Poison Ivy: पॉइजन आईवी क्या है?

Medically reviewed by | By

Update Date मई 26, 2020
Share now

परिचय

पॉइजन आईवी क्या है?

पॉइजन आईवी को हिंदी में बिच्छू का पौधा भी कहते हैं। ये एक तरह की घास होती है। इसकी पत्तियों को छूने से शरीर में रैशेज हो जाते हैं। ये रैशेज काफी गंभीर और जलन पैदा करने वाले होते हैं। इसीलिए इसका नाम बिच्छू का पौधा है। इसका इस्तेमाल होमियोपैथिक दवाओं में किया जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम टॉक्सिकोडेंड्रॉन है। इसका उपयोग वायरल इंफेक्शन, फ्लू, गठिया आदि कि इलाज में होता है।

यह  कैसे काम करता है?

अभी तक इसके कोई वैज्ञानिक साक्ष्य नहीं है कि ये इंसान के शरीर में काम कैसे करता है। ये होमियोपैथिक दवा के रूप में ही शारीरिक समस्याओं से निजात पाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि इसके साइड इफेक्ट्स ज्यादा हैं। इसकी पत्तियों को छूने से त्वचा में खुजली होती है और ये एलर्जी भी पैदा करता है।

उपयोग

इसका उपयोग किस लिए किया जाता है?

एक अध्ययन के अनुसार पॉइजन आईवी का इस्तेमाल गठिया रोग के लिए किया जाता है। एक अध्ययन में  गठिया रोग से होने वाले दर्द, जलन वाले चोट और वजन में बदलाव पॉइजन आईवी के कारण पाया गया है। वहीं, दूसरे अध्ययन में पाया गया कि इससे बने जेल को लगाने से दर्द से राहत भी मिलती है। इसके अलावा, अन्य समस्याओं में भी इस जड़ी-बूटी का प्रयोग होता है :

यह भी पढ़ें : Oak: बलूत क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

पॉइजन आईवी का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

बिच्छू के पौधे को मुंह से या त्वचा से लेने में काफी साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इसमें मौजूद कैमिकल्स एलर्जी पैदा करता है। इसके अलावा, मुंह से लेने पर  गले, पेट और आंतों में खुजली हो सकती है। इसके अलावा बुखार, डायरिया, उल्टी, चुभन के साथ दर्द, पेशाब में खून और कोमा जैसी समस्याएं हो सकती हैं। वहीं, अगर आपकी त्वचा इसके संपर्क में आ जाए तो रैशेज, खुजली, सूजन, आंखों की रोशनी आदि समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए आप इसका उपयोग कभी भी खुद से न करें। बिना डॉक्टर के परामर्श के आप इसे कतई न लें।

इस उपयोग कितना सुरक्षित है?

बिच्छू पौधा आपके लिए सुरक्षित नहीं हैं, क्योंकि पहले ही बता दिया गया है कि इससे कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए जब भी आपको इसे लेना हो तो डॉक्टर के परामर्श पर ही लें। 

साइड इफेक्ट्स

इससे मुझे क्या साइड इफेक्ट हो सकते हैं?

पॉइजन आईवी से आपको कई तरह के साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं :

  • मुंह, गले, पेट और आंतों में खुजली
  • बुखार
  • डायरिया
  • उल्टी
  • चुभन के साथ दर्द
  • पेशाब में खून और कोमा 
  • त्वचा में रैशेज, खुजली और सूजन
  • आंखों में दर्द या आंखों की रोशनी का जाना
  • फेफड़ों में इंफेक्शन
  • गले के अंदर (Throat) सूजन के कारण मौत तक हो सकती है।

प्रभाव

इसके साथ मुझ पर क्या प्रभाव पड़ सकता है?

पॉइजन आईवी का किसी भी दवा के साथ प्रभाव का वैज्ञानिक साक्ष्य सामने नहीं आया है। यूं कह सकते हैं कि इसका अभी तक कोई ज्ञान नहीं है। इसके लिए आप जब भी इसका सेवन करेंगी तो अपने डॉक्टर से पूछ लें।

खुराक

पॉइजन आईवी की सही खुराक क्या है?

इसकी खुराक की पुष्टि हैलो स्वास्थ्य नहीं करता है। पॉइजन आईवी की खुराक उम्र, स्वास्थ्य और जरूरत के आधार पर तय की जाती है। इसलिए हमेशा इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर की राय ले लें। 

उपलब्ध

ये किन रूपों में उपलब्ध है?

  • दवा
  • मिश्रण (Tincture)
  • मलहम (Ointment)
क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Quebracho: क्वेब्राचो क्या है?

जानिए क्वेब्राचो की जानकारी, फायदे, क्वेब्राचो उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान।

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Sunil Kumar

Parsley piert: पार्सले पिअर्त क्या है?

जानिए पार्सले पिअर्त की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, पार्सले पिअर्त उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Parsley piert डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Mona Narang

Iceland moss: आइसलैंड मॉस क्या है?

आइसलैंड मॉस क्या है? इसका इस्तेमाल किस लिए किया जाता है? किन लोगों को इसके इस्तेमाल से परहेज करना चाहिए? जानिए इससे होने वाले साइड इफेक्ट्स के बारे में...

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Mona Narang

Wild Thyme: वाइल्ड थाइम क्या है?

वाइल्ड थाइम (Wild Thyme) क्या है? वाइल्ड थाइम का उपयोग किन परेशानियों के लिए किया जाता है? वाइल्ड थाइम से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Mona Narang