home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Escitalopram Oxalate: एसिटालोप्राम ऑक्सलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

उपयोग|सावधानियां|साइड इफेक्ट्स|इंटरैक्शन|खुराक
Escitalopram Oxalate: एसिटालोप्राम ऑक्सलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

उपयोग

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate) का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट का इस्तेमाल डिप्रेशन और एंजाइटी के इलाज में होता है। यह दिमाग में कुछ विशेष प्राकृतिक पदार्थ (सेरोटोनिन) (Serotonin) को संतुलित करके कार्य करती है। यह दवा सेलेक्टिव सेरोटोनिन रीअपटेक इनहिबिटर्स [Selective Serotonin Reuptake Inhibitor] (SSRI) ड्रग फैमिली से संबंध रखती है। यह घबराहट को कम करके ऊर्जी के स्तर में बढ़ोतरी करके आपको ऊर्जावान महसूस कराती है।

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

मौखिक रूप से भोजन या खाली पेट डॉक्टर की सलाह के अनुसार एसिटालोप्राम ऑक्सलेट का सेवन किया जा सकता है। आमतौर पर सुबह या शाम को एक बार इसका सेवन किया जाता है। इसका डोज आपकी मेडिकल कंडिशन, उम्र, इलाज के प्रति शरीर की प्रतिक्रिया और अन्य कारकों पर निर्भर करता है। इस स्थिति में यह बेहद ही जरूरी है कि आप उन सभी दवाइयों की जानकारी अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को दें, जिनका सेवन आप कर रहे हैं। इस सूची में डॉक्टर के बिना प्रिस्क्रिप्शन पर मार्केट में खरीद के लिए उपलब्ध हर्बल और सप्लिमेंट्स भी शामिल हैं।

यदि आप लिक्विड फॉर्म में इस दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो एक विशेष चम्मच से डोज का मापन करें। इसके डोज को मापने के लिए घरेलू चम्मच का इस्तेमाल न करें, क्योंकि इससे आपको सही डोज नहीं मिलेगा।

इस दवा का संभावित साइड इफेक्ट्स को कम करने के लिए आपका डॉक्टर शुरुआत में कम डोज लेने की सलाह दे सकता है। इसके बाद धीरे-धीरे इसमें इजाफा हो सकता है। ऐसे में डॉक्टर के निर्देशों का सावधानी पूर्वक पालन करें। बिना डॉक्टर की मंजूरी के डोज में इजाफा या दवा को शुरू या बंद न करें। साथ ही निर्देशित अवधि से अधिक समय तक इसका सेवन न करें। हालांकि, आपकी हालत में जल्दी सुधार नहीं होगा, बल्कि ऐसा करने से साइड इफेक्ट्स का खतरा बढ़ सकता है। अधिकतम फायदा उठाने के लिए नियमित रूप से इस दवा का सेवन करें। अगले दिन दवा के उपयोग को याद रखने के लिए रोजाना एक ही समय पर सेवन करें।

यदि आपको फायदा मिल भी जाता है तो निर्देशित अवधि से पहले इस दवा का सेवन बंद न करें। अचानक एसिटालोप्राम ऑक्सलेट का सेवन रोकने से आपकी कुछ स्थितियां और बदतर हो सकती हैं। मूड स्विंग, सिरदर्द, थकावट, नींद में बदलाव और बिजली के झटके जैसी हल्की फीलिंग का भी आपको अहसास हो सकता है। इन लक्षणों से बचने के लिए इस दवा का सेवन बंद करने के लिए डॉक्टर धीरे-धीरे डोज को कम कर सकता है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें। किसी भी प्रकार के नए लक्षण नजर आने पर डॉक्टर को सूचित करें।

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate) को कैसे स्टोर करना चाहिए?

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको एसिटालोप्राम ऑक्सलेट को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना है। एसिटालोप्राम ऑक्सलेट के अलग-अलग ब्रांड्स को अलग तरीकों से स्टोर किया जाता है। इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें। सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा न जाए, तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको एसिटालोप्राम ऑक्सलेट को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है। आवश्यकता न रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : हर्निया सर्जरी के बाद इन बातों का ध्यान रखना है बहुत जरूरी

[mc4wp_form id=”183492″]

सावधानियां

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में एसिटालोप्राम ऑक्सलेट का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें:

  • यदि आपको सिटालोप्रोम (citalopram) से एलर्जी है। इस दवा में इनएक्टिव इनग्रीडिएंट्स हो सकते हैं, जिससे आपको एलर्जिक रिएक्शन या अन्य समस्याएं हो सकती हैं। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।
  • यदि आपको या आपके परिवार में बिपोलर/ मेनिक-डिप्रेसिव डिसऑर्डर रहा हो।
  • यदि आपको लिवर, दौरा पड़ने, आंत का अल्सर या ब्लीडिंग की समस्या रही हो।
  • यदि आपको लो सोडियम या ग्लूकोमा की समस्या रही हो।
  • यदि आपको हार्ट रिदम (Qt prolongation) की समस्या रही हो, क्योंकि यह दवा इस समस्या का कारण बन सकती है।
  • यदि आपके ब्लड में लो पोटैशियम या मैग्नीशियम की समस्या है तो इससे क्यूटी प्रोलोनगेशन का खतरा बढ़ सकता है।
  • यदि आप डियूरेटिक दवाइयों का सेवन कर रहे हैं।
  • यदि आपको पसीना आना, डायरिया या उल्टी की समस्या है।

