पेट दर्द (Stomach pain) के ये लक्षण जो सामान्य नहीं हैं

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 9, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

पेट में हल्का दर्द होना आम बात होती है। जब पेट में अचानक से ऐंठन होती है तो दर्द महसूस होता है। कई बार ये दर्द हल्का और फिर तेजी से होने लगता है। खानपान और अपच से होने वाली दर्द सामान्य होता है। इसके साथ ही पीरियड्स में होने वाला दर्द भी कुछ समय बाद ठीक हो जाता है। लेकिन कई बार पेट में सामान्य दर्द नहीं होता है। ये दर्द कई दिनों तक बना रहता है। जब बिना किसी उपचार के एक या दो दिन से ज्यादा पेट में दर्द हो तो गंभीर समस्या भी हो सकती है। पेट में होने वाले लगातार दर्द को इग्नोर न करें। पेट में दर्द का कारण कुछ भी हो सकता है। कई बार पेट के अंदर हुई गंभीर समस्या भी दर्द के रूप में बाहर आ सकती है। इस आर्टिकल के माध्यम से आप विभिन्न प्रकार के पेट दर्द के लक्षणों को जान सकते हैं।

पेट में दर्द का कारण: फैटी मील खाने के बाद होने वाला दर्द

अगर आपने अधिक मात्रा में फैटी फूड खा लिया है तो हो सकता है कि अचानक आपके पेट में दर्द होने लगे। इस दौरान आपको पेट में मिड से अपर राइट सेक्शन की ओर में दर्द महसूस होता है।  ज्यादातर महिलाओं में पित्ताशय की बीमारी का खतरा रहता है। 40 साल के बाद महिलाओं में खतरा बढ़ जाता है। इस स्थिती में फैटी मील खाने के बाद खतरा बढ़ जाता है। खाने के कुछ समय बाद दर्द शुरू होता है और कुछ ही देर में दर्द बहुत बढ़ जाता है।

और पढ़ें : जानिए क्या है पाचन संबंधी विकार ( Digestive Disorder) और लक्षण ?

पेट में दर्द का कारण: दस्त या कब्ज के दौरान होने वाला दर्द

कब्ज के दौरान पेट में तेजी से ऐंठन होने लगती है। कई बार ये दर्द असहनीय हो जाता है। पेट के निचले हिस्से में ऐंठन के साथ ही चिड़चिड़ापन हो सकता है। ये इरिटेबल बाउल सिंड्रोम [irritable bowel syndrome] (IBS) का संकेत है। वैसे तो ये कम उम्र की महिलाओं में जल्दी हो जाता है लेकिन ये समस्या किसी भी उम्र में हो सकती है। IBS से बचने के लिए जीवन शैली में परिवर्तन करना चाहिए। लाइफस्टाइल बदलकर इस समस्या से निजात पाया जा सकता है।

और पढ़ें : उबकाई/डकार (Belching)क्यों आती है?

पेट में दर्द का कारण: पेट के निचले हिस्से में तेजी से दर्द होना

पेट के निचले हिस्से में अचानक से दर्द होना, उल्टी होना, बुखार आना गुर्दे की पथरी का संकेत हो सकता है। सीटी स्कैन के द्वारा इस रोग की पहचान की जा सकती है। NAIDs से दर्द में राहत मिलती है। अल्फा ब्लॉकर्स की हेल्प से स्टोन को हटाने में मदद मिलती है।

और पढ़ें: क्या होती हैं पेट की बीमारियां ? क्या हैं इनके खतरे?

पेट में दर्द का कारण: पेट के बायीं ओर निचले हिस्से में दर्द होना

पेट के निचले हिस्से में दर्द डायवर्टकुलस का संकेत देता है। इस स्थिति में कोलन में पॉकेट बन जाती है। कोलन में गांठ बन सकती है या फिर होल भी हो सकता है। गांठ को खत्म करने के लिए एंटीबायोटिक्स का उपयोग किया जाता है। कई बार साधारण दवाओं जैसे एसिटामिनोफेन का उपयोग भी किया जा सकता है।

पेट में दर्द का कारण: अचानक से पेट में दर्द होना

पेट के मध्य में अचानक से दर्द अगर है तो इसे पेप्टिक अल्सर (Peptic Ulcer) से जोड़ सकते हैं। जो लोग एस्पिरिन या NSAIDs की अधिक मात्रा लेते हैं उन्हें ये समस्या हो सकती है। ये एक सर्जिकल एमरजेंसी है। पेट में केविटी रिकंस्ट्रक्ट हो सकती है। इसके उपचार के लिए सर्जरी की जरूरत पड़ती है।

और पढ़ें : क्या एंटीबायोटिक्स कर सकती हैं गट बैक्टीरिया को प्रभावित?

पेट में दर्द का कारण: उल्टी के साथ पेट में दर्द होना

पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द या फिर उल्टी आना कई बार दिल के दौरे का संकेत देता है। पीठ में दर्द या फिर जबड़े के दर्द के साथ ही सांस लेने में तकलीफ होना बड़ी बीमारी का संकेत है।

पेट में दर्द का कारण: पेट के निचले दाएं हिस्से में दर्द होना

पेट के निचले हिस्से में दर्द एपेंडिसाइटिस का संकेत हो सकता है। दर्द पहले धीमा होता है और फिर अचानक से तेज हो जाता है। दर्द के साथ ही कब्ज की समस्या भी हो जाती है। दर्द लगातार बना रहता है या फिर कुछ घंटों के अंतराल में बना रहता है। इसमें पेट के निचले दाहिने हिस्से में तेजी से दर्द होता है। दर्द के साथ मतली, उल्टी और सूजन की शिकायत हो सकती है।

पेट के निचले हिस्से में दर्द ओवेरियन सिस्ट का लक्षण भी हो सकता है। ओवेरियन सिस्ट ओवुलेशन के दौरान खुद से बन सकती हैं। यदि ये काफी बड़ी हो जाती हैं तो ओवेरियट सिस्ट निचले पेट में जहां सिस्ट होती है वहां तेज दर्द पैदा कर सकता है। इसके कारण उस जगह पर सूजन भी हो सकती है।

और पढ़ें : क्या सफर में होती है उल्टी? जानिए इससे बचने के उपाय

पेट में दर्द का कारण: पैटर्न में पेट में दर्द होना

यदि मल त्याग से पहले हल्का या गंभीर दर्द होता है तो ये इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम (IBS) का लक्षण हो सकता है। यदि आपको इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम (IBS) की परेशानी है तो आप नोटिस करेंगे कि आपके पैटर्न में पेट दर्द होता है। क्योंकि यह दर्द कुछ चीजों का सेवन करने के बाद या दिन में एक निश्चित समय में होता है। इसमें आपको पेट दर्द के साथ ब्लोटिंग, गैस बनन, बॉवेल मूवमेंट में म्यूकस और डायरिया की शिकायत हो सकती है। खानपान की आदतों, एंटीस्पासमोडिक दवाएं और नर्व पेन दवाओं के साथ इसका इलाज किया जाता है।

पेट में दर्द का कारण: पसलियों के बीच ऊपरी पेट में दर्द होना

हाइपरएसिडिटी के कारण पसलियों के नीचे और पेट के ऊपरी भाग में दर्द ह्दय विकार का संकेत दे सकता है। अगर दर्द बना रहता है तो सांस लेने में तकलीफ होती है। यदि किसी को मधुमेह या उच्चरक्तचाप की समस्या है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें : बार-बार रो रहा है बच्चा तो उसे पेट और आंत में हो सकती है तकलीफ

पेट में दर्द का कारण: अपच और गैस (Indigestion and Gas) के कारण ऊपरी पेट या निचले आंत में तेज दर्द

आमतौर पर खाना खाने के बाद अपच और गैस के दर्द का अनुभव होता है। जो लोग बहुत जल्दी खाना खाते हैं या शराब और वसायुक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं उन्हें इसकी तकलीफ होती है। गैस आपके पाचन तंत्र में फंसी हवा है, जो शरीर द्वारा खाने को पचाने का परिणा है। कभी-कभी गैस और अपच आपके ऊपरी पेट या निचले आंत में तेज दर्द पैदा कर सकते हैं। मल त्याग के बाद यह दर्द खुद कम हो जाता है। अपच और गैस के दर्द को ओवर-द-काउंटर एंटासिड के साथ इलाज किया जा सकता है।

पेट में दर्द का कारण: गैस्ट्रोएंटेराइटिस (Gastroenteritis) के कारण डायरिया, उल्टी के साथ तेज पेट में दर्द

गैस्ट्रोएंटेराइटिस फ्लू वायरस के कारण होता है। यह पेट में इंफेक्शन होता है जिससे तेज पेट में दर्द, डायरिया और उल्टी की शिकायत होती है। वैसे तो ये अपने आप ठीक हो जाता है, लेकिन अगर आपको पेट दर्द के साथ बुखार की शिकायत है या उल्टी या स्टूल में ब्लड आ रहा है तो आपको तुरंत डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। इस लेख को पढ़ने के बाद आप इतना समझ गए होंगे की पेट में दर्द को कभी इग्नोर नहीं करना चाहिए। यह किसी बीमारी का लक्षण हो सकता है। पेट में दर्द का कारण जानने के लिए अपने चिकित्सक से जरूर कंसल्ट करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Cyclopam Syrup: साइक्लोपाम सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

जानिए साइक्लोपाम सिरप (Cyclopam Syrup) की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितनी खुराक लें, साइक्लोपाम सिरप डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 17, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Quiz: दर्द से जुड़े मिथ्स एंड फैक्ट्स के बीच सिर चकरा जाएगा आपका, खेलें क्विज

क्या आप दर्द से जुड़े मिथ्स एंड फैक्ट्स (Myths and Facts about Pain) के बारे में जानते हैं। अगर हां, तो इस क्विज को खेलकर जांचें अपना ज्ञान।

के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
क्विज जून 16, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

Neopeptine: निओपेपटीन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

जानिए नेओपेपटिन (Neopeptine) की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितनी खुराक लें, नेओपेपटिन डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 15, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Joint Pain (Arthralgia) : जोड़ों का दर्द (आर्थ्राल्जिया) क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

जोड़ों का दर्द क्या है, उसका उपचार, आर्थ्राल्जिया के लक्षण और घरेलू उपचार, Joint Pain के कारण, Joint Pain के लिए ट्रीटमेंट, Arthralgia और Gout में अंतर।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita Mishra
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

कोलिमेक्स

Colimex: कोलिमेक्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish Singh
प्रकाशित हुआ जून 29, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
कोल्डैक्ट

Coldact: कोल्डैक्ट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish Singh
प्रकाशित हुआ जून 29, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
अकोशियामाइड /Acotiamide

Acotiamide: अकोशियामाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ जून 23, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
एस प्रोक्सीवोन

Ace Proxyvon: एस प्रोक्सीवोन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish Singh
प्रकाशित हुआ जून 18, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें