backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना
Table of Content

Dicyclomine : डाईसाइक्लोमीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित · अपडेटेड 08/07/2020

Dicyclomine : डाईसाइक्लोमीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डाईसाइक्लोमीन का उपयोग किसलिए करते हैं?

डाईसाइक्लोमीन का उपयोग ज्यादातर इरीटेबल बॉवेल सिंड्रोम के लक्षणों को ठीक करने के लिए किया जाता है। आपकी मेडिकल कंडिशंस के हिसाब से डॉक्टर इस दवा के उपयोग का सुझाव दे सकते हैं।

डाईसाइक्लोमीन एंटीकोलिनर्जिक होता है। यह पेट और आंतों की मांसपेशियों में एक रसायन के रिसाव को रोकने का काम करता है, जिससे मांसपेशियों को आराम मिलता है और उनमें ऐंठन कम हो जाती है।

और पढ़ें : Diclofenac sodium : डिक्लोफिनेक सोडियम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

मुझे डाईसाइक्लोमीन कैसे लेना चाहिए?

डाईसाइक्लोमीन का उपयोग सिर्फ डॉक्टर के दिशानिर्देश के अनुसार करें। डोज की उचित मात्रा के लिए आप दवा के पैकेट पर दी गयी जानकारी की भी मदद ले सकते हैं।

डाईसाइक्लोमीन को आमतौर पर इंजेक्शन के रूप में, डॉक्टर के क्लीनिक या किसी अस्पताल में दिया जाता है। यदि आप डाईसाइक्लोमीन को घर पर लेना चाहते हैं तो किसी स्वास्थ्य विशेषज्ञ से परामर्श लेने के बाद ही आगे बढ़ें। डाईसाइक्लोमीन का प्रयोग करने से पहले ये सुनिश्चहित करें कि इसका प्रयोग कैसे करते हैं? डॉक्टर द्वारा सुझाए गए डोज और बतायी गयी प्रक्रिया के अनुसार ही दवा लें। किसी किस्म के संदेह की स्थिति में अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

डाईसाइक्लोमीन इंट्रामस्क्युलर (आईएम) इंजेक्शन के लिए उपयोगी है। यह इंट्रावीनस (IV) उपयोग के लिए नहीं है।

डाईसाइक्लोमीन का प्रयोग उस स्थिति में ना करें जब उसकी शीशी में कोई तत्व मिले, जो कि रंगहीन या धुंधला हो। नीडल, सीरिंज को बच्चों की पहुंच से दूर रखें। किसी भी नीडल या सीरिंज का दोबारा उपयोग ना करें। आप अपने स्वास्थ्य विशेषज्ञ से इन नीडल्स और अन्य सामग्री को डम्प करने का सही तरीका पूछ सकते हैं।

अगर आप मौखिक रूप से डाईसाइक्लोमीन नहीं ले पा रहें है तो आपको यह दवा इंजेक्शन के रूप में दी जाती है लेकिन, यह अस्थायी है। जैसे ही आप इसे लेने में सक्षम होते हैं, डॉक्टर डाईसाइक्लोमीन को मौखिक रूप से देने का निर्देश देंगे।

कोशिश करें की एक नियमित समय पर डाईसाइक्लोमीन का सेवन करें।

डाईसाइक्लोमीन कैसे स्टोर कर सकते हैं?

डाईसाइक्लोमीन को कमरे के तापमान पर, सीधे प्रकाश और नमी से दूर रखा जाता है। डाईसाइक्लोमीन को नुकसान से रोकने के लिए, कभी भी अपने बाथरूम या फ्रीजर में स्टोर ना करें। डाईसाइक्लोमीन के अलग-अलग ब्रांड हो सकते हैं जिनको स्टोर करने का तरीक़ा अलग हो सकता है। स्टोरेज से जुड़े निर्देशों के लिए हमेशा उत्पाद पैकेज पर दिए निर्देशों को पढ़ना महत्वपूर्ण है। आप अपने फार्मासिस्ट से भी पूछ सकते हैं। सुरक्षा के लिहाज से, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

कभी भी टॉयलेट में डाईसाइक्लोमीन को फ्लश नहीं करना चाहिए ना ही उन्हें किसी खुली नाली में डालना चाहिए, जब तक आपको ऐसा करने का निर्देश न दिया जाए। दवा के एक्स्पायर होने के बाद या आवश्यकता ना होने पर ही इसे डम्प करें।

और पढ़ें: Chlorzoxazone : क्लोरजोक्सॉन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स सावधानियां

डाईसाइक्लोमीन का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

डाईसाइक्लोमीन के उपयोग से पहले आप अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श लें यदि :

  • आप किसी और दवा का सेवन पहले से कर रहें है। भले ही वो दवा आप किसी डॉक्टर के निर्देश के बिना ले रहे हों, या बगैर किसी पर्चे के ले रहें हो।
  • आपको डाईसाइक्लोमीन या उससे जुड़े कम्पाउंड से एलर्जी है।
  • आपको कोई बीमारी, विकार या मेडिकल समस्या है।
  • आपको गंभीर रूप से अल्सर, दस्त, प्रोस्टेट का बढ़ना, हेटल हर्निया, किडनी या लीवर की बीमारी, नर्वस सिस्टम की बीमारी, ओवरएक्टिव थायरॉइड या यूरिन पास होने में दिक्कत।
  • आपको हृदय रोग, हार्ट अटैक, हाई ब्लड प्रेशर, तेजी से दिल धड़कने का पुराना इतिहास है तो।
  • आपको ग्लूकोमा होने का खतरा है।

डाईसाइक्लोमीन के सेवन से सुस्ती, चक्कर और धुंधली दृष्टि की शिकायत हो सकती है। यदि आप इस दवा का सेवन शराब या अन्य दवाओं के साथ करते हैं तो इसका दुष्प्रभाव भी हो सकता हैं। डाईसाइक्लोमीन का प्रयोग सावधानी के साथ करें। जब तक आप पूर्ण रूप से सुनिश्चित न कर लें की दवा खाने के बाद यह आपके शरीर पर कैसी प्रतिक्रिया देती है तब तक दवा खाकर गाड़ी ड्राइव ना करें।

डाईसाइक्लोमीन के सेवन से चक्कर आना, सिर का हल्का लगना, या बेहोशी जैसी स्थिति बन सकती है। इसके साथ शराब, गर्म मौसम, व्यायाम की कमी या बुखार इन प्रभावों को बढ़ा सकते हैं। इन्हें रोकने के लिए, बैठने के बाद धीरे खड़े हो, खासकर सुबह के समय। गर्मी के मौसम में या जब आप एक्टिव होकर काम करते हैं, तब ज्यादा गरम वातावरण में न रहें अन्यथा आपको हीटस्ट्रोक हो सकता है।

डाईसाइक्लोमीन आपकी आंखों को सूर्य के प्रकाश के प्रति अधिक संवेदनशील बना सकता है। 

बुजुर्गों के केस में सावधानी के साथ डाईसाइक्लोमीन का उपयोग करें। वे इसके प्रभावों के प्रति अधिक संवेदनशील हो सकते हैं। 6 से कम उम्र के बच्चों में डायसाइक्लोमाइन का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। 

और पढ़ेंः Nexito Plus : नेक्सिटो प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या यह गर्भावस्था या स्तनपान के दौरान सुरक्षित है?

  • आप गर्भवती हैं या शिशु को स्तनपान कराती हैं तो बिना डॉक्टर के परामर्श के इस दवा का सेवन ना करें। डाईसाइक्लोमीन लेने से पहले संभावित लाभ और हानि की जानकारी के लिए हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श लें। एफ.डी.ए के अनुसार डाईसाइक्लोमीन को गर्भावस्था में प्रयोग करने का खतरा कैटेगरी-B है।

नीचे एफ.डी.ए द्वारा निर्धारित गर्भावस्था के खतरे की कैटेगरी निम्नलिखित है :

  • A = कोई जोखिम नहीं
  • B = कुछ अध्ययनों में कोई जोखिम नहीं
  • C = कुछ जोखिम हो सकता है
  • D = जोखिम होने की अधिक संभावना
  • X = विरोधाभाषी
  • N = अज्ञात

[mc4wp_form id=’183492″]

डाईसाइक्लोमीन के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

सभी दवाओं के अपने कुछ न कुछ साइड इफेक्ट्स होते हैं लेकिन, बहुत से लोगों पर इस दवा का कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है। यदि आपको निम्नलिखित में से कोई भी समस्या का अनुभव होता है तो आप तुरंत अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें।

निम्नलिखित गंभीर दुष्प्रभावों में से कोई भी होने पर तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श लें :

  • लाल चकत्ते
  • खुजली
  • सांस लेने मे तकलीफ
  • छाती में जकड़न
  • मुंह, चेहरे, होंठ, या जीभ की सूजन
  • उलझन
  • लूज मोशन
  • ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई
  • चलने में कठिनाई
  • बोलने में कठिनाई
  • यूरिन पास करने में कठिनाई
  • बेहोशी
  • छाती में बल पड़ना
  • तेज धड़कन
  • मेमोरी लॉस
  • असामान्य कमजोरी
  • उल्टी

यहां बताए गए साइड इफेक्ट्स के आलवा भी कई दुष्प्रभाव हो सकते हैं। यदि आपको कोई भी अन्य साइड इफेक्ट का अनुभव होता है तो कृपया तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

और पढ़ेंः Enzoflam: एन्जोफ्लाम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डाईसाइक्लोमीन किन चीजों के साथ क्रिया कर सकती है?

डाईसाइक्लोमीन उन सभी अन्य दवाओं के साथ क्रिया कर सकती है जो आप वर्तमान में ले रहे हैं। जिसकी वजह से साइड इफेक्ट्स का खतरा बाढ़ जाता है। किसी भी संभावित दवा से कहीं डाईसाइक्लोमीन क्रिया ना कर जाए, इससे बचने के लिए, आपको उन सभी दवाओं की एक सूची रखनी चाहिए, जिनका आप सेवन कर रहे हैं। अपनी सुरक्षा के लिए, अपने डॉक्टर को बिना बताए किसी भी दवा की खुराक ना बदलें।

डाईसाइक्लोमीन के साथ क्रिया कर सकने वाली दवा निम्नलिखित हैं:

  • Amantadine, antiarrhythmics (जैसे, क्विनिडाइन), एंटीहिस्टामाइंस (जैसे, डिपेनहाइड्रामाइन), बेंजोडायजेपिंस (जैसे, डायजेपाम), मोनोमाइन ऑक्सीडेज इनहिबिटर (MAII) (जैसे, फेनिलज़ीन), मादक दर्द (जैसे, मेपरिडीन), नाइट्रेट्स (उदाहरण के लिए, नाइट्रेट्स) isosorbide), नाइट्राइट्स (जैसे, सोडियम नाइट्राइट), फेनोथियाजाइन्स (जैसे, क्लोरप्रोमजाइन), सिम्पेथोमिमेटिक्स (जैसे, स्यूडोएफ़ेड्रिन), या ट्राइसाइक्लिक एंटीडिपेंटेंट्स (जैसे, एमिट्रिप्टिलाइन) 
  • ये डाइक्लोसमिन के दुष्प्रभावों का खतरा बढ़ा सकती हैं। 
  • डिगॉक्सिन के साथ इसका सेवन करने से इसके साइड इफेक्ट का खतरा बढ़ जाता है।

क्या भोजन और एल्कोहॉल डाईसाइक्लोमीन के साथ परस्पर क्रिया करते हैं?

भोजन या एल्कोहॉल के साथ दवा के काम करने से दवा के काम करने तरीके में बदलाव या गंभीर साइड इफेक्ट हो सकते हैं।

और पढ़ेंः Zerodol SP : जीरोडोल एसपी क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डाईसाइक्लोमीन के साथ कौन सी स्वास्थ्य स्थितियां परस्पर क्रिया कर सकती हैं?

डाईसाइक्लोमीन आपकी स्वास्थ्य स्थिति के साथ परस्पर क्रिया कर सकता है। यह इंटरैक्शन आपकी स्वास्थ्य स्थिति को खराब कर सकता है या दवा के काम करने के तरीके को बदल सकता है। यह हमेशा महत्वपूर्ण है कि आप अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट को उन सभी स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बताएं जो वर्तमान में हैं।

आपातकाल की स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

आपातकाल की स्थिति में, अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने निकटतम अस्पताल में जाएं।

कोई खुराक भूलने पर क्या करें?

यदि आप दवा की कोई खुराक भूल गए हैं तो खुराक याद आते ही इसे जल्द से जल्द लें। यदि आपकी अगली खुराक का समय आ गया है, तो छूटी हुई खुराक को रहने दें और अपनी नियमित खुराक निर्धारित समय पर ले लें। दोहरी खुराक न लें।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. प्रणाली पाटील

फार्मेसी · Hello Swasthya


Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित · अपडेटेड 08/07/2020

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement