home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

तांत्रिक सेक्स क्या है? जानिए रेगुलर सेक्स और इसमें क्या अंतर है?

तांत्रिक सेक्स क्या है? जानिए रेगुलर सेक्स और इसमें क्या अंतर है?

तांत्रिक सेक्स (Tantric Sex) का नाम सुनकर आप सोच रहे होंगे अब ये क्या नई बला है। तो आपको बता दें, यह नया नहीं है। 5 हजार सालों से लोग इसकी प्रैक्टिस कर रहे हैं। प्राचीन ग्रंथों में भी इसका उल्लेख है। बताया जाता है कि योग गुरु इस सेक्स को आध्यात्मिक सुख के लिए सिखाया करते थे। तांत्रिक सेक्स का मतलब उसके नाम से ही समझ आता है। यह संस्कृत के शब्द ‘तंत्र’ से बना है, जिसका मतलब होता है ‘एकमेव होना’। जो अपनी सेक्स लाइफ को रिबूट करना हो या प्यार में नई गहराई ढूंढना चाहते हैं वो तांत्रिक सेक्स ट्राय कर सकते हैं।

नॉर्मल सेक्स और तांत्रिक सेक्स को लेकर यदि आप कंफ्यूज हो रहे हैं तो इस उदाहरण से समझें। आपको भूख लगी है और किसी रेस्टोरेंट में जाकर आप अपने लिए खाना पैक करा लेते हैं तो ये हुआ नॉर्मल सेक्स और धीमी आंच पर खुद से खाना पकाना और फिर खाना होता है तांत्रिक सेक्स। तांत्रिक सेक्स आत्मज्ञान के बारे में है। इसे गहराई व ध्यान के साथ स्पॉन्टेनियस और इंटिमेट सेक्स के लिए किया जाता है।

योग की तरह है तंत्र

योग की तरह तंत्र भी भौतिक और आध्यात्मिक जागरूकता के बारे में होता है। जब आप इसे सिखते हैं और इसकी प्रैक्टिस करते हैं तो आपकी अपने शरीर के साथ एक अच्छी ट्यूनिंग सेट होती है, जो आपको खुशी का अहसास कराती है। इसे करने से आप अपने शरीर की जरूरतों से अच्छे से वाकिफ हो पाते हैं। साथ ही जरूरतों पर बेहतर ध्यान देकर यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि वे पूरी हो जाएं। इसके अलावा तांत्रिक सेक्स के दौरान शरीर को जो ऊर्जा मिलती है वो पूरे शरीर में प्रवाह होती है और ऑर्गेज्म को इन्टेंस बनाती है।

तांत्रिक सेक्स को हम आसान शब्दों में समझाएं तो इसमें सेक्स का प्रोसेस बहुत धीरे-धीरे होता है। इसमें इंटीमेसी बढ़ती है, जो पावरफुल ऑर्गेज्म तक लेकर जाता है। यह नॉर्मल सेक्स की तरह बिल्कुल नहीं होता है। क्योंकि इसमें यह मायने नहीं रखता कि इंटरकोर्स कितनी देर के लिए हुआ या सेक्स के दौरान कितने मजे आए। इसमें जो बात मायने रखती है कि आप और आपके पार्टनर कितने करीब हैं। इसमें कई ऐसी शारीरिक क्रियाएं की जाती हैं, जिनसे आपको मानसिक संतुष्टि मिलती है। शारीरिक क्रियाओं में मसाज, फोरप्ले आदि किया जाता है। इस सेक्स का अभ्यास करते हुए आप अपने पार्टनर के इतने करीब हो जाते हैं कि आप दोनों की सांसे एक लय में चलने लगती हैं। एक दूसरे का स्पर्श आपको इतना अच्छा महसूस कराता है कि आप उस फीलिंग से बाहर ही नहीं आना पसंद करते हैं। आपका मन करता है कि आप बस आपने पार्टनर में ही खो जाएं।

और पढ़ेंः पुराने सेक्स के तरीकों को बदलें अब ट्राई करें सेक्स के नए तरीके

पार्टनर के शरीर के बारे में भी गहराई से जानने में मदद करता है तांत्रिक सेक्स

तंत्र सिर्फ आपको मन और शरीर पर फोकस केंद्रित करने में मदद नहीं करता है। यह आपके और आपके पार्टनर के बीच गहरा और सामंजस्यपूर्ण बंधन बनाने में भी मदद करता है। जब आप तंत्र की प्रैक्टिस करते हैं तो आप और आपके पार्टनर शारीरिक और आध्यात्मिक रूप से कैसे उपस्थित होते हैं, इस बारे में सीखते हैं। एक दूसरे की एनर्जी फीड करते हैं जो तांत्रिक सेक्स करने के बाद भी अच्छे तरीके से बढ़ती है। इसका अभ्यास करने से आप दोनों अपने व्यक्तित्व के सभी पहलुओं का पता लगा पाते हैं, जिससे आप अपने पार्टनर को अंदर और बाहर दोनों तरह से जानना शुरू करते हैं।

और पढ़ें : सेक्स के बाद इमोशनल बॉन्डिंग बढ़ाता है आफ्टरप्ले

यदि आप तांत्रिक सेक्स करना चाहते हैं और अपने पार्टनर से इस बारे में बात करने में हिचकिचा रहे हैं तो ये टिप्स आपकी मदद कर सकते हैं:

  • पार्टनर से तांत्रिक सेक्स के बारे में बात करते समय सबसे पहली गलती जो ज्यादातर लोग करते हैं वो यह कि वह उन्हें इसकी सारी जानकारी देने लगते हैं। ऐसा न करें। आप इसकी बजाय उन्हें यह समझाएं कि आप अपनी सेक्स लाइफ को लेकर क्या सोचते हैं और आप इसे कैसे और अच्छा बना सकते हैं।
  • इसके बाद उनकी इस पर क्या राय है इसे सुनें। हो सकता है आपका पार्टनर इसके लिए उत्साहित हो और ऐसा भी हो सकता है वो इसके लिए बिल्कुल न कर दे। अपने पार्टनर की प्रतिक्रिया को सुनो और उनके फैसले का सम्मान करना चाहिए। कभी भी अपनी खुशी के लिए उनके साथ जोर जबरदस्ती न करें।
  • यदि आपका पार्टनर तांत्रिक सेक्स के लिए तैयार हो जाता है तो इसके लिए एक टीचर अपोइंट करें जो आप दोनों को इसका अभ्यास कराने में मदद करेगा।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में सेक्स ड्राइव को कैसे बढ़ाएं?

तांत्रिक सेक्स के लिए अपने दिमाग को कैसे तैयार करें

तंत्र एक साधना है, जिसका अर्थ है आपका शरीर इसमें जितना शामिल होगा उतना ही आपका मन भी इसमें शामिल होगा। जब आप तंत्र साधना करते हैं, तो आप अपने शरीर, मन और आत्मा को आपस में जोड़ रहे होते हैं। इन्हें मिलाने के लिए एक क्लीयर माइंडसेट और कंफर्ट जोन से बाहर आने की इच्छा का होना बेहद महत्वपूर्ण होता है। कुछ लोगों के अनुसार, 10 से 15 मिनट मेडिटेशन करने से तंत्र साधना के लिए आपका मन तैयार हो सकता है, क्योंकि यह आपको अंदर जाने और अपने विचारों की जांच करने की अनुमति देता है।

इन चीजों पर करें काम

  • सबसे पहले आपको सांस पर फोकस करना है। अपने पेट और पीठ के निचले हिस्से में धीरे-धीरे सांस लें। आपके दिमाग में जो चल रहा है उस पर भी आपका ध्यान होना चाहिए। फिर चाहे वो जो भी हो। आपके दिमाग में तनाव हो सकता है या कोई इच्छाएं जिन्हें आप पूरा करना चाहते हैं।
  • कुछ मिनट तक स्ट्रेच करें। जिस तरह स्ट्रेचिंग में आप अपने प्रत्येक अंग को स्ट्रेच करते हैं उसी तरह मन को भी नकारात्मक विचारों से साफ करें। जितना अधिक आप इसे अनपैक करेंगे आप उतना लाइट फील करेंगे।
  • दिन में आधा घंटा लिखने में बिताएं। उन विचारों को लिखें जो आपके आध्यात्मिक विकास को अवरुद्ध करते हो।

और पढ़ें – रिलेशनशिप टिप्स : हर रिलेशनशिप में इंटिमेसी होनी क्यों जरूरी है?

तांत्रिक सेक्स आपके लिए अच्छा है, यदि:

  • आप बेड पर कुछ नया करने का प्लान कर रहे हैं।
  • आप अपने पार्टनर के साथ ओर भी ज्यादा इंटीमेट होना चाहते हैं।
  • आप अपने पार्टनर के साथ रिकनेक्ट करना चाहते हैं।

[mc4wp_form id=”183492″]

कैसे करें तांत्रिक सेक्स?

  • तांत्रिक सेक्स के बारे में जो एक अच्छी बात है वो यह कि इसमें कोई लक्ष्य नहीं होता है। आपको इसको सिखने में कड़ी मेहनत करने की जरूरत नहीं होती है। इसमें बस आपको अपने मन को ऑर्गेज्म से दूर रखकर फोरप्ले पर तब तक फोकस करें। इस क्रिया को आसान कहा जाता है लेकिन यह आसान नहीं होता है। ऑर्गेज्म को देर से आने के लिए एक्सपर्ट्स कई तरीके जैसे मसाज, सांस पर नियंत्रण आदि का इस्तेमाल करते हैं।
  • इसे करने के लिए सबसे पहले कमरे की लाइट को बंद कर दें। खुद को बाकी की दुनियां से दूर कर लें। अपने फोन को बंद करके रख दें। तंत्र में आप अपने शरीर से एनर्जी मूव करते हैं। जैसे आप किसी एक्सरसाइज को करने से पहले वॉर्म अप करते है ठीक इसे करने से पहले अपने शरीर के सभी अंगों को हिलाएं।

और पढ़ें : बच्चों के बाद सेक्स लाइफ को कैसे बनाएं ‘हॉट’?

  • इसके बाद बिस्तर से दूर रहें। बेड पर जाने से मस्तिष्क नींद के बटन को ट्रिगर करता है, जिसमें आप डीप कनेक्शन और लविंग सेक्स की बजाय क्विक सेशन कर सो जाते हैं। इसके बाद अपने पार्टनर के साथ कंफर्टेबल होएं। इसके लिए अपने पार्टनर संग फ्लोर पर लेट जाएं और धीरे धीरे एक दूसरे को टच करें। किसी भी चीज में जल्दबाजी न करें इत्मीनान से चीजों को आगे लेकर जाएं।
  • टच करने के लिए अलग अलग तरीको को अपनाएं। यदि आपका मन भटकने लगता है तो आप सांसों पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं। कुछ देर में आप अपने पार्टनर के साथ एक लय में सांस लेने लगेंगे। यह जो हो रहा है उस पर ध्यान केंद्रित और आप दोनों के बीच संबंध को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।
  • इसे करते वक्त बहुत बार आपका ध्यान भटकेगा। कभी भी हार न मानें। यदि आप 10 मिनट से ज्यादा नहीं टिक पाते हैं तो फिर से प्रयास करें। तांत्रिक सेक्स में पकड़ बनाने में समय लगता है।

सेक्स से जुड़े किसी भी मुद्दे पर अगर आपका कोई सवाल है, तो कृपया इस बारे में अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 18/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड