home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Levothyroxine: लीवोथाइरोक्सिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

लीवोथाइरोक्सिन (levothyroxine) का उपयोग किसलिए किया जाता है?|लीवोथाइरोक्सिन (levothyroxine) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?|लीवोथाइरोक्सिन के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं? ( Side effects of levothyroxine)|कौन सी दवाएं लीवोथाइरोक्सिन (levothyroxine) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?|डॉक्टर की सलाह
Levothyroxine: लीवोथाइरोक्सिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

लीवोथाइरोक्सिन (levothyroxine) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

लीवोथाइरोक्सिन का उपयोग एक अंडरएक्टिव थायरॉइड (हाइपोथायरायडिज्म) के इलाज के लिए किया जाता है। यह थायरॉइड हार्मोन में बदलाव कर देता है या और अधिक थायरॉइड हार्मोन का उत्पादन करता है, जो आमतौर पर थायरॉइड ग्रंथि द्वारा निर्मित होता है। थायरॉइड हॉर्मोन का स्तर प्राकृतिक रूप से कम हो सकता है या फिर जब थाइरॉइड ग्रंथि रेडिएशन/दवाइयों द्वारा चोटिल हो जाती है या सर्जरी द्वारा हटाई जाती है तब भी थाइरॉइड हॉर्मोन का स्तर कम हो सकता है। मानसिक और शारीरिक गतिविधियों को सामान्य रूप से नियंत्रित रखने के लिए पर्याप्त थायरॉइड हॉर्मोन बेहद आवश्यक है।

बच्चों में, सामान्य रूप से मानसिक और शारीरिक विकास के लिए पर्याप्त थायरॉइड हॉर्मोन बेहद आवश्यक होता है।

इस दवाई का इस्तेमाल अन्य प्रकार के थायरॉइड डिसऑर्डर के इलाज करने के लिए भी किया जाता है (जैसे कुछ प्रकार का घेघा, थायरॉइड कैंसर)।

लीवोथायरोक्सिन

मैं लीवोथाइरोक्सिन को कैसे इस्तेमाल करूं? (How to use levothyroxine)

डॉक्टर से पूछकर इस दवाई को खाने के रूप में लें, आमतौर पर रोजाना एक खाली पेट, आधा या एक घंटा नाश्ते से पहले। जब तक आपका डॉक्टर आपको सीधा खाने के लिए न बोले तब तक इस दवाई को एक गिलास पानी के साथ ही लें।

अगर आप इस दवाई को कैप्सूल के रूप में ले रहे हैं तो इसे बिना तोड़े पानी के साथ निगल जाएं। इस दवाई के न ही टुकड़े करें, न ही पीसें और न ही चबाएं। जो लोग इस दवा को कैप्सूल के रूप में नहीं ले पाते उन्हें इसे फिर इसे टेबलेट के रूप में लेना चाहिए (जैसे शिशु या छोटे बच्चे)।

शिशु या बच्चों के लिए जो पूरी टेबलेट नहीं खा पाते, आप उस टेबलेट को तोड़कर और एक या दो छोटे चम्मच पानी में मिलाकर, चम्मच से या ड्रॉपर की मदद से दे सकते हैं। पहले से ही दवाओं को इकठ्ठा करके न रखें या फिर शिशु के फार्मूला दूध में मिलाकर इसे न दें। अधिक जानकारी के लिए फार्मासिस्ट से बात करें।

खुराक आपकी उम्र, वजन, चिकित्सीय स्थिति, लेबोरेटरी टेस्ट परिणाम और इलाज की प्रतिक्रिया पर आधारित है। अधिक लाभ पाने के लिए इस दवा का इस्तेमाल रोजाना करें। अगर आपको याद रखना है कि इस दवा को कब लेना है तो प्रत्येक दिन एक ही समय पर इस दवा को लें।

बिना डॉक्टर से पूछे इस दवा को लेना बंद न करें। थाइरॉइड रिप्लेसमेंट उपचार आमतौर पर जीवनभर के लिए लिया जाता है। लेवोथाइरोक्सिन के अलग-अलग ब्रांड हैं। इस ब्रांड में बिना डॉक्टर की सलाह के कोई बदलाव न करें।

कुछ दवाएं जैसे (कोलेसटायरामाइन, कोलेस्टिपोल, कोलेसिवेलम, एंटासिड, सुक्रालफेट, सिमेथिकों, आयरन, सोडियम पोलिसटायरीन सल्फोनेट, कैल्शियम सल्फोनेट, कैल्शियम सप्लीमेंट्स, ओर्लिस्टेट) की मात्रा को कम कर सकते हैं जो आपके शरीर द्वारा अवशोषित हो रहा है। अगर आप इनमें से कोई भी दवाई ले रहे हैं, तो इन्हें इस दवाई (लीवोथाइरोक्सिन) से कम से कम 4 घंटे के अंतराल में खाएं।

थायरॉइड हॉर्मोन के स्तर के कम होने के लक्षण जैसे थकान, मांसपेशियों में दर्द, कब्ज, ड्राय स्किन, वजन बढ़ना, ह्रदय की गति धीमी पड़ना या ठंड के प्रति संवेदनशीलता होना। इस दवा के लेने के कुछ हफ्ते में अगर आपको इस तरह की स्थिति दिखाई देती है या बिगड़ती हुई नजर आती है तो अपने डॉक्टर से बात करें।

[mc4wp_form id=”183492″]

मैं लीवोथाइरोक्सिन को कैसे स्टोर करूं? (How to store levothyroxine)

लीवोथाइरोक्सिन को घर के तापमान में ही रखा जाता है और सीधे पड़ने वाली रोशनी और नमी से दूर रखा जाता है। दवाई को खराब होने से बचाने के लिए, आपको लीवोथाइरोक्सिन को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना चाहिए। लीवोथाइरोक्सिन के अलग-अलग ब्रांड हैं जिनकी संग्रह करने की जरूरतें अलग होती हैं। इसलिए आवश्यक है कि आप उसे खरीदने से पहले उत्पाद पर लिखी संग्रह करने की जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़ लें या फिर फार्मासिस्ट से इसकी जानकारी ले लें।

सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाइयां बच्चों और जानवरों से अलग रखनी चाहिए। आपको लीवोथाइरोक्सिन टॉयलेट या किसी सीवर में नहीं डालनी चाहिए तब तक जब तक डॉक्टर आपको सलाह न दे। आवश्यक है कि आप पूरी तरह से दवाई को खत्म कर दें अगर वो एक्सपायर हो गयी है या किसी काम के लायक नहीं रही है। इसे सुरक्षित व सही तरह से खत्म करने के लिए एक बार अपने फार्मासिस्ट से बात जरूर करें।

और पढ़ें: जानें कैसे खतरनाक है अंडरएक्टिव थायरॉइड में प्रेग्नेंसी

लीवोथाइरोक्सिन (levothyroxine) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

इस दवा को इस्तेमाल करने से पहले, डॉक्टर को बताएं अगर :

  • आप कोई अन्य दवाएं ले रहे हैं। यह दवाई कोई भी हो सकती है जिसे आप बिना सलाह के खरीदते हैं जैसे हर्बल और कॉम्प्लिमेंटरी दवाइयां।
  • आपको लीवोथाइरोक्सिन या अन्य दवाइयों की सक्रिय या असक्रिय सामग्रियों से एलर्जी है।
  • आपको अन्य कोई बीमारी, डिसऑर्डर या चिकित्सीय स्थिति है।

अगर आप एंटासिड, कैल्शियम कार्बोनेट (टुमस), कोलेसटायरमाइन (कुसट्रान), सिमेथिकों (वेल्चोल), कोलेस्टिपोल (कोलेस्टिड), आयरन, ओर्लिस्टेट (अल्ली, सैनिकल), सिमेथिकों (फज़ाईम, गैस एक्स), सेवलमेर (रेनवेला, रेनजेल), सोडियम पोलिसटायरीन सल्फोनेट (काएक्सलेट), या सुक्रलफेट (कराफेट), को लीवोथाइरोक्सिन से 4 घंटे पहले लें या फिर अगर आप लीवोथाइरोक्सिन ले चुके हैं तो 4 घंटे बाद ऊपर बताई गई दवाइयों को लें।

अगर डायबिटीज है या पहले कभी डायबिटीज की बीमारी हुई है, धमनियां कस गयी हैं (अथेरोसक्लेरोसिस), गुर्दा रोग, लिवर की बीमारी या हेपेटाइटिस, ब्लीडिंग की समस्या, पोर्फिरीया, ह्रदय रोग जैसे हाय ब्लड प्रेशर, छाती में दर्द (एंजाइना), अनियमित दिल की धड़कन या हार्ट अटैक, या अंडर एक्टिव एड्रेनल या पिट्यूटरी ग्रंथि या कोई भी स्थिति जिसमें निगलने में समस्या होती है या हो रखी है तो अपने डॉक्टर को इस बारे में जरूर बताएं।

अगर आपकी सर्जरी हुई है जैसे दांतों की सर्जरी, तो डॉक्टर या डेंटिस्ट को बताएं कि आप लीवोथाइरोक्सिन दवा ले रहे हैं।

क्या प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लीवोथाइरोक्सिन लेना सुरक्षित है?

(is levothyroxine safe during pregnancy and breastfeeding )

प्रेग्नेंसी के दौरान और स्तनपान कराने के दौरान लीवोथाइरोक्सिन इस्तेमाल करने से होने वाले जोखिम के ऊपर ऐसी कोई स्टडी अभी मौजूद नहीं है। कृपया आप लीवोथाइरोक्सिन के इस्तेमाल से होने वाले लाभ और होने वाले नुकसान के बारे में अपने डॉक्टर से सलाह लें। यूएस फूड और ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के अनुसार लीवोथाइरोक्सिन प्रेग्नेंसी जोखिम वर्गीकरण A में आती है। एफडीए प्रेग्नेंसी जोखिम वर्गीकरण निम्नलिखित है:

  • A = कोई जोखिम नहीं
  • B = कुछ स्टडी में कोई जोखिम नहीं
  • C = कुछ जोखिम हो सकता है
  • D = जोखिम के सकारात्मक सबूत
  • X = निषेध
  • N = कोई जानकारी नहीं

और पढ़ें: थायरॉइड का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? जानिए दवा और प्रभाव

लीवोथाइरोक्सिन के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं? ( Side effects of levothyroxine)

लीवोथाइरोक्सिन से होने वाली एलर्जी रिएक्शन से जुड़े किसी भी तरह के लक्षण अगर आपको दिखाई देते हैं तो जल्द से जल्द आपात्कालीन चिकित्सा लें जैसे : हीव्स, सांस लेने में दिक्कत, चेहरे, जीभ, होंठ या गले में सूजन।

अगर कोई भी गंभीर साइड इफेक्ट्स देखने को मिलते हैं तो डॉक्टर से संपर्क करें जैसे :

कुछ आम साइड इफेक्ट्स जैसे

  • पैरों में ऐंठन
  • मांसपेशियों में कमजोरी
  • सिरदर्द
  • घबराहट या चिड़चिड़ाहट महसूस होना
  • दस्त
  • त्वचा पर लाल चकत्ते
  • बाल झड़ना

हर कोई इन साइड इफेक्ट्स को अनुभव नहीं करता। कुछ ऐसे साइड इफेक्ट्स भी हैं जो ऊपर नहीं दिए गए हैं। अगर आपको किसी भी तरह का साइड इफेक्ट नजर आता है तो डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात जरूर करें।

और पढ़ें : क्रेमाफीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

कौन सी दवाएं लीवोथाइरोक्सिन (levothyroxine) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

लीवोथाइरोक्सिन का इस्तेमाल साथ में ली जाने वाली दवाओं के साथ नहीं करना चाहिए, इससे दवाओं के कार्य करने में बदलाव आ सकता है या गंभीर साइड इफेक्ट्स का जोखिम बढ़ सकता है। किसी भी दवा के गलत प्रभाव को रोकने के लिए, आपको इस्तेमाल की जाने वाली दवाओं की एक सूची बनाकर रख लेनी चाहिए (जिनमें डॉक्टर के पर्चे की दवाएं, बिना सलाह वाली दवाएं और हर्बल उत्पाद शामिल हैं) और फिर उसे डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ साझा करें। आपकी सुरक्षा के लिए, बिना डॉक्टर की सलाह लिए कोई भी दवा अपने आप शुरू, बंद या खुराक में बदलाव न करें।

उत्पाद जो इस दवा के साथ नहीं इस्तेमाल करने चाहिए जैसे :

  • कैल्शियम कार्बोनेट
  • कोलेसटायरामाइन, कोलेस्टिपोल
  • फेरस सल्फेट आयरन सप्लिमेंट
  • सुक्रालफेट
  • सोडियम पोलिसटेरीन सल्फोनेट (कॉलेक्सेट, काएक्सलेट, कयोनेक्स)
  • एंटासिड जो एलुमिनियम और मैग्नीशियम बनाता है

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ लीवोथाइरोक्सिन (levothyroxine) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

लीवोथाइरोक्सिन दवा के काम करने के तरीके को बदलकर या गंभीर दुष्प्रभावों के लिए जोखिम को बढ़ाकर भोजन या एल्कोहॉल के साथ गलत प्रभाव डाल सकती है। इस दवा को लेने से पहले भोजन या एल्कोहॉल के साथ किसी भी तरह के सही परिणाम नहीं दिखाई देते हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात जरूर करें।

लीवोथाइरोक्सिन (levothyroxine) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

लीवोथाइरोक्सिन आपकी स्वास्थ्य स्थिति पर गलत प्रभाव डाल सकती है। यह प्रभाव आपकी स्वास्थ्य स्थिति को बिगाड़ सकता है या फिर दवाई के कार्य करने के तरीके को कम कर सकता है। जरूरी है कि आप अपनी स्वास्थ्य स्थिति को डॉक्टर और फार्मासिस्ट को बताएं।

इन रोगों में लीवोथाइरोक्सिन के सेवन से प्रभाव पड़ सकता है :

  • एड्रेनल ग्रंथि अपार्यप्ता (अंडरएक्टिव एड्रेनल ग्रंथि)
  • हार्ट अटैक
  • थायरोटोक्सिकोसिस (ओवरएक्टिव थाइरॉइड)
  • एड्रेनल समस्या
  • परनिशियस एनीमिया
  • एंजाइना ( छाती में दर्द)
  • रक्त का थक्का जमने की परेशानी
  • डायबिटीज
  • हार्ट या रक्त वाहिका की बीमारी (जैसे कोरोनरी आर्टरी रोग)
  • हार्ट की गति में समस्या (जैसे अनियमित दिल की धड़कन, आट्रियल फिब्रिलेशन)
  • ऑस्टियोपरोसिस
  • पिट्यूटरी ग्रंथि की समस्या
  • मरीज जिसे कैप्सूल निगलने में समस्या होती है

और पढ़ें- ब्रेस्ट कैंसर (Breast cancer) और ब्रेस्ट इंफेक्शन (Breast infection) में अंतर

डॉक्टर की सलाह

नीचे दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

लीवोथाइरोक्सिन कैसे उपलब्ध है? (levothyroxine’s availability)

लीवोथाइरोक्सिन खुराक के रूप और उसके प्रभाव के रूप में उपलब्ध है :

  • इंजेक्शन
  • टेबलेट

इमरजेंसी या ओवरडोज (overdose) होने की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड में जाएं।

अगर आप एक खुराक लेना भूल जाएं तो क्या करना चाहिए?

अगर लीवोथाइरोक्सिन की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और लीवोथाइरोक्सिन दवा से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर
Anoop Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 15/03/2021 को
Mayank Khandelwal के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड