home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

रिलेशनशिप टिप्स: हर रिलेशनशिप में इंटिमेसी होना क्यों जरूरी है?

रिलेशनशिप टिप्स: हर रिलेशनशिप में इंटिमेसी होना क्यों जरूरी है?

सेक्स से पहले हर रिलेशनशिप में इंटिमेसी होना बेदह जरूरी हो सकता है। रिलेशनशिप में इंटिमेसी होने का मतलब सिर्फ शारीरिक संबंध बनाना मात्र नहीं हो सकता है। एक-दूसरे के साथ इंटिमेट होने से कपल एक-दूसरे को और करीब से समझ सकते हैं, जो उनके रिश्ते को और भी ज्यादा मजबूत बना सकता है।

रिलेशनशिप में इंटिमेसी क्या है? What is Intimacy in a Relationship?

रिलेशनशिप में इंटिमेसी(intimacy in relationship) लाने के कई तरीके हो सकते हैं। आप अपने साथी को कई तरीकों से इंटिमेट कर सकते हैं, जिसमें सेक्स भी आ सकता है। हालांकि, उससे पहले साथी को समझने के लिए आप अपने रिलेशनशिप में इंटिमेसी के शुरुआती चरणों का इस्तेमाल करें।

रिलेशनशिप में इंटिमेसी यानी साथी के साथ शारीरिक अतरंगता एक रिश्ते को लंबा बना सकती हैं। हालांकि, रिलेशनशिप में इंटिमेसी का अर्थ सिर्फ सेक्स से नहीं होता है। रिलेशनशिप में इंटिमेसी शारीरिक और भावनात्मक दोनों तरीकों से जुड़ा हुआ होता है। यहां तक की अगर दोनों साथी एक साथ न रहते हुए किसी अलग-अलग शहर में रहते हों, तभी भी रिलेशनशिप में इंटिमेसी उनके रिश्ते को एक मजबूती प्रदान करने का काम करता है। फिजियोलॉजी एंड बिहेवियर जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के मुताबिक, रिलेशनशिप में इंटिमेसी का का अर्थ है कि गैर-यौन स्पर्श तनाव से राहत और विश्राम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

रिलेशनशिप में इंटिमेसी को लेकर यूरोपीय शोधकर्ताओं की एक टीम ने गैर-यौन तरीके से कई कपल्स के रिश्तों को परखा और समझा है। उन्होंने अपने इस अध्ययन में ऐसे ही कुछ कपल शामिल किए जिनके रिश्ते की गहराई और रिश्ते में शामिल प्यार, भरोसे और सेक्स के साथ-साथ रिलेशनशिप में इंटिमेसी की भी जांच की। अध्ययन के दौरान विशेष रूप से, एक साथी को अपनी बाहों को फैला कर एक बिस्तर पर लेटाया गया, जबकि दूसरे साथी को उसके बगल में एक कुर्सी पर बैठाया गया। तब बैठे हुए व्यक्ति को दूसरे लेटे हुए साथी के साथ ठीक उसी तरह अतरंग पलों में आने के लिए कहा गया जैसा वे अपने साथी के साथ करते हैं।

इस अध्ययन के दौरान दोनों साथी के बीच में एक मोटी चादर रखी गई ताकि दोनों एक-दूसरे को न देख सकें और उन्हें निर्देश भी दिया गया कि वो किसी भी तरह की बातें भी नहीं करें। हालांकि, उन्हें इसके बारे में भी नहीं बताया गया कि क्या वे अपने साथी के साथ ऐसा करने जा रहे हैं या किसी अन्य व्यक्ति के साथ। इस दौरान शोधकर्ताओं ने पाया कि जिन कपल्स के बीच रिलेशनशिप में इंटिमेशी (intimacy in relationship) और भावनात्मक स्थिति काफी मजबूत थे, वे सिर्फ एक-दूसरे के दिलों की धड़कन से ही अपने साथी को पहचानने में सफल हो गए थें। हालांकि, जिन साथियों ने अपने सही साथी की पहचान नहीं की उन्हें दूसरे साथी के साथ स्पर्श का अनुभव भी अच्छा लगा था।

सेक्स से पहले रिलेशनशिप में इंटिमेसी क्यों है जरूरी? (Why is Intimacy in Relationship Before Sex Important?)

1.एक-दूसरे को समझने में मदद मिले

सेक्स (sex) से पहले रिलेशनशिप में इंटिमेसी लाने से आप अपने साथी को और भी करीब से समझ सकते हैं। आप भविष्य की योजनाओं के साथ-साथ बीते कल की भी बातें उनके साथ साझा करने में खुशी महसूस करने लगते हैं। हर इंसान का रवैया और व्यवहार अलग-अलग हो सकता है। रिलेशनशिप में इंटिमेसी के जरिए आप दूसरे व्यक्ति के व्यवहार को और भी करीब से समझ और सीख सकते हैं। इसके दोनों एक-दूसरे की इच्छाओं, आशंकाओं के बारे में भी महसूस करते हैं।

2.भरोसा बढ़ाएं

शारीरिक इंटिमेसी किसी भी रिश्ते को मजबूत बना सकता है। हालांकि, इसके लिए यह जरूरी नहीं कि आप सेक्स करें। शारीरिक इंटिमेसी के लिए आप साथी का हाथ पकड़ सकते हैं। उन्हें किस कर सकते हैं। उन्हें छू सकते हैं। जो सेक्स से ज्यादा रोमांचित हो सकती है। ऐसा करने से साथी का आप पर विश्वास भी बढ़ता है। शारीरिक इंटिनेसी कपड़े पहने के दौरान भी की जा सकती है। जो रिश्ते में प्यार के एहसास और शारीरिक इच्छाओं को भी बढ़ावा देगी।

3.एक-दूसरे पर निर्भरता बढ़ाएं

रिलेशनशिप में इंटिमेसी आने से साथी एक-दूसरे पर निर्भर होने लगते हैं। एक-दूसरे पर पूरी तरह निर्भर होना किसी भी रिश्ते के लिए अच्छा नहीं माना जाता है। लेकिन, कुछ हद तक ये आपस में प्यार भी बढ़ा सकता है। जैसे आपको रात में क्या खाना है या कहां घूमना है या फिर आपको अपने फैसले कैसे लेने चाहिए, इसके बारे में आप अपने साथी पर निर्भर हो सकते हैं, जो भावनात्मक रूप से दोनों को मजबूत बना सकती है।

और पढ़ेंः इंटिमेसी की स्टेज से समझें कब करें पहली बार सेक्स, जानिए किस स्टेज पर हैं आप

4.साथी के प्रति उत्तरदायी

रिलेशनशिप में इंटिमेसी आने के बाद खुद-ब-खुद आप साथी के प्रति उत्तरदायी बन जाते हैं। एक-दूसरे की जरूरतों का ख्याल रखना शुरू कर देते हैं। साथ ही, यह एहसास भी दिलाते हैं कि आप उनके जीवन में कितना महत्व रखते हैं। इससे आप दोनों को ही एक-दूसरे को पहचानने और समझने में मदद मिलती है।

5.फिक्रमंद बनाएं

किसी भी रिश्ते में एक-दूसरे की परवाह करना सबसे अहम होता है। एक-दूसरे के लिए फिक्रमंद रहना किसी भी रिश्ते को शारीरिक और भावनात्मक रूप से मजबूत बनाता है। एक-दूसरे की देखभाल के जरिए बिना सेक्स किए भी एक-दूसरे से अपने रिश्ते मजबूत बनाए जा सकते हैं। साथ ही, खुद को एक-दूसरे के साथ सुरक्षित भी महसूस करते हैं।

और पढ़ेंः फोन सेक्स क्या है और कैसे करें?

6.साथी के साथी शारीरिक संबंध (physical relationship) से पहले मानसिक संबंध मजबूत बनाएं

रिलेशनशिप में इंटिमेसी होने से साथी के साथ भावनात्मक और मानसिक संबंध मजबूत बन सकते हैं। यह रिश्ते में बहुत जरूरी है कि एक कपल के रिश्ते में सेक्स से पहले इंटिमेसी होना चाहिए। इससे न सिर्फ दोनों के बीच आपसी समझ बढ़ेगी बल्कि दोनों के रिश्ते को लंबा भी बनाने में मदद करेगा।

7.सेक्स (Sex) की भावनाएं बढ़ाएं

रिलेशनशिप में इंटीमेसी

अगर किसी में सेक्स से जुड़ी कोई मानसिक समस्या है, तो रिलेशनशिप में इंटिमेसी की मदद से सेक्स से जुड़ी उस समस्या को काफी आसानी से दूर किया जा सकता है और सेक्स के जीवन का भरपूर आनंद लिया जा सकता है।

हालांकि, रिलेशनशिप में इंटिमेसी सेक्स के पहले और सेक्स के बाद भी बनाई जा सकती है। अगर किसी भी रिलेशनशिप में भावनाएं होती है, तो वो रिश्ता अधिक मजबूत हो सकता है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो रही है, तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और रिलेशनशिप में इंटिमेसी से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

INTIMACY AND RELATIONSHIPS. https://www.optionsforsexualhealth.org/facts/sex/intimacy-and-relationships/. Accessed on 07 February, 2020.

Relationships – creating intimacy. https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/HealthyLiving/relationships-creating-intimacy. Accessed on 07 February, 2020.

The associations of intimacy and sexuality in daily life. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5987853/. Accessed on 07 February, 2020.

The Power of Touch: Why Physical Intimacy Promotes Relationship Health. https://blogs.iu.edu/kinseyinstitute/2018/02/20/the-power-of-touch-why-physical-intimacy-promotes-relationship-health/. Accessed on 07 February, 2020.

लेखक की तस्वीर
05/09/2019 पर Ankita mishra के द्वारा लिखा
Dr. Hemakshi J के द्वारा मेडिकल समीक्षा
x