Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate : गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Medically reviewed by | By

Update Date मई 28, 2020
Share now

उपयोग

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट का कॉम्बिनेशन खांसी में राहत देता है। यह तीन दवाइयों का कॉम्बिनेशन है। गुअइफेनेसिन एयर पैसेज में बलगम के स्राव को बढ़ा देता है, जिससे मुंह के वायु मार्ग से इसे निकालने में मदद मिलती है। एम्ब्रोक्सोल एक म्युकोलाइटिक दवा है, जो म्यूकस को पतला और ढीला करके उसे खांसी के जरिए बॉडी से बाहर आने में मदद करता है। क्लोरफेनीरमाइन मैलीएट एक एंटीएलर्जिक दवा है, जो नाक बहना, आंख से पाने आने और छींक जैसे एलर्जी के लक्षणों से राहत देती है।

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

डॉक्टर की सलाह पर इसका सेवन मौखिक रूप से किया जा सकता है। हालांकि, हर मामले में इसको इस्तेमाल करने का तरीका अलग हो सकता है। सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही इसे खाली पेट या भोजन के साथ लें। इसके अतिरिक्त, दवा के पैकेज पर छपे दिशा निर्देशों को सावधानीपूर्वक पढ़ें। यदि आप फिर भी इसके इस्तेमाल करने के तरीके को लेकर कनफ्यूज हैं तो अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें: Levofloxacin: लिवोफ्लॉक्सासिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) को कैसे स्टोर करना चाहिए?

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनीरमाईन मैलीएट को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना है। गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट के अलग-अलग ब्रांड्स को अलग तरीकों से स्टोर किया जाता है। इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें। सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा ना जाए तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है। आवश्यकता न रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें : Lomotil : लोमोटिल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानी और चेतावनी

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर दवाइयां ली जानी चाहिए। हालांकि, प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग में इस दवा का सेवन सुरक्षित नहीं है।
  • यदि आप किसी अन्य दवा का सेवन कर रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई, मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हर्बल प्रोडक्ट जैसी दवाइयां शामिल हैं।
  • यदि आपको गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट के किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • चार वर्ष से कम आयु के बच्चों में इस दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

यह भी पढ़ें : Ceftriaxone: सेफ्ट्रायक्सोन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट के सामान्य साइड इफेक्ट्स निम्नलिखित हैं:

उपरोक्त साइड इफेक्ट्स के लक्षण नजर आते ही इसकी सूचना अपने डॉक्टर को दें और इसका इस्तेमाल करना बंद कर दें। हालांकि, हर व्यक्ति को उपरोक्त साइड इफेक्ट्स का अनुभव नहीं होता है। उपरोक्त साइड इफेक्ट्स के अलावा भी गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें : Loperamide : लोपेरामाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इंटरैक्शन

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) के साथ कौन सी दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं?

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट के साथ समान प्रभाव वाली दवाइयों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से यह दवाइयां आपस में रिएक्शन कर सकती हैं, जिससे गंभीर साइड इफेक्ट्स का खतरा बढ़ सकता है।

क्या एल्कोहॉल के साथ गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट  (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) का इस्तेमाल सुरक्षित है?

बिना डॉक्टर की सलाह के एल्कोहॉल के सेवन के दौरान किसी भी दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। एल्कोहॉल के सेवन के दौरान इन दवाइयों का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें : Dolo 650MG Tablet : डोलो 650 एमजी टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट का डोज मिस हो जाता है तो जल्द से जल्द इसे लें। हालांकि, यदि आपका अगली खुराक का समय नजदीक आ गया है तो भूले हुए डोज को न खाएं। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक न खाएं।

उम्मीद है आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसमें हमने आपको गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट दवा के कॉम्बिनेशन के बारे में बताया। साथ ही आपने जाना कि किस तरह से ये दवा असर करती है और किन लोगों को इसके सेवन से बचना चाहिए। अगर आप ये दवा लेते हैं तो ये आर्टिकल आपकी जानकारी बढ़ाने में काफी काम आ सकता है। अगर फिर भी आपके मन में इस दवा से जुड़े अन्य सवाल हैं, तो आप हमसे हमारे फेसबुक पेज पर जरूर पूछें। इस बात का ध्यान रखें कि हर व्यक्ति की शारीरिक स्थिति अलग होती है, इसलिए दवा का सेवन कभी भी अपनी मर्जी से न करें। अगर आपको ऊपर बताए गए लक्षण नजर आते हैं, तो डॉक्टर ही आपको ये दवा देने की सलाह दे सकते हैं। आप डॉक्टर की सलाह पर ही इस दवा का सेवन करें। आपके लिए इस दवा की कितनी मात्रा निर्धारित करनी है, उस बारे में भी डॉक्टर ही आपको बताएंगे। इसके अलावा, इस दवा को लेते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना है, इस बारे में आप अपने डॉक्टर से अच्छी तरह बात कर लें, ताकि किसी तरह का दुष्प्रभाव न पड़े।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता है।

और पढ़ें :-

Febrex Plus : फेब्रेक्स प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

 Glycomet : ग्लाइकोमेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Clavulanic Acid : क्लैवुलेनिक एसिड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Enterogermina : एंटरोजर्मिना क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

संबंधित लेख:

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

प्रेगनेंसी में क्लस्टर सिरदर्द क्यों होता है?

जानें प्रेगनेंसी में क्लस्टर सिरदर्द क्या होता है और इसके लक्षण व कारण क्या हैं। साथ ही पढ़ें इसके उपायों और बचाव के बारे में। Cluster headache in hindi.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shivam Rohatgi

Rose Geranium Oil: रोज जेरेनियम ऑयल क्या है?

जानिए रोज जेरेनियम ऑयल की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, रोज जेरेनियम ऑयल उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Rose Geranium Oil डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Anu Sharma

कोरोना के कहर के बाद अब चीन में हंता वायरस, एक की हुई मौत

हंता वायरस की जानकारी in hindi. वायरस के लक्षण hantavirus Symptoms, कोरोना वायरस के बाद अब चीन में फैला ये वायरस Hantaviruses

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Bhawana Awasthi

Toxic Shock Syndrome : टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम क्या है?

जानिए टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम क्या है in hindi, टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, Toxic shock syndrome को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

Written by Anoop Singh