home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Dragon’s Blood: ड्रैगन ब्लड क्या है?

Dragon’s Blood: ड्रैगन ब्लड क्या है?
परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|उपलब्ध

परिचय

ड्रैगन ब्लड क्या है?

ड्रैगन ब्लड प्राकृतिक पौधे की राल है। यह गहरे लाल रंग का होता है, जिस वजह से इसका नाम ड्रैगन ब्लड रखा गया। ये राल कई अलग-अलग पेड़ों से निकाला जता है। इसे हजारों वर्षों से अलग-अलग कार्यों के लिए उपयोग किया जा रहा है। इसे कई बीमारियों से निजात पाने के लिए प्रयोग किया जाता है। इसके अलावा डाई, पेंट और आध्यात्मिक उद्देश्यों से भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।

उपयोग

ड्रैगन ब्लड का प्रयोग किस लिए किया जाता है?

इसका उपयोग निम्नलिखित बीमारियों में किया जाता है। जैसे-

डायरिया : लंबे समय से ड्रैगन ब्लड का प्रयोग डायरिया के इलाज के लिए किया जा रहा है। इसमें कुछ ऐसे कंपाउंड पाए जाते हैं, जो आंतों में सोडियम और क्लोराइड के उत्सर्जन को कम करते हैं। इससे आंतों में कम पानी जाता है, जिससे डायरिया से राहत मिलती है। दरअसल डायरिया की समस्या किसी को भी और किसी भी उम्र में हो सकती है। वयस्कों को साल में तीन से चार बार डायरिया हो सकता हैं। डायरिया किसी भी उम्र के लोगों को हो सकता है। डायरिया एक ऐसी बीमारी है जो आपको जानलेवा स्टेज तक पहुंचा सकती है। इसलिए बहुत से लोग इस बीमारी से जुड़ी चिकित्सा सलाह लेते हैं। अगर डायरिया का इलाज बहुत लंबे समय तक नहीं किया जाता है, तो यह गंभीर समस्याओं का कारण बन सकता है। इसलिए इसके उपाय के बाद अगर परेशानी कम न हो तो डॉक्टर से संपर्क करें।

जख्मों को भरने में कारगर : ड्रैगन ब्लड जख्मों को भरने में मदद करता है। इसे स्किन पर लगाने से त्वचा पर एक लेयर बन जाती है। माना जाता है कि इसमें कुछ ऐसे कंपाउंड्स होते हैं, जो स्किन सेल्स को जल्दी रिजनरेट करने का काम करते हैं। चोट लगने पर इसका प्रयोग किया जा सकता है।

कैंसर की रोकथाम में मददगार : एक शोध के अनुसार, इसमें एंटी-ऑक्सिडेंट होते हैं, जो शरीर में मौजूद फ्री-रेडिकल्स की गतिविधि को रोकता है और कैंसर से लड़ने में मदद करता है।

डायजेस्टिव संबंधित परेशानियों को करे दूर : इसमें एंटी-ट्यूमर और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो किसी भी प्रकार के इंफेक्शन से लड़ने में मदद करते हैं और डायजेस्टिव और इंटेस्टाइनल हेल्थ को बनाए रखते हैं।

स्किन के लिए फायदेमंद : ड्रैगन ब्लड में एस्ट्रिजेंट गुण होते हैं, जिस वजह से कई लोग इसे सीधे स्किन पर प्रयोग करते हैं। इसे रैशेज, एक्ने, डार्क स्पॉट और मोल्स के लिए इस्तेमाल किया जाता है। अगर आपको त्वचा संबंधी कोई परेशानी है तो इस प्रयोग कर आप अपनी त्वचा को निखार सकती हैं।

अल्सर की परेशानी होती है दूर: ये ब्लीडिंग अल्सर से भी राहत प्रदान करता है। यह अलग-अलग तरह के होने वाले अल्सर की समस्या को दूर कर सकता है।

कैसे काम करता है ड्रैगन ब्लड?

ड्रैगन ब्लड में में एंटीमाइक्रोबियल, एंटीडायरियल, एंटी-इन्फलमेटरी, एंटीडायबिटीक, एंटीकैंसर गुण होते हैं, जो हमें कई बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करता है। हालांकि, इसे लेकर अधिक शोध की जरूरत है।

ये भी पढ़ें: Hazelnut : हेजलनट क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

कितना सुरक्षित है ड्रैगन ब्लड का उपयोग?

ज्यादातर सभी के लिए सीमित मात्रा में ड्रैगन ब्लड का सेवन करना सुरक्षित है। निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

  • यदि आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में डॉक्टर की सलाह के बिना किसी दवा या हर्बल का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रहे हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं। डॉक्टर को उन दवाओं के बारे में भी जानकारी दें, जिन्हें आप मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के ले रहे हैं।
  • यदि आपको किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। ड्रैगन ब्लड का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

ये भी पढ़ें: Hibiscus : गुड़हल क्या है ?

साइड इफेक्ट्स

ड्रैगन ब्लड से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

  • दवा के तौर पर इसका सेवन करने से कुछ आम दुष्प्रभाव हो सकते हैं, जैसे पेट फूलना, खांसी, मतली और ब्रोंकाइटिस आदि।
  • स्किन पर इसे लगाने से जलन और चुभन महसूस हो सकती है। इसलिए इसका इस्तेमाल करने से पहले एक बार पैच टेस्ट जरूर कर लें।

जरूरी नहीं सभी में ये साइड इफेक्ट्स दिखाई दें। इनसे अलग साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। अगर आपको इसकी अधिक जानकारी चाहिए तो एक बार किसी चिकित्सक या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें।

ये भी पढ़ें: Honey : शहद क्या है?

डोसेज

ड्रैगन ब्लड को लेने की सही खुराक क्या है?

ड्रैगन ब्लड की डोज को लेकर कोई गाइडलाइंस नहीं है। स्किन पर लगाने के लिए इसके टिंचर को सुरक्षित माना जाता है। आमतौर पर डोज में इसको 100 से 500 मिलीग्राम टैबल्ट के रूप में दिया जाता है। दवा को लेने से पहले एक बार उसके लेबल को जरूर पढ़ें।

अल्सर: ड्रैगन ब्लड ओइंटमेंट, क्रीम को लगाएं। आप चाहे तो इसके टिंचर को पानी में मिलाकर धोने के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए 3 से 5 ड्रॉप्स को 30 मिली लीटर पानी में मिलाएं।

यहां दी हुई जानकारियों का इस्तेमाल डॉक्टरी सलाह के विकल्प के रूप में ना करें। डॉक्टर या हर्बलिस्ट की राय के बिना इस दवा का इस्तेमाल नहीं करें।

ये भी पढ़ें: Jowar : ज्वार क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है ड्रैगन ब्लड?

ड्रैगन ब्लड निम्नलिखित रूपों में आता है:

  • कैप्सूल
  • पाउडर
  • लिक्विड
  • टिंचर

ड्रैगन ब्लड से जुड़े फैक्ट्स क्या हैं?

इससे जुड़े फैक्ट्स निम्नलिखित हैं। जैसे-

  • यह पेड़ 100 साल से भी ज्यादा जीवित रह सकता है।
  • इसके पेड़ के छाल से मधुमक्खी का छाता बनाया जाता है तो वहीं इसके पत्ते से रस्सी बनाई जाती है।
  • इस पेड़ में फूल फरबरी में निकलते हैं।

अगर आप ड्रैगन ब्लड से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

और पढ़ें:

Kale : केल क्या है?

Cola Nut: कोला नट क्या है?

डेंगू ही नहीं इन 5 बीमारियों पर भी असरदार है कीवी के फायदे

शिशु की त्वचा से बालों को निकालना कितना सही, जानें क्या कहते हैं डॉक्टर?

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

DRAGON’S BLOOD/https://www.webmd.com/vitamins-supplements/ingredientmono-30-dragon%27s%20blood.aspx?activeingredientid=30&activeingredientname=dragon%27s%20blood/Accessed on 8/12/2019

Dragon’s Blood/https://www.drugs.com/npc/dragon-s-blood.html/Accessed on 8/12/2019

The Health Benefits of Blood of the Dragon/https://www.verywellhealth.com/blood-of-the-dragon-info-89423/Accessed on 8/10/2019

What Is Dragon’s Blood and What Are Its Uses?/https://www.healthline.com/health/dragons-blood#side-effects/Accessed on 8/10/2019

Dragon’s blood/https://www.britannica.com/topic/dragons-blood-resin/Accessed on 13/12/2019

Dragon’s blood/http://cameo.mfa.org/wiki/Dragon%27s_blood/Accessed on 13/12/2019

लेखक की तस्वीर
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Mona narang द्वारा लिखित
अपडेटेड 06/11/2019
x