आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

स्किन के लिए जरूरी है ग्लाइकोलिक एसिड, जानिए कैसे

स्किन के लिए जरूरी है ग्लाइकोलिक एसिड, जानिए कैसे

फेसवॉश और मॉइश्चराइजर जैसे स्किन केयर प्रोडक्ट तो आप सभी इस्तेमाल करती ही होंगी, लेकिन क्या कभी आपने इसके ट्यूब या बोतल पर लिखी गए इंग्रीडिएंट्स पर गौर किया है? यदि नहीं तो अब देख लीजिए, उसमें ढेर सारी चीजों के नाम लिखे होते हैं जिसमें से एक होता है ग्लाइकोलिक एसिड। आमतौर पर यह क्रीम, लोशन और फेसवॉश में इस्तेमाल किया जाता है। यह एसिड त्वचा को नुकसान नहीं पहुंचाता, बल्कि उसकी खूबसूरती बढ़ाने के काम आता है। ग्लाइकोलिक एसिड किस तरह से स्किन के लिए फायदेमंद होता है, जानिए इस आर्टिकल में।

ग्लाइकोलिक एसिड क्या है?

ग्लाइकोलिक एसिड अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड (alpha hydroxy acid (AHA)) के समूह का एक एसिड है जो स्किन केयर प्रोडक्ट में बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जाता है। यह त्वचा को चमकदार और खूबसूरत बनाने के साथ ही बेहतरीन एक्सफोलिएटर का काम करता है और पिंपल्स की समस्या दूर करने में मददगार है। यह डेड स्किन को हटाकर स्किन पोर्स (रोम छिद्रों) को खोलता है जिससे त्वचा चमकदार बनती है। यह वॉटर सॉल्यूबल यानी पानी में आसानी से घुलने वाला अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड है। अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड समूह के शामिल अन्य एसिड हैं लैक्टिक एसिड, मैलिक एसिड, टारटैरिक एसिड और सिट्रिक एसिड। ग्लाइकोलिक एसिड प्राकृतिक रुप से गन्ने और अंगूर में पाया जाता है।

यह भी पढ़ें- परमानेंट मेकअप ट्रीटमेंट लेने से पहले जान लें ये जरूरी बातें

ग्लाइकोलिक एसिड कैसे काम करता है?

अन्य अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड की तुलना में ग्लाइकोलिक एसिड के अणु काफी छोटे होते हैं, जिससे यह त्वचा में अच्छी तरह समा जाते हैं और दूसरे अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड के मुकाबले त्वचा को असरदार तरीके से एक्सफोलिएट करते हैं। दरअसल, यह स्किन सेल्स को जोड़े रखने वाले सेल्स को ढीला कर देता है जिससे डेड स्किन अपने आप आसानी से निकल जाती है। यह अधिक कोलेजन प्रोटीन बनाने में मदद करता है, कोलेजन प्रोटीन त्वचा को लचीला और कोमल बनाता है। लेकिन उम्र बढ़ने के साथ कोलेजन का प्रोडक्शन अपने आप कम होने लगता है, साथ ही धूप में ज्यादा देर रहने से भी इसे नुकसान पहुंचता है। ऐसे में ग्लाइकोलिक एसिड के रोजाना इस्तेमाल से कोलेजन के नुकसान को रोका जा सकता है।

ग्लाइकोलिक एसिड के फायदे

विशेषज्ञों के मुताबिक, ग्लाइकोलिक एसिड त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होता है। त्वचा में कसाव लाने से लेकर पिंपल्स दूर करने तक इसके कई फायदे हैः

  • फाइन लाइन्स और रिंकल्स हटाने में मदद करता है
  • त्वचा के रोम छिद्रों को कम करता है
  • पिंपल्स हटाने में मददगार
  • डेड स्किन हटाता है
  • स्किन टोन को एक समान करता है
  • धूप से डैमेज हुई स्किन को रिपेयर करता है
  • त्वचा के दाग धब्बों को दूर करता है
  • त्वचा की क्लिंजिंग के साथ ही उसे पोषण देता है

इसका एक फायदा यह भी है कि नई मांए भी इसका इस्तेमाल कर सकती हैं, उनके लिए यह पूरी तरह सुरक्षित है, जबकि कुछ अन्य केमिकल वाले ब्यूटी प्रोडक्ट को प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं को इस्तेमाल न करने की सलाह दी जाती है।

यह भी पढ़ें- बालों के लिए करी पत्ता है काफी फायदेमंद, हेयर ग्रोथ के लिए ऐसे करें इस्तेमाल

इसका इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है?

फेस वॉश, लोशन, पील से लेकर टोनर और केमिकल पील तक में ग्लाइकोलिक एसिड होता है। वैसे बेहतर होगा कि ग्लोइकोलिक एसिड वाला कोई भी ब्यूटी प्रोडक्ट खऱीदने से पहले आप डर्मेटोलॉजिस्ट से सलाह ले लें, क्योंकि वह आपकी स्किन की जरूरत के हिसाब से आपको बेस्ट प्रोडक्ट के बारे में सलाह देगी। आमतौर पर 10% ग्लाइकोलिक एसिड वाले ब्यूटी प्रोडक्ट ही इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है, इससे अधिक की मात्रा वाले प्रोडक्ट का इस्तेमाल डर्मेटोलॉजिस्ट की निगरानी में ही करें। जिनकी त्वचा संवेदनशील और रूखी है उन्हें सिर्फ 5% ग्लाइकोलिक एसिड वाले प्रोडक्ट का ही उपयोग करना चाहिए। इसके अलावा अन्य एसिड के साथ ग्लाइकोलिक एसिड मिलकर आपकी त्वचा को धूप के प्रति अधिक संवेदनशील बना देते हैं, इसलिए बाहर निकलने से पहले सनस्क्रीन जरूर लगाएं और त्वचा को धूप से बचाने के लिए हैट, स्कार्फ आदि का उपयोग करें।

ग्लाइकोलिक एसिड के साइड इफेक्ट

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि ग्लाइकोलिक एसिड त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है, लेकिन कुछ स्किन टाइप के लोगों को हो सकता है यह सूट न करें। आमतौर पर ड्राई और सेंसिटिव स्किन वालों को कुछ साइड इफेक्ट हो सकते हैं जैसे त्वचा पर सूजन, जलन, खुजली आदि। इसलिए रूखी और संवेदनशील त्वचा वालों को डर्मेटोलॉजिस्ट की सलाह से ही ग्लाइकोलिक एसिड वाले प्रोडक्ट का उपयोग करना चाहिए।

यह भी पढ़ें- रखें इन 5 बातों का ध्यान तो कम हो जाएंगी स्किन प्रॉब्लम्स

इस्तेमाल करते समय बरतें सावधानी

यदि आपका स्किन टोन डार्क है तो ग्लाइकोलिक एसिड के इस्तेमाल से पहले डर्मेटोलॉजिस्ट से सलाह जरूर लें, क्योंकि कुछ लोगों के लिए जहां यह बहुत असरदार होता है, वहीं कुछ को इसके इस्तेमाल से परेशानी भी हो सकती है। डार्क स्किन टोन वालों को इरिटेशन और अधिक दाग-धब्बों की समस्या हो सकती है। इन्हें हमेशा कम ग्लाइकोलिक एसिड वाले स्किन केयर प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना चाहिए और वह भी डर्मेटोलॉजिस्ट से सलाह करने के बाद।

इस एसिड की मात्रा उत्पाद में जितना कम होगी उतना ही स्किन पर इसका साइड इफेक्ट कम होगा, इसलिए आमतौर पर 1 ले 10% ग्लाइकोलिक एसिड वाले प्रोडक्ट इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। कई पील में 30 से 40 फीसदी ग्लाइकोलिक एसिड होता है ऐसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल डर्मेटोलॉजिस्ट द्वारा किया जाता है, क्योंकि उन्हें ही इसका सही उपयोग करने का तरीका पता होता है।

इस्तेमाल से जुड़ी जरूरी बातें

यदि आप ग्लाइकोलिक एसिड वाले प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने जा रही हैं, तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिएः

  • यह स्किन को धूप के प्रति अधिक संवेदनशील बना देता है, इसलिए बाहर निकलते वक्त आपको अतिरिक्त सावधानी बरतने की जरूरत है।
  • पहली बार में रोजाना ग्लोइकोलिक एसिड का इस्तेमाल न करें, पहले त्वचा पर होने वाले असर को देख लें। इसलिए इसे हफ्ते में 3 बार लगाकर देखें, यदि आपकी स्किन इरिटेट नहीं होती, लाल नहीं होती है तो आप इसे हफ्ते में चार बार इस्तेमाल कर सकते हैं। इसी तरह धीरे-धीरे आप इसे रोजाना इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन आपकी स्किन यदि कभी इरिटेट होने लगे या लाल हो जाए तो कुछ दिन के लिए इसका इस्तेमाल बंद कर लें और डर्मेटोलॉजिस्ट से इस बारे में बात करें।
  • ग्लाइकोलिक ट्रीटमेंट के शुरुआती कुछ दिनों में आपकी स्किन थोड़ी रुखी और बेजान नजर आती है, लेकिन यदि आपको किसी तरह की इरिटेशन नहीं है तो ग्लाइकोलिक एसिड का इस्तेमाल जारी रखें, कुछ ही दिनों में आपकी त्वचा मुलायम और चमकदार बन जाएगी।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Kanchan Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/08/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड