home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Penicillin : पेनिसिलिन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

पेनिसिलिन (Penicillin) का उपयोग किसके लिए किया जाता है?|पेनिसिलिन (Penicillin) की खोज कैसे हुई?|पेनिसिलिन (Penicillin) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?|मैं पेनिसिलिन (Penicillin) को कैसे स्टोर करूं?|पेनिसिलिन (Penicillin) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?|क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान पेनिसिलिन (Penicillin) लेना सुरक्षित है?|पेनिसिलिन (Penicillin) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?|कौन सी दवाएं पेनिसिलिन (Penicillin) के साथ इस्तेमाल की जा सकती हैं?|क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ पेनिसिलिन (Penicillin) का इस्तेमाल किया जा सकता है?|पेनिसिलिन (Penicillin) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?|इमरजेंसी या ओवरडोज़ होने की स्थिती में क्या करना चाहिए?|क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?
Penicillin : पेनिसिलिन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

पेनिसिलिन (Penicillin) का उपयोग किसके लिए किया जाता है?

पेनिसिलिन V (Penicillin V) एक प्रकार का एंटीबायोटिक है, जिसका उपयोग जीवाणु संक्रमण के उपचार के लिए किया जाता है। जैसे बैक्टीरिया, स्ट्रैप्टोकॉसी और स्टाफिलोकॉसी के कारण कान में संक्रमण आदि। यह बैक्टीरिया को खत्म करता है और उन्हें दोबारा पनपने से रोकता है। साथ ही यह इस तरह की पहली दवा भी है, जो प्रभावी रूप से बैक्टीरिया के कारण हुए संक्रमण के उपचार के लिए सफल प्रयोग की गई थी।

पेनिसिलिन के कई अलग-अलग प्रकार हैं। प्रत्येक का उपयोग विभिन्न प्रकार के संक्रमणों के इलाज के लिए किया जाता है। एक प्रकार का पेनिसिलिन दूसरे के स्थान पर उपयोग नहीं किया जा सकता है। इसके अलावा, पेनिसिलिन का उपयोग शरीर के कई अलग-अलग हिस्सों में बैक्टीरिया के संक्रमण का इलाज करने के लिए किया जाता है। जिन्हें कभी-कभी अन्य एंटीबायोटिक्स के साथ दिया जाता है। हालांकि, यह सामान्य सर्दी या फ्लू का उपचार नहीं करती है।

और पढ़ें : Duoluton L Tablet : ड्यूलूटोन एल टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

पेनिसिलिन (Penicillin) का उपयोग

  • बैक्टिरियल इंफेक्शन
  • टॉन्सिल्लिटिस
  • ब्रोंकाइटिस
  • निमोनिया
  • मेनिंगोकोकल रोग
  • रूमेटिक फीवर
  • लाइम की बीमारी
  • स्टैफिलोकोकस
  • घाव में जीवाणु संक्रमण
  • खून में जीवाणु संक्रमण
  • हड्डियों में जीवाणु संक्रमण
  • मवाद से भरी त्वचा
  • गले में संक्रमण
  • मस्तिष्क में सूजन
  • जोड़ों में सूजन
  • जानवरों में संक्रमण
  • यौन रूप से संक्रमित संक्रमण

बताए गए लक्षणों के अलावा अन्य उपयोगों के लिए भी पेनिसिलिन निर्धारित की जा सकती है, अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें : पूरी जिंदगी में आप इतना समय ब्रश करने में गुजारते हैं, जानिए दांतों से जुड़े ऐसे ही रोचक तथ्य

पेनिसिलिन (Penicillin) की खोज कैसे हुई?

पेनिसिलिन को पीसीएन (PCN) या पेन (pen) भी कहा जाता है। इसकी उत्पत्ति पेनिसिलियम फंगी से हुई है। सभी पेनिसिलिन बीटा-लैक्टेम एंटीबायोटिक होते हैं। जिनका उपयोग जीवाणुगत संक्रमण के इलाज में किया जाता है, जो आम तौर पर ग्राम-पॉजिटिव, ऑर्गेनिज्म जैसे कारणों से होते हैं। इसकी खोज साल 1928 में स्कॉटिश वैज्ञानिक और नोबेल सम्मानित अलेक्जेंडर फ्लेमिंग ने की थी। हालांकि, दवा के तौर पर पेनिसिलिन के इस्तेमाल का श्रेय ऑस्ट्रेलियाई नोबल पुरस्कार विजेता हॉवर्ड वाल्टर फ्लोरे और जर्मन नोबल पुरस्कार विजेता अर्न्स्ट चेन और अंग्रेज जीव रसायनविज्ञानी नॉर्मन हीट्ले को दिया जाता है।

और पढ़ें : Colospa X Tablet : कोलोस्पा एक्स टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

पेनिसिलिन (Penicillin) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

अधिकांश मामलों में पेनिसिलिन का इस्तेमाल यौन संचारित संक्रमण के लिए किया जाता है। भोजन करने के दौरान इसकी खुराक रोगी को लेनी चाहिए। सामान्य तौर पर दवा की खुराक दिन में तीन बार सुबह, दोपहर और रात के समय प्रयोग करने के लिए कहा जाता है। दवा की अगली खुराक हर दिन निश्चित समय और अंतराल पर लेनी चाहिए।

खुराक लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श लेना जरूरी होता है। इस दवा का उपयोग रोगी की उम्र, वजन और बीमारी पर निर्भर करता है। इसको खाने के साथ और खाने के बाद भी ले सकते हैं। अगर दवा की खुराक टैबलेट के रूप उपयोग कर रहें हैं, तो टैबलेट को पानी के साथ पूरा निगलना होता है। इस दौरान टैबलेट को न ही तोड़े और न ही इसे चबाएं। सिर्फ उतनी ही मात्रा में इसकी खुराक लेनी चाहिए, जितनी आपके डॉक्टर ने निर्धारित की होती है। अगर आप इसे लिक्विड अवस्था में इसका सेवन रहे हैं, तो ऐसे में डॉक्टर द्वारा बताई खुराक को पहले माप लें। इसके लिए दवा के साथ आने वाले कप का इस्तेमाल करें या फिर टेबल स्पून का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। अगर आपके पास इसे मापने के लिए कोई कप नहीं है, तो अपने फार्मासिस्ट से इसे मांगे लें।

अगर इसकी खुराक लेना भूल जाते हैं और खुराक लेने में देरी हो जाती है या फिर खुराक लेने के बाद उल्टी हो जाती है, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात करें। अगर रोगी की स्थिति में कोई सुधार नहीं होता है। उसकी हालत ज्यादा खराब हो जाती है, तो अपने चिकित्सक से जल्द से जल्द संपर्क करना चाहिए।

और पढ़ें : Piroxicam: पाइरोक्सिकेम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

मैं पेनिसिलिन (Penicillin) को कैसे स्टोर करूं?

पेनिसिलिन के रख-रखाव के लिए कमरे का तापमान सबसे बेहतर होता है। इसे धूप के सीधे प्रभाव या नमी से भी दूर रखना होता है। लिक्विड पेनिसिलिन को फ्रिज में रखें, लेकिन ध्यान दें कि जम न जाएं। खरीदने के बाद अगर दिन में इसका इस्तेमाल न हो, तो इसे फेंक दें। मार्केट में पेनिसिलिन के अलग-अलग ब्रांड हैं, जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

बिना निर्देश के पेनिसिलिन को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुका है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है, तो इसका इस्तेमाल न करें। जब भी पेनिसिलिन खरीदें सबसे पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़े या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ें : Drotin Plus Tablet : ड्रोटिन प्लस टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

पेनिसिलिन (Penicillin) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

सावधानियां और चेतावनियां

पेनिसिलिन की दवा 12 से 24 घंटे में अपना असर करने लगती है, हालांकि कभी-कभी इसके असर नजर आने में 2 से 3 दिन का भी समय लग सकता है। साथ ही इसका उपयोग करने से पहले इन स्थितियों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें अगरः

  • रोगी को पेनिसिलिन या इससे शामिल किसी भी रसायन से एलर्जी होने पर
  • कोई पुरानी बीमारी होने पर
  • ह्रदय रोग
  • मिर्गी
  • एमोक्सिसिलिन (एमोक्सिल), एम्पीसिलीन (ओम्नीपेन, प्रिंसेन), कार्बेनिलिन (जिओसिलिन), डाईक्लासिलिन (डाइक्लिन, डायनापिन), या ऑक्सासिलीन या ऑक्सासिल से एलर्जी होने पर
  • पेनिसिलिन का उपयोग करने से पहले, अपने चिकित्सक को बताएं अगर आपको सेफेलोस्पोरिन से एलर्जी है जैसे कि सेक्लोर, सेफ्टिन, ड्यूरिसफ, केफ्लेक्स।
  • बिना डॉक्टर की सलाह के किसी दूसरे रोगी को इसकी खुराक न दें
  • हमेशा पैकेजिंग पर एक्सपायरी डेट की जांच करें
  • दवा के पैकेज पर लिखे लीफलेट को पढ़ना चाहिए
  • जो महिलाएं प्रेग्नेंट हैं या प्रेग्नेंट होने की योजना बना रहीं हैं उन्हें इसके इस्तेमाल से पहले अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए
  • ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाएं इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें
  • गर्भ नियंत्रण का इस्तेमाल करते हैं तो

और पढ़ें : Ramipril : रैमीप्रील क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान पेनिसिलिन (Penicillin) लेना सुरक्षित है?

एफडीए ने गर्भावस्था के दौरान पेनिसिलिन को खतरे की बी श्रेणी में रखा है। पेनिसिलिन वी के अजन्मे शिशु के लिए हानिकारक होने की उम्मीद नहीं होती है। इसके बावजूद अपने डॉक्टर को बताएं कि क्या आप गर्भवती हैं या गर्भवती होने की योजना बना रही हैं। पेनिसिलिन वी बर्थ कंट्रोल की गोलियों को कम प्रभावी बना सकता है।

FDA प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • A= कोई खतरा नहीं
  • B= कुछ अध्ययनों में खतरा पाया गया
  • C= कुछ खतरे हो सकते हैं
  • D= खतरे के पॉजिटिव एविडेंस मौजूद हैं
  • X= कॉन्ट्रेनडिकेटेड (Contraindicated)
  • N= पता नहीं

यदि आप गर्भनिरोधक गोलियों का उपयोग करते हैं, तो इस दवा को लेने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें। पेनिसिलिन वी स्तन के दूध में मिल सकता है और ब्रेस्टफीडिंग करा रही मां के शिशु को नुकसान पहुंचा सकता है। यदि आप स्तन करा रहे हैं, तो अपने डॉक्टर को बताए बिना इस दवा का उपयोग न करें।

और पढ़ें : Mobizox Tablet : मोबिजॉक्स टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

पेनिसिलिन (Penicillin) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

नीचे पेनिसिलिन के सेवन से होने वाले कुछ संभावित दुष्प्रभावों की लिस्ट है। अगर आपको निम्नलिखित दुष्प्रभावों में से कोई भी लक्षण नजर आए तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें और इसका सेवन तुरंत रोक दे –

  • दस्त
  • त्वचा में खुजली
  • भ्रम होना
  • दौरे पड़ना
  • असामान्य कमजोरी
  • शरीर में दर्द
  • ठंड लगना
  • बुखार
  • दस्त लगना
  • सिर दर्द
  • योनि डिस्चार्ज
  • उल्टी
  • पेट दर्द
  • मतली
  • सूजन
  • जीभ काली पड़ना

इसके इस्तेमाल के कारण होने वाले सभी दुष्प्रभाव यहां पर नहीं बताएं गए हैं। अगर आप किसी भी तरह का जोखिम महसूस करते हैं तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें : CTD-T 12.5 Tablet : सीटीडी-टी 12.5 टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

कौन सी दवाएं पेनिसिलिन (Penicillin) के साथ इस्तेमाल की जा सकती हैं?

अगर आप किसी तरह की दवा का सेवन कर रहे हैं, तो उसके साथ पेनिसिलिन इस्तेमाल करने से पहले यह जरूर जानें कि उसके साथ इसका इस्तेमाल करने से आपको किस तरह की परेशानी हो सकती है। साथ ही यह आपकी दवा के असर को भी प्रभावित कर सकती है। बिना डॉक्टर की सलाह के इसका सेवन न करें।

  • ल्कोहॉल (Alcohol)
  • अल्फेनटानील (Alfentanil)
  • आमिफाम्पृदीने (Amifampridine)
  • ऑक्सिटिनिब (Axitinib)
  • बुप्रेनोरफिन (Buprenorphine)
  • ब्यूप्रोपिन (Bupropion)
  • क्लोरटेट्रासायक्लीन (Chlortetracycline)
  • हैजा वैक्सीन, लाइव (Cholera Vaccine, Live)
  • क्लैरीथ्रोमायसिन (Clarithromycin)
  • कोडीन (Codeine)
  • साइक्लोस्पोरिन (Cyclosporine)
  • डाक्लाट्सविर (Daclatasvir)
  • दारुनावीर (Darunavir)
  • डेफ्लाजाकोर्ट (Deflazacort)
  • डेमेक्लोसाइक्लिन (Demeclocycline)
  • डेसोगेस्ट्रेल (Desogestrel)
  • डिएनोजेस्ट (Dienogest)
  • डाईहाइड्रोकोडीन (Dihydrocodeine)
  • डोनेपेज़िल (Donepezil)
  • डॉक्सोरूबिसिन (Doxorubicin)
  • डॉक्सोरूबिसिन हाइड्रोक्लोराइड लिपोसोम (Doxorubicin Hydrochloride Liposome)
  • डॉक्सीसाइक्लिन (Doxycycline)
  • ड्रोनेडेरोन (Dronedarone)
  • ड्रोस्पिरेनोन (Drospirenone)
  • एलबास्विर (Elbasvir)

और पढ़ें : Epoetin alfa: इपोएटिन अल्फा क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ पेनिसिलिन (Penicillin) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

अगर किसी भी भोजन या एल्कोहॉल के साथ पेनिसिलिन का सेवन किया जाए, तो इसके परिणाम खतरनाक हो सकते हैं। इसलिए इसे किस तरह के खाद्य पदार्थों के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बातचीत करें।

और पढ़ें : Nitrofurantoin : नाइट्रोफ्यूरंटाइन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

पेनिसिलिन (Penicillin) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

पेनिसिलिन का इस्तेमाल आपकी सेहत के लिए कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। पेनिसिलिन वी का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर को बताएं कि क्या आपको सेफेलोस्पोरिन से एलर्जी है जैसेः

  • सेक्लोर
  • सेफ्टिन
  • ड्यूरिसफ
  • केफ्लेक्स
  • अस्थमा
  • गुर्दे की बीमारी
  • रक्तस्राव
  • रक्त के थक्के विकार
  • दस्त
  • किसी भी एंटीबायोटिक्स से एलर्जी
  • डायरिया (पानी और खून वाला)
  • सिस्टिक फाइब्रोसिस
  • मोनोन्यूक्लिओसिस
  • फेनीलालानीन

दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें : Cetcip L Tablet : सेटसिप एल टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

इमरजेंसी या ओवरडोज़ होने की स्थिती में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज़ होने की स्थिती में अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड जाएं। अगर ओवरडोज की कुछ ही समय में लिया हो तो रोगी को तुरंत उल्टी करने का प्रयास करना चाहिए।

ओवरडोज़ के लक्षण

  • दस्त
  • पेट दर्द
  • उलटी
  • भूख में कमी
  • चक्कर आना
  • मिलती
  • गुदा में जलन

और पढ़ें : CTD-T 12.5 Tablet : सीटीडी-टी 12.5 टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर इसकी खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Penicillin V Potassium/https://medlineplus.gov/druginfo/meds/a685015.html/Accessed on 04/09/2020

The Discovery of Penicillin—New Insights After More Than 75 Years of Clinical Use/https://wwwnc.cdc.gov/eid/article/23/5/16-1556_article/Accessed on 04/09/2020

Safety of Long Term Therapy with Penicillin and Penicillin Derivatives/https://www.fda.gov/drugs/bioterrorism-and-drug-preparedness/safety-long-term-therapy-penicillin-and-penicillin-derivatives/Accessed on 04/09/2020

Penicillin/https://www.healthdirect.gov.au/penicillin/Accessed on 04/09/2020
लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 10/10/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x