backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना
Table of Content

अमलतास के फायदे एवं नुकसान

के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड डॉ. पूजा दाफळ · Hello Swasthya


Mona narang द्वारा लिखित · अपडेटेड 06/07/2020

अमलतास के फायदे एवं नुकसान

परिचय

अमलतास (Golden Shower Tree) क्या है?

अमलतास पौधा फबासिए (Fabaceae) परिवार से ताल्लुक रखता है। इसका वानस्पातिक नाम कैसिया फिसट्युला (Cassia fistula) है। इसका इस्तेमाल यूनानी चिकित्सा में कई बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है। अमलतास के फायदे शरीर को फिट रखने के साथ ही लोग डेकोरेशन के तौर पर भी इस पौधे को लगाते हैं। इस पौधे पर चमकीले पीले रंग के फूल होते हैं। पूरे भारत में इसकी खेती होती है।

अमलतास पौधा को इंडियन लैबरनम (Indian Laburnum), परजिंग फिसट्युला (Purging Fistula), कैसिआ (Cassia), गोल्डन शॉवर (Golden Shower), चमकानी (Chamkani) के नाम से भी जाना जाता है।

अमलतास (Golden Shower Tree) का उपयोग किस लिए किया जाता है?

अमलतास पौधे की पत्तियों से लेकर फल और छाल में औषधीय गुण होते हैं। इसमें एस्ट्रिंजेंट, कूलिंग, टॉनिक, लैक्सेटिव, ड्युरेटिक, कार्मिनिटिव, एंटी-इंफ्लामेटरी, पर्जेटिव और एंटी एमिटिक प्रॉपर्टिज होती हैं। इसका इस्तेमाल कई बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है। इसलिए अमलतास के फायदे भी होते हैं: जैसे

अमलतास के फायदे 1:  स्किन संबंधित परेशानियां 

अमलतास की पत्तियों का इस्तेमाल कई स्किन संबंधित परेशानियों के लिए किया जाता है। स्किन डिसऑर्डर जैसे दर्द, स्किन इरिटेशन, सूजन आदि से राहत पाने के लिए इसका प्रयोग कर सकते हैं। इसके लिए इसकी पत्तियों को प्रभावित जगह पर रगड़ना होता है। आप चाहे तो इसकी पत्तियों का पेस्ट बनाकर भी लगा सकते हैं। हाथों या पैरों की सूजन में यह काफी प्रभावशाली है।

अमलतास के फायदे 2: बुखार दूर करने में है सहायक

अमलतास की पत्तियां बुखार के इलाज के लिए भी उपयोगी हैं। बुखार को कम करने के लिए इसका टॉनिक दिया जाता है। इसकी पत्तियों को उबालकर काढ़ा बनाकर पी सकते हैं।

अमलतास के फायदे 3: जख्मों को भरने में  

घाव को भरने के लिए अमलतास का इस्तेमाल किया जाता है। ये हर्ब ऊतक का पुनर्जनन में अहम भूमिका निभाती है। घाव की ड्रेसिंग के लिए इसकी पत्तियों से रस निकालकर इस्तेमाल किया जाता है।

अमलतास के फायदे 4: कब्ज से राहत

इस पेड़ से निकाले गए पल्प में लैक्सेटिव प्रॉपर्टीज होती हैं। इसका इस्तेमाल कब्ज के इलाज के लिए किया जाता है।

अमलतास के फायदे 5: इम्यूनिटी को बढ़ाता है

गोल्डन शॉवर ट्री के तने और फल में एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज होती हैं जो इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने का काम करते हैं। नियमित रूप से इसके फल और छाल से अर्क को लेने से इम्यून सिस्टम पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

अमलतास के फायदे 6: कोल्ड और कफ

कोल्ड और कफ के लिए गोल्डन शॉवर ट्री को बहुत लाभदायक माना जाता है। इसके लिए इस पौधे की जड़ के धुएं को इनहेल किया जाता है। इससे तुरंत राहत मिलती है। इसके फल का उपयोग खांसी के लिए किया जाता है। इसके फल के बीज को भी खांसी के लिए अच्छा माना जाता है। इसका बीज स्वाद में हल्का मीठा होता है। पुरानी खांसी में भी इसे दवा के तौर पर लेने की सलाह दी जाती है।

और पढ़ें: Garlic: लहसुन क्या है?

अमलतास के फायदे 7: डायजेस्टिव और इंटेस्टाइनल डिसऑर्डर 

डायजेशन संबंधित परेशानियां जैसे गैस और खाना न पचने की समस्या के लिए इस पौधे के फल का पल्प उपयोगी माना जाता है। इसके पल्प में बादाम या अलसी के तेल को मिलाकर आंत्र संबंधित परेशानियों के लिए प्रयोग किया जाता है। पेट फूलने की परेशानी में बच्चों की नाभि के चारों ओर इसके पल्प को लगाकर राहत मिलती है।

अमलतास के फायदे 8: डायबीटिज से राहत

अमलतास का इस्तेमाल शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद करता है। इसका इस्तेमाल कर इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार होती है जिससे शरीर में शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।

अमलतास के फायदे 9: यूरिन संबंधित परेशानियों को करे दूर

यदि आपको यूरिन पास करते समय दिक्कत हो रही है या दर्द का सामना करना पड़ रहा है तो अमलतास आपको राहत दिला सकता है। यह यूरिन को आसानी से पास होने में मदद करता है। इसकी रूट को रात भर भिगोकर रखें और इसका पेस्ट बनाएं। इसमें घी मिलाकर रोजाना सुबह लें।

उपरोक्त बताए गए फायदों के अलावा इसके फल का इस्तेमाल डिसेंटरी, अर्थराइटस, पाइल्स, जोड़ों में दर्द, एंथ्रेक्स, ब्लड पॉइजनिंग और मलेरिया में भी किया जाता है।

अमलतास (Golden Shower Tree) कैसे काम करता है?

अमलतास में हेपाटोप्रोटेक्टिव (hepatoprotective), एंटी-इंफ्लामेटरी (anti-inflammatory), एंटीट्यूसिव (antitussive), एंटीफंगल (antifungal) प्रॉपर्टीज होती हैं। एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टिज होने के कारण इसका इस्तेमाल जख्मों को भरने के लिए किया जाता है। यह शरीर में हॉर्मोनल असंतुलन को भी नियंत्रित करता है।

और पढ़ें: Cauliflower ear: कॉलीफ्लॉवर इयर क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

अमलतास (Golden Shower Tree) का उपयोग करना कितना सुरक्षित है?

अमलतास के फायदे के साथ ही निम्नलिखित परिस्थितियों में अमतलास का सेवन करने से परहेज करना चाहिए:

  • यदि आपको डायरिया है तो अमलतास का सेवन एवॉइड करें। इसमें लैक्सिटेव गुण होते हैं। जिससे आपकी स्थिति पहले से ज्यादा खराब हो सकती है।
  • छोटे बच्चों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • प्रेग्नेंट और ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं को इसके सेवन की मनाही होती है। इन दोनों ही स्थितियों में कोई भी हर्ब या दवा का सेवन चिकित्सक या फार्मसिस्ट या हर्बलिस्ट से परामर्श लेने के बाद ही करना चाहिए।
  • यदि आप किसी दवा का सेवन कर रहे हैं तो भी इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से कंसल्ट करें क्योंकि हो सकता है दवा के साथ यह हर्ब इंटरैक्ट करें। इससे आपको फायदे की जगह नुकसान पहुंच सकता है।
  • यदि आपको कोई मेडिकल कंडिशन है तो गोल्डन शॉवर हर्ब का सेवन करने से पहले एक्सपर्ट से सलाह लें।
  • आपको किसी जड़ी बूटी या खाद्य पदार्थ से एलर्जी है तो भी इसे लेकर पहले चिकित्सक से चर्चा करें।

सुरक्षा के लिहाज से फिलहाल अमलतास के फायदे या सेवन को लेकर और अध्ययन की जरूरत है । अमतलास के सेवन से होने वाले फायदे से पहले आपको उससे होने वाले नुकसान को भी समझ लेना चाहिए। ज्यादा जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट से बात करें।

और पढ़ेंः Lime : हरा नींबू क्या है?

साइड इफेक्ट्स

अमलतास (Golden Shower Tree) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

प्यूरिफिकेशन प्रोसेस के बिना अमलतास का सेवन करना जहरीला हो सकता है। इसका सेवन आमतौर सभी लोगों के लिए सुरशक्षित है। लेकिन कुछ लोगों में अमलतास के फायदे होने के साथ ही नीचे बताए साइड इफेक्ट्स भी नजर आ सकते हैं:

[mc4wp_form id=’183492″] 

जरूरी नहीं इस जड़ी बूटी का सेवन करने से उपरोक्त बताए साइड इफेक्ट्स ही नजर आए। ऐसा भी हो सकता है कि इससे अलग कोई साइड इफेक्ट्स हो। यदि आपको इसका सेवन करने से किसी तरह का कोई दुष्परिणाम नजर आए तो इसे लेकर तुरंत अपने चिकित्सक या हर्बल्सिट से कंसल्ट करें।

और पढ़ें: मुलेठी के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Licorice

डोसेज

अमलतास (Golden Shower Tree) को लेने की सही खुराक क्या है?

  • फ्रूट पल्प (Fruit Pulp): 5 से 10 ग्राम
  • विरेचन(For Purgation): 10 से 20 ग्राम
  • जड़, छाल का काढ़ा (Root bark decoction):50 से 100 मिलीलीटर
  • फूल (Flower): 5 से 10 ग्राम
  • पेस्ट (paste): 1 से 2 टेबल स्पून दिन में एक बार
  • कैप्सूल (capsule): 1 से 2 कैप्सूल
  • पाउडर (powder): 1/4-1/2 टीस्पून, दिन में दो बार

और पढ़ें: चिलगोजा के फायदे एवं नुकसान; Health Benefits of Pine Nut

उपलब्ध

अमलतास (Golden Shower Tree) किन रूपों में उपलब्ध है?

अमलतास निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

  • फ्रूट पल्प (Fruit Pulp)
  • विरेचन(For Purgation)
  • जड़, छाल का काढ़ा (Root bark decoction)
  • फूल (Flower)
  • पेस्ट (paste)
  • कैप्सूल (capsule)
  • पाउडर (powder)

अगर आपका इससे जुड़ा किसी तरह का कोई सवाल है, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।



के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड

डॉ. पूजा दाफळ

· Hello Swasthya


Mona narang द्वारा लिखित · अपडेटेड 06/07/2020

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement