Montelukast : मोंटेलुकास्ट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट सितम्बर 4, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

जानिए मूल बातें

मोंटेलुकास्ट (Montelukast) का इस्तेमाल किसके लिए किया जाता है?

मोंटेलुकास्ट का इस्तेमाल दमा के कारण होने वाली श्वास संबंधी समस्याओं (सांस फूलना या सांस लेने में तकलीफ आदि) और अस्थमा-अटैक को कम करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा इस दवा का उपयोग व्यायाम के दौरान सांस लेने की समस्याओं (ब्रोन्कोस्पास्म) को रोकने के लिए एक्सरसाइज से पहले किया जाता है। मोंटेलुकास्ट के प्रयोग से इंहेलर की आवश्यकता कम पड़ती है। मोंटेलुकास्ट को हे फीवर (hay fever) और एलर्जिक राइनाइटिस (allergic rhinitis) के लक्षणों (जैसे छींकना, नाक का बहना / खुजली होना / नाक का भरा हुआ लगना) को दूर करने के लिए भी लिया जा सकता है।

यह दवा तुरंत काम नहीं करती है इसलिए अचानक हुए अस्थमा-अटैक या सांस की अन्य समस्याओं के इलाज के लिए इसका इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए। मोंटेलुकास्ट कुछ प्राकृतिक पदार्थों (ल्यूकोट्राइनेस) को अवरुद्ध करके काम करती है, जो अस्थमा और एलर्जी का कारण हो सकते हैं। यह दवा वायुमार्ग में आई सूजन को कम करके श्वास लेने की प्रक्रिया को आसान बनाने में मदद करती है।

और पढ़ें : Conjunctivitis : कंजेक्टिवाइटिस क्या है? जाने इसके कारण ,लक्षण और उपाय

मुझे मोंटेलुकास्ट का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

इस दवा का सेवन डॉक्टर द्वारा निर्देशित खाने के साथ या खाने के बाद किया जा सकता है। दवा की खुराक आपकी चिकित्सा स्थिति और उपचार की प्रक्रिया पर आधारित होती है। यदि आप चबाने वाली टेबलेट्स ले रहे हैं, तो निगलने से पहले उन्हें अच्छी तरह से चबाएं। अगर आपका बच्चा दवा को सुरक्षित रूप से चबा और निगल नहीं सकता है, तो डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

इस दवा को हर दिन एक ही समय पर लें। यदि आप दवा अस्थमा, एलर्जी या दोनों स्वास्थ्य स्थितियों के उपचार के लिए ले रहे हैं, तो शाम के समय खुराक लें। लेकिन, अगर आप केवल एलर्जी के लिए मोंटेलुकास्ट का सेवन कर रहे हैं, तो सुबह या शाम आप अपनी खुराक ले सकते हैं।

अगर आप यह दवा, व्यायाम के दौरान होने वाली सांस की समस्याओं को रोकने के लिए ले रहे हैं, तो एक्सरसाइज करने से कम से कम दो घंटे पहले अपनी खुराक लें। 24 घंटे में एक से अधिक खुराक न लें। यदि आप पहले से ही अस्थमा या एलर्जी के लिए इस दवा ले रहे हैं, तो व्यायाम से पहले इसकी अतिरिक्त खुराक न लें। ऐसा करने से साइड इफेक्ट का खतरा बढ़ सकता है।

डॉक्टर से परामर्श के बिना इस दवा का उपयोग न करें और न ही इसकी खुराक कम करें या बंद करें। अस्थमा को कंट्रोल करने के लिए नियमित रूप से इस दवा का उपयोग करना जारी रखें। चाहे अस्थमा के कोई लक्षण दिखें या न दिखें। डॉक्टर द्वारा निर्देशित अस्थमा के लिए अन्य दवाएं लेना भी जारी रखें। इस दवा को काम करने में समय लगता है और अचानक हुए अस्थमा अटैक से राहत देने के लिए उपयोगी नहीं है। इसलिए यदि अस्थमा का दौरा पड़ता है या सांस लेने में परेशानी होती है, तो डॉक्टर द्वारा बताए गए क्विक रिलीफ इंहेलर का उपयोग करें। आपको हमेशा अपने साथ क्विक रिलीफ इंहेलर रखना चाहिए। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

अगर आपका इंहेलर तत्कालीन स्थिति में असर नहीं कर रहा है या अस्थमा के लक्षण जैसे यदि सांस लेने में तकलीफ, एलर्जी बिगड़ रहे हैं, तो तुरंत चिकित्सीय मदद लें।

और पढ़ें : Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate : गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

 मैं मोंटेलुकास्ट को कैसे स्टोर करूं?

मोंटेलुकास्ट को हमेशा रूम टेंपरेचर पर ही स्टोर करें। इसे सूर्य की सीधी रोशनी या नमी से दूर रखें। इस दवा के अलग-अलग ब्रांड हो सकते हैं, जिनको स्टोर करने के दिशा-निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। स्टोर करने के लिए दवा के पैकेज पर लिखे हुए जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिहाज से आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे न ही टॉयलेट में फ्लश करें और न ही नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

और पढ़ें : Dementia : डेमेंशिया क्या है?

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

सावधानियां और चेतावनी

मोंटेलुकास्ट का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

मोंटेलुकास्ट लेने से पहले यह जान लें,

  • अगर आपको मॉन्टेलुकास्ट या किसी अन्य दवा से एलर्जी है, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं ।
  • अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट को बताएं आप कौन से नुस्खे, गैर-पर्चे वाली दवाएं, विटामिन, न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट्स और हर्बल उत्पाद ले रहे हैं या लेने की योजना बना रहे हैं। यदि फेनोबार्बिटोन (phenobarbital) और रिफाम्पिन (रिफैडिन, रिमैक्टेन) का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो डॉक्टर को जरूर बताएं। डॉक्टर को आपकी दवाओं की खुराक को बदलने की आवश्यकता पड़ सकती है।
  • अगर आपको लिवर की बीमारी है या पहले कभी रही हो।
  • यदि आप गर्भवती हैं, प्रेग्नेंसी प्लानिंग कर रही हैं या स्तनपान करा रही हैं, तो डॉक्टर को बताएं। यदि आप मोंटेलुकास्ट लेते समय गर्भवती हो जाती हैं, तो अपने डॉक्टर को सूचित करना न भूलें।
  • यह पहले से ही पता होना चाहिए कि आप मोंटेलुकास्ट लेने से आपके मानसिक स्वास्थ्य में कुछ बदलाव हो सकते हैं। अगर आपको निम्न लक्षणों में से कोई भी अनुभव होता है, तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर को बताना चाहिए जैसे-व्याकुलता, आक्रामक व्यवहार, चिंता, चिड़चिड़ापन, असामान्य सपने, मतिभ्रम (ऐसी चीजें दिखना या आवाजें सुनाई देना जो मौजूद नहीं हैं), अवसाद, सोने में कठिनाई या नींद की कमी। बेचैनी, नींद में चलना, आत्महत्या का विचार आना या कोशिश करना, कंपकंपी (शरीर के एक हिस्से में अनियंत्रित कंपन)। इस स्थिति में आपका डॉक्टर तय करेगा कि क्या आपको यह दवा लेना जारी रखना चाहिए या नहीं।
  • यदि आपको फिनाइलकेटोनुरिया (पीकेयू, एक आनुवंशिक स्थिति जिसमें मानसिक मंदता को रोकने के लिए एक विशेष आहार का पालन किया जाता है) है, तो आपको पता होना चाहिए कि चबाने वाली टेबलेट्स में एस्पार्टेम होता है, जो फेनिलएलनिन बनाता है।
  • मोंटेलुकास्ट के सेवन से चर्ग-स्ट्रॉस सिंड्रोम हो सकता है। इसलिए अगर मरीज को कभी वैसक्यूलाइटिस रहा है, तो उसे यह मेडिसिन नहीं लेना चाहिए।

और पढ़ें : Lomotil : लोमोटिल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या गर्भावस्था या स्तनपान के दौरान मोंटेलुकास्ट को लेना सुरक्षित है?

अभी तक पर्याप्त अध्ययन नहीं हैं कि गर्भावस्था के दौरान या स्तनपान के दौरान मोंटेलुकास्ट का उपयोग करना कितना सुरक्षित है। मोंटेलुकास्ट लेने से पहले उससे होने वाले लाभों और साइड इफेक्ट्स के बारे में हमेशा अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

और पढ़ें : क्या जानते हैं सांस लेने के ये 13 रोचक तथ्य?

जानिए इसके साइड इफेक्ट्स

मोंटेलुकास्ट के दुष्प्रभाव क्या हैं?

यदि आपको एलर्जी रिएक्शन के इन लक्षणों में से कोई भी दिखे, तो तुरंत चिकित्सिय सहायता लें। जैसे-पित्ती, सांस लेने मे तकलीफ, चेहरे, होंठ, जीभ या गले में सूजन

अपने डॉक्टर से इस स्थिति में बिना देरी के सलाह लें, अगर आपको ये गंभीर दुष्प्रभाव दिखें। जैसे:

  • त्वचा पर लाल चकत्ते, तेज झुनझुनी, सुन्नपन्न, दर्द, मांसपेशियों की कमजोरी
  • मनोदशा या व्यवहार में परिवर्तन, चिंता, डिप्रेशन या आत्महत्या या खुद को चोट पहुंचाने के बारे में सोचना
  • झटके लगना या कंपकंपी
  • आसानी से खरोंच लग जाना, असामान्य रक्तस्राव (नाक, मुंह, वजाइना या गुदा से), त्वचा के निचली सतह पर बैंगनी या लाल रंग के स्पॉट
  • साइनस का दर्द, सूजन, या जलन
  • अस्थमा के बिगड़ते लक्षण
  • गंभीर स्किन रिएक्शन – बुखार, गले में खराश, चेहरे या जीभ में सूजन, आंखों में जलन, त्वचा में दर्द के बाद लाल या बैंगनी रंग के चकत्ते पड़ जाते हैं जो (विशेषकर चेहरे या ऊपरी शरीर में) फैल जाते हैं और आगे चलकर छालों का कारण बनता है।
  • चर्ग-स्ट्रॉस सिंड्रोम

कुछ कम गंभीर दुष्प्रभाव हैं:

  • सिरदर्द
  • पेट-दर्द, सीने में जलन, पेट खराब होना, मतली, दस्त
  • दांत-दर्द
  • थकान महसूस होना
  • बुखार, नाक का भरा हुआ लगना, गले में खराश, खांसी, गला बैठना
  • हल्के दाने

हो सकता है हर कोई इन दुष्प्रभावों का अनुभव न करें। ऊपर बताए गए साइड इफेक्ट्स के अलावा भी कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं। यदि आपको किसी भी लक्षण के बारे में कोई शंका है, तो कृपया अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

और पढ़ें : Asthma : अस्थमा क्या है? जानें इसके कारण , लक्षण और इलाज

इन जरूरी बातों को जानें

कौन-सी दवाएं मोंटेलुकास्ट के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

मोंटेलुकास्ट के साथ अगर किसी तरह की अन्य दवा का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो उससे होने वाली परेशानियों के बारे में पहले अपने डॉक्टर से बात करें। डॉक्टर की सलाह के बिना इसका सेवन न करें और न ही इसकी खुराक को किसी दूसरी दवा के साथ बदलें। किसी भी तरह के साइड इफेक्ट्स से बचने के लिए आपको उन सभी दवाओं की एक लिस्ट रखनी चाहिए, जिनका आप उपयोग कर रहे हैं (जिसमें डॉक्टर के पर्चे वाली दवाएं, गैर-पर्चे वाली दवाएं और हर्बल प्रोडक्ट्स शामिल हैं) और इसे अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट को दिखाएं। सुरक्षा के लिए, अपने डॉक्टर की स्वीकृति के बिना किसी-भी दवा  को शुरू न करें, न ही दवा को लेना बंद करें और न ही खुराक को बदलें। विशेषकर अगर आप ये दवाएं ले रहे हैं:

  • क्लोजापिन (Clozapine)
  • कोबीसीस्टट (Cobicistat)
  • निलोटिनिब (Nilotinib)
  • पिक्सट्रोन (Pixantrone)
  • जेमफिब्रोजील (Gemfibrozil)
  • प्रेडनिसोलोन (Prednisone)

और पढ़ें : Ceftriaxone: सेफ्ट्रायक्सोन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ मोंटेलुकास्ट का इस्तेमाल किया जा सकता है?

भोजन या एल्कोहॉल के साथ मोंटेलुकास्ट का सेवन, दवा के काम करने के तरीके को बदल सकता है और इससे साइड इफेक्ट्स का खतरा भी बढ़ सकता है। अपने डॉक्टर को इसके बारे में बताएं। कुछ मामलों में इसके परिणाम खतरनाक साबित हो सकते हैं। विशेषकर अगर आप चकोतरे का जूस का सेवन करते हैं।

मोंटेलुकास्ट खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

मोंटेलुकास्ट का इस्तेमाल आपके सेहत के लिए कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपने मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें।

इन स्थितियों में बरतें सावधानी

  • अगर आपको एस्पिरिन से एलर्जी है
  • NSAIDs (नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लमेटरी ड्रग्स) से एलर्जी (जैसे, सेलेकोक्सीब, इबूप्रोफेन, नेप्रोक्सेन, एडविल, अलीव, या मॉर्टिन)।
  • फेनिलकेटोनुरिया (पीकेयू) – चबाने वाली टेबलेट्स में एस्पार्टेम होता है, जो इस स्थिति को बदतर बना सकता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

International Olympic Day : डेविड बैकम से लेकर पीटर वेंडरके तक अस्थमा से जूझ रहे हैं ये एथलीट

एथलीट्स में अस्थमा की जानकारी in hindi. खिलाड़ी में अस्थमा की बीमारी होने के का मतलब है दोगुनी चुनौती। लेकिन ऐसे कुछ एथलीट्स हैं, जिन्होंने अस्थमा की समस्या से लड़ते हुए खेलों में बेहतरीन प्रदर्शन किया। Athletes me asthma

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi

 बच्चों में अस्थमा की बीमारी होने पर क्या करना चाहिए ?

बच्चों में अस्थमा की बीमारी काफी कॉमन हो गई है, इससे बचाव के लिए जरूरी है कि इसके लक्षणों की पहचान कर डॉक्टरी सलाह ली जाए, जानिए जरूरी पेरेंटिंग टिप्स।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
हेल्थ सेंटर्स, अस्थमा मई 13, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

Premenstrual Dysphoric Disorder (PMDD) : प्रीमेंस्ट्रुअल डिस्फोरिक डिसऑर्डर क्या है?

जानिए प्रीमेंस्ट्रुअल डिस्फोरिक डिसऑर्डर क्या है। प्रीमेंस्ट्रुअल डिस्फोरिक डिसऑर्डर के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, इसको ठीक करने के लिए घरेलू उपाय जानें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anoop Singh
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z अप्रैल 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

प्रेग्नेंसी में अस्थमा की दवाएं खाना क्या बच्चे के लिए सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी में अस्थमा की दवाएं कैसे खाएं, प्रेग्नेंसी में दमा की समस्या का उपचार, Pregnancy me Asthma का इलाज, Asthma and Pregnancy का बच्चे पर असर।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita Mishra
प्रेग्नेंसी प्लानिंग, प्रेग्नेंसी अप्रैल 9, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

डैजिट एम टैबलेट

Dazit M Tablet : डैजिट एम टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 18, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
फोराकोर्ट 200 इनहेलर Foracort 200 Inhaler

Foracort 200 Inhaler : फोराकोर्ट 200 इनहेलर क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ अगस्त 5, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
म्युसिनैक टैबलेट

Mucinac Tablet : म्युसिनैक टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जुलाई 9, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
A - Z होम रेमेडीज

A-Z होम रेमेडीज: इन बीमारियों के लिए फायदेमंद हैं ये घरेलू नुस्खे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Niharika Jaiswal
प्रकाशित हुआ जून 8, 2020 . 22 मिनट में पढ़ें