home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Ofloxacin+Ornidazole: ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|इंटरैक्शन
Ofloxacin+Ornidazole: ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

उपयोग

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल (Ofloxacin+Ornidazole) का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल का इस्तेमाल बैक्टीरिया और परिजीवी से होने वाले संक्रमण के इलाज में होता है। डायरिया या पेचिस, पेट का संक्रमण, महिलाओं के जननांगों में इंफेक्शन और पेल्विक इंफेक्शन में ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल का इस्तेमाल होता है। साथ ही इसका इस्तेमाल डायबिटीज, गुर्दों के संक्रमण और कमजोर इम्यून सिस्टम वाले लोगों में पैरों के अल्सर के इलाज में होता है।

यह कॉम्बिनेशन बैक्टीरिया को मारता है, जो संक्रमण फैलाते हैं। वहीं, ओरनिडाजोल प्रोटोजोया की ग्रोथ को रोक देती है और ओफ्लॉक्सासिन बैक्टीरिया को डीएनए की प्रकृति बनाने से रोकती है। सबसे अहम बात की यह कॉम्बिनेशन सामान्य वायरल इंफेक्शन में कारगर नहीं है।

और पढ़ें : Chlorhexidine Gluconate+Clobetasol+Miconazole+Neomycin: क्लोरहेक्सिडिन ग्लूकोनेट+क्लोबेटासोल+मिकोनाजोल+नियोमायसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल (Ofloxacin+Ornidazole) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

डॉक्टर की सलाह पर ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल को भोजन के साथ या खाली पेट लिया जा सकता है। इसके अलावा, आप दवा के लेबल पर छपे दिशा-निर्देशों को अधिक जानकारी के लिए पढ़ सकते हैं। बिना डॉक्टर की सलाह के इसके डोज में इजाफा न करें। यदि आपको निर्देशित डोज में फायदा नहीं मिल रहा है तो खुद से दवा के डोज में इजाफा करने के बजाये अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।

और पढ़ें : Nimesulide+Paracetamol/Acetaminophen: निमेसुलाइड+पैरासिटामोल/ एसिटामिनोफेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल (Ofloxacin+Ornidazole) को कैसे स्टोर करना चाहिए?

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना है। ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल के अलग-अलग ब्रांड्स को अलग तरीकों से स्टोर किया जाता है। इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें। सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा न जाए, तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है। आवश्यकता न रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

[mc4wp_form id=”183492″]

सावधानियां और चेतावनी

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल (Ofloxacin+Ornidazole) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

इस कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल करने से पहले निम्नलिखित परिस्थितियों में अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें:

  • यदि आपको लीवर की कोई समस्या हो।
  • यदि आपको गुर्दे की कोई समस्या हो।
  • यदि आपको कब्ज की समस्या है।
  • यदि आपके स्टूल में ब्लड आने की समस्या है।
  • यदि आपको न्यूरोमस्क्युलर से संबंधित कोई समस्या है।
  • यदि आपको ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल के किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रहे हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर या सीएनएस डिसऑर्डर हो।

और पढ़ें : Akurit 4: अकुरिट 4 क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल (Ofloxacin+Ornidazole) को प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इस दवा के इस्तेमाल की सुरक्षा को लेकर पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा इसके संभावित फायदों की तुलना इसके नुकसान से की जानी चाहिए।

अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) ने ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल को प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी-C में रखा है।

FDA की प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी निम्नलिखित है:

  • A= कोई खतरा नहीं
  • B= कुछ अध्ययनों में कोई खतरा नहीं
  • C= कुछ खतरे हो सकते हैं
  • D= खतरे के सकारात्मक सुबूत
  • X= सहमति नहीं
  • N= कोई जानकारी नहीं

ब्रेस्टफीडिंग: स्तनपान के दौरान यह दवा मां के दूध के जरिए शिशु की बॉडी में प्रवेश कर सकती है। हालांकि, इस कॉम्बिनेशन का शिशु पर क्या प्रभाव पड़ेगा, इस संबंध में अधिक जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसकी विस्तृत जानकारी के लिए आपको अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श लेना चाहिए।

और पढ़ें : Omnacortil tablet: ओमनाकॉरटिल टैबलेट के उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां क्या है?

साइड इफेक्ट्स

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल (Ofloxacin+Ornidazole) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल से आपको निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

हालांकि, हर व्यक्ति को यह साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं। उपरोक्त दुष्प्रभाव के अलावा भी ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : Ecosprin Tablet: इकोस्प्रिन (एस्प्रिन) टैबलेट क्या है?

इंटरैक्शन

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल (Ofloxacin+Ornidazole) के साथ कौन सी दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं?

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल आपकी मौजूदा दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकता है या दवा का कार्य करने का तरीका बदल सकता है। क्विनोलोन (quinolone) या नाइट्रोइमिडाजोल (nitroimidazole) जो एंटीमाइक्रोबायल एजेंट्स ग्रुप से आने वाली दवाइयों के साथ यह कॉम्बिनेशन रिएक्शन कर सकता है।

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल के साथ निम्नलिखित दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं:

  • कैल्शियम, मैग्नीशियम या एल्युमीनियम वाली एंटीएसिड दवाइयां इस कॉम्बिनेशन के साथ रिएक्शन कर सकती हैं। यहां तक कि मल्टीविटामिन दवाइयां का सेवन भी नुकसानदायक हो सकता है।
  • ब्लड थिनर दवाइयां (खून को पतला करने वाली दवाइयां): ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल के साथ ब्लड क्लॉटिंग को धीमा करने वाली दवाइयों का सेवन नहीं करना चाहिए। इस कॉम्बिनेशन का ब्लड थिनर दवाइयों के साथ इस्तेमाल करने से ब्लड क्लॉटिंग और भी धीमी हो जाएगी और ब्लड थिनर दवाइयों का प्रभाव बढ़ जाएगा।
  • नॉन-स्टेरॉयडल एंटी-इंफ्लमेटरी दवाइयां: इन दवाइयों के साथ भी इस कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से दिमाग अतिरिक्त रूप से सक्रिया हो जाएगा, जिससे बेहोशी और चक्कर आ सकते हैं।
  • डायबिटीज की दवाइयां: एंटीडायबिटीज दवाइयों के साथ इस कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल करने से यह ब्लड शुगर लेवल में हस्तक्षेप कर सकती हैं। ऐसा होने पर ब्लड शुगर बढ़ सकता है या और कम हो सकता है। ऐसे में नियमित रूप से ब्लड शुगर को मॉनिटर करें।

उपरोक्त दवाइयों के अलावा भी कुछ ऐसी दवाइयां हो सकती हैं, जो इस कॉम्बिनेशन के साथ मिलकर रिएक्शन कर सकती हैं। यदि आप इसके रिएक्शन को लेकर चिंतित हैं तो अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह अवश्य लें।

क्या एल्कोहॉल के साथ ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल (Ofloxacin+Ornidazole) का इस्तेमाल सुरक्षित है?

एल्कोहॉल के साथ ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल का सेवन असुरक्षित है। ऐसा करने से यह पेट में जलन पैदा कर सकता है। साथ ही आपको और ज्यादा नींद या उनींदेपन का अहसास होता है। इससे आपको चक्कर भी आ सकते हैं। इस स्थिति में ऐसा कोई भी कार्य न करें, जिसमें मानसिक ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता पड़ती हो। जब तक आप स्वस्थ महसूस न करने लगें तब तक ड्राइव या किसी भी प्रकार की मशीन का प्रयोग न करें।

और पढ़ें : Mobizox Tablet : मोबिजॉक्स टैबलेट क्या है? जानिए उपयोग, साइड इफेक्ट, सावधानी और खुराक के बारे में।

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल (Ofloxacin+Ornidazole) का हेल्थ पर क्या असर पड़ सकता है?

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल आपकी मौजूदा हेल्थ पर असर डाल सकता है। इस स्थिति में अपनी मौजूदा हेल्थ की विस्तृत जानकारी अपने डॉक्टर के साथ साझा करें, जिससे इसके दुष्प्रभावों को कम किया जा सके। ज्यादातर लोगों में इस कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल सुरक्षित माना जाता है, लेकिन कुछ लोगों में इसके दुष्प्रभाव के रूप में उबकाई, उल्टी, पेट दर्द, चक्कर आना, सिर दर्द, मुंह सूखना, हार्टबर्न और अन्य दुर्लभ साइड इफेक्ट्स के लक्षण नजर आ सकते हैं। यदि इस दवा का सेवन करने के दौरान आप किसी भी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से इसकी सलाह अवश्य लें।

और पढ़ें : Onabotulinumtoxina : ओनबोटुलिनमटोक्सिना क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल (Ofloxacin+Ornidazole) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल का डोज मिस हो जाता है तो जल्द से जल्द इसे लें। हालांकि, यदि आपका अगली खुराक का समय नजदीक आ गया है, तो भूले हुए डोज को न खाएं। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक न खाएं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/06/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड