Calcimax Forte: कैल्सिमैक्स फोर्ट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जून 19, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

फंक्शन

कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte) कैसे काम करता है?

शरीर के सुचारू रूप से काम करने के लिए कैल्शियम बेहद जरूरी है। कैल्शियम शरीर से फास्फेट जैसे पदार्थों को निकालने का भी काम करता है। कैल्सिमैक्स फोर्ट का इस्तेमाल कैल्शियम की कमी से जूझ रहे लोगों का इलाज करने के लिए किया जाता है। इतना ही नहीं कैल्सिमैक्स फोर्ट का अन्य बीमारियों के उपचार में भी इस्तेमाल होता है। बता दें कि इसमें मौजूद एक्टिव इंग्रीडिएंट्स में कैल्शियम कार्बोनेट और विटामिन डी थ्री होता है। कैल्सिमैक्स फोर्ट फिल्म कोटेड टैबलेट के रूप में मौजूद होता है। वहीं इसमें कैल्शियम कार्बोनेट 1000 एमजी, विटामिन डी 3200 आईयू, जिंक सल्फेट मोनोहाइड्रेट 11 एमजी और मैग्नीशियम हाइड्रोक्साइड 240 एमजी के रूप में मौजूद होता है।

डोसेज

कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte) का सामान्य डोज क्या है?

गर्भवती और शिशु को दूध पिलाने वाली महिलाओं को दो टैबलेट प्रतिदिन और मासिक धर्म के दौरान तीन टैबलेट प्रतिदिन लेने की सलाह दी जाती है, लेकिन इसके लिए जरूरी है कि पहले डॉक्टरी सलाह ले लें। यदि आपके डॉक्टर ने इस दवा का सेवन करने की सलाह दी है तो जरूरी है कि कुछ मेडिकल टेस्ट करवाने चाहिए जैसे कैल्शियम लेवल की जांच। ताकि दवा का सेवन करने के दौरान आप ठीक हो रहे हैं या नहीं इसको लेकर समय-समय पर पता चल सके।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

कई बार इस दवा का ओवरडोज ले लेने से सांस लेने में तकलीफ हो सकती है। ऐसे में जल्द से जल्द इमरजेंसी उपचार करवाना चाहिए। इतना ही नहीं ओवरडोज होने पर मरीज को जी मचलाना, उल्टी, भूख में कमी, मूड बदलना, सिर दर्द, सिर चकराना, कमजोरी और थकान का अहसास हो सकता है। शरीर में इस प्रकार के बदलाव दिखने पर जरूरी है कि जल्द से जल्द डॉक्टरी सलाह लें।

कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte) की खुराक मिस हो जाए तो क्या करूं?

यदि कोई व्यक्ति इस दवा का सेवन करना भूल जाता है तो जरूरी है कि जितना जल्दी संभव हो दवा का सेवन करना चाहिए। वहीं यदि अगले वाले डोज का समय हो गया है तो छूटी हुई डोज को भूलकर अगली डोज को निर्धारित समय पर लें। एक साथ डबल डोज का सेवन न करें। जल्दी ठीक होने की चाह में अतिरिक्त दवा का सेवन करने से परहेज करना चाहिए।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

और पढ़ें : Sizodon: सिजोडोन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

वैसे तो इस दवा का इस्तेमाल व्यक्ति के लक्षणों आदि को देखते हुए डॉक्टर करते हैं। इस दवा का इस्तेमाल कर ऐसे मरीजों का इलाज किया जाता है जिन्हें डायट व खानपान के द्वारा पर्याप्त कैल्शियम नहीं मिल पाता। लो ब्लड कैल्शियम लेवल का उपचार करने के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है। कैल्सिमैक्स फोर्ट का इस्तेमाल ऑस्टियोपोरोसिस की बीमारी में लो कैल्शियम लेवल का उपचार करने के लिए करने के साथ कमजोर हड्डियां, (ऑस्टियोमलेशिया/रिकेट्स) हाइपोथायराॅइडिज्म के साथ कुछ मसल्स डिजीज का इलाज में किया जाता है।

महिलाएं जिन्हें पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम नहीं मिलता है उनको यह दवा दी जाती है। उदाहरण के तौर पर गर्भवती महिलाएं, कामकाजी महिलाएं और मेनोपॉज के बाद ये दवा दी जाती है।

कैल्शियम शरीर के लिए काफी अहम भूमिका निभाता है। शरीर सुचारू रूप से काम करे इसलिए नर्व, सेल्स, मसल्स और हड्डियों को यह ताकत पहुंचाने का काम करता है। हमारे खून में जब पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम न हो तो उस स्थिति में हमारा शरीर हड्डियों से कैल्शियम लेता है। ऐसा होने से हड्डियां कमजोर पड़ जाती हैं। ऐसे में मजबूत हड्डियों के लिए शरीर में कैल्शियम का होना बेहद जरूरी है।

इस दवा की चबाने वाली टैबलेट में शुगर की मात्रा होती है। ऐसे में डायबिटीज से ग्रसित मरीजों को काफी सावधानी से दवा का सेवन करना चाहिए। सुरक्षित रूप से दवा का सेवन करने के लिए जरूरी है कि ऐसे मरीजों को डॉक्टरी सलाह लेना चाहिए। निम्न पदार्थों से नैचुरल तरीके से विटामिन डी और कैल्शियम प्राप्त कर सकते हैं।

  • विटामिन डी युक्त खाद्य पदार्थ :  डेयरी प्रोडक्ट के साथ अंडे, कॉड लिवर ऑयल, चिकन का लिवर, फैटी फिश, सूर्य की रोशनी में जाने से भी विटामिन डी मिलता है।
  • कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ :  डेयरी प्रोडक्ट जैसे दही, चीज, आइसक्रीम, हरी साक सब्जियां, हरी गोभी, पालक, ऑरेंज जूस का सेवन करने से भारी मात्रा में शरीर को कैल्शियम मिलता है।

और पढ़ें : Mucolite Drops : म्यूकोलाइट ड्रॉप क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

साइड इफेक्ट्स

कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

संभावनाएं रहती है कि इस दवा का सेवन करने के कारण कहीं मरीज में नकारात्मक असर न दिखें। मेजर रिएक्शन की स्थिति में जरूरी है कि मरीज जल्द से जल्द डॉक्टरी सलाह ले नहीं तो स्थिति और गंभीर हो सकती है।

इस दवा का सेवन करने के साथ यदि मरीज हाई फाइबर डायट ले लें तो उसे डायरिया की शिकायत हो सकती है। ऐसे मरीज जिनमें हार्मोन डिसऑर्डर या फिर पैराथायराॅइड ग्रंथि सहित किडनी डायलिसिस और अन्य कैल्शियम से संबंधित समस्या है उसे डॉक्टरी सलाह जरूर लेना चाहिए।

कैल्सिमैक्स फोर्ट का सेवन करने से होने वाले माइनर साइड इफेक्ट्स

मेजर साइड इफेक्ट पर एक नजर

  • असामान्य रूप से थकान और कमजोरी का अहसास
  • अत्यधिक बैचेनी
  • उल्टी
  • मूड व मानसिक स्वास्थ्य का बदलना
  • भूख में कमी

इन रोगों से ग्रसित मरीजों को कैल्सिमैक्स फोर्ट लेने की नहीं दी जाती है यह दवा

  • गंभीर गुर्दे की बीमारी से ग्रसित मरीजों को इस दवा का सेवन नहीं करने की सलाह दी जाती है।
  • इस दवा में मौजूद तत्वों से हाइपरसेंसिटिविटी और एलर्जी होने की स्थिति में मरीज को यह दवा नहीं दी जाती है।
  • हाइपरकैल्शिमिया

और पढ़ें : Mucopain gel: म्यूकोपेन जेल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानी और चेतावनी

कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

  • एलर्जी : इस दवा का सेवन करने के पूर्व यदि आप पहले से किसी दवा का सेवन कर रहे हैं तो जरूरी है कि उनके बारे में डॉक्टर को बताना चाहिए। वहीं यदि आपको इस दवा में मौजूद तत्वों जैसे विटामिन डी प्रोडक्ट्स जैसे कैलीसिट्रोल से एलर्जी है तो इसका सेवन नहीं करना चाहिए। इस दवा में कई इन एक्टिव इंग्रीडिएंट्स पाए जाते हैं जिसके कारण एलर्जी हो सकती है। इसलिए जरूरी है कि इस मामले में डॉक्टरी सलाह जरूर ले लें।
  • कोई बीमारी होने पर : यदि आपको कोई बीमारी है या फिर पूर्व में कोई बीमारी रही हो तो जरूरी है कि मेडिकल हिस्ट्री के बारे में डॉक्टर को जरूर बताएं। जैसे हार्ट/ब्लड वेसल्स डिजीज, किडनी स्टोन,किडनी डिजीज, सारकोडोसिस सहित कई इम्यून डिसऑर्डर डिजीज, लिवर डिजीज, कुछ प्रकार के बाॅवेल डिजीज, कम या ज्यादा स्टमक एसिड, लो लेवल बाइल, फास्फेट इम्बैलेंस का इलाज नहीं करवाने पर इस दवा का सेवन नहीं करने की सलाह दी जाती है।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte) को लेना सुरक्षित है?

यदि आप गर्भवती हैं तो जरूरी है कि इस दवा का सेवन करने के पहले डॉक्टरी सलाह लें। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को विटामिन डी की खुराक दी जाती है। ऐसे में यह दवा देने से अतिरिक्त खुराक हो सकती है। जरूरी है कि ऐसे मामलों में डॉक्टरी सलाह ली जाए। वहीं शिशु को दूध पिलाने वाली महिलाओं को भी इस दवा का सेवन करने के पूर्व डॉक्टरी सलाह लेना चाहिए।

और पढ़ें : Caldikind Plus: कैलडिकाइंड प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte)  के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

यह दवा अलग-अलग लोगों पर अलग अलग तरीके से रिएक्शन करती है। ऐसे में डॉक्टरी सलाह लेने के बाद ही दवा का उपयोग करना चाहिए। बता दें कि कुछ दवाओं के साथ कैल्सिमैक्स फोर्ट का यदि सेवन करें तो रिएक्शन हो सकता है, जैसे

  • डिजोक्सीन (लेनोक्सीन, लेनोक्सीकैप्स)
  • एल्युम्युनियम और कैल्शियम युक्त एनटाएसिड
  • अन्य कैल्शियम सप्लीमेंट
  • रोकलट्रोल और विटामिन डी सप्लीमेंट
  • ट्रेटासाइक्लीन एंटीबायटिक (tetracycline antibiotic) जैसे समीसिन, एक्रोमाइसि वी व अन्य।डिक्लोमाइसिन, मीनोसाइक्लीन (मीनोसिन, डायनासिन) और ऑक्सीटेट्रासाइक्लीन (टेट्रामाइसिन और अन्य)।

इस दवा का सेवन करने के दौरान मरीज को कैल्शियम सिट्रेट लेने की सलाह नहीं दी जाती है। ऐसे में मरीज की क्लीनिकल कंडिशन को भांपते हुए डोज एडजस्टमेंट के साथ इस दवा को छोड़ वैकल्पिक दवाओं के द्वारा मरीज का इलाज किया जाता है।

बता दें कि ऐसी दवाएं जो यहां पर अंकित नहीं की गई हैं संभावनाएं हैं कि वे भी इस दवा के साथ रिएक्ट कर सकती हैं। इसलिए डॉक्टर को उपयोग करने वाली सभी दवाओं की जानकारी दें। साथ ही कोई भी नकारात्मक लक्षण दिखने पर जल्द से जल्द डॉक्टरी सलाह ली जाए।

क्या कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte) भोजन या एल्कोहॉल के साथ रिएक्शन करती है?

इस दवा का सेवन करने के साथ शराब का सेवन नहीं करने की सलाह दी जाती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि संभावनाएं रहती हैं कि कुछ साइड इफेक्ट्स हों। इसलिए जरूरी है कि यदि आप इस दवा के साथ शराब का सेवन करने की सोच रहे हैं तो डॉक्टर की सलाह लें।

और पढ़ें : Acemiz MR : एसीमिज एमआर क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्टोरेज

कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte) को कैसे करूं स्टोर?

कैल्सिमैक्स फोर्ट को घर में सामान्य रूम टेम्प्रेचर पर सूर्य की सीधी किरणों से बचाकर रखें। 25 डिग्री तापमान दवा के लिए बेस्ट है, लेकिन फ्रिज में रखने की गलती कतई न करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो यह दवा सामान्य रूप से काम नहीं कर पाएगी। इसके अलावा इसे बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखें। दवा को एयरटाइट कंटेनर में रख सकते हैं। दवा को फ्लश नहीं करना चाहिए, इससे पर्यावरण को नुकसान पहुंच सकता है। दवा एक्सपायर हो जाए तो उसे कैसे डिस्पोज करना है उसको लेकर फॉर्मासिस्ट से सलाह लेनी चाहिए।

कैल्सिमैक्स फोर्ट (Calcimax Forte) किस रूप में उपलब्ध है?

  • टैबलेट
  • सस्पेंशन

इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए डाॅक्टरी सलाह लें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

कोरोना वायरस से जंग में शरीर का साथ देगा विटामिन-डी, फायदे हैं अनेक

कोरोना वायरस और विटामिन-डी : क्या आप जानते हैं कि विटामिन-डी (Vitamin D) का सेवन करके आप कोरोना वायरस से बचाव कर सकते हैं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mona narang
कोविड 19 की रोकथाम, कोरोना वायरस अप्रैल 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

नॉनवेजिटेरियन और वेजिटेरियन दोनों के लिए परफेक्ट है ये डायट, दोनों जान लें इसके बारे में

फ्लेक्सिटेरियन डायट क्या है? फ्लेक्सिटेरियन डायट को कैसे फॉलो किया जाता है? फ्लेक्सिटेरियन डायट में किन चीजों को खाना चाहिए और किनको नहीं ये सारी जानकारी मिलेगी इस आर्टिकल में। flexitarian diet के फायदे क्या हैं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mona narang

विटामिन सप्लीमेंट्स लेना कितना सुरक्षित है? जानें इसके संभावित खतरे

विटामिन सप्लीमेंट्स क्या हैं? कैसे लिए जाते हैं, जानें विटामिन सप्लीमेंट्स के प्रकार in hindi, vitamin suppliments in hindi। कई बार भोजन से कुछ पोषक तत्व नहीं मिल पाते, ऐसे में विटामिन सप्लीमेंट्स लिए जाते हैं, लेकिन अपनी मर्जी से सप्लीमेंट्स लेना क्या सुरक्षित है, जानिए यहां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन फ़रवरी 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

चावल के आटे के घरेलू उपयोग के बारे में कितना जानते हैं आप?

चावल के आटे के घरेलू उपयोग करके स्किन की समस्याओं से निजात पाया जा सकता है। चावल के आटे का यूज शहद, खीरे, दूध, आलू का रस आदि के साथ किया जा सकता है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन फ़रवरी 11, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

वेजीटेरियन डाइट

वर्ल्ड वेजीटेरियन डे : ये 10 शाकाहारी खाद्य पदार्थ मीट से कहीं ज्यादा ताकतवर

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ सितम्बर 4, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Calcimax P, कैल्सिमैक्स पी

Calcimax P: कैल्सिमैक्स पी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ जून 29, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
शेलकॉल एचडी

Shelcal Hd: शेलकॉल एचडी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ जून 16, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
Cardivas : कार्डिवैस, कार्विडिलोल

Cardivas : कार्डिवैस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
प्रकाशित हुआ जून 15, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें