home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कोल्ड सोर्स या हर्पीज लेबियालिस (Herpes labialis) का ट्रीटमेंट संभव है?

कोल्ड सोर्स या हर्पीज लेबियालिस (Herpes labialis) का ट्रीटमेंट संभव है?

कोल्ड सोर्स (Cold sores) या हर्पीज लेबियालिस (Herpes labialis) वायरस के कारण फैलने वाली बीमारी है। ये बीमारी हर्पीज सिम्प्लेक्स ( Herpes simplex) वायरस के कारण फैलती है। एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में ये बीमारी क्लोज कॉन्टेक्ट जैसे कि किसिंग या फिर ओरल सेक्स के दौरान फैल सकती है। कोल्ड सोर्स के कारण होंठ के आसपास फफोले (Blisters) पड़ सकते हैं। फफोले जिस स्थान में आते हैं, वहां खुजली का एहसास होता है और साथ ही हल्का पेन भी हो सकता है। आमतौर पर फफोलों में पस या मवाद भर जाता है, जिसके कारण ये हल्के पीले रंग के नजर आते हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से हर्पीज लेबियालिस से संबंधित जानकारी और हर्पीज लेबियालिस ट्रीटमेंट के बारे में बताएंगे। जानिए कैसे हर्पीज लेबियालिस से छुटकारा पाया जा सकता है।

और पढ़ें: ट्राइकोमोनिएसिस का घरेलू इलाज क्या है?

हर्पीज लेबियालिस (Herpes labialis) या कोल्ड सोर्स किन कारणों से होता है?

हार्पीज लेबियालिस

हर्पीज लेबियालिस हार्पीज सिम्प्लेक्स वायरस (Herpes simplex virus) के कारण होता है। हार्पीज सिम्प्लेक्स वायरस दो प्रकार के होते हैं। हार्पीज सिम्प्लेक्स टाइप 1 (HSV-1) के कारण कोल्ड सोर्स और हार्पीज सिम्प्लेक्स टाइप 2 (HSV-2) के कारण जननांगों में दाद (Genital herpes) की समस्या हो जाती है। कोल्ड सोर्स संक्रामक होते हैं और न दिखने पर भी ये कॉन्टेक्ट के दौरान एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकते हैं। अगर कोई संक्रमित व्यक्ति के कॉस्मेटिक या फिर फूड का इस्तेमाल करता है, तो ये बीमारी आसानी से फैल सकती है। ओरल सेक्स (Oral sex) से कोल्ड सोर (Cold sores) और जेनिटल हर्पीज (Genital herpes) दोनों फैल सकते हैं।

हर्पीज लेबियालिस(Herpes simplex virus) ट्रीटमेंट की मदद से संक्रमण को ठीक किया जा सकता है लेकिन इसे पूरी तरह से खत्म नहीं किया जा सकता है। ट्रीटमेंट की मदद से घाव को ठीक किया जा सकता है लेकिन ये वायरस शरीर में निष्क्रिय हो जाते हैं। वायरस जब रिएक्टिवेट हो जाते हैं, तो ये दोबारा घाव का कारण बन सकते हैं। जिन लोगों को कोल्ड सोर्स की समस्या होती है, उनमें कमजोर इम्यून सिस्टम की समस्या हो सकती है।

और पढ़ें: चार स्टेज में फैलती है सिफलिस की बीमारी, तीसरी स्टेज होती है सबसे खतरनाक

कोल्ड सोर्स (Cold Sores) या हर्पीज लेबियालिस होने पर दिख सकते हैं ये लक्षण

Cold Sores

कोल्ड सोर्स होने पर लिप्स के आसपास जलन का एहसास हो सकता है और साथ ही बर्निंग सेंसेशन (Burning sensation) भी हो सकता है। कोल्ड सोर्स के लक्षण दो सप्ताह तक दिखाई पड़ सकते हैं। फिर घाव के स्थान में पपड़ी पड़ जाती है। हर्पीज लेबियालिस पर निम्नलिखित लक्षण दिखाई पड़ सकते हैं।

  • बुखार (fever)
  • मसल्स पेन (Muscle aches)
  • लम्फ नोड्स में सूजन (Swollen lymph nodes)
  • आंखों में समस्या (Eye problem)

अगर आपको हर्पीज लेबियालिस के लक्षण नजर आते हैं, तो तुरंत हर्पीज लेबियालिस का ट्रीटमेंट करना चाहिए वरना परमानेंट विजन लॉस भी हो सकता है। ट्रीटमेंट की हेल्प से घाव जल्दी भरता है और दर्द से भी राहत मिलती है। आप इस बारे में अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श कर सकते हैं। कोल्ड सोर्स की पांच स्टेज होती है। इन स्टेज में संक्रमण की शुरूआत के साथ ही दो सप्ताह में दिखने वाले परिवर्तन शामिल हैं।

स्टेज1: फफोले फूटने से लगभग 24 घंटे पहले झुनझुनी और खुजली का एहसास होता है।
स्टेज 2: द्रव से भरे फफोले (Fluid-filled blisters) दिखाई देते हैं।
स्टेज 3: फफोले फट जाते हैं और घाव बन जाता हैं।
स्टेज 4: फिर घाव ( sores) सूख जाते हैं और खुजली ( Itching) और दरारें (Cracking)पैदा करते हैं।
स्टेज 5: पपड़ी गिर जाती है और कोल्ड सोर्स के कारण पैदा हुआ घाव भर जाता है।

और पढ़ें: STD टेस्टिंग: जानिए कब टेस्ट है जरूरी और रखें इन बातों का ख्याल

हर्पीज लेबियालिस का कब बढ़ जाता है जोखिम?

हर्पीज लेबीयैलज आसानी से फैलने वाला संक्रमण है और करीब 90 प्रतिशत वयस्क इससे संक्रमित हो सकते हैं। कुछ रिस्क फैक्टर इस संक्रमण के जोखिम को बढ़ाने का काम कर सकते हैं। जानिए कोल्ड सोर्स के रिस्क फैक्टर क्या हैं?

  • सन एक्पोजर
  • फीवर या फिर कोल्ड
  • एचआईवी या एड्स
  • कमजोर इम्यून सिस्टम
  • कीमोथेरिपी

अगर आप संक्रमित व्यक्ति का टूथब्रश, रेजर, खाना आदि शेयर करते हैं, तो बीमारी का खतरा अधिक बढ़ जाता है। ये वायरस सलाइवा के कॉन्टेक्ट में आने से भी आसानी से फैल जाता है। अगर आपको बुखार आ रहा है या फिर सांस लेने में परेशानी हो रही है, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: Chlamydia In Throat: कैसे गले तक पहुंच सकता है सेक्शुअली ट्रांसमिटेड इंफेक्शन?

कोल्ड सोर्स (Cold sores) का ट्रीटमेंट कैसे किया जाता है?

कोल्ड सोर्स से बचने के लिए कोई उपाय नहीं है लेकिन इस संक्रमण के लक्षणों को खत्म किया जा सकता है। कोल्ड सोर्स (Cold sores) का ट्रीटमेंट करने के दौरान निम्निलिखत तरीके अपनाएं जाते हैं।

एंटीवायरल क्रीम का इस्तेमाल (Antiviral ointments)

जब कोल्ड सोर्स के कारण घाव हो जाते हैं, तो उनमें दर्द की समस्या होती है। दर्द की समस्या से राहत पाने के लिए डॉक्टर एंटीवायरल मरहम (Ointments) इस्तेमाल करने की सलाह दे सकते हैं। डॉक्टर पेन्सिक्लोविर (Penciclovir) मरहम दे सकते हैं। आपको घाव में चार से पांच बार मरहम लगाना चाहिए। वहीं ओवर-द-काउंटर क्रीम का इस्तेमाल भी किया जा सकता है।

मेडिकेशन (Medications)

कोल्ड सोर्स का ट्रीटमेंट ओरल एंटीवायरल मेडिकेशन जैसे कि एसाइक्लोविर (acyclovir),वैलेसाइक्लोविर (valacyclovir), फेमिसाइक्लोविर (famciclovir) आदि दवाओं का सेवन करने की सलाह दी जाती है। आपको डॉक्टर ने जब तक दवा खाने की सलाह दी हो, तब तक दवा जरूर खाएं।

अपना सकते हैं ये घरेलू उपाय (Home remedies)

कोल्ड सोर्स की समस्या से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय भी अपनाएं जा सकते हैं। अगर आप दवाओं का सेवन कर रहे हैं, तो भी आप घरेलू उपाय ले सकते हैं। आप चाहे तो इस बारे में डॉक्टर से भी जानकारी ले सकते हैं। घावों में अक्सर दर्द और खुजली होती है। आप निम्नलिखित उपायों की मदद से घाव के कारण उत्पन्न हुई परेशानी को ठीक कर सकते हैं।

  • आप घाव के ऊपर बर्फ के पानी से भीगी हुई पट्टी रख सकते हैं। लेमन एक्सट्रेक्ट से बना हुआ लिप बाम भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • आप रोजाना लाइसिन सप्लिमेंट (lysine supplements) भी ले सकते हैं।
  • आप कोल्ड सोर्स में एलोवेरा जैल लगा सकते हैं, ये घाव में दर्द से राहत दिलाता है।
  • अगर घाव में दरार पड़ रही है, तो आप पेट्रोलियम जैली का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये घाव में राहत दिलाने का काम करती है।
  • घाव को साफ करने के बाद ही उसमें क्रीम लगाएं।

शरीर में किसी भी तरह का संक्रमण होने पर लक्षण नजर आने लगते हैं। आपको संक्रमण के लक्षणों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। अगर सही समय पर कोल्ड सोर्स का ट्रीटमेंट करा लिया जाए, तो इन्फेक्शन से राहत पाई जा सकती है। आप इस संक्रमण के बारे में अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श कर सकते हैं। आप स्वास्थ्य संबंधी अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं और अन्य लोगों के साथ साझा कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Cold and canker sores uhs.umich.edu/coldcankersores Accessed on 24/2/2021

Cold sores. nhs.uk/conditions/cold-sores/ Accessed on 24/2/2021

Cold sores  kidshealth.org/teen/your_body/skin_stuff/cold_sores.html Accessed on 24/2/2021

Cold sores nlm.nih.gov/medlineplus/coldsores.html Accessed on 24/2/2021

Mayo Clinic Staff mayoclinic.org/diseases-conditions/cold-sore/symptoms-causes/syc-20371017 Accessed on 24/2/2021

Aloe vera: An ancient herb for modern dentistry dx.doi.org/10.1155/2014/210463 Accessed on 24/2/2021

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 01/03/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x