home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

जानें प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में होने वाले कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में, जो इबैरेसमेंट का कारण बन सकते हैं

जानें प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में होने वाले कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में, जो इबैरेसमेंट का कारण बन सकते हैं

प्रेग्नेंसी की गूड न्यूज (Pregnancy Good News)के साथ शुरूआती दौर में, होने वाली मां को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। सभी महिलाओं में प्रेग्नेंसी के अलग-अलग लक्षण देखने को मिलते हैं। लेकिन आज हम यहां बात करेंगे प्रेग्नेंसी के शुरुआती दौर यानि की पहली तिमाही में दिखने वाले कुछ अजीब लक्षणों के बारे में, जैसे कि अचानक से किसी के सामने भी गैस पास हो जाना(गैस कंट्रोल नहीं कर पाना) , स्मैल के साथ डिसचार्ज होना, पीरियड्स की तरह कमर में दर्द महसूस करना, चेहरे पर अनचाहे बालों का होना आदि। प्रेग्नेंसी के दौरान ऐसे और भी कई लक्षण भी हो सकते हैं, जिन्हें कंट्रोल करना गर्भवती महिला के हाथों में नहीं होता है, जिसके कारण कई बार प्रेग्नेंट महिलाओं को शर्मसार होना पड़ता है। यहां हम बात करेंगे कुछ ऐसी ही लक्षणों के बारे में:

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में गोनोरिया बन सकता है बच्चे की मौत की वजह? बचने के हैं बस 2 तरीके

अर्ली प्रेग्नेंसी डिस्चार्ज(Early pregnancy discharge)

बहुत सी महिलाओं काे प्रेग्नेंसी के दौरान वजायनल डिस्चार्ज (Vaginal discharge) शुरु हो जाता है, जरूरी नहीं है कि ऐसा सिर्फ प्रेग्ननेंसी में ही होता है। पर कई प्रेग्नेंट विमेन में ऐसा होता है, जैसे कि उन्हें स्टिकी डिसचार्ज होना या म्यूकस जैसा व्हाइट और यलो डिस्चार्ज होना आदि। कई महिलाओं में हॉर्मोन बदल जाने के कारण भी ऐसा होता है। यदि आप में इंफेक्शन के कारण ऐसा हो रहा है, तो आपमें डिसचार्ज के साथ इस तरह के लक्षण दिख सकते हैं, जैसे कि:

  • स्मेल आना (Smell)
  • जलन महसूस करना (Burn)
  • इचिंग होना (Itching)
  • ग्रीनिश यलो डिस्चार्ज होन (Discharge)

इस तरह के लक्षण इंफेक्शन के भी हो सकते हैं। ऐसा होने पर तुरंत डाॅक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी का दूसरा पड़ाव यानी दूसरी तिमाही में रखें इन बातों का ध्यान!

शरीर का गर्म होना (Your body will turn up the heat)

कुछ महिलाओं में सुबह उठने के बाद बुखार जैसा महूसस होता है। दरअसल बुखार (Fever) होता नहीं है, बस शरीर गर्म बना रहता है। इसे बेसल बॉडी टेम्पेरेचर भी कहते हैं। ऐसा दो सप्ताह से भी अधिक बन रहे, तो आप में यह प्रेग्नेंसी का लक्षण भी हो सकता है। यह गर्भावास्था के होने वाले लक्षणों में से एक है

और पढ़ें: First Trimester: प्रेग्नेंसी का पहला पड़ाव कैसे होता है खास?

सिर और पेट में दर्द होना (Head & Stomach problem)

सिर दर्द भी अर्ली प्रेग्नेंसी का एक लक्षण है। प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में हॉर्मोनल बदलाव होने के साथ, शरीर में रक्त के संचार का स्तर भी बदल जाता है। जिस कारण महिलाओं में पेट दर्द और सिर में दर्द की समस्या हो जाती है। ऐसा हफ्तों तक बने रहना भी प्रेग्नेंसी का लक्षण हो सकता है। ऐेसे में पेट में इस तरह से क्रैम्प होता है, जैसे कि आपको पीरियड्स होने वाला है। ऐसा तब होता है, जब आपके ब्लैडर का प्रेशर यूट्रेस पर पड़ने लगता है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान ऑर्गैज्म से जुड़े सभी सवालों के जवाब मिल जाएंगे इस लेख में

फाॅल्स पीरियड्स (False Period)

कई फॉल्स पीरियड (False Period) भी प्रेग्नेंट महिलाओं को हो सकता है। ऐसा 25 से 40 प्रतिशत महिलाओं को होता है। उनमें हल्की-हल्की स्पॉटिंग होने लगती है या कुछ में पीरियड्स जैसा भी होता है। यह हल्की ब्लीडिंग बस इसलिए होती है क्योंंकि कई बार यूट्रेस में एग् फर्टिलाइज्ड होने के बाद यूट्रेस की लाइन से टच कर रहा होता है। इसे इंम्पलानटेशन ब्लीडिंग भी कहते हैं। यह गर्भाधारण के दो सप्ताह के तक ऐसा होता है। अगर इसी के साथ आपको दर्द भी बना हुआ है तो आपको डॉक्टर से मिलने की सलाह दी जाती है। ऐसा आपको प्रेग्नेंसी कॉम्पलिकेशन के चलते भी हो सकता है। कुछ गंभीर न हो, इसलिए इस लक्षण के दिखते ही डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: पर्याप्त नींद न लेना हो सकता है स्वास्थ्य के लिए हानिकारक, जानिए कैसे करें इस समस्या को दूर

कोल्ड और फ्लू होना (Cold & Flu)

क्या आपने सूना है कि क्या कोल्ड, कफ और फ्लू प्रेग्नेंसी का लक्षण हो सकता है। कई बार प्रेग्नेंसी में इम्यूनिटी कमजोर होने के कारण भी महिलाओं में फ्लू जैसे लक्षण दिखने लगते हैं। यानि कि कोल्ड और फ्लू भी अर्ली प्रेग्नेंसी का लक्षण है।

मूड स्विंग हॉर्मोनल बदलाव (Hormonal changes)

कई बार हाॅर्मोनल बदलाव(Hormonal changes) भी प्रेग्नेंस होने का संकेते देते हैं। ऐसे में बहुत जल्दी-जल्दी हॉर्मोनल बदलाव होने लगते हैं, जैसे कि अचानक से अचानक से मूड अच्छा हो जाना और अचानक से रोने का मन करना आदि। ऐसा प्रेग्नेंसी महिलाओं को सबसे ज्यादा होता है। जिसे हम मूड स्विंग भी कहते हैं।

टेस्ट बदल जाना (Taste Change)

प्रेग्नेंट विमेन के शरीर में ईस्ट्रोजन और प्रोजेस्ट्रोन नामक हॉर्मोन के कारण शरीर में बदलाव होने लगता है। जिस कारण मुंह का टेस्ट कई बार मेटल यानि की धातु की तरह लगने लगता है। ऐसे में आपको अधिक से अधिक पानी चाहिए और लिक्विड डायट लेनी चाहिए।

और पढ़ें: Episode-6 : प्रेग्नेंसी दौरान होने वाली जेस्टेशनल डायबिटीज के साथ बढ़ जाते हैं कॉम्प्लिकेशन

गैस (Gas)

अधिकतर महिलाओं में प्रेग्नेंसी के दौरान गैस की दिक्‍कत हो जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि गर्भावस्था में शरीर में कई तरह के हॉर्मोनल बदलाव होने लगते हैं। जिसका असर डायजेस्टिव सिस्टम पर भी पड़ता है। इस दौरान महिलाओं को अपनी गैस प्रॉब्लम को रोकने में इतना कंट्रोल भी नहीं रहता है। जिस अधिक गैस बनना भी अर्ली प्रेग्नेंसी का लक्षण है। इसके अलावा, उन्हें कई बार खाना पचाने में भी दिक्कत होती है।

और पढे़ं: प्रेग्नेंसी के दौरान अल्फा फिटोप्रोटीन टेस्ट(अल्फा भ्रूणप्रोटीन परीक्षण) करने की जरूरत क्यों होती है?

मुहांसे की समस्या (Acne probem)

प्रेग्नेंसी के दौरान कई बार महिलाओं को ऑयली स्किन की समस्या हो सकती है। हाॅर्मोनल उतार-चढ़ाव के साथ कई बार महिलाओं में प्रेग्नेंसी की लक्षणों में अधिक मुहांसे की समस्या (Acne Problem) भी शामिल है। कई बार बहुत अधिक मुहांसे भी अर्ली प्रेग्नेंसी का संकेत है। ऐसा खासतौर पर गर्भावस्था के पहली तिमाही में होता है। चेहरे पर दाग वाले महुांसे अधिक दिखने लगते हैं। पर इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं है, डिलिवरी के बाद यह समस्या कम होने लगती है।

और पढ़ें: प्रेग्नन्सी में आपके और आपके बच्चे के लिए कितना वजन होना हेल्दी है, जानिए इस प्रेग्नन्सी वेट कैलक्युलेटर से

​चेहरे पर अधिक फेशियल हेयर होना

चेहरे पर कई बार अधिक बाल होना यानि की फेशियल हेयर अचानक से अर्ली प्रेग्नेंसी का लक्षण हो सकता है। कई महिलाओं को यह समस्या होने लगती है। प्रेग्नेंसी के दौरान हॉर्मोनल बदलाव के कारण ऐसा होने लगता है। यह अनचाहे बाल फेस, ब्रेस्ट और पेट पर आने लगते हैं।

और पढ़ें: गर्भावस्था में मलेरिया होने पर कैसे रखें अपना ध्यान? जानें इसके लक्षण

भूख अधिक लगना (Appetite)

कई प्रेग्नेंट विमेन को प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में भूख अधिक लगने लगती है। ऐसे में उन्हें बहुत जल्दी-जल्दी भूख लगने लगती है। कई महिलाओं की तो डायट भी दोगुनी हो जाती है। ऐसा महिलाओं के शरीर में हॉर्मोनल बदलाव और उनका खाने के खुराक शिशु में भी बटने लगती है। कुछ महिलाओं में रात को फूड क्रविंग सबसे ज्यादा होती है।

​डकार आना

जैसा कि प्रेनेंसी के दौरान डायजेशन प्रॉब्लम हो जाती है। तो इस कारण महिलाओं को अधिक डकार आने की समस्या भी हो जाती है। प्रेग्नेंसी के दौरान पाचन तंत्र धीमा हो जाता है और कई बार ठीक से काम भी नहीं करता है। जिस कारण खाना पच नहीं पाता है और कब्ज की समस्या हो जाती है। यही अधिक गैस का कारण भी होता है और डकार भी बहुत ज्यादा आती है। जिसके कारण भी प्रेग्नेंट विमेन को सबके सामने शर्म लाल होना पड़ता है।

और पढ़ें: गर्भावस्था में मलेरिया होने पर कैसे रखें अपना ध्यान? जानें इसके लक्षण

इनके अलावा और भी कई तरह के लक्षण भी विमेन में दिख सकते हैं, जो आपके प्रेग्नेंट होने का संकेत दे सकते हैं। प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में ऐसे लक्षण होना आम है। आपकी इसकी वजह से शर्मिंदा न हों। लेकिन हमने यहां कुछ ही लक्षणों की बात की है। तो इस तरह के लक्षण दिखने पर आप प्रेग्नेंसी टेस्ट करें और डॉक्टर से संपर्क करें। लेकिन इस बात का भी ध्यान रखें कि यह भी जरूरी नहीं है कि यह सभी लक्षण प्रेग्नेंसी के ही कारण हो। शरीर में होने वाले बदलावों या बहुत ही दिक्कतों के कारण भी इस तरह की समस्या हो सकती है।

 

health-tool-icon

ड्यू डेट कैलक्युलेटर

अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

सायकल लेंथ

28 दिन

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/getting-pregnant/in-depth/symptoms-of-pregnancy/art-20043853

https://my.clevelandclinic.org/health/articles/9709-pregnancy-am-i-pregnant

https://www.tommys.org/pregnancy-information/im-pregnant/early-pregnancy/early-signs-and-symptoms-pregnancy

https://www.eatright.org/health/pregnancy/what-to-eat-when-expecting/eating-right-during-pregnancy

https://foodinsight.org/healthy-eating-during-pregnancy/.

https://americanpregnancy.org/pregnancy-health/diet-during-pregnancy/ .

https://www.hopkinsmedicine.org/health/wellness-and-prevention/5-snack-foods-to-eat-while-pregnant A

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 06/04/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x