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate) को प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग के दौरान एसिटालोप्राम ऑक्सलेट का सेवन करना असुरक्षित है। सिर्फ आवश्यकता पड़ने पर डॉक्टर की सलाह के मुताबिक इसका उपयोग करना चाहिए। प्रेग्नेंसी में इसका सेवन अजन्मे शिशु के लिए नुकसानदेह हो सकता है। जिन महिलाओं ने आखिरी तीन महीनों में इस दवा का सेवन किया है, उनके बच्चों में दुलर्भ मामलों में सामने आने वाले लक्षण जैसे सांस लेने में दिक्कत, दौरा पड़ना, मांसपेशियों में जकड़न या लगातार रोना हो सकते हैं। यदि आपको अपने नवजात शिशु में इनमें से कोई भी लक्षण या अन्य नए लक्षण नजर आते हैं तो तुरंत अपने डॉक्टर को सूचित करें।

साइड इफेक्ट्स

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट का सेवन करने से आपको निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • गंभीर साइड इफेक्ट्स
  • धुंधला दिखना, आंख दर्द या सूजन या रौशनी में रंगीन बुलबुले जैसा दिखना
  • भागते हुए विचार, असामान्य जोखिम लेने वाला व्यवहार, अत्यंत सुखद अहसास या दुखी होने का अहसास
  • बॉडी में सोडियम का स्तर कम होना (सिरदर्द, भ्रम, गंभीर कमजोरी, उल्टी, तारतम्य में कमी, अस्थिरता का अहसास)
  • नवर्स सिस्टम के गंभीर रिएक्शन (मांसपेशियों में जकड़न, तेज बुखार, पसीना आना, भ्रम, तेज या धीमी हार्टबीट, कंपकंपी, मरने जैसा महसूस होना। )
  • सामान्य साइड इफेक्ट्स
  • चक्कर आना, उनींदापन, कमजोरी
  • पसीना आना, डर का अहसास
  • नींद की समस्या
  • मुंह सूखना, भूख ना लगना
  • उबकाई, कब्ज
  • उबासी लेना
  • वजन में बदलाव
  • सेक्स ड्राइव कम होना, नपुंसकता या ऑर्गाज्म में परेशानी आना

हालांकि, हर व्यक्ति को यह साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं। उपरोक्त दुष्प्रभाव के अलावा भी एसिटालोप्राम ऑक्सलेट के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

इंटरैक्शन

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate) के साथ कौन सी दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं?

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट के साथ निम्नलिखित दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं:

  • डिप्रेशन की दवाइयां
  • एंजाइटी, मूड की समस्या या मानसिक विकार की दवाइयां
  • लीथियम, सेंट जॉहन्स वॉर्ट (St. John’s wort), ट्रेमाडोल (tramadol) या ट्राप्टोफान (tryptophan)
  • ब्लड थिनर दवाइयां – वॉर्फरिन, कोमाडिन, जेनटोवेन (warfarin, Coumadin, Jantoven)
  • माइग्रेन सिरदर्द की दवाइयां- सुमाट्रिप्टेन (sumatriptan), रिजाट्रिप्टेन (rizatriptan)
  • नार्कोटिक दर्द की दवाइयां- फेनटायल या ट्रेमाडोल (fentanyl, tramadol)
  • स्टिमुलेंट या एडीएचडी दवाइयां- एडडेराल (Adderall), कोनसर्टा (Concerta), रिटालिन (Ritalin)

उपरोक्त दवाइयों के अलावा भी कुछ ऐसी दवाइयां हो सकती हैं, जो इस दवा के साथ रिएक्शन कर सकती हैं। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

क्या एल्कोहॉल के साथ एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate)का इस्तेमाल सुरक्षित है?

एल्कोहॉल के साथ एसिटालोप्राम ऑक्सलेट का सेवन करना सुरक्षित नहीं है। एल्कोहॉल या भांग का सेवन करने से आपको और चक्कर आ सकते हैं। यदि आप दोनों का सेवन एक साथ करते हैं तो आपको और ज्यादा चक्कर या सुस्ती आ सकती है। ऐसे में ड्राइव, मशीन या कोई ऐसा कार्य न करें, जिसमें मेंटल फोकस की जरूर पड़ती हो। एसिटालोप्राम ऑक्सलेट का सेवन करने के दौरान एल्कोहॉल बीवरेज का सेवन ना करें। यदि आप भांग का सेवन कर रहे हैं तो अपने डॉक्टर को अवश्य सूचित करें।

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate) का हेल्थ पर क्या असर पड़ सकता है?

आमतौर पर डॉक्टर की सलाह पर इस दवा का सेवन सुरक्षित माना जाता है। यह दवा आपकी मौजूदा हेल्थ को प्रभावित कर सकती है या दवा का कार्य करने का तरीका परिवर्तित हो सकता है। एसिटालोप्राम ऑक्सलेट के लिक्विड फॉर्म में शुगर और एस्पार्टेम (aspartame) होती है। यदि आपको डायबिटीज, फेनायल्केटोनुरिया (phenylketonuria) (PKU), या अन्य समस्या है, जिससे आपकी डायट में इस दवा को सीमित करने की जरूरत पड़ सकती है। सुरक्षित तरीके से इस दवा का इस्तेमाल करने के लिए आपको अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लेनी है। बिना सलाह के इस दवा का सेवन आपकी हेल्थ के लिए नुकसानदायक हो सकता है। इसके अलावा, सर्जरी कराने से पहले उन सभी दवाइयों की सूचना अपने डेंटिस्ट या फार्मासिस्ट को दें, जिनका सेवन आप मौजूदा समय में कर रहे हैं। इन दवाइयों में डॉक्टर के बिना प्रिस्क्रिप्शन के मार्केट में खरीद के लिए उपलब्ध दवाइयां और हर्बल प्रोडक्ट्स शामिल हैं।

खुराक

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate) का सामान्य डोज क्या है?

एंजाइटी के इलाज में अडल्ट्स के लिए सामान्य डोज:

शुरुआती डोज: 10 mg मौखिक रूप से दिन में एक बार। इलाज के एक हफ्ते बाद आवश्यकता पड़ने पर डोज को बढ़ाकर 20 mg प्रतिदिन लें।

मेंटेनेंस डोज: 10 से 20 mg मौखिक रूप से दिन में एक बार।

मैक्सिमम डोज: 20 mg मौखिक रूप से दिन में एक बार।

डिप्रेशन में अडल्ट्स के लिए डोज:

शुरुआती डोज: 10 mg मौखिक रूप से दिन में एक बार। इलाज के एक हफ्ते बाद आवश्यकता पड़ने पर डोज को बढ़ाकर 20 mg प्रतिदिन लें।

मेंटेनेंस डोज: 10 से 20 mg मौखिक रूप से दिन में एक बार।

मैक्सिमम डोज: 20 mg मौखिक रूप से दिन में एक बार।

बुजुर्गों के लिए डिप्रेशन में डोज:

रेकोमेंडेड डोज: 10 mg मौखिक रूप से दिन में एक बार।

इस्तेमाल: डिप्रेशन की पुरानी समस्याओं में मेंटेनेंस इलाज के रूप में।

डिप्रेशन में बच्चों के लिए के लिए डोज

12 वर्ष या इससे अधिक उम्र

शुरुआती डोज: 10 mg मौखिक रूप से दिन में एक बार। इलाज के तीन हफ्ते बाद आवश्यकता पड़ने पर डोज को बढ़ाकर 20 mg प्रतिदिन लें।

मेंटेनेंस डोज: 10 से 20 mg मौखिक रूप से दिन में एक बार।

मैक्सिमम डोज: 20 mg मौखिक रूप से दिन में एक बार।

हर मरीज के मामले में एसिटालोप्राम ऑक्सलेट का डोज अलग हो सकता है। जो डोज आप ले रहे हैं वो आपकी उम्र, हेल्थ और दूसरे अन्य कारकों पर निर्भर करता है। औषधियां हमेशा ही सुरक्षित नही होती हैं। डिओसमिन के उपयुक्त डोज के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें : डिप्रेशन क्या है? इसके लक्षण और उपाय के बारे में जानने के लिए खेलें क्विज

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट (Escitalopram Oxalate) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

एसिटालोप्राम ऑक्सलेट का डोज मिस हो जाता है तो जल्द से जल्द इसे लें। हालांकि, यदि आपका अगली खुराक का समय नजदीक आ गया है तो भूले हुए डोज को न खाएं। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक न खाएं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Lexapro (escitalopram oxalate). https://www.accessdata.fda.gov/drugsatfda_docs/label/2017/021323s047lbl.pdf. Accessed On 05 October, 2020.

Escitalopram. https://medlineplus.gov/druginfo/meds/a603005.html. Accessed On 05 October, 2020.

Escitalopram oxalate. https://pubchem.ncbi.nlm.nih.gov/compound/Escitalopram-oxalate. Accessed On 05 October, 2020.

Sample records for escitalopram oxalate etoricoxib. https://www.science.gov/topicpages/e/escitalopram+oxalate+etoricoxib. Accessed On 05 October, 2020.

escitalopram oxalate. https://www.cancer.gov/publications/dictionaries/cancer-drug/def/escitalopram-oxalate. Accessed On 05 October, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 05/10/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड