंग पिल्स तो जरूर पढ़ें 10 सेफ्टी टिप्स

6- इनर फ्रंटियर ट्विस्ट(Inner frontier Twist)

यह एक प्रभावकारी एक्यूप्रेशर पॉइंट है। इसे इनर गेट भी कहते हैं। इस पॉइंट को प्रेस करने से कई समस्याओं में आराम होता है, जैसे कि डिप्रेशन, मूड स्विंग, तनाव और सिर दर्द की समसया आदि में। यह कलाई के निचली की तरफ मौजूद पॉइंट है। इसमें फिंगर की साहयता से पॉइंट को प्रेस किया जाता है। आप इन पॉइंट्स को पेन के पीछे के हिस्से भी धीरे-धीरे प्रेस कर सकते हैं। ऐसा लगातार 4 सप्ताह तक करने से काफी आराम मिलता है।

7- स्पिरिट गेट (Spirit gate)

शेनमेन, इंसोम्निया पेशेंट के लिए सबसे लाभकारी है। इसे स्पिरिट गेट भी कहते हैं। इस एक्यूपॉइंट के कई लाभ हैं। इससे दिमाग तो शांत रहता ही है, साथ में शरीर में रक्त संचार भी अच्छा होता है। शेनमेन पॉइंट, हाथ की सबसे छोटी उंगली की सतह पर होती है। इस पॉइंटको प्रेस करने के लिए अपने दूसरे हाथ के अंगूठे का इस्तेमाल करें। ऐसा 5 मिनट तक रोज सोने से पहले करें।

और पढ़ें : क्यों हमारी नींद जल्दी नहीं खुलती? जानें कैसे इससे बचा जा सकता है

अगर आप में नींद की समस्या लगातार बनी हुई है, तो एक्यूप्रेशर थेरिपी पॉइंट्स प्रेशर के साथ डॉक्टर की भी सलाह लें। नींद की समस्या के पीछे कई कारण हो सकते हैं। इसलिए सबसे पहले उन कारणों को भी दूर करना जरूरी है। उसे समझें और उपाय निकालें। इसके अलावा, परेशानी अधिक होने पर अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित
अपडेटेड 11/02/2021
x