home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Ciprofloxacin 500mg+Tinidazole 600mg: सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इस्तेमाल|सावधानियां एवं चेतावनी|जानिए इसके साइड इफेक्ट|रिएक्शन|स्टोरेज
Ciprofloxacin 500mg+Tinidazole 600mg: सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इस्तेमाल

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg (Ciprofloxacin 500mg+Tinidazole 600mg) का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

सिप्रोफ्लॉक्सासिन एक एंटीबैक्टीरियल दवा है, जो शिगेला (SHIGELLA), सालमोनेला (SALMONELLA), ई कोलि (E COLI) सी जेजुनि (C JEJUNI), विब्रियो कोलेरेए (VIBRIO CHOLERAE) आदि बैक्टीरिया की ग्रोथ को रोकती है। यह डीएनए संश्‍लेषण को रोकती है। सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg का कॉम्बिनेशन बैक्टीरिया और प्रोटोजोआ (PROTOZOA) के खिलाफ ज्यादा कारगर होता है। एक अमीबा जो आमतौर पर आंत में बिना नुकसान पहुंचाए रहता है, लेकिन यह पेचिश का कारण बन सकता है।

अमीबा को जीवित रहने के लिए सामान्य फेकल फ्लोरा (FAECAL FLORA) की आवश्यकता होती है। वहीं, सिप्रोफ्लॉक्सासिन पेथाजॉनिक आंत के बैक्टीरिया को मारकर आंत के फ्लोरा को बदल देती है। टिनिडाजोल सीधे ही अमीबा को मार देती है। इसके अतिरिक्त, सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg का इस्तेमाल निमोनिया, गिलटी रोग, सिफलिस, गोनोरिया, ब्रोंकाइटिस, जठरांत्र, प्लाग, गले, त्वचा, कान, नाक, साइनस, हड्डी, रेस्पिरेटरी सिस्टम और यूरिनरी ट्रैक जैसे संक्रमण में किया जाता है।

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg (Ciprofloxacin 5गोनोरिया00mg+Tinidazole 600mg) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg का इस्तेमाल सिर्फ डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही करना चाहिए। यदि आपको ऊपर बताई गई समस्याओं में से कोई भी दिक्कत है तो इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह अवश्य लें। हालांकि, इस कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल मौखिक रूप से भोजन के साथ या पहले और इंजेक्शन के माध्यम से किया जा सकता है।

और पढ़ें : Chlorzoxazone : क्लोरजोक्सॉन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स सावधानियां

सावधानियां एवं चेतावनी

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg (Ciprofloxacin 500mg+Tinidazole 600mg) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर दवाइयां ली जानी चाहिए।
  • यदि आप किसी अन्य दवा का सेवन कर रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई, मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हर्बल प्रोडक्ट जैसी दवाइयां शामिल हैं।
  • यदि आपको सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg के किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।

और पढ़ें : Budesonide + Formoterol : बुडेसोनाइड+ फॉर्मोटेरोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg (Ciprofloxacin 500mg+Tinidazole 600mg) को प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग: इन दोनों ही परिस्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवाइयों का उपयोग करना चाहिए। चूंकि प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग के दौरान किसी भी दवा का सेवन करने से इसका असर बच्चे पर भी पड़ता है। इसे देखते हुए सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg का इस्तेमाल करने से पहले यदि आप प्रेग्नेंट हैं या गर्भधारण करने की योजना बना रही हैं तो इसकी जानकारी डॉक्टर को तुरंत दें।

हालांकि, स्तनपान के दौरान इसका सेवन सुरक्षित माना जाता है। इसका सेवन करने के दौरान शिशु की सेहत को मॉनिटर करना चाहिए। बुखार, भूख का कम होना और डायरिया जैसे लक्षणों पर नजर रखनी चाहिए। इन लक्षणों के सामने आने पर तुरंत अपने डॉक्टर को सूचित करें।

जानिए इसके साइड इफेक्ट

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg (Ciprofloxacin 500mg+Tinidazole 600mg) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg से आपको निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • उबकाई
  • सिरदर्द
  • उल्टी
  • बेहोशी
  • पेट दर्द
  • डिप्रेशन
  • पेट में जलन
  • कब्ज
  • मुंह सूखना
  • मुंह में धातु जैसा स्वाद
  • नाक बहना
  • डायरिया
  • कमजोर और थकावाट
  • मांसपेशियों में ऐंठन
  • सूजन के साथ त्वचा पर लाल चकते पड़ना
  • चोट या जलन के परिणामस्वरूप त्वचा की सतही रेडिंग, आमतौर पर रक्त केशिकाओं के फैलाव के कारण होती है।
  • चोट या जलन से त्वचा पर लालिमा पड़ना, आमतौर पर रक्त कोशिकाओं के फैलाव के कारण।
  • अचानक से दिमाग खाली होना (कुछ भूल जाना या खो जाना)।
  • दुलर्भ मामलों में अतिसंवेदनशील गंभीर रिएक्शन।

हालांकि, हर व्यक्ति को उपरोक्त साइड इफेक्ट्स का अनुभव नहीं होता है। इन साइड इफेक्ट्स के अलावा भी सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg के कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं, जिन्हें सूचीबद्ध नहीं किया गया है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : Ibugesic Plus : इबूगेसिक प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

रिएक्शन

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg (Ciprofloxacin 500mg+Tinidazole 600mg) के साथ कौन सी दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं?

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg के साथ निम्नलिखित दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं:

  • एंटीएसिड्स दवाइयां
  • कैल्शियम
  • सिप्रोफ्लॉक्सासिन से पहले जिंक का उपयोग करने से बॉडी में इसके सोखने की क्षमता में कमी आती है।
  • सिप्रोफ्लॉक्सासिन का लगातार इस्तेमाल बॉडी में क्रेटीनाइन (CREATININE) का लेवल बढ़ा सकता है।

और पढ़ें: Calcium carbonate : कैल्शियम कार्बोनेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या एल्कोहॉल के साथ सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg (Ciprofloxacin 500mg+Tinidazole 600mg) का इस्तेमाल सुरक्षित है?

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg का एल्कोहॉल के साथ सेवन करना असुरक्षित है। इससे आपको चक्कर आ सकते हैं या उनींदापन हो सकता है। ड्राइव या ऐसा कोई भी कार्य न करें, जिसमें मानसिक ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता हो।

इस दवा के कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल करते वक्त एल्कोहॉल का सेवन करने से बचें। ऐसा करने से पेट में जलन होने के साथ-साथ आपको और ज्यादा नींद आ सकती है। एल्कोहॉल के साथ इस दवा का सेवन करने से हार्ट बीट बढ़ना, उबकाई, प्यास लगना, सीने में दर्द और लो ब्लड प्रेशर जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

और पढ़ें : Sucralfate : सुक्रालफेट क्या है? जानिए उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg (Ciprofloxacin 500mg+Tinidazole 600mg) का हेल्थ पर क्या असर पड़ सकता है?

डॉक्टर की सलाह और दिशा निर्देशानुसार सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg का सेवन सुरक्षित हो सकता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा इसके संभावितः फायदों की तुलना इसके खतरों से की जानी चाहिए। कई मामलों में इससे गुर्दे की समस्या हो सकती है। यदि विगत समय में आपको बेहोशी से संबंधित कोई परेशानी हुई है तो बिना डॉक्टर की सलाह के इसका इस्तेमाल न करें। अगर आपको ब्लड डिसऑर्डर, हार्ट संबंधी समस्या या खून में मैग्नीशियम की कमी है, तो डॉक्टर से संपर्क करें।

इसका उपयोग करते वक्त बॉडी को हाइड्रेट बनाए रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में अतिरिक्त पानी जरूर पिएं। साथ ही केंद्रीय तंत्रिका की समस्या (सीएनएस) वाले लोगों के लिए यह असुरक्षित हो सकती है। इसके सेवन और इलाज के दौरान यदि बॉडी में पानी की मात्रा अपर्याप्त होती है तो यूरिन में क्लाउड (क्लाउडी यूरिन) की समस्या हो सकती है।

[mc4wp_form id=”183492″]

स्टोरेज

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg (Ciprofloxacin 500mg+Tinidazole 600mg) को कैसे स्टोर करना चाहिए?

सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना है। सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg के अलग-अलग ब्रांड्स को अलग तरीकों से स्टोर किया जाता है। इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें।

सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा न जाए तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको सिप्रोफ्लॉक्सासिन 500mg+टिनिडाजोल 600mg को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है। आवश्यकता न रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं हैं। आप स्वास्थ्य संबंधि अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Combined ciprofloxacin and tinidazole therapy in the treatment of chronic refractory pouchitis   https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/17279300 Accessed 10 Feb, 2020

CIPROFLOXACIN-TINIDAZOLE COMBINATION http://www.bioline.org.br/request?ms03046 Accessed 10 Feb, 2020

Ciprofloxacin + Tinidazole information from DrugsUpdate http://www.drugsupdate.com/generic/view/613/Ciprofloxacin-+-Tinidazole Accessed 10 Feb, 2020

CIPROFLOXACIN-TINIDAZOLE COMBINATION  https://www.researchgate.net/publication/5512542_Ciprofloxacin-tinidazole_combination_fluconazole-azithromicin-secnidazole-_kit_and_doxycycline-metronidazole_combination_therapy_in_syndromic_management_of_pelvic_inflammatory_disease_A_prospective_Accessed 10 Feb, 2020

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 30/09/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड