backup og meta

Pseudoephedrine : स्यूडोएफीड्रीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Anoop Singh द्वारा लिखित · अपडेटेड 31/05/2020

Pseudoephedrine : स्यूडोएफीड्रीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

स्यूडोएफीड्रीन का उपयोग किसके लिए किया जाता है?

स्यूडोएफीड्रीन का इस्तेमाल बंद नाक (stuffy nose – जुकाम या अन्य कारणों की वजह से भरी हुई नाक) और साइनस के दर्द/दबाव से कुछ समय के लिए छुटकारा दिलाने में किया जाता है। यह समस्या संक्रमण (जैसे सर्दी- जुकाम, फ्लू) के कारण होती है या अन्य सांस से जुड़ी बीमारियों (जैसे हे-फीवर, एलर्जी, ब्रोंकाइटिस) की वजह से होती है। स्यूडोएफीड्रीन एक डिकंजेस्ट (सिम्पेथोमीमेटिक) है। यह सूजन और बलगम को कम करके रक्त वाहिकाओं को सिकोड़ कर देती है। 

अगर आप बिना डॉक्टर से पूछे खुद से ये दवा ले रहे हैं, तो जरूरी है कि आप उत्पाद पर लिखी जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़ लें जिससे आपको पता चल सके कि आपको कब अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को संपर्क करना है। (चेतावनी वाले सेक्शन को ध्यानपूर्वक पढ़ें)। कफ और सर्दी-जुकाम वाले उत्पाद 6 साल से छोटे बच्चों के लिए सुरक्षित और प्रभावी नहीं माने जाते। जब तक डॉक्टर न कहे तब तक इस उत्पाद का इस्तेमाल 6 साल से छोटे बच्चों के लिए न करें। लंबे समय तक चलने वाली गोलियां/कैप्सूल 12 साल से छोटे बच्चे को देने की सलाह नहीं दी जाती। उत्पाद को सुरक्षित तरीके से इस्तेमाल करने के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात करें।

ये दवा स्थिति को ठीक नहीं करती या सर्दी- जुकाम की अवधि को कम नहीं करती और ये कुछ गंभीर साइड इफेक्ट्स का कारण बन सकती है। गंभीर साइड इफेक्ट्स का जोखिम कम करने के लिए, सावधानीपूर्वक सभी जानकारियों को पढ़ें। बच्चे को चैन से सुलाने के लिए इस उत्पाद का इस्तेमाल न करें। साथ ही बच्चे को सर्दी- जुकाम के लिए अन्य दवाएं न दें जो समान प्रकार से ही डीकन्जेस्टन्ट करती हैं। सर्दी-जुकाम के लक्षणों से छुटकारा पाने के लिए डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात करें (जैसे पर्याप्त तरल पदार्थ पिएं, ह्युमिडिफायर या सलाइन नोज ड्रॉप्स/स्प्रे का इस्तेमाल करें)।

अन्य उपयोग – इस सेक्शन में दवा के वे उपयोग बताए गए हैं जो आधिकारिक रूप से दवा के उपयोग के रूप में मान्य नहीं हैं, लेकिन कुछ डॉक्टर इनके सेवन की सलाह दे सकते हैं। डॉक्टर की सलाह के बाद ही इस ड्रग का इस्तेमाल करें जो सेक्शन में दी गयी हैं।

आपका डॉक्टर आपको स्यूडोएफीड्रीन का उपयोग कान में दर्द और सूजन को कम करने के लिए या “कान खोलने के लिए’ कान की नली में जब हवा का प्रेशर कम हो जाता है (जैसे हवाई यात्रा, पानी में तैरना) के इस्तेमाल करने की सलाह दे सकता है डॉक्टर द्वारा बताई गयी जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

और पढ़ें : सर्दी-खांसी को दूर भगाएं ये 8 घरेलू नुस्खे 

मैं स्यूडोएफीड्रीन को कैसे इस्तेमाल करूं?

अगर आप बिना डॉक्टर की सलाह से मेडिकल स्टोर से दवा ले रहे हैं, तो खाने से पहले उत्पाद पर लिखी जानकारी को पढ़ लें। अगर आपके मन में किसी भी तरह का सवाल है तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह करें। अगर आपके डॉक्टर ने ये दवा दी है तो बिना किसी संदेह के खा सकते हैं। इस दवा को खाने के साथ या बिना खाने के लें, डॉक्टर की सलाह से उत्पाद पर लिखी जानकरी के अनुसार, आमतौर पर इसे हर 4-6 घंटे में लिया जाता है। इस दवा को दिन में 4 से ज्यादा न लें। ये खुराक आपकी उम्र, चिकित्सीय स्थिति और इलाज के प्रति प्रतिक्रिया पर निर्भर करती है। खुराक को खुद से न बढ़ाएं या जल्दी-जल्दी न लें। उम्र के अनुसार सलाह से दी जाने वाली इस दवा को जरूरत से ज्यादा न लें।

अगर आप चबाने वाली टैबलेट ले रहे हैं, तो प्रत्येक टेबलेट को अच्छे से चबाएं और निगल जाएं। अगर आप इस दवा को तरल रूप में ले रहे हैं, तो खुराक को सही माप के साथ लें जैसे किसी डिवाइस। घर की चम्मच का इस्तेमाल न करें क्योंकि आपको सही खुराक का माप पता नहीं चल सकता।

स्यूडोएफीड्रीन के कई रूप और ब्रांड हैं। कुछ टैबलेट पानी के साथ ली जाती हैं। अधिक जानकारी के लिए उत्पाद पर लिखी जानकारी को पढ़ें। प्रत्येक उत्पाद की जानकारी को भी ध्यानपूर्वक पढ़ें क्योंकि स्यूडोएफीड्रीन की मात्रा कई उत्पादों में अलग हो सकती है। स्यूडोएफीड्रीन को सलाह से ज्यादा न लें। कैफीन इस दवा का साइड इफेक्ट्स को बढ़ा सकती है। जिन तरल पदार्थों में कैफीन है उन्हें न लें (कॉफी, चाय, कोला), अत्यधिक मात्रा में चॉकलेट, या डॉक्टर की बिना सलाह से उत्पाद जिनमें कैफीन होता है।

अगर आपके लक्षणों में 7 दिन के बाद भी सुधार नहीं होता, अगर वो बिगड़ते हैं या वापस आ जाते हैं, अगर बुखार, चकत्ते होते हैं, या लगातार सिर दर्द होता है, या फिर आपको गंभीर रूप से चिकित्सीय समस्या होती है, तो जल्द ही चिकित्सीय जांच करवाएं।

मैं स्यूडोएफीड्रीन को कैसे स्टोर करूं?

स्यूडोएफीड्रीन को अच्छा होगा अगर आप घर के तापमान में ही रखें और सीधी रोशनी और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए, आपको स्यूडोएफीड्रीन को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना चाहिए। स्यूडोएफीड्रीन के अलग-अलग ब्रांड हो सकते हैं जिनको स्टोर करने की जरूरतें अलग हो सकती हैं। इसलिए आवश्यक है कि आप उसे खरीदने से पहले उत्पाद पर लिखी संग्रह करने की जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़ लें या फिर फार्मासिस्ट से इसकी जानकारी ले लें। सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाइयां बच्चों और पालतू जानवरों से अलग रखनी चाहिए।

आपको स्यूडोएफीड्रीन टॉयलेट या किसी सीवर में नहीं डालनी चाहिए तब तक जब तक डॉक्टर आपको सलाह न दे। आवश्यक है कि आप पूरी तरह से दवाई को खत्म कर दें अगर वो एक्सपायर हो गयी है या किसी काम के लायक नहीं रही है। इसे सुरक्षित व सही तरह से खत्म करने के लिए एक बार अपने फार्मासिस्ट से बात जरूर करें।

स्यूडोएफीड्रीन का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

स्यूडोएफीड्रीन का उपयोग करना सेहत के लिए जोखिम भरा हो सकता है। इसलिए इससे होने वाले फायदे के साथ-साथ इससे होने वाली हानियों को भी पूरी तरह से समझना चाहिए। इस्तेमाल से पहले एक बार जरूर डॉक्टर की सलाह लें। साथ ही निम्नलिखित स्थितियों में दवा का सेवन नहीं करना चाहिए:

एलर्जी

अपने डॉक्टर को बताएं कि क्या आपको कभी भी इस दवा या किसी अन्य दवा से कोई असामान्य या एलर्जी रिएक्शन हुआ है। साथ ही अगर आपको कोई अन्य प्रकार की एलर्जी हुई है तो वो भी अपने डॉक्टर को बताएं जैसे खाने से, डाई से, प्रिजर्वेटिव या जानवरों से। 

बच्चों का उपचार 

बड़े बच्चों और वयस्कों की तुलना में शिशुओं, विशेषकर नवजात और समय से पहले जन्में शिशुओं में स्यूडोएफीड्रीन के दुष्प्रभाव की संभावना अधिक हो सकती है।

शिशु या 4 साल से कम उम्र के बच्चों को कफ और कोल्ड की दवाइयां मेडिकल स्टोर से खरीदकर न दें। छोटे बच्चों को ये दवाइयां न दें क्योंकि इससे गंभीर या जान के लिए खतरा होने वाले साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।

वृद्धावस्था –

खासकर वृद्ध लोगों में कई दवाइयों पर स्टडी नहीं की गयी है। इसलिए, इसमें अभी पता नहीं चल पाया है कि ये दवा व्यस्कों में समान तरीके से काम करती हैं या नहीं या फिर वृद्ध लोगों में अलग प्रकार के साइड इफेक्ट्स या समस्याओं का कारण बन सकती है। स्यूडोएफीड्रीन के इस्तेमाल के लिए वृद्ध की तुलना में अन्य उम्र के समूह से जुड़ी कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।

[mc4wp_form id=’183492″]

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग से दौरान स्यूडोएफीड्रीन लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इसका इस्तेमाल करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानी हो सकती है, इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं हैं। ऐसे में, इसके इस्तेमाल से पहले हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें : गले का इंफेक्शन कर रहा है परेशान तो करें लहसुन का उपयोग

स्यूडोएफीड्रीन के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

अगर आपको एलर्जिक रिएक्शन से जुड़े कोई भी लक्षण दिखाई देते हैं जैसे हीव्स, सांस लेने में दिक्कत, चेहरे, होंठ, जीभ, या गले पर सूजन।

अगर आपको नीचे दिए गए गंभीर साइड इफेक्ट्स दिखाई देते हैं तो स्यूडोएफीड्रीन का इस्तेमाल करना बंद कर दें और डॉक्टर से संपर्क करें ;

  • तेज, गति से दिल का धड़कना 
  • गंभीर रूप से चक्कर आना या चिंता होना ;
  • आसानी से छाले या ब्लीडिंग होना, कमजोरी, बुखार, ठंड, शरीर में दर्द, फ्लू के लक्षण या
  • खतरनाक रूप से हाई ब्लड प्रेशर (गंभीर रूप से सिरदर्द, धुंधला दिखाई देना, कान बजना, चिंता, दुविधा, सीने में दर्द, सांस लेने में दिक्कत, अनचाही ह्रदय की गति, मिर्गी)।

कम गंभीर साइड इफेक्ट्स जैसे ;

  • भूख कम लगना ;
  • गर्मी, झनझनाहट, या स्किन के निचली परत में लालिमा होना,
  • बेचैन या उत्साहित महसूस करना (विशेषकर बच्चों में);
  • नींद की समस्याएं (अनिद्रा); या
  • त्वचा लाल चकत्ते या खुजली।

हर कोई इन साइड इफेक्ट्स को अनुभव नहीं करता। कुछ ऐसे साइड इफेक्ट्स भी हैं जो ऊपर नहीं दिए गए हैं। अगर आपको किसी भी तरह का साइड इफेक्ट नजर आता है तो डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात जरूर करें।

और पढ़ें : Chikungunya : चिकनगुनिया क्या है? जाने इसके कारण लक्षण और उपाय

कौन सी दवाएं स्यूडोएफीड्रीन के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

इस दवा के साथ MAO इन्हिबिटर लेना खतरनाक (संभवतः घातक) हो सकता है। इस दवा के साथ उपचार के दौरान MAO इन्हिबिटर (आइसोकार्बॉक्सीड, लाइनजोलिड, मेथिलीन ब्लू, मोकोब्लेमाइड, फेनलेजिन, प्रस्बेंजिन, रासगिलीन, सफिनेमाइड, सेलेजिलिन, ट्रानिलिसिप्रोमाइन) लेने से बचें। इस दवा के साथ उपचार से पहले ज्यादातर एमएओ अवरोधकों को भी दो सप्ताह तक नहीं लिया जाना चाहिए।

इस दवा का इस्तेमाल नीचे दी गई दवा के साथ नहीं करने की सलाह दी जाती। आपका डॉक्टर आपका इलाज इन दवाओं के साथ इलाज करने की सलाह दे सकता है या फिर जो दवाएं आप ले रहे हैं उनमें बदलाव कर सकता है। 

  • क्लोरगेलाइन
  • डीहाइड्रोएरगोटमाईन
  • फुराज़ोलिडोन
  • एलप्रोनिआजिड़
  • सोकार्बोक्साजिड़
  • लिनेज़ोलिड
  • मोकलोबेमिड
  • नियालमिड
  • ट्रेनिलसेप्रोमाइन

इस दवा का इस्तेमाल नीचे दी गयी दवा के साथ लेने की सलाह नहीं दी जाती, लेकिन कुछ मामलों में इसकी जरूरत पड़ सकती है। अगर दोनों दवाइयों को एक साथ लेने की सलाह दी जाती है, तो आपका डॉक्टर खुराक में बदलाव कर सकता है या फिर आपको कैसे इस दवा को कभी-कभी एक साथ लेना है या अकेले लेना है, के बारे में बता सकता है।

  • गुआनेथिडाइन
  • लोबेनगुआन I 
  • मिथाइलडोपा
  • मिडोड्राईन

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ स्यूडोएफीड्रीन का इस्तेमाल किया जा सकता है?

स्यूडोएफीड्रीन दवा के काम करने के तरीके को बदलकर या गंभीर दुष्प्रभावों के लिए जोखिम को बढ़ाकर भोजन या एल्कोहॉल के साथ गलत प्रभाव डाल सकती है। इस दवा को लेने से पहले भोजन या एल्कोहॉल के साथ किसी भी तरह के सही परिणाम नहीं दिखाई देते हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात जरूर करें।

और पढ़ें : रेनिटिडाइन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

स्यूडोएफीड्रीन खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

स्यूडोएफीड्रीन आपकी स्वास्थ्य स्थिति पर गलत प्रभाव डाल सकती है। यह प्रभाव आपकी स्वास्थ्य स्थिति को बिगाड़ सकता है या फिर दवाई के कार्य करने के तरीके को कम कर सकता है। जरूरी है कि आप अपनी स्वास्थ्य स्थिति को डॉक्टर और फार्मासिस्ट को बताएं, खासकर ;

  • टाइप 2 डायबिटीज मेलिटस – स्यूडोएफीड्रीन का इस्तेमाल ब्लड ग्लूकोस के स्टार को बढ़ा सकता है
  • बढ़ा हुआ प्रोप्सटेट या
  • ग्लूकोमा, या ग्लूकोमा की संभावना या
  • ह्रदय की बीमारी या रक्त वाहिका रोग या
  • हाई ब्लड प्रेशर – स्यूडोएफीड्रीन स्थिति को बिगाड़ सकती है
  • ओवरएक्टिव थायरॉइड – स्यूडोएफीड्रीन का इस्तेमाल स्थिति को बिगाड़ सकता है।

डॉक्टर की सलाह

नीचे दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

स्यूडोएफीड्रीन कैसे उपलब्ध है?

स्यूडोएफीड्रीन खुराक के रूप में और उसके प्रभाव के रूप में उपलब्ध है ;

टैबलेट इमिडिएट  रिलीज -30 मिलीग्राम, 60,120 मिलीग्राम

टैबलेट एक्सटेंडेड  रिलीज- 124, 240 मिलीग्राम

सिरप- 3mg / ml

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिति में अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड में जाएं।

अगर एक खुराक लेना भूल जाएं तो क्या करना चाहिए?

अगर स्यूडोएफीड्रीन की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सक सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. प्रणाली पाटील

फार्मेसी · Hello Swasthya


Anoop Singh द्वारा लिखित · अपडेटेड 31/05/2020

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement