home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

asarum: असरम क्या है?

परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|इंटरेक्शन|डोसेज
asarum: असरम क्या है?

परिचय

असरम (asarum) क्या है?

असरम एक ऐसी हर्ब है जिसका प्रयोग कई रोगों के उपचार के लिए किया जाता है। असरम को असरबक्सा, कैबरेट, यूरोपियन वाइल्ड जिंजर, फाल्स कॉल्टसफुट जैसे कई नामों से जाना जाता है। यह एक सदाबहार पौधा है और यूरोप व एशिया के कई भागों में पाया जाता है। इसकी जड़ का प्रयोग दवाई बनाने में किया जाता है। इस जड़ी-बूटी का प्रयोग कई रोगों के उपचार में किया जाता है जैसे ब्रोंकाइटिस, फेफड़ों में संक्रमण, सीने में दर्द (एनजाइना) आदि, लेकिन इस हर्ब के इन उपयोगों के समर्थन के लिए कोई वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं हैं। कुछ लोग इसका प्रयोग उल्टियों के उपचार में और महिलाएं अपने मासिक धर्म की शुरुआत और गर्भपात के लिए भी करती हैं।

उपयोग

असरम (asarum) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

असरम का प्रयोग कई रोगों के लिए किया जा सकता है। हालांकि, इसके लिए इसे सही मात्रा में लेना बहुत आवश्यक है। जानिए किन स्थितियों में आपको इस दवाई का सेवन करना चाहिए:

उपरोक्त दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। आपको अधिक जानकारी के लिए हर्बल एक्सपर्ट से बात करनी चाहिए।

और पढ़ें: Bovine Cartilage: बोवाइन कार्टिलेज क्या है?

यह कैसे काम करता है?

असरम एक ऐसी जड़ी-बूटी है जिस में मौजूद केमिकल फेफड़ों पर अपना प्रभाव डाल सकते हैं। इसमें मौजूद अन्य केमिकल उल्टियों का कारण भी बन सकते हैं। इसलिए अपनी मर्जी या डॉक्टर की सलाह के बिना इस जड़ी-बूटी का सेवन कभी भी न करें।

और पढ़ें- गुलमोहर के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Gulmohar (Peacock Flower)

सावधानियां और चेतावनी

कितना सुरक्षित है असरम का उपयोग?

गर्भावस्था और ब्रेस्ट-फीडिंग:

  • आप प्रेग्नेंट हैं तो आपको इस जड़ी-बूटी का सेवन नहीं करना चाहिए या तभी करना चाहिए जब डॉक्टर ने इसकी सलाह दी हो। क्योंकि, इसका सेवन करना गर्भ में पल रहे शिशु के लिए हानिकारक हो सकता है। यह हर्ब पीरियड के शुरू होने या गर्भाशय के सिकुड़ने का कारण बन सकती है। इसके कारण गर्भपात का खतरा बढ़ सकता है। ऐसे में इसके प्रयोग से बचें।सुरक्षित रहने के लिए अपने डॉक्टर से पूरी जानकरी लें। गर्भावस्था के दौरान केवल डॉक्टर की सलाह से ही किसी प्रकार की दवा का सेवन करना चाहिए। फिर चाहे वह अंग्रेजी या हर्बल प्रोडक्ट्स।
  • अगर आप स्तनपान करा रही हैं तो उस स्थिति में भी आपको डॉक्टर की सलाह के बिना इस दवाई को नहीं लेना चाहिए। क्योंकि, हो सकता है कि यह हर्ब ब्रेस्ट मिल्क से पास हो और आपके शिशु को नुकसान पहुंचाए। इसलिए ब्रेस्टफीडिंग के दौरान आपको केवल उन्ही दवाइयों का सेवन करना चाहिए जिन्हें खाने की सलाह आपके डॉक्टर ने दी हो। इस चीज की पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है कि ब्रेस्ट-फीडिंग के दौरान इस हर्ब का सेवन करना सुरक्षित है या नहीं, लेकिन जितना हो सके ब्रेस्ट-फीडिंग में इसके सेवन से बचें।

और पढ़ें: Mouse Ear herb: माउस ईयर हर्ब क्या है?

पेट या आंतों की समस्याएं:

असरम एक ऐसी हर्ब है जो पेट और आंतों की समस्याओं को बढ़ा सकती है। इसलिए, अगर आपको अल्सर की समस्या, क्रोहन या पेट दर्द संबंधित रोग हैं तो इस हर्ब का सेवन न करें। अपने डॉक्टर को इलाज से पहले ही उन समस्याओं के बारे में बता दें जो आपको हैं और उन औषधियों के बारे में भी बता दें जिन्हें आप ले रहे हैं। चाहे वे डॉक्टर द्वारा लिखी गई हों या फिर जिन्हें आप मेडिकल स्टोर से खरीदकर ले रहे हों।

उपरोक्त दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। आपको अधिक जानकारी के लिए हर्बल एक्सपर्ट से बात करनी चाहिए।

[mc4wp_form id=”183492″]

और पढ़ें :Black Hellebore: ब्लैक हेलबोर क्या है?

साइड इफेक्ट्स

असरम से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

अन्य दवाइयों की तरह असरम के भी कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं। हालांकि, ऐसा आवश्यक नहीं कि इस जड़ी-बूटी को लेने से सभी लोगों को साइड इफेक्ट्स हो, लेकिन कुछ लोगों में कुछ दुष्प्रभाव देखे आ सकते हैं।

जब इसे मुंह के माध्यम से लिया जाता है: असरम को “अरिस्टोलोशिक-एसिड फ्री” माना गया है और अगर इसे कम मात्रा में लिया जाता है तो यह पूरी तरह से सुरक्षित है, लेकिन अगर इस हर्ब को लंबे समय तक और अधिक मात्रा में लिया जाता है तो यह असुरक्षित हो सकता है। इससे मतली, उल्टी आना, जीभ में जलन, दस्त की समस्या, और लकवा की समस्या आदि समस्याएं हो सकती हैं। यही नहीं यह गंभीर समस्याएं जैसे किडनी को नुकसान या कैंसर का कारण भी बन सकता है।

इंटरेक्शन

क्या असरम का किसी से इंटरेक्शन हो सकता है?

असरम का प्रयोग करने से आपकी मौजूदा दवाई या मेडिकल स्थितियों पर प्रभाव पड़ सकता है। अगर आप किसी अन्य दवाई का सेवन कर रहे हैं तो सबसे पहले अपने डॉक्टर को अवश्य बताएं। यही नहीं, अगर आपको अन्य कोई बीमारी है या कोई समस्या है तो उस स्थिति में भी अगर आप इस दवाई को लेते हैं तो आपके लिए यह हानिकारक हो सकता है। इसलिए, इसके प्रयोग से पहले अपने डॉक्टर या औषधि विशेषज्ञ से अवश्य पूछें। असरम दूसरी दवाओं या चीजों के साथ मिलकर क्या प्रभाव डालती है। इस बात की कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।

और पढ़े :Calabar Bean: कैलबार बीन क्या है?

डोसेज

असरम को लेने की सही खुराक क्या है?

असरम को लेने की सही खुराक कई चीजों पर निर्भर करती है जैसे रोगी की उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई स्थितियां। अभी इसकी खुराक से संबंधित कोई वैज्ञानिक जानकारी उपलब्ध नहीं है। ध्यान रहे कि ऐसा जरूरी नहीं है कि प्राकृतिक उत्पाद हमेशा सुरक्षित हों और उनकी सही खुराक भी महत्वपूर्ण है। कृपया सही डोज जानने के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से बात करें। अपनी मर्जी से कभी भी कोई दवाई न लें फिर वो चाहे जड़ी-बूटी हो या अन्य। ऐसे कोई हर्ब लेना सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है या इसके कई दुष्प्रभाव हो सकते हैं। ऐसे में इनके प्रयोग से पहले भी अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट या फिजिशियन की सलाह लें।

उपरोक्त दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। आपको अधिक जानकारी के लिए हर्बल एक्सपर्ट से बात करनी चाहिए।अगर आपको इस हर्ब को खाने से कोई भी समस्या होती है या साइड इफ़ेक्ट नजर आता है तो तुरंत अपने डॉक्टर को बताएं ताकि सही समय पर वो आपको सही सलाह दे सके।

हम आशा करते हैं कि आपको इस आर्टिकल की जानकारी पसंद आई होगी और आपको असरस से जुड़ी सभी जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। किसी भी जड़ी बूटी का सेवन बिना हर्बल एक्सपर्ट की जानकारी के न करें। अगर आपको कोई भी हेल्थ कंडीशन है तो हर्बल दवाओं को लेने से पहले डॉक्टर से जानकारी लें कि कही आपको किसी समस्या का सामना तो नहीं करना पड़ेगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Medicinally Used Asarum Species: High-Resolution LC-MS Analysis of Aristolochic Acid Analogs and In vitro Toxicity Screening in HK-2 Cells https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5439001/ Accessed on 24 March, 2020

Asarum europaeum/https://www.homeopathycenter.org/remedy/asarum-europaeum Accessed on 24 March, 2020

Asarum https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5439001/ Accessed on 24 March, 2020

Asarum https://plants.usda.gov/java/ClassificationServlet?source=profile&symbol=ASARU&display=31 Accessed on 24 March, 2020

 

 

 

 

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 11/09/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड