No breast growth during early pregnancy: क्या अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना किसी गंभीर कंडिशन का संकेत है?

    No breast growth during early pregnancy: क्या अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना किसी गंभीर कंडिशन का संकेत है?

    प्रेग्नेंसी महिलाओं के लिए कई बदलाव लेकर आती है। अधिकतर महिलाओं के लिए ब्रेस्ट्स में बदलाव प्रेग्नेंसी के शुरुआती लक्षणों में से एक है। प्रेग्नेंसी के बढ़ने के साथ ही ब्रेस्ट्स में बदलाव जारी रहता है। दरअसल प्रेग्नेंसी में हमारे शरीर के हॉर्मोन्स (एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन के लेवल) को प्रभावित करती है। यह हॉर्मोन्स लैक्टेशन के लिए ब्रेस्ट्स को तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और कई बदलावों का कारण बनते हैं। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy) भी सामान्य है। आइए जानें अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy) क्या है और क्या हो सकते हैं इसके कारण? लेकिन, सबसे पहले जानते हैं कि प्रेग्नेंसी में ब्रेस्ट चेंज रिलेटेड शुरुआती लक्षण क्या हैं?

    प्रेग्नेंसी (Pregnancy) में होने सामान्य ब्रेस्ट चेंजेज क्या हैं?

    प्रेग्नेंसी में ब्रेस्ट चेंज होना तब शुरू हो जाता है जब आपको पता भी नहीं होता कि आप प्रेग्नेंट हैं। यह बदलाव इस प्रकार हो सकते हैं:

    सोरनेस या टेंडरनेस (Soreness or tenderness)

    अर्ली प्रेग्नेंसी (Early pregnancy) में आप अपनी ब्रेस्ट्स में सोरनेस या टेंडरनेस को नोटिस कर सकते हैं। कुछ मामलों में यह इंपेंडिंग पीरियड (Impending period) का लक्षण भी हो सकता है यानी इसे हो सकता है कि नोटिस न किया जा सके। इसके साथ ही ब्रेस्ट्स कितनी टेंडर हैं यह समस्या भी हर महिला के लिए अलग हो सकता है। ऐसा भी हो सकता है कि जब ब्रेस्ट्स को टच किया जाए, तो आप कम टेंडरनेस महसूस करें और आपको ब्रा के पहनने के बाद गंभीर दर्द भी हो सकता है। दोनों प्रकार सामान्य हैं और आमतौर पर पहली तिमाही में यह परेशानी सबसे तीव्र होती हैं।

    टेंडर ब्रेस्ट्स एक वो कारण हो सकता है जिससे पहले ट्रायमेस्टर के दौरान लोग सेक्स को अवॉयड करना प्रेफर करते हैं। हालांकि, प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स बिलकुल सुरक्षित है। यदि आपको असुविधा होती है, तो निपल्स को छूने से बचना चाहेंगे। “अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy)” इसके कारणों के साथ साथ ही यह जानकारी होना भी जरूरी है।

    और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में ब्रेस्ट पेन और टेंडरनेस को दूर करने के लिए क्या हैं आसान तरीके, जानिए!

    ब्रेस्ट का भारी महसूस होना (Heavy feeling)

    फर्स्ट ट्राइयमेस्टर के अंत तक और सेकंड ट्राइयमेस्टर की शुरुआत में आपको ऐसा लग सकता है कि आपकी ब्रेस्ट ग्रो हो गयी है। क्योंकि, नर्सिंग के लिए टिश्यू प्रिपेयर हो रहे होते हैं। इस दौरान आपको ऐसा भी लग सकता है कि आपकी ब्रेस्ट भरी हुई हैं। प्रेग्नेंसी के अंत तक, आप नर्सिंग ब्रा का इस्तेमाल कर सकते हैं जिससे आप आरामदायक महसूस करेंगे।

    और पढ़ें: Breast changes after Breastfeeding: ब्रेस्टफीडिंग के बाद ब्रेस्ट में बदलाव के कारण और क्या है इससे बचने के उपाय?

    निप्पल में बदलाव (Change in nipples)

    प्रेग्नेंसी में आप निप्पल्स में भी बदलाव महसूस कर सकती हैं। आप निप्पल्स के आसपास छोटे और पिम्पल जैसे वाइट एरियाज का अनुभव भी कर सकते हैं। ऐसा होना भी सामान्य है। प्रेग्नेंसी के अंत तक आप ब्रेस्ट्स में से थोड़ा डिस्चार्ज भी अनुभव कर सकते हैं। पहली तिमाही के दौरान गर्भवती महिला के ब्रेस्ट चेंज होते हैं और यह हैवी होती हैं। अर्ली प्रेग्नेंसी (Early pregnancy) के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy) कॉमन नहीं है। लेकिन, फिर भी ऐसा हो सकता है। इसके बारे में भी हम जानेंगे लेकिन पहले जान लेते हैं। अब जानते हैं अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy) किस कारण से होता है?

    अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना, No breast growth during early pregnancy

    अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy): क्या हो सकते हैं इसके कारण?

    प्रेग्नेंसी में हॉर्मोन्स यानी एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन को ब्रेस्ट ग्रोथ और प्रेग्नेंसी में होने वाले बदलावों का कारण माना जाता है। यह हॉर्मोन्स मां के लिए शिशु को फीडिंग की तैयारी में अतिरिक्त फैटी टिश्यूज, ब्लड फ्लो को बढ़ाने और आपकी छाती में अन्य परिवर्तनों को ट्रिगर करने का काम करते हैं। हालांकि, हर गर्भवती मां को प्रेग्नेंसी की शुरुआत में ब्रेस्ट्स में बदलाव का अनुभव नहीं होता है। एक्सपर्ट्स पूरी तरह से यह नहीं बता सकते हैं कि ऐसा क्यों है, लेकिन इसका संबंध ब्रेस्ट्स को प्रभावित करने वाले हार्मोन की मात्रा से हो सकती है। अगर आप भी अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy) अनुभव करती हैं, तो इसमें चिंता की कोई बात नहीं है। इसका आपकी सक्सेसफुल प्रेग्नेंसी की क्षमता के साथ कुछ लेना-देना नहीं है।

    इसके कुछ मामलों में डॉक्टर इस बात की जांच कर सकते हैं कि कहीं आपको इंसफिशिएंट ग्लैंडुलर टिश्यू (Insufficient glandular tissue) या ब्रेस्ट हायपोप्लेशिया (Breast hypoplasia) की समस्या तो नहीं है। अगर आप अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy), इस समस्या को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर से बात करें और आप ब्रेस्ट चेक भी करा सकते हैं। इससे उन्हें किसी भी संभावित समस्या की पहचान करने और यदि संभव हो तो आपके बच्चे के जन्म से पहले उनका इलाज करने में मदद मिलेगी। अब जानिए कि प्रेग्नेंसी में होने वाली ब्रेस्ट प्रॉब्लम्स (Brest problems) से राहत पाने के लिए क्या करें?

    और पढ़ें: Brewer’s yeast for breastfeeding: ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट लेने से क्या पहुंचता है फायदा?

    ब्रेस्ट प्रॉब्लम्स (Brest problems) से राहत पाने के लिए क्या करें?

    यह तो आप समझ ही गए होंगे कि अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy) सामान्य है। ऐसे में, इस दौरान होने वाली अन्य समस्याओं से राहत पाने के लिए आप कुछ उपाय कर सकते हैं जैसे:

    • अगर आपको ब्रेस्ट टेंडरनेस (Breast tenderness) और सोरनेस की समस्या है, तो आप दिन में ऐसी ब्रा को पहन सकते हैं जिनसे आपकी ब्रेस्ट्स को पूरा सपोर्ट मिले। रात को आप स्लीप ब्रा का इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके साथ ही निप्पल के आसपास के एरिया को साबुन से साफ न करें। आप केवल वार्म वॉटर से इन्हें साफ कर सकते हैं।
    • अगर आपकी ब्रेस्ट्स में खुजली हो रही है तो हॉट शॉवर या बाथ न लें। नहाने के बाद स्किन को अच्छे से सुखाएं और उन पर मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करें। ड्रायनिंग सोप, एल्कोहॉल वाले स्किन प्रोडक्ट्स (Skin products), हैवी क्लोरीन वाले पानी का प्रयोग न करें। इससे स्किन ड्राय हो सकती है। अगर आप ड्राय क्लीमेंट में रहते हैं, तो घर में ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल करें। लेकिन अगर समस्या अधिक हो, तो डॉक्टर की सलाह लें।

    और पढ़ें: ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स के फायदे और नुकसान जानने के लिए करें बस एक क्लिक!

    उम्मीद है कि अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy) के बारे में यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। ब्रेस्ट्स में बदलाव प्रेग्नेंसी का सामान्य पार्ट है। लेकिन हर महिला का यह अनुभव अलग हो सकता है। जब शरीर शिशु के लिए तैयार होता है, तो आपके ब्रेस्ट के टिश्यूज में होने वाले चेंजेज यह सुनिश्चित करते हैं कि आप अपने नवजात शिशु को स्तनपान कराने के लिए तैयार हों। इन बदलावों के लिए तैयार रहें, क्योंकि यह पॉजिटिव प्रेग्नेंसी (Positive pregnancy) का भाग है। लेकिन, अगर इस दौरान अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट ग्रोथ न होना (No breast growth during early pregnancy) का अनुभव कर रहे हैं, तो समझ लें कि यह भी सामान्य है। अगर इस बारे में आपके मन में कोई भी समस्या है, तो अपने डॉक्टर से इस बारे में अवश्य जानें।

    आप हमारे फेसबुक पेज पर भी अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. प्रणाली पाटील

    फार्मेसी · Hello Swasthya


    AnuSharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 30/05/2022

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement