backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना
Table of Content

Vitamin B3 (Niacin) : विटामिन बी3 (नियासिन) क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Mayank Khandelwal


Anoop Singh द्वारा लिखित · अपडेटेड 30/12/2020

Vitamin B3 (Niacin) : विटामिन बी3 (नियासिन) क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

विटामिन बी3, नियासिन (Vitamin B3, Niacin) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

शरीर में नैचुरल विटामिन बी3 की कमी को रोकने और इसके इलाज में विटामिन बी3, का इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा ब्लड में कोलेस्ट्रॉल और ट्राईग्लिसराइड को कम करने में भी इसका इस्तेमाल होता है।

ऐसे लोग जिनको पहले ही हार्ट अटैक आ चुका है और जिनका कोलेस्ट्रॉल लेवल ज्यादा होता है, उनमें यह दवा हार्ट अटैक के खतरे को कम करती है। कभी- कभी यह कोरोनरी आर्टरी डिजीज (Coronary artery disease) के इलाज में भी इस्तेमाल होती है। विटामिन बी3 और दूसरे उपयोग के लिए भी डॉक्टर द्वारा लिखी जा सकती है। इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

मैं विटामिन बी3, नियासिन (Vitamin B3, Niacin) को कैसे इस्तेमाल करूं?

टैबलेट/कैप्सूल/कैप्लेट की तरह इस्तेमाल करें:

इस दवा को भोजन के बिना या भोजन के साथ, दोनों ही स्थितियों में ले सकते हैं। इसे ना तो चबाएं और ना ही पीसकर खाएं, केवल एक गिलास पानी के साथ इस दवा को निगलें।

लिक्विड की तरह इस्तेमाल करें:

मेडिसिन कप या चम्मच (spoon) की सहायता से इस ओरल लिक्विड मेडिसिन को नापें। इस दवा का कैसे इस्तेमाल करना है, इस बारे में अपने हेल्थ केयर प्रोवाइडर से सवाल जरूर पूछें।

मैं विटामिन बी3, नियासिन (Vitamin B3, Niacin) को कैसे स्टोर करूं?

विटामिन बी3 को प्रकाश और नमी से दूर कमरे के तापमान पर स्टोर करना बेहतर होता है। विटामिन बी3 को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह में न रखें। मार्केट में विटामिन बी3 के अलग-अलग ब्रांड हैं, जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। जब भी विटामिन बी3 खरीदें सबसे पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने फार्मासिस्ट से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। बिना निर्देश के विटामिन बी3 को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुका है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है तो इसे नष्ट कर दें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने फार्मासिस्ट से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ें : विटामिन ए के लिए करें इन 7 चीजों का सेवन 

विटामिन बी3, नियासिन (Vitamin B3, Niacin) के इस्तेमाल से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें अगर;

  • अगर आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग कराती हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि बच्चे के फीडिंग के दौरान आपको डॉक्टर के निर्देश के अनुसार ही दवा का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • आप कोई दूसरी दवा ले रहे हैं। इसमें कोई भी दवा शामिल हो सकती है जो बिना पर्चे के उपलब्ध होती हैं जैसे हर्बल या कंप्लिमेंट्री दवाइयां।
  • आपको विटामिन बी3 में मौजूद सक्रिय या निष्क्रिय सामग्री या किसी दूसरे विटामिन बी3 से कोई एलर्जी हो।
  • आपको पहले से ही कोई बीमारी, डिसऑर्डर या स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हों।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान विटामिन बी3 (Vitamin B3) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान महिलाओं में विटामिन बी3 के इस्तेमाल को लेकर अभी पर्याप्त जानकारी नहीं है। विटामिन बी3 लेने से पहले इसके फायदों और नुकसान के बारे में जानने के लिए डॉक्टर से जरूर सलाह लें। यूएस फुड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के अनुसार विटामिन बी3 प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी सी (pregnancy risk category C) के अंतर्गत आता है।

एफडीए प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी का संदर्भ नीचे दिया गया है,

  • A= कोई नुकसान नहीं
  • B= कुछ शोध में कोई नुकसान नहीं
  • C= थोड़ा नुकसान हो सकता है
  • D= नुकसान का पॉजिटिव प्रमाण
  • X= विरोधाभाषी
  • N= कोई जानकारी नहीं

अगर आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्टफीडिंग कराती हैं, तो इस स्थिति में विटामिन बी3 के इस्तेमाल से पहले अपने हेल्थकेयर प्रोवाइडर से हमेशा संपर्क करें।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान बॉडी में दिखाई देते हैं ऐसे 6 बदलाव, न हो परेशान

विटामिन बी3 (Niacin) के इस्तेमाल से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

विटामिन बी3 (Niacin) इस्तेमाल से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं जैसे;

अगर आपको नीचे बताये गए लक्षण महसूस हों तो तुरंत डॉक्टर को कॉल करें या फिर इमरजेंसी मेडिकल ट्रीटमेंट लें;

  • सिर चकराना, बेहोशी
  • हार्टबीट का तेज होना
  • मिचली, उल्टी, पेट के ऊपरी भाग में दर्द
  • थकान, ऊर्जा की कमी
  • डार्क कलर का यूरिन, हल्के रंग का स्टूल
  • असामान्य ब्लीडिंग या खरोंच लगना
  • भूख ना लगना
  • आंखों और त्वचा का पीला पड़ना
  • फ्लू जैसे लक्षण
  • हीव्स, चकत्ते, खुजली होना
  • सांस लेने या निगलने में दिक्कत होना
  • चेहरे, गले, जीभ, होठ, आंख, हाथ, पैर, कोहनी, और पैर के निचले हिस्से में सूजन होना
  • आवाज बैठ जाना
  • मांसपेशियों में दर्द और कमजोरी होना

सभी लोगों को ये सारे साइड इफेक्ट्स महसूस नहीं होते हैं। यहां पर आपको सभी साइड इफेक्ट्स नहीं बताए गए हैं। अगर आपको इनमें से कोई भी साइड इफेक्ट्स महसूस हों तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें : जानिये शरीर के लिए विटामिन ई के फायदे 

कौन सी दवाएं विटामिन बी3, नियासिन (Vitamin B3, Niacin) के साथ नहीं ली जा सकती है?

अगर आप वर्तमान में कोई दवा ले रहें हैं तो यह विटामिन बी3 (Niacin) उसके साथ इंटरैक्ट कर सकता है, जिससे दवा का एक्शन प्रभावित होगा या फिर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इस चीज को रोकने के लिए आप उन दवाओं की लिस्ट रखें जो डॉक्टर द्वारा पर्चे पर लिखी गई हों या ना लिखी गई हों या हर्बल प्रोडक्ट्स हो और उन्हें डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ शेयर करें। सुरक्षा के लिहाज से आप बिना डॉक्टर के सहमति के ना तो कोई दवा अपने से शुरू करें, ना ही बंद करें और ना ही उसकी खुराक को बदलें।

एंटीबायोटिक (Tetracycline) के साथ इंटरैक्शन:

  • यह विटामिन बी3 के घुलने की प्रक्रिया और इसके प्रभाव को बाधित करता है।
  • सभी विटामिन बी कॉम्प्लेक्स सप्लिमेंट इसी तरह से एक्ट करते हैं और इसे टेट्रासाइक्लिन से अलग टाइम पर इस्तेमाल करना चाहिए।

फेनीटॉइन (डाईलेंटिन) और वैलपोरिक एसिड (डिपाकोटे) के साथ इंटरैक्शन:

कुछ लोगों में विटामिन बी3, नियासिन (Vitamin B3, Niacin) की कमी हो जाती है।

कार्बामेजापाइन (टेग्रेटॉल) या माईसोलिन (प्रिमिडोन) के साथ इंटरैक्शन:

शरीर मे कार्बामेजापाइन (टेग्रेटॉल) या माईसोलिन (प्रिमिडोन) का लेवल बढ़ जाता है।

एंटीकोगुलेंट्स (ब्लड थिनर) के साथ इंटरैक्शन:

इससे ब्लीडिंग का खतरा बढ़ जाता है।

ब्लड प्रेशर विटामिन बी3एस, अल्फा ब्लॉकर्स के साथ इंटरैक्शन:

विटामिन बी3, निम्न रक्तचाप को कम करने के लिए इस्तेमाल किए गए विटामिन बी3एस के प्रभाव को मजबूत बना सकता है जिससे लो ब्लड प्रेशर (low blood pressure) का खतरा बढ़ सकता है।

कोलेस्ट्रॉल को कम करने वाले विटामिन बी3एस के साथ इंटरैक्शन:

  • विटामिन बी3 कोलेस्ट्रॉल को कम करने वाले विटामिन बी3 एस को बाइंड करता है जिसे बाइल एसिड सेक्वेस्ट्रेंट (Bile acid sequestrants) कहते हैं और इसके प्रभाव को भी कम करता है।
  • इस वजह से नियासिन और विटामिन बी3एस दिन में अलग-अलग समय पर लेना चाहिए। बाइल एसिड सेक्वेस्ट्रेंट (bile acid sequestrants) में कोलेस्टिपॉल (कोलेस्टिड), कोलेसिवेलम (वेलकॉल) और कोलेस्टायरामीन (क्वेस्ट्रान) आदि शामिल हैं।

स्टैटिन के साथ इंटरैक्शन:

कुछ वैज्ञानिक प्रमाण यह बताते हैं कि अगर नियासिन के साथ सिम्वास्टैटिन (जोकोर) को इस्तेमाल करते हैं तो हार्ट की बीमारी कम होती है। हालांकि इन दोनों दवाइयों को एक साथ लेने से गंभीर साइड इफेक्ट्स जैसे मांसपेशियों में इंफ्लमेशन या लिवर खराब आदि हो सकते हैं।

डायबिटीज विटामिन बी3एस के साथ इंटरैक्शन:

  • विटामिन बी3, नियासिन ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकता है।
  • जो लोग अपने हाई ब्लड शुगर लेवल के इलाज के लिए इंसुलिन, मेटफॉर्मिन (ग्लूकोफेज), ग्लाइबुराइड (डाईबीटा, माइक्रोनेज), ग्लिपीजाइड (ग्लूकोट्रोल) या दूसरे विटामिन बी3एस को लेते हैं, उन्हें नियासिन सप्लिमेंट को लेते समय अपने ब्लड शुगर लेवल को मॉनिटर करना चाहिए।

आइसोनियाजिड (isoniazid, INH) के साथ इंटरैक्शन:

आइसोनियाजिड (isoniazid, INH) एक तरह का विटामिन बी3 है जोकि ट्यूबरक्लोसिस (Tuberculosis) के इलाज में इस्तेमाल होता है, इसको लेने से शरीर मे नियासिन की कमी हो सकती है।

निकोटिन पैचेज (Nicotine Patches) के साथ इंटरैक्शन:

विटामिन बी3 के साथ निकोटिन पैचेज को लेने से नियासिन से जुड़ी फ्लशिंग होने का खतरा बढ़ सकता है या स्थिति और अधिक खराब हो सकती है।

क्या भोजन और एल्कोहॉल के साथ विटामिन बी3, नियासिन (Vitamin B3, Niacin) लेना सुरक्षित है?

विटामिन बी3 भोजन और एल्कोहॉल के साथ इंटरैक्ट कर सकता है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित हो सकता है या फिर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। अगर भोजन या एल्कोहॉल के साथ विटामिन बी3 का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो डॉक्टर या फार्मासिस्ट से जरूर सलाह लें।

विटामिन बी3, नियासिन (Vitamin B3, Niacin) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

विटामिन बी3 आपके स्वास्थ्य स्थिति के अनुसार इंटरैक्ट कर सकता है। इससे आपके स्वास्थ्य की स्थिति और अधिक खराब हो सकती है या फिर ड्रग का एक्शन प्रभावित होगा। इसलिए यह जरूरी है कि आप अपने मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति के बारे में डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं जैसे;

और पढ़ें : जानें अपने शरीर के हिसाब से आयुर्वेदिक डायट प्लान 

विटामिन बी3, नियासिन (Vitamin B3, Niacin) कैसे उपलब्ध है?

विटामिन बी3 (Niacin) निम्नलिखित खुराक और क्षमता में उपलब्ध होता है;

  • ओरल कैप्सूल 500mg विटामिन बी3
  • ओरल टैबलेट 500mg विटामिन बी3 (इमीडिएट रिलीज, Immediate Release)
  • ओरल एक्सटेंडेड रिलीज (Extended release) कैप्लेट 500,750,1000mg विटामिन बी3
  • ओरल लिक्विड 100ml
  • शरीर मे 0.01% विटामिन बी3 और हैंड क्रीम, लोशन, पाउडर और स्प्रे
  • विटामिन बी3 पेस्ट मास्क (paste mask) के रूप में

और पढ़ें : Acebrophylline+Acetylcysteine : ऐसिब्रोफाइलिन + ऐसिटिलसिस्टीन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इस स्थिति में अपने लोकल इमरजेंसी सेवाओं को कॉल करें या फिर अपने नजदीकी इमरजेंसी वार्ड में जाएं।

यह भी जरूरी है कि इमरजेंसी के दौरान आप जो भी दवाएं ले रहे हों चाहे वो डॉक्टर द्वारा प्रिस्क्राइब हुई दवाई हो या बिना पर्चे की दवाई हो, इस तरह की सारी लिस्ट अपने साथ ले जाएं।

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर आप विटामिन बी3 की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें। डबल खुराक ना लें।

अगर आप विटामिन बी3 (नियासिन) Vitamin B3 (Niacin) से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Mayank Khandelwal


Anoop Singh द्वारा लिखित · अपडेटेड 30/12/2020

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement