home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Acebrophylline : एसिब्रोफिलिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

एसिब्रोफिलिन (Acebrophylline) क्या है?|दवा का उपयोग |फंक्शन|इस्तेमाल के लिए निर्देश|सावधानियां एवं चेतावनी |प्रेग्नेंसी और स्तनपान में दवा का उपयोग |साइड इफेक्ट |रिएक्शन|डोसेज |स्टोरेज और डिस्पोजेबल तरीके|उपलब्ध खुराक
Acebrophylline : एसिब्रोफिलिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

एसिब्रोफिलिन (Acebrophylline) क्या है?

दवा का नाम और केटेगरी

एलिवेल एसिब्रोफिलिन (Acebrophylline) एक ब्रोंकोडाइलेटर ड्रग है।

ओटीसी (OTC) या प्रिस्क्रिप्शन ड्रग

एसिब्रोफिलिन (Acebrophylline) एक प्रिस्क्रिप्शन ड्रग है यानी इसका इस्तेमाल डॉक्टर द्वारा पर्चे पर लिखे जाने के बाद ही किया जा सकता है।

एक्टिव इंग्रिडेंट

इस टैबलेट में सक्रिय तत्व के रूप में एम्ब्रोक्सोल+थियोफिलिन-7 एसीटेट (Ambroxol + Theophylline-7-Acetate) पाया जाता है।

विशिष्ट उपयोग

एसिब्रोफिलिन (Acebrophylline) का मुख्य इस्तेमाल क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (chronic obstructive pulmonary disease) और अस्थमा के इलाज में किया जाता है।

और पढ़ें : Rebamipide: रेबामिपाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स, डोज और सावधानियां

दवा का उपयोग 

एसिब्रोफिलिन का उपयोग किसलिए किया जाता है?

एसिब्रोफिलिन एक मुकोलिटिक (mucolytic ) और ब्रोंकोडाइलेटर ड्रग है जो कि क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (chronic obstructive pulmonary disease) और अस्थमा को रोकने और उसके इलाज में इस्तेमाल होती है। यह वायुमार्ग की मांसपेशियों को रिलैक्स कर के उसे चौड़ा करती है जिसकी वजह से सांस लेना आसान हो जाता है।

इसके अलावा यह दवा म्यूकस को ढीला करने का काम करती है जिसकी वजह से आसानी से कफ बाहर निकल जाता है।

और पढ़ें : अस्थमा के लिए ज़िम्मेदार हो सकती हैं ये चीजें

फंक्शन

एसिब्रोफिलिन एक मुकोलिटिक क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (chronic obstructive pulmonary disease) और अस्थमा के इलाज के लिए डॉक्टर प्रिस्क्राइब करते हैं। यह वायुमार्ग की मांसपेशियों को रिलैक्स कर के उसे चौड़ा करती है जिसकी वजह से सांस लेना आसान हो जाता है।

इसके अलावा यह दवा म्यूकस को ढीला करने का काम करती है जिसकी वजह से आसानी से कफ बाहर निकल जाता है।

इस्तेमाल के लिए निर्देश

मैं एसिब्रोफिलिन को कैसे इस्तेमाल करूं?

इस दवा को इस्तेमाल करने से पहले फार्मासिस्ट द्वारा प्रदान की गई रोगी सूचना पत्रक (Patient Information Leaflet) को ठीक से पढ़ें। इस बारे में कोई सवाल है तो अपने डॉक्टर से बात करें।

इस दवा को डॉक्टर के निर्देश के अनुसार रोजाना नियमित रूप से इस्तेमाल करें। इसके ज्यादा फायदे लेने के लिए आप इस दवा को रोजाना एक ही समय पर इस्तेमाल करें।

इस दवा की खुराक आपकी मेडिकल स्थिति, उम्र और इलाज के प्रति आप कितने संवेदनशील हैं, इस बात पर आधारित होती है। बिना डॉक्टर की सहमति के आप इस दवा की खुराक को ना तो बढ़ाएं और ना ही निर्धारित मात्रा से ज्यादा इसका इस्तेमाल करें। जरूरत से ज्यादा इस दवा को इस्तेमाल करने से साइड इफेक्ट्स होने का खतरा बढ़ जाता है।

सावधानियां एवं चेतावनी

एसिब्रोफिलिन के इस्तेमाल से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

अगर आपको इस दवा से किसी तरह की एलर्जी है या कोई दूसरी तरह की एलर्जी है तो इसका इस्तेमाल करने से पहले आप अपने डॉक्टर से संपर्क करें। इस दवा में कुछ निष्क्रिय सामग्री होती है जिससे एलर्जिक रिएक्शन या दूसरी समस्याएं होती हैं। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले अपनी मेडिकल हिस्ट्री के बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को जरूर बताएं।

इस दवा के इस्तेमाल से सुस्ती हो सकती है इसलिए इसके इस्तेमाल के दौरान एल्कोहॉल का सेवन न करें। इन दवा के इस्तेमाल के दौरान जब तक आप यह सुनिश्चित ना कर लें कि आप सुरक्षित हैं तब तक आप ना तो ड्राइव करें और ना ही कोई ऐसा काम करें जिसमें सतर्क रहने की जरूरत हो।

प्रेग्नेंसी के दौरान आप इस दवा का तभी इस्तेमाल करें जब इसकी जरूरत हो। इस दवा के फायदे और इसके नुकसान के बारे में जानने के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

सर्जरी करवाने से पहले आप उन सभी प्रोडक्ट्स (जिसमें प्रिस्क्रिप्शन ड्रग, नॉनप्रिस्क्रिप्शन ड्रग और हर्बल प्रोडक्ट शामिल हैं) के बारे में डॉक्टर या डेंटिस्ट को बताएं।

यह दवा ब्रेस्ट मिल्क में प्रवेश करती है या नहीं, इस बारे में कोई पर्याप्त जानकारी नहीं है। इसलिए ब्रेस्टफीडिंग कराने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें : अस्थमा क्या है? जानें इसके कारण , लक्षण और इलाज

प्रेग्नेंसी और स्तनपान में दवा का उपयोग 

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इस दवा को लेना सुरक्षित है?

महिलाओं में प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान एसिब्रोफिलिन के इस्तेमाल को लेकर अभी पर्याप्त जानकारी नहीं है। एसिब्रोफिलिन का इस्तेमाल करने से पहले इसके फायदे और नुकसान को लेकर डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

साइड इफेक्ट

एसिब्रोफिलिन के इस्तेमाल से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इस दवा के इस्तेमाल से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं;

  • उल्टी
  • मिचली
  • पेट दर्द
  • पेट खराब होना
  • चकते पड़ना
  • सुस्ती
  • सिर चकराना
  • हार्ट बर्न
  • खुजली
  • सांस की समस्या
  • नेजल इन्फ्लमेशन (Nasal Inflamation)
  • श्वेत रक्त कणिकाओं की संख्या बढ़ जाना
  • सिर दर्द
  • थकान और कमजोरी
  • हाथों का सुन्न पड़ना
  • हार्ट रेट का बढ़ना
  • ब्लड प्रेशर में बदलाव होना
  • नींद आना

सभी लोगों को ये सारे साइड इफेक्ट्स महसूस नहीं होते हैं। आपको यहां कुछ साइड इफेक्ट्स के बारे में नहीं बताया गया है। अगर आपको इन साइड इफेक्ट्स को लेकर कोई चिंता है तो इस बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को जरूर बताएं।

और पढ़ें : Cinnarizine : सिनेरीजीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

रिएक्शन

कौन सी दवाएं एसिब्रोफिलिन के साथ नहीं ली जा सकती हैं?

अगर आप वर्तमान में कोई दवा ले रहें हैं तो एसिब्रोफिलिन उसके साथ इंटरैक्ट कर सकता है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित होगा या फिर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इस चीज को रोकने के लिए आप उन दवाओं (जिनमें प्रिस्क्रिप्शन ड्रग, नॉनप्रिस्क्रिप्शन ड्रग और हर्बल प्रोडक्ट शामिल हैं) की लिस्ट रखें और उन्हें डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ शेयर करें। सुरक्षा के लिहाज से आप बिना डॉक्टर के सहमति के ना तो कोई दवा अपने से शुरू करें, ना ही बन्द करें और ना ही उसकी खुराक को बदलें।

निम्नलिखित प्रोडक्ट के साथ इस दवा का इंटरैक्शन हो सकता है;

  • सिमेटीडीन
  • ऐलोप्यूरिनॉल
  • कार्बामेजापाइन
  • फेनिटोइन
  • ऐजिथ्रोमाइसिन
  • प्रोप्रेनोलोल

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ इस दवा को लेना सुरक्षित है?

यह दवा आपके भोजन या एल्कोहॉल के साथ इंटरैक्ट कर सकता है जिसकी वजह से दवा का एक्शन प्रभावित हो सकता है या आपकी स्वास्थ्य स्थिति और अधिक खराब हो सकती है। इसलिए भोजन या एल्कोहॉल के साथ इस दवा को इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

एसिब्रोफिलिन के इस्तेमाल से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

एसिब्रोफिलिन आपकी स्वास्थ्य स्थिति के साथ इंटरैक्ट हो सकता है। इससे साइड इफेक्ट्स होने का खतरा बढ़ सकता है या आपकी स्थिति और अधिक खराब हो सकती है। इसलिए अपने मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति के बारे में अपने डॉक्टर को जरूर बताएं।

अगर आपको निम्नलिखित स्वास्थ्य समस्याएं हैं तो डॉक्टर को बताएं

और पढ़ें : Bromelain : ब्रोमेलेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डोसेज

नीचे दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

एसिब्रोफिलिन कैसे उपलब्ध है?

एसिब्रोफिलिन निम्नलिखित खुराक और क्षमता में उपलब्ध है;

  • टैबलेट

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में आप अपने लोकल इमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या फिर अपने नजदीकी इमरजेंसी वार्ड में जाएं।

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर आप एसिब्रोफिलिन की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें। डबल खुराक ना लें।

अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

स्टोरेज और डिस्पोजेबल तरीके

मैं एसिब्रोफिलिन को कैसे स्टोर करूं?

एसिब्रोफिलिन को प्रकाश और नमी से दूर कमरे के तापमान पर स्टोर करना बेहतर होता है। एसिब्रोफिलिन को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह में न रखें। मार्केट में एसिब्रोफिलिन के अलग-अलग ब्रांड हैं जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा-निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। जब भी इस दवा को खरीदें सबसे पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़े या फिर अपने फार्मासिस्ट से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

बिना निर्देश के एसिब्रोफिलिन को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुकी है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है तो इसे नष्ट कर दें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने फार्मासिस्ट से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ें: भारत, थाईलैण्ड लगे कोरोना वायरस की दवा बनाने में, होमियोपैथी, कॉकटेल दवाओं से ठीक करने का है दावा

उपलब्ध खुराक

यह दवा किस रूप में उपलब्ध है?

यह दवा टैबलेट के रूप में 100 एवं 200 mg में मार्केट में अवेलेबल है।

दवा की उपलब्धता की स्थिति : यह टैबलेट भारत में प्रतिबंधित नहीं है।

उम्मीद है कि ये आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार होगा। इस आर्टिकल में बताए गए सभी दिशा-निर्देशों के बाद भी अपने डॉक्टर के द्वारा सलाह दिए जाने पर ही इस टैबलेट का सेवन करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Acebrophylline: an airway mucoregulator and anti-inflammatory agent/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/17695695

(Accessed on 11th February 2020)

Acebrophylline: An airway mucoregulator and anti-inflammatory agent/https://www.researchgate.net/publication/6143284_Acebrophylline_An_airway_mucoregulator_and_anti-inflammatory_agent

(Accessed on 11th February 2020)

The Effect of Acebrophylline vs Sustained Release Theophylline in Patients of COPD- A Comparative Study/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4225926/

(Accessed on 11th February 2020)

Acebrophylline: an airway mucoregulator and anti-inflammatory agent/https://europepmc.org/article/med/17695695   

लेखक की तस्वीर badge
Anoop Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 14/08/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड