home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol: पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामडोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol: पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामडोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इस्तेमाल

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल (Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol) का इस्तेमाल किसके लिए किया जाता है?

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल दो दवाओं का मेल है जिसका प्रयोग दर्द से राहत पाने में किया जाता है। इसमें एसिटामिनोफेन का उपयोग दर्द को दूर करने के लिए किया जाता है, और यह बुखार को भी कम सकती है।

पेरासिटामोल/एसिटामिनोफेन एक एनाल्जेसिक है जो दर्द पैदा करने वाले केमिकल मेसेंजर्स को ब्लॉक करता है। जबकि ट्रामडोल एक ओपिओइड एनाल्जेसिक है जो मस्तिष्क में दर्द के संकेतों को कम करके दर्द का अनुभव कम होने देता है।

और पढ़ें : Paracetamol : पैरासिटामोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • जब भी आप कोई दवाई लेते हैं तो उस मेडिकल गाइड को अवश्य पढ़ें जो आपके डॉक्टर या फार्मासिस्ट ने आपको दी है। अगर कोई सवाल है तो डॉक्टर या फार्मासिस्ट से पूछें।
  • दर्द से मुक्ति पाने के लिए हर 4 से 6 घंटे बाद इस दवाई को मुंह के माध्यम से डॉक्टर की सलाह के अनुसार लें। आप इस दवाई को खाने के साथ या बिना भी ले सकते हैं। यदि आपको मतली है, तो भोजन के साथ इस दवा को लेने में मदद मिल सकती है।
  • इसकी डोज आपकी मेडिकल स्थिति और अन्य कंडिशंस पर निर्भर करती है। इसके साइड इफेक्ट्स की संभावना को कम करने के लिए पहले डॉक्टर आपको कम डोज दे सकते हैं और उसके बाद इसकी डोज को बढ़ा सकते हैं। डॉक्टर की सलाह का पालन करें। एकदम इसकी डोज न तो बढ़ाएं न ही कम करें।
  • अगर आप इस दवाई को एकदम से लेना बंद कर देते हैं तो आपको कुछ परेशानियां हो सकती हैं। जैसे मूड में बदलाव, बेचैनी, तनाव, नाक बहना, डायरिया आदि। ऐसे में अपने डॉक्टर को अवश्य बताएं।
  • अगर आप लंबे समय तक इस दवाई का प्रयोग करते हैं तो हो सकता है कि यह काम करना बंद कर दे। इस स्थिति में भी डॉक्टर को बताएं और सही राय लें।
  • कई लोगों को इस दवाई की आदत पड़ जाती है। लेकिन इससे कई विकार होने की संभावना होती है। इसलिए केवल डॉक्टर की सलाह के बाद ही इस दवाई को लें।

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल को कैसे स्टोर करूं?

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल को हमेशा रूम टेंपरेचर पर ही स्टोर करना चाहिए। इसे धूप के सीधे प्रकाश या नमी से दूर रखें। इसे डैमेज होने से बचाने के लिए कभी भी इसे फ्रीज में स्टोर करके न रखें। स्टोर से जुड़ी जानकारी जुटाने के लिए दवा के पैकेज पर लिखे हुए जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर, डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे न ही टॉयलेट में फ्लश करें और न ही नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से पूछें।

सावधानियां और चेतावनी

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल (Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

  • इस दवाई को लेने से पहले अपने डॉक्टर को अवश्य बताएं अगर आपको ट्रामडोल या पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन में से किसी से एलर्जी हो। इस उत्पाद में कुछ ऐसे तत्व हो सकते हैं जो एलर्जी या अन्य समस्याएं पैदा कर सकते हैं। अपने डॉक्टर या फार्मसिस्ट से बात करें।
  • इस दवाई के प्रयोग से पहले डॉक्टर को अपनी मेडिकल हिस्ट्री अवश्य बताएं। खासतौर पर अगर आपको कोई दिमागी विकार हो (जैसे ट्यूमर, सीज़र, सिर में चोट आदि), सांस संबंधी समस्या हो (जैसे अस्थमा, COPD), किडनी, लिवर, दिमागी समस्या, मूत्र त्याग में समस्या, कब्ज, पेट/ आंतों में समस्या मोटापा आदि।
  • पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल दवाईयां दिल की धड़कन (QT prolongation) को प्रभावित कर सकती है। QT prolongation से तेज या असामान्य दिल की धड़कन या अन्य लक्षण दिखाई दे सकते हैं।
  • कोई भी सर्जरी होने से पहले डॉक्टर या डेंटिस्ट को उन सभी उत्पादों के बारे में अवश्य बता दें जिनका प्रयोग आप कर रहे हैं।
  • कुछ बच्चों में ट्रेमेडोल के कुछ गंभीर प्रभाव देखने को मिल सकते हैं जैसे अनिद्रा, बैचैनी, सांस लेने में परेशानी आदि।

और पढ़ें : Acetaminophen : एसिटामिनोफेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल लेना सुरक्षित है?

गर्भावस्था में इस दवाई का प्रयोग तभी करना चाहिए जब बहुत अधिक आवश्यकता हो। यह गर्भ में पल रहे शिशु के लिए नुकसानदायक हो सकती है। अपने डॉक्टर से इस दवाई के फायदों और जोखिमों के बारे में बात करें। यह दवाई ब्रेस्ट मिल्क से पास होती है, जिससे ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इस दवाई को लेने से शिशु को नुकसान हो सकता है। इसके लिए भी डॉक्टर की सलाह लें।

जानिए इसके साइड इफेक्ट्स

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल (Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol) के साइड इफेक्ट्स

  • जी मिचलाना, उलटी, चक्कर आना, कब्ज, अनिद्रा या पसीना आना आदि इस दवाई के साइड इफ़ेक्ट हो सकते हैं। अगर अधिक समय से इस दवाई का प्रयोग कर रहे हैं तो यह साइड इफेक्ट कम हो सकते हैं। अगर यह दुष्प्रभाव अधिक हों तो डॉक्टर से तुरंत मिलें।
  • कब्ज से बचने के लिए फाइबर युक्त आहार लें, कसरत करें और खूब सारा पानी पिएं। आपको एक रेचक लेने की भी आवश्यकता हो सकती है। अपने फार्मासिस्ट से पूछें कि किस प्रकार का रेचक आपके लिए सही है।
  • याद रखें यह दवाई आपके फायदे के लिए है और इस दवाई से बहुत कम साइड इफेक्ट देखने को मिलते हैं। अगर आपको गंभीर साइड इफेक्ट देखने को मिल रहे हैं जैसे सोते हुए सांस का असामान्य होना, मूड में बदलाव, पेट में अधिक दर्द, मूत्र त्याग में परेशानी आदि हो डॉक्टर से सलाह लें।
  • ट्रामडोल शरीर में एक मजबूत ओपिओइड दवा में बदल जाती है। कुछ लोगों में, यह परिवर्तन सामान्य से अधिक तेजी से होता है, जिससे गंभीर दुष्प्रभावों का खतरा बढ़ जाता है। यदि आपको निम्न दुष्प्रभाव दिखाई देते हैं जैसे : कम या असामान्य सांस लेना, अनिद्रा, भ्रम आदि तो डॉक्टर की सलाह लें।
  • इस दवाई से गंभीर एलर्जिक रिएक्शन देखने को बहुत कम मिलते हैं। हालांकि, अगर आपको यह लक्षण देखने को मिलें जैसे रैशेस, खुजली/सूजन, सांस लेने में समस्या,अधिक चक्कर आना आदि तो डॉक्टर से मिले।
  • यह इस दवाई से होने वाले सभी साइड इफेक्ट्स की लिस्ट नहीं है। अगर आपको कोई और दुष्प्रभाव भी महसूस हो जो इस सूची में नहीं हैं तो तुरंत अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं।

इन जरूरी बातों को जानें

कौन-सी दवाएं पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल (Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

दूसरी दवाइयों के साथ मिलकर इस दवाई के आपके स्वास्थ्य पर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, हालांकि इस बारे में पूरी जानकारी उपलब्ध नहीं है। आप जिन भी दवाइयों का प्रयोग कर रहे हैं उसकी सूची अपने डॉक्टर से अवश्य शेयर करें। इस दवाई को अपनी मर्जी से लेना शुरू या बंद न करें और न ही इसकी डोज बदले।

कई उत्पाद दूसरी दवाओं के साथ मिल कर आपके स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डाल सकते हैं, जैसे:

  • दर्द दूर करने वाली दवाइयां : इस दवाई के साथ MAO इनहिबीटरस लेने से कई बुरे प्रभाव पड़ सकते हैं। इसलिए इस दवाई के साथ MAO इनहिबीटरस को लेने से बचे। यही नहीं, इस दवाई के साथ अगर आपका उपचार हो रहा है, तो लगभग दो हफ्तों तक MAO इनहिबीटरस लेने से बचे।
  • अगर आप इस दवाई को सेरोटोनिन बढ़ाने वाली दवाओं के साथ लेते हैं तो सेरोटोनिन सिंड्रोम के बढ़ने का जोखिम रहता है। सेरोटोनिन सिंड्रोम का खतरा तब बढ़ जाता है जब आप इन दवाइयों की डोज को बढ़ा या कम कर देते हैं।
  • अगर आप ऐसे उत्पादों को लेते हैं जिनसे चक्कर आना या सांस संबंधी समस्या बढ़ जाती हैं तो डॉक्टर को अवश्य बताएं।
  • अपनी दवाई के लेवल को अवश्य जांचे, क्योंकि इसके इंग्रेडिएंट्स से उनींदापन की समस्या हो सकती है। इन उत्पादों के सुरक्षित उपयोग के बारे में आपके फार्मासिस्ट से पूछे।
  • यह दवा कुछ प्रयोगशाला टेस्टस पर प्रभाव डाल सकती है, जैसे गलत परिणाम आना। सुनिश्चित करें कि प्रयोगशाला कर्मियों और आपके सभी डॉक्टर जानते हैं कि आप इस दवा का उपयोग करते हैं।

और पढ़ें : Tramadol : ट्रामाडोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल (Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

इस दवा से आपको चक्कर आ सकते हैं अथवा आप अनिद्रा महसूस कर सकते हैं। अल्कोहल या मारिजुआना (भांग) के साथ इसे लेने से आपको अधिक चक्कर आ सकते हैं या आप सुस्त हो सकते हैं। जब तक आप ठीक महसूस नहीं करते, तब तक ड्राइव न करें, मशीनरी का उपयोग करें, या ऐसा कुछ भी करें जो सतर्कता की आवश्यकता है। मादक पेय से बचे। अपने डॉक्टर से बात करें यदि आप मारीजुआना (भांग) का उपयोग कर रहे हैं। भोजन के साथ इसे ले सकते हैं लेकिन डॉक्टर की सलाह के बाद ही लें।

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल (Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल (Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol) सेहत के कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपनी मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें।

डोजेज

यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प न मानें। किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल की वयस्कों के लिए क्या डोज है?

  • पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल को 37.5 मिलीग्राम+ 325 मिलीग्राम की मात्रा में लेना चाहिए।
  • हर 4 से 6 घंटे में इसे दिया जा सकता है।
  • अधिकतम डोज – एक दिन में 8 टेबलेट
  • उपचार अवधि – पांच दिन या कम

किस रूप में उपलब्ध है?

पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल (Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol) इस रूप में उपलब्ध है।

  • टेबलेट
  • कैप्सूल
  • लिक्विड

ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति में क्या करना चाहिए?

ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति के लिए अपने स्थानीय डॉक्टर या हॉस्पिटल से संपर्क करें।

यदि मुझसे पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल (Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol)की डोज मिस हो जाए तो मुझे क्या करना चाहिए?

अगर आपसे पेरासिटामोल / एसिटामिनोफेन + ट्रामाडोल (Paracetamol/Acetaminophen + Tramadol) की डोज मिस हो जाए, तो जितना जल्दी हो सके इसे ले लें। हालांकि, अगर दूसरी खुराक का समय हो गया है, तो डबल डोज लेने की बजाय एक डोज मिस कर दें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/09/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड