डिप्रेशन से बचना है आसान, बस अपनाएं यह घरेलू उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

डिप्रेशन हमारे दिमाग का विकार है, जिसके कारण इंसान उदासीन महसूस करता है और किसी भी काम को करने में उसे रूचि नहीं रहती। डिप्रेशन की समस्या दिनों दिन बढ़ती जा रही है। आजकल का व्यस्त लाइफस्टाइल और भागदौड़ भरी जिंदगी इसका मुख्य कारण है। डिप्रेशन के कारण इंसान की सोचने और समझने की क्षमता प्रभावित होती है, जिससे कई भावनात्मक और शारीरिक समस्याएं हो सकती हैं। इससे आपको दिन-प्रतिदिन की सामान्य गतिविधियों को करने में परेशानी हो सकती है, और कभी-कभी आप महसूस कर सकते हैं , जैसे कि जीवन जीने लायक नहीं है। डिप्रेशन का शिकार किसी भी उम्र के लोग हो सकते हैं यानी बूढ़े, जवान से लेकर बच्चे भी इसका शिकार हो सकते हैं। जानिए इसके लक्षण क्या हैं और डिप्रेशन के घरेलू उपाय के बारे में।

डिप्रेशन के लक्षण

डिप्रेशन के घरेलू उपाय के बारे में जानने से पहले इसके लक्षणों के बारे में जान लें। डिप्रेशन के कुछ लक्षण इस प्रकार हैं:

और पढ़ें :बच्चों के मानसिक तनाव को दूर करने के 5 उपाय

  • छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा आना, बेचैनी 
  • उदासी, अशांति, खालीपन या निराशा की भावना
  • सामान्य कार्यों में भी रूचि न होना या खुशी न मिलना
  • नींद न आना या बहुत अधिक नींद आना
  • थकावट और ऊर्जा में कमी, छोटे-छोटे कार्यों को करने में अधिक मेहनत लगना
  • भूख और वजन में कमी होना या भूख या वजन का बढ़ना
  • चिंता, उत्तेजना या बेचैनी
  • सोचने, बोलने या कोई भी काम करने में समय लगना
  • किसी भी कार्य के लिए अपने आप को अपराधी मानना
  • ध्यान केंद्रित करने, निर्णय लेने और चीजों को याद रखने में समस्या होना
  • मरने, खुदकुशी के ख्याल आना या खुदकुशी का प्रयास करना
  • बिना मतलब के शारीरिक समस्याएं होना जैसे पीठ में दर्द या सिरदर्द 
  • डिप्रेशन का शिकार व्यक्ति को रोजाना के कार्यों में समस्या होती है और वो बिना किसी कारण के ही दुखी रहते हैं

और पढ़ें:  Quiz: कभी खुशी, कभी गम…कुछ ऐसी ही है बायपोलर डिसऑर्डर की समस्या

बच्चों या किशोरों डिप्रेशन में लक्षण 

 बच्चों या किशोरों में  डिप्रेशन होने पर इसके क्या लक्षण होते हैं इसके बारे में जानें।

बच्चों और किशोरों में डिप्रेशन के लक्षण वयस्कों के जैसे ही होते हैं लेकिन कुछ लक्षण अलग हो सकते हैं। जैसे:

  • छोटे बच्चों में डिप्रेशन के लक्षण हैं उदासी, चिड़चिड़ापन, चिंता, दर्द , स्कूल जाने से मना करना या उनके वजन का कम होना।
  • किशोरावस्था में यह लक्षण इस प्रकार के हो सकते हैं उदासी, चिड़चिड़ापन, नकारात्मक होना, बिना मतलब गुस्सा, स्कूल में खराब प्रदर्शन, बेहद संवेदनशील महसूस करना, रेक्रीशनल (recreational) दवाओं का सेवन या शराब पीना, अधिक खाना या बहुत अधिक सोना, खुद को नुकसान पहुंचाना, सामान्य गतिविधियों में रूचि कम होना या लोगों से मिलने से कतराना आदि।

डिप्रेशन के घरेलू उपाय 

डिप्रेशन के घरेलू उपाय इस प्रकार हैं:

पौष्टिक भोजन

डिप्रेशन के घरेलू उपाय में है पौष्टिक आहारकहा जाता है कि जो भी हम खाते हैं उसका प्रभाव हमारे तन और मन दोनों पर पड़ता है। प्राकृतिक और अनप्रोसेस्ड भोजन सही से पच जाता है, जो हमारे अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हुए एक संतुलित और स्थिर भावनात्मक जीवन में योगदान देता है। ऐसे में डिप्रेशन से बचने के लिए आप अपने आहार में साबुत अनाज, फल, सब्जियों , प्रोटीन और अच्छे वसा को शामिल करें। इसके साथ ही अधिक मिर्च मसाले, नमक, चीनी, तले-भुने खाने का हमारे दिमाग पर बुरा प्रभाव पड़ता है, जिससे चिंता , तनाव या अवसाद की भावना बढ़ती है

इसके साथ ही आप निम्नलिखित पौष्टिक और एंटीऑक्सीडेंटस युक्त आहार  को अपने आहार में शामिल करें: 

बीटा-कैरोटीन: ब्रोकली, गाजर, कद्दू, पालक , शकरकंदी आदि।

विटामिन सी: ब्रोकली, कीवी , संतरा, आलू,टमाटर, स्ट्रॉबेरी आदि।

विटामिन ई: मेवे और बीज, वेजिटेबल ऑयल्स आदि।

कार्बोहाइड्रेट: कार्बोहाइड्रेट को दिमाग के केमिकल सेरोटोनिन से जोड़ा जाता है, जो दिमाग को शांत करता है। इसलिए अपने आहार में कार्बोहाइड्रेट्स को भी शामिल करें जैसे फल, सब्जियां, फलियां आदि।

प्रोटीन : प्रोटीन युक्त आहार जैसे बीन्स, मटर, लौ फैट पनीर, मछली, दूध, सोया उत्पाद, दही आदि।

विटामिन B : विटामिन B युक्त आहार जैसे फल, हरी पत्तेदार सब्जियां, फलिया, मेवे , मछली आदि।

ओमेगा-3 फैटी एसिड्स : वैज्ञानिकों के मुताबिक जिन लोगों के खाने में ओमेगा 3 कम होता है। वो गंभीर दिमागी विकारों से गुजरते हैं। इसलिए ओमेगा-3 युक्त आहार का सेवन करें जैसे फैटी फिश ,केनोला आयल, सोयाबीन आयल , अखरोट, हरी सब्जियां आदि।

और पढ़ें:बच्चे के अच्छे मानसिक स्वास्थ्य के लिए जरूरी है परिवार

पर्याप्त नींद

डिप्रेशन के घरेलू उपाय में अगला उपाय है पूरी नींद लेनास्वस्थ नींद संबंधी आदतें भी डिप्रेशन को दूर करने में प्रभावी है। रोजाना सोने और जल्दी उठने के समय को निर्धारित करें। याद रखें, नींद हमारे लिए आवश्यक है लेकिन अधिक नींद नहीं। रात को 10 बजे से पहले सोएं और सुबह 6 बजे सूर्य उदय से पहले उठे। सुबह 6:00 बजे से अधिक समय तक सोने के कारण हमारे संचार के साधन अशुद्धियों से भर जाते हैं, जिससे हमारे शरीर में कई समस्याएं होती हैं और मन उदासीनता से भर जाता है।

योग, ध्यान और व्यायाम 

ध्यान करना डिप्रेशन से बचने का सबसे अच्छा तरीका है। कुछ आसान ध्यान के तरीके आपके लिए लाभदायक सिद्ध हो सकता है। इसके साथ ही व्यायाम करने से भी शारीरिक और दिमागी स्वास्थ्य सही रहता है। इससे स्ट्रेस लेवल कम होता है और अगर किसी को डिप्रेशन है तो उसके लिए भी यह लाभदायक है। कुछ देर रोजाना व्यायाम करने से भी आपको लाभ होगा। आप इसके लिए योग का सहारा भी ले सकते हैं। योग शरीर और आत्मा को शुद्ध करता है। योग की शुरुआत करने से पहले किसी विशेषज्ञ से सलाह लें।

अल्कोहल या ड्रग्स लेने से बचे 

अल्कोहल और ड्रग्स से डिप्रेशन के लक्षण बढ़ते हैं। अगर लम्बे समय तक ऐसा ही चलता रहे तो इसके लक्षण बदतर हो सकते हैं और डिप्रेशन का इलाज मुश्किल हो सकता है। अगर आप अल्कोहल या किसी ड्रग का सेवन कर रहे हैं उसे छोड़ दें और  डॉक्टर की सलाह लें।

और पढ़ें: एक हिम्मत भरा हग देता है मानसिक राहत, पीएम मोदी ने इसरो अध्यक्ष को लगाया गले

प्रियजनों से बात करें

आपके रिश्तेदार,दोस्त और प्रियजन डिप्रेशन की समस्या से आपको बाहर निकालने में आपकी मदद कर सकते हैं। इसलिए उनके साथ रहें। ऐसे लोगों के साथ रहें जो सकारात्मक हों। लोगों से मिले जुले। अकेले न रहें क्योंकि अकेले रहने से आपकी यह समस्या और भी बढ़ सकती है। आप किस लिए परेशान हैं आपके मन और दिल में क्या है, यह बात अपने प्रियजनों या दोस्तों को अवश्य बताएं।

यह तो हैं डिप्रेशन के घरेलू उपाय लेकिन सबसे आवश्यक बात यह है कि अगर आपको डिप्रेशन की समस्या है तो अपना खास ख्याल रखें। अच्छा खाएं, पर्याप्त नींद लें, व्यायाम या योग करें। वो सब करें जिन्हें करने से आपको मजा आता है। इसके साथ ही डिप्रेशन के लक्षणों को पहचाने और समय रहते ही डॉक्टर की सलाह लें और सही इलाज कराएं। डिप्रेशन के बारे में बात करने से कभी भी झझकें या शर्माएं नहीं। क्योंकि, यह पागलपन नहीं बल्कि दिमाग की एक समस्या है। अगर आप सही समय पर इस बारे में बात करेंगे और इलाज कराएंगे तो आप जल्दी स्वस्थ होंगे।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

ल्यूकोरिया (श्वेत प्रदर) क्या है? जानिए इसके लक्षण, कारण, घरेलू उपचार

ल्यूकोरिया (श्वेत प्रदर) के घरेलू उपाय, ल्यूकोरिया (श्वेत प्रदर) के लक्षण, कारण, उपचार, पाइए पूरी जानकारी,Home remedies for leucorrhea, leucorrhoea

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Anu Sharma
महिलाओं का स्वास्थ्य, स्वस्थ जीवन जुलाई 6, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Amixide-H: एमिक्साइड एच क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

जानिए एमिक्साइड एच की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, एमिक्साइड एच के उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Amixide-H डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by shalu
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 30, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

त्वचा के कालेपन को दूर करने के लिए अपनाएं यह आसान घरेलू उपाय

त्वचा के कालेपन के घरेलू उपाय क्या हैं, त्वचा के रंग को गोरा कैसे करें, त्वचा के लिए घरेलू उपाय, skin whitening home remedies in hindi, home remedies

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Anu Sharma
ब्यूटी/ ग्रूमिंग, स्वस्थ जीवन जून 20, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Librium 10: लिब्रियम 10 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

लिब्रियम 10 की जानकारी in hindi, लिब्रियम 10 के साइड इफेक्ट क्या है, क्लोरडाएजपॉक्साइड (Chlordiazepoxide) दवा किस काम में आती है, रिएक्शन, उपयोग, Librium 10.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 17, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

चेहरे के बाल हटाने के घरेलू उपाय

चेहरे से अनचाहे बालों को है हटाना, तो आजमाएं कुछ आसान घरेलू उपाय

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Anu Sharma
Published on जुलाई 28, 2020 . 8 मिनट में पढ़ें
ईएसआर लेवल के घरेलू उपाय

ईएसआर(एरिथ्रोसाइट सेडीमेंटेशन रेट) लेवल को कम करने के लिए कौन से घरेलू उपाय हैं प्रभावी?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Anu Sharma
Published on जुलाई 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
त्वचा की चमक बढ़ाएं इन घरेलू उपाय से

त्वचा की चमक बढ़ाने में असरदार हैं यह आसान घरेलू नुस्खे

Medically reviewed by Dr Ruby Ezekiel
Written by Anu Sharma
Published on जुलाई 16, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
ऑस्टियो सार्कोमा कैंसर-Osteosarcoma cancer

क्यों और किसे है ऑस्टियो सार्कोमा कैंसर का खतरा ज्यादा?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Nidhi Sinha
Published on जुलाई 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें