अपनी दिल की धड़कन जानने के लिए ट्राई करें हार्ट रेट कैलक्युलेटर

द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

टार्गेट हार्ट रेट कैलक्युलेटर एक मिनट में आपके दिल की धड़कन की सही गति को बताता है। इससे ये पता चलता है कि आपके दिल की धड़कन सामान्य है या तेज है। टार्गेट हार्ट रेट कैलक्युलेटर उम्र के अनुसार, दिल की धड़कन की पहचान करता है। आपके दिल धड़कने की गति उम्र के अनुसार बदलती रहती है। दिल के धड़कने की गति हमारे स्वास्थ्य पर भी निर्भर करती है। टार्गेट हार्ट रेट कैलक्युलेटर का उपयोग करना बेहद सरल है। इससे पहले, दिल की धड़कन और रेट के बारे में पूरी जानकारी होना जरूरी है।

हृदय गति क्या है?

हृदय एक मांसपेशियों से बना अंग है जो पूरे शरीर में पोषक तत्वों और ऑक्सीजन युक्त रक्त का संचार करता है। हार्ट बीट होते ही हृदय पंप करता है। एक मिनट में दिल जितनी बार भी धड़कता है उसे हार्ट रेट कहते हैं।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि उम्र, स्वास्थ्य, हार्ट की स्थिति और शरीर के आकार के आधार पर हर व्यक्ति का हार्ट रेट अलग होता है। इसके अलावा व्यक्ति के तापमान, दवा की खपत और शारीरिक गतिविधि पर एक सामान्य हार्ट रेट निर्भर करता है। आदर्श रूप से, हार्ट रेट वयस्कों में 60 से 100 बीट प्रति मिनट तक हो सकता है।

टैचीकार्डिया यानी बढ़ी हुई हृदय गति के कई कारण हो सकते हैं जैसे भावनात्मक प्रतिक्रियाएं, सुरक्षा के लिए खतरा और शारीरिक गतिविधियां। इस हालत में, हृदय गति 100 बीट प्रति मिनट से अधिक हो सकती है। यह स्थिति खतरनाक हो सकती है क्योंकि यह अचानक कार्डियक अरेस्ट, हार्ट स्ट्रोक और मृत्यु का कारण बन सकती है।

इसलिए, लोगों को दिल की धड़कन को पहचानने के लिए एक हार्ट रेट कैलक्युलेटर की आवश्यकता होती है।

और पढ़ें: स्लीप कैलकुलेटर से जानें कितनी देर सोना है हेल्दी?

हार्ट रेट या हृदय गति को कैसे मापें?

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार, एक व्यक्ति शरीर के विभिन्न हिस्सों में हृदय की गति को माप सकता है। जैसे:

जांच करते समय, शरीर के इन हिस्सों में से एक पर दो उंगलियों का उपयोग करें और एक सटीक रीडिंग प्राप्त करने के लिए 60 सेकंड तक दिल की धड़कन की गिनती करें। कई स्वास्थ्य विशेषज्ञ हृदय गति की जांच करते समय अंगूठे के उपयोग से बचने की सलाह देते हैं।

आप हार्टबीट्स को पहचानने के लिए एक टारगेट हार्ट रेट कैलक्युलेटर का भी उपयोग कर सकते हैं। इस तरह के हृदय गति मापने के उपकरण आसानी से ऑनलाइन उपलब्ध हैं और उपयोग करने में आसान हैं।

और पढ़ें: De Quervain Surgery : डीक्वेवेंस सर्जरी क्या है?

एक टार्गेट हार्ट रेट कैलक्युलेटर क्या है?

व्यक्ति जितनी तेजी से अपने शरीर का उपयोग करता है उसकी दिल की धड़कन उतनी ही तेज होती है। जैसे व्यायाम करते समय दिल की धड़कन बढ़ जाती है। ऐसे समय में टार्गेट हार्ट कैलक्युलेटर का इस्तेमाल कर दिल की धड़कन की संख्या का पता लगा सकते हैं। टार्गेट हार्ट रेट कैलक्युलेटर दिल की धड़कन की सीमा तय कर देता है। हृदय रोग विशेषज्ञों का मानना है कि जब एक व्यक्ति टार्गेट हार्ट रेट सीमा के तहत व्यायाम करता है तो उसे एरोबिक्स करना चाहिए। यह ज्यादा प्रभावी होता है।

ऐसे टार्गेट हार्ट रेट कैलक्युलेटर आसानी से ऑनलाइन उपलब्ध हैं जो आपकी उम्र के अनुसार दिल की धड़कन की गति बता सकते हैं। प्रति मिनट दिल की धड़कन जानने के लिए इस तरह के हृदय गति मापन का प्रयोग करना चाहिए।

प्रत्येक आयु वर्ग के लिए हार्ट रेट अलग-अलग होती है। तो, अपने लिए सामान्य हृदय गति का पता लगाएं।

उम्र के हिसाब से सामान्य हार्ट रेट चार्ट

नीचे दी गई तालिका में उम्र के हिसाब से हृदय गति चार्ट का उल्लेख है।

और पढ़ें: Ventricular fibrillation (V-fib): वेंट्रिक्युलर फाइब्रिलेशन क्या है?

आयु सामान्य हृदय गति (BPM)
एक महीने से ज्यादा 70 – 90
1 – 11 महीने 80 – 160
1 – 2 साल 80 – 130
3 – 4 साल 80 – 120
5 – 6 साल 75 – 115
7 – 9 साल 70 – 110
10 साल से ज्यादा 60 – 100
20 साल 100 – 170
30 साल 95 – 162
35 साल 93 – 157
40 साल 90 – 153
45 साल 88 – 149
50 years 85 – 145
55 साल 83 – 140
60 साल 80 – 136
65 साल 78 – 132
70 साल 75 – 128

निष्कर्ष

स्वस्थ हार्ट रेट बनाए रखना आवश्यक है क्योंकि यह किसी भी व्यक्ति को हृदय संबंधी समस्याओं से बचाता है। अपने हृदय की गति जानने के लिए, टार्गेट हार्ट रेट कैलक्युलेटर का उपयोग करने का प्रयास करें।

टार्गेट हार्ट रेट कैलक्युलेटर आसानी से उपलब्ध हैं, उपयोग करने में सरल हैं और तेजी से परिणाम देते हैं। यह सामान्य हृदय गति को बनाए रखने के लिए आवश्यक कदम उठाने में मदद करता है।

हर व्यक्ति को दैनिक व्यायाम करना चाहिए। इससे तनाव, वजन घटाने, धूम्रपान से बचने और शराब का सेवन करने वालों को मदद मिलती है। इससे हृदय स्वस्थ बना रहता है।

और पढ़ें: लैप्रोस्कोपिक तकनीक से ओवेरिन सिस्ट सर्जरी कितनी सुरक्षित है?

हार्ट रेट कैलक्युलेटर से दिल की धड़कन का अंदाजा लगाया जा सकता है। लेकिन, इसके साथ ही दिल की धड़कन ठीक तरह से चले इसके लिए कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। जैसे- 

दिन की शुरुआत अच्छी होने के साथ-साथ सुबह का नाश्ता भी हेल्दी होना चाहिए। न्यूट्रिशन से भरपूर ब्रेकफास्ट करने से शरीर फिट रहने के साथ-साथ दिल भी स्वस्थ रहता है।

मछली का सेवन करें। मछलियों में ओमेगा-3 फैटी एसिड की मौजूदगी दिल को हेल्दी रखने के साथ-साथ दिल से जुड़ी बीमारियों से भी बचाता है। इसलिए टूना, सार्डिनेस और हेरिंग जैसी मछलियों का सेवन करना लाभकारी होता है। सप्ताह में कम से कम दो बार मछलियों का सेवन अवश्य करें। वैसे गर्भावस्था के दौरान मछलियों के सेवन की मनाही होती है लेकिन, गर्भावस्था न हो तो ऐसी स्थिति में महिलाएं भी मछलियों का सेवन कर सकती हैं।

खुश रहें और कोशिश करें की आप ज्यादा से ज्यादा हसें। अपने फ्रेंड्स या फैमली के साथ बैठें और खुलकर बात करें। इस दौरान हसी मजाक करें और खूब हसें। खुलकर हसने से मूड अच्छा होने के साथ-साथ दिल भी स्वस्थ रहता है।

दिल को स्वस्थ रखने के लिए डार्क चॉकलेट का सेवन करने से लाभ मिलता है। दरअसल डार्क चॉकलेट के सेवन से शरीर में होने वाले सूजन को कम  करने में सहायक होता है और साथ ही दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा भी कम होता है।

बादाम और अखरोट जैसे अन्य नट्स का सेवन अवश्य करना चाहिए। नट्स में प्रोटीन और फाइबर की मात्रा भी अच्छी होती है। इसके नियमित सेवन से कार्डियोवैस्कुलर डिजीज से बचा जा सकता है।

अगर आप हार्ट रेट कैलक्युलेटर से जुड़े या दिल से जुड़ी किसी बीमारी के बारे में किसी सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

बच्चों में दस्त होने के कारण और घरेलू उपाय

जानें बच्चों में दस्त क्यों होते हैं और इस स्थिति से कैसे छुटकारा पाया जाए। बच्चों में डायरिया का इलाज। Bacho me dast ke gharelu upchar in HIndi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shivam Rohatgi
बच्चों की देखभाल, पेरेंटिंग अप्रैल 28, 2020 . 10 मिनट में पढ़ें

बच्चों के लिए मोबाइल गेम्स खेलना फायदेमंद है या नुकसानदेह

जानें बच्चों पर मोबाइल गेम्स का क्या प्रभाव पड़ता है। क्या बच्चों में गेमिंग एडिक्शन को कम किया जा सकता है? Side effects of mobile games in hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shivam Rohatgi
पेरेंटिंग टिप्स, पेरेंटिंग अप्रैल 28, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Poorly fitting shoes- बिना फिटिंग के जूते पहनने से पैरों में दर्द क्यों होता है?

बिना फिटिंग के जूते से होने वाले नुकसान, फिट जूते पहनना जरूरी क्यों है,जानें इससे बचाव कैसे किया जाए? Poorly fitting shoes side effects in hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया shalu
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z फ़रवरी 20, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

2019 Year End : इलेक्ट्रॉनिक हेल्थ रिकॉर्ड क्या होता है, कैसे है ये अन्य रिकॉर्ड से सुरक्षित?

इलेक्ट्रॉनिक हेल्थ रिकॉर्ड की जानकारी in hindi. इलेक्ट्रॉनिक हेल्थ रिकॉर्ड पेशेंट का ऑनलाइन डाटा सुरक्षित रखता है। पेशेंट का डाटा भविष्य में आवश्यक जानकारी प्रदान करता है। Electronic health records

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
लोकल खबरें, स्वास्थ्य बुलेटिन दिसम्बर 26, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

हृदय रोगों से जुड़े मिथक

जानें हृदय स्वास्थ्य से जुड़े मिथक को लेकर क्या कहते हैं एक्सपर्ट

के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ सितम्बर 28, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
हेल्दी हार्ट के लिए क्या करें?

वर्ल्ड हार्ट डे: हेल्दी हार्ट के लिए फॉलो करें ऐसा लाइफस्टाइल, कम होगा हार्ट डिजीज का खतरा

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
प्रकाशित हुआ सितम्बर 3, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
टी इंफ्यूजन

सिर्फ ग्रीन-टी ही नहीं, इंफ्यूजन-टी भी है शरीर के लिए लाभकारी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ मई 17, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
जैविक खाद organic compost

बचे हुए खाने से घर पर ऐसे बनाएं ऑर्गेनिक कंपोस्ट (जैविक खाद), हेल्थ को भी होंगे फायदे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ मई 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें