आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

null

गुड डायजेशन के लिए चाय: जानिए 8 प्रकार की चाय के बारे में, जो आपके पाचन का स्वस्थ बनाए

    गुड डायजेशन के लिए चाय: जानिए 8 प्रकार की चाय के बारे में, जो आपके पाचन का स्वस्थ बनाए

    कई लोग पेट की समस्या से परेशान रहते हैं, ताे क्या आपको पता है कि ऐसे में कई प्रकार की चाय आपके पाचन संबंधी समस्या को दूर कर सकती हैं। जी हां, ऐसी कई प्रकार की चाय हैं, जो डायजेशन को बेहतर बनाती हैं। यह चाय आपके रोज की नॉर्मल चाय से अलग होती हैं। लोग हजारों सालों से पाचन संबंधी समस्याओं और अन्य बीमारियों के इलाज में मदद करने के लिए चाय पी रहे हैं। कई हर्बल चाय मतली, कब्ज, अपच और पाचन संबंधी अन्य विकार के इलाज में प्रभावी है। हर्बल चाय गर्म पानी में फूल, जड़ी बूटी, बीज, जड़ों या पौधे की छालों को मिलाकर बनाई जाती है। जानिए यहां 9 प्रकार की चाय के बारे में, जो आपके पाचन में सुधार कर सकती हैं।

    और पढ़ें: ग्रीन टी के फायदे: मोटापा कम करने से लेकर कैंसर जैसे रोग में भी लाभकारी है यह चाय

    गुड डायजेशन के लिए चाय : जानिए यहां 8 प्रकार के टी के बारे में (Tea for Good Digestion: Know about 9 types of tea here)

    पेपरमिंट टी (Peppermint tea)

    पेपरमिंट यानि कि पुदीने से बनी चाय एक शक्तिशाली पाचन समाग्री है, जिसका उपयोग सदियों से हर्बल दवा में पाचन में सुधार और पेट का उपचार करने के लिए किया जाता रहा है। अध्ययनों से पता चला है कि पुदीना गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल तनाव के लक्षणों को दूर करने में मददगार है और यह पेट की अन्य परेशानियों में भी राहत देता है, जैसे कि पाचन संबंधी समस्याएं कब्ज या इरिटेबल बाउल सिंड्रोम आदि। आप दिन भर में एक कप पुदीने की चाय का आनंद ले सकते है। पुदीना गर्मियों में स्वादिष्ट आइस टी के रूप में भी लिया जा सकता है।

    और पढ़ें: Oolong Tea: ओलोंग चाय क्या है?

    गुड डायजेशन के लिए चाय में ट्राय करें, अदरक वाली चाय (Try Ginger Tea for good digestion)

    अदरक का हर्बल और आयुर्वेदिक चिकित्सा में सदियों से उपयोग किया जाता है, अदरक में शक्तिशाली एंटी इंफ्लामेटरी प्रभाव होता है, और यह पेट की समस्याओं को शांत करने और पाचन स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद कर सकता है। अदरक की चाय एक मसालेदार और स्वादिष्ट पेय है जो रोग से लड़ने वाले एंटीऑक्सिडेंट का एक पंच पैक है। अदरक में अन्य स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं, जिसमें गले में खराश को शांत करना, मतली को रोकना और मॉर्निंग सिकनेस को कम करना शामिल है। अदरक पेट के तनाव को शांत करने और पाचन में सहायता करने का प्रभावी इलाज है।

    और पढ़ें: जानिए भारत में मिलने वाली विभिन्न प्रकार की चाय और उनसे जुड़ीं धारणाओं के बारे में

    डंडेलियन रूट की चाय (Dandelion Root Tea)

    डंडेलियन रूट का उपयोग सदियों से हर्बल दवा में पाचन में सुधार, सर्दी, खासी और जुकाम के इलाज और समग्र स्वास्थ्य में सुधार के लिए किया जाता रहा है। इसे सिंहपर्णी से बनी चाय कहा जाता है। अध्ययनों से पता चला है कि सिंहपर्णी जड़ टाइप 2 मधुमेह और अन्य पाचन रोगों के प्रभावों का मुकाबला करने में विशेष रूप से सहायक हो सकती है। सिंहपर्णी जड़ चाय और टिसन को एक सुखद, मिट्टी का तीखापन प्रदान करती है।

    और पढ़ें: गट बैक्टीरिया में सुधार कैसे करें? ये 7 उपाय हो सकते हैं मददगार

    कैमोमाइल चाय (Chamomile tea)

    कैमोमाइल टी टेस्ट में एक मीठी हर्बल चाय है, जो अपने आप में स्वादिष्ट होती है या जब अन्य जड़ी-बूटियों और मसालों के साथ मिश्रित होती है। कैमोमाइल एसिड रिफ्लेक्स के लक्षणों को कम करने, सूजन और गैस को दूर करने और समग्र जठरांत्र स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने में मददगार है। यह एंटी-बैक्टिरियल, एंटी इन्फ्लेमेट्री टी लिवर को बेहतर बनाने में मदद करता है। कैमोमाइल दस्त की परेशानी को ठीक करने और अल्सर से लड़ने में मददगार हो सकती है

    और पढ़ें: Chamomile: कैमोमाइल क्या है?

    रोजमेरी टी (Rosemary tea)

    ग्रीन टी और नींबू के बेनेफिट्स, Benefits of Green Tea and Lemon

    आपने ग्रीन टी, कैमोमाइल टी, जिंजर टी आदि शायद ट्राय किया होगा लेकिन रोजमेरी टी नहीं किया होगा। यह भी पाचन स्वास्थ्य के लिए काफी प्रभावी है। रोजमेरी चाय जड़ी-बूटी से बनी होती है। इसमें एंटी-स्पास्मोडिक और कार्मिनेटिव गुण होता है, जो आपके डायजेस्टिव सिस्टम को मजबूत बनाता है। जब आपकी पाचन शक्ति मजबूत होती है। तो आप कब्ज, गैस और दस्त की समस्या से दूर रहते हैं, तो दिनभर में दो बार यह चाय पीने से आराम मिलेगा। इसके अलावा इसमें एंटी-माइक्रोबियल, सैलिसेलिक एसिड, एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल आदि कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं। इसमें कई तरह के ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो शरीर को कई फायदे पहुंचाते हैं।

    और पढ़ें: डायबिटीज में सिनेमन टी: जानना न भूलें दालचीनी की चाय के ढेरों फायदों के बारे में!

    पु-एर टी (Pu-erh Tea )

    पु-एर चाय गुड डायजेशन के लिए एक बेहतर चाय है। यह पाचन तंत्र को सहायता प्रदान करती है। इसमें पोस्ट-ऑक्सिडाइज्ड होती है, जिसका अर्थ है कि पत्तियों के सूखने के बाद यह ऑक्सिकरण की प्रक्रिया से गुजरती है। पकी पु-एर चाय को एक विशेष विधि का उपयोग करके ऑक्सिकृत किया जाता है। इसके रोजाना एक कप चाय का सेवन, आपके पेट दर्द को कम करने के लिए सूजन को कम कर सकती है। इसमें जीवाणुरोधी गुण भी होते हैं जो उस बीमारी को दूर करने में मदद करते हैं।

    और पढ़ें: Morning Drinks: रहना है हेल्दी, तो चाय-कॉफी छोड़कर पीएं इन मॉर्निंग ड्रिंक्स को!

    ग्रीन टी भी गुड डायजेशन के लिए है बेस्ट (Green Tea is also best for good digestion)

    चाय क्विज - Tea Quiz

    ग्रीन टी को पाचन में सहायता और पेट के तनाव को शांत करने सहित कई स्वास्थ्य लाभों के लिए प्रभावकारी देखा गया है। ग्रीन टी विशेष रूप से पॉलीफेनोल, कैटेचिन और एंटीऑक्सिडेंट में समृद्ध है, और हृदय और जठरांत्र संबंधी विकारों के लक्षणों को शांत करने में मदद कर सकती है। ग्रीन टी को एंटी-ऑक्सीडेंट्स का पावर हाउस कहा जाता है। ग्रीन टी पीने से स्टमक हेल्थ में सुधार आता है, साथ ही यह मेटाबॉलिक सिंड्रोम को ठीक करने में भी यह प्रभावकारी है।

    और पढ़ें: Cardiovascular Health and Tea benefits: कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ के लिए चाय के फायदे के लिए ग्रीन टी या ब्लैक टी है बेहतर!

    ब्लैक टी (Black tea)

    ब्लैक टी पेट के लिए भी फायदेमंद है। कैमेलिस साइनेंसिस से उत्पादित अन्य प्रकार की चाय की तरह, काली चाय को पाचन में सहायता करने और सूजन और पेट की गड़बड़ी को रोकने में मददगार पायी गई है। काली चाय कई अलग-अलग किस्मों में आती है, और अतिरिक्त स्वाद के लिए अन्य जड़ी-बूटियों और फूलों के साथ मिश्रित किया जा सकता है। पारंपरिक नाश्ते के कप के लिए काली चाय का सेवन अकेले या दूध और स्वीटनर के साथ किया जा सकता है।

    और पढ़ें: ब्लैक टी के फायदे से डायबिटीज और हार्ट डिजीज को रखें दूर

    इस प्रकार की चार केवल पाचन की समस्याओं का घरेलू उपचार हो सकता है, लेकिन इलाज नहीं। गंभीर समस्या होने पर डॉक्टर के पास ही जाएं। बहुत से लोग भरपूर भोजन के बाद एक कप चाय का आनंद लेना या दिन भर में कई बार चाय लेना पसंद करते हैं। उनके लिए हर्बल टी एक अच्छा विकल्प हो सकता है, खासतौर पर उनके लिए जो लगातार पेट की समस्याओं से पीड़ित होते हैं। हर्बल चाय शरीर को पचाने में मदद करने का एक शानदार तरीका हो सकता है, और यह अन्य शर्करा या मादक पेय के लिए एक स्वादिष्ट और हेल्दी विकल्प भी है। गुड डायजेशन के लिए चाय यानि कि आपके लिए कौन सी चाय बेहतर है, इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

    health-tool-icon

    बीएमआई कैलक्युलेटर

    अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड