Jowar : ज्वार क्या है?

By Medically reviewed by Dr. Pooja Bhardwaj

ज्वार (Jowar) का उपयोग

ज्वार (Jowar) का उपयोग किस लिए किया जाता है?

ज्वार (Jowar) बवासीर और घावों में लाभदायक है।

ज्वार (Jowar) विटमिन बी कॉम्प्लेक्स का अच्छा स्त्रोत है। शाकाहारी लोगों के लिए ज्वार (Jowar) का आटा प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत है। यह कुछ खास प्रकार के कैंसर के खतरों को भी कम करता है। साथ ही यह हृदय और मधुमेह रोगियों के लिए आटे का अच्छा विकल्प है।

इसका प्रयोग हम कई चिकित्सा स्थितियों में करते है: 

जिनमे शामिल हैः

  • हड्डियां को मजबूत बनाने में 
  • टिश्यू ग्रोथ में सहायक 
  • ऑस्टियोपोरोसिस और गठिया की समस्या में
  • ब्लड के शुगर लेवल को कंट्रोल करने में . 
  • हार्ट या दिल सम्बंधी
  • धमनियों को सख्त होती है 
  • दिल के दौरे एवं स्ट्रोक जैसी समस्या कंट्रोल में रहती है
  • सूजन, 
  • कब्ज,
  • पेट में दर्द, दस्त, 
  • कैंसर के उपचार में
  • एलर्जी को दूर करने में
  • सूजन, मतली 
  • जठार तंत्र संबंधी समस्याओं से निजात मिलती है .
  • उर्जा को बनाए रखने में
  • मोटापा कम करने में
  • रेड ब्लड सेल्स को बढ़ाने में

सावधानियाँ और चेतावनी

ज्वार का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट या हर्बलिस्ट से परामर्श करें, यदि:

  • अगर आप प्रेगनेंट है या उसके बारे में सोच रही है, या फिर बच्चे को दूध पिला रही है, तो इस दौरान आपको डॉक्टर से बात करनी चाहिए क्योंकि इस अवस्था मे आपको डॉक्टर की बताई दवाओं का ही सेवन करना चाहिए।
  • आप डॉक्टरी सलाह या बिना किसी सलाह वाली दवाओं का सेवन कर रही है 
  • आपको ज्वार या उसके किसी सबटेंस, दवा या किसी अन्य जुड़ी बूटी से कोई एलर्जी तो नहीं
  • आपको किसी दूसरी चीजों से एलर्जी तो नहीं जैसे, खाने,रंग, खाने को सुरक्षित रखने वाले पदार्थ या जानवरों से।

किसी भी अनाज या हर्बल सप्पलीमेंट के सेवन से होने वाले फायदे से पहले आपको उसके खतरों को समझ लेना चाहिए। ज्यादा जानकारी के लिए अपने हर्बल एक्सपर्ट से बात कीजिए

साइड इफेक्ट

ज्वार से मुझे क्या साइड इफेक्ट हो सकते है?

  • ज्वार का सेवन करने से से कुछ लोगों को एलर्जी की समस्या हो सकती है.
  • इसका आवश्यकता से अधिक मात्रा में सेवन खतरनाक हो सकता है

सहभागिता/इंटरेक्शन

ज्वार के साथ मेरे क्या इंटरेक्शन हो सकते  है?

यह आपकी मौजूदा दवाओं या मेडिकल कंडिसन्स पे असर डाल सकता है।  उपयोग करने से पहले अपने हर्बल एक्सपर्ट, वैद या डॉक्टर से परामर्श करें।

मात्रा/ डोज

दी हुई जानकारी को किसी चिकित्सा सलाह के रूप में ना देखे। 

ज्वार की सामान्य खुराक क्या है?

ज्वार के दानों की राख बनाकर मंजन करने से दांतो का हिलना, उनमें दर्द होना बंद हो जाता है तथा मसूढ़ो की सूजन भी समाप्त हो जाती है।

ज्वार के कच्चे दाने पीसकर उसमें थोड़ा कत्था व चूना मिलाकर लगाने से चेहरे के मुंहासे दूर हो जाते हैं।

अगर गर्मी की वजह से शरीर में जलन है, तो ज्‍वार का आटा पानी में घोल लें, फिर उसका शरीर पर लेप करे।

यह पेट की जलन को मिटाता है। भुनी ज्वार बताशो के साथ खाने से पेट की जलन, अधिक प्यास लगना बंद हो जाते है।

इस हर्बल सप्लीमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है।  हर्बल हमेशा सुरक्षित नहीं होते है। कृपया अपने उचित खुराक के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

ज्वार किस रूप में आती है?

  • आटे, सिरप

हेलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

रिव्यू की तारीख जुलाई 9, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया सितम्बर 19, 2019