home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Sertraline : सेर्ट्रालिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सेर्ट्रालिन का उपयोग किसलिए किया जाता है?|सेर्ट्रालिन का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?|सेर्ट्रालिन के क्या साइड इफेक्ट हो सकते हैं?|कौन-सी दवाएं सेट्रर्रालिन के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?|डॉक्टर की सलाह
Sertraline : सेर्ट्रालिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सेर्ट्रालिन का उपयोग किसलिए किया जाता है?

सेर्ट्रालिन का इस्तेमाल डिप्रेशन, पैनिक अटैक,ऑब्सेसिव कम्पलसिव डिसऑर्डर, पोस्ट- ट्रॉमेटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर, सोशल फोबिया और प्रीमेन्स्ट्रुअल सिंड्रोम (प्रीमेंस्ट्रुअल डिस्फोरिक डिसऑर्डर) के इलाज के लिए किया जाता है।

यह दवा आपके मूड, नींद, भूख और ऊर्जा के स्तर में सुधार कर सकती है। इस दवा का इस्तेमाल करने से आपकी डेली लाइफ में रुचि बनती है। इससे डर, चिंता, बेकार के ख्याल आना और पैनिक अटैक कम होता है। सेर्ट्रालिन एक सेलेक्टिव सेरोटोनिन रिअपटेक इन्हिबिटर (SSRI) के रूप में जाना जाता है। यह दिमाग में एक निश्चित प्राकृतिक पदार्थ (सेरोटोनिन) के संतुलन को बहाल करने में मदद करता है।

ये भी पढ़ें : Beclomethasone: बेक्लोमेथासोन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

मुझे सेर्ट्रालिन कैसे लेना चाहिए?

सेर्ट्रालिन का इस्तेमाल करने से पहले गाइडलाइन्स को जरूर पढ़ें या अपने फार्मासिस्ट से इसके बारे में बातचीत करें। इसको लेते वक्त आपको हर बार एक नया रिफिल मिलेगा। इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले आपके मन में किसी तरह का कोई सवाल है तो इसके बारे में डॉक्टर से पूछें। भोजन के साथ या भोजन के बिना सेर्ट्रालिन का इस्तेमाल कर सकते हैं। आमतौर यह दवा सुबह या शाम दिन में एक बार लेनी चाहिए। इस दवा को टैबलेट के तौर पर भोजन के साथ या बिना लिया जा सकता है। कैप्सूल फॉर्म आमतौर पर नाश्ते के बाद या शाम के भोजन के बाद लिया जा सकता है।

अगर, आप यह दवा प्रीमेन्स्ट्रुअल समस्याओं के लिए ले रहे हैं, तो डॉक्टर आपको इस दवा को महीने के हर दिन या अपनी अवधि शुरू होने से 2 सप्ताह पहले तक लेने की सलाह दे सकता है।

यह दवा की खुराक आपकी स्वास्थ्य स्थिति और डॉक्टर के ट्रीटमेंट पर निर्धारित होती है। दवा का आपको किसी तरह का साइड इफेक्ट न हो इसलिए डॉक्टर आपकी खुराक को कम से शुरू कर सकता है और धीरे-धीरे इसे बढ़ा सकता है। इस दवा इस्तेमाल डॉक्टर के निर्देश अनुसार ही करें। यह दवा आपके शरीर पर पूरी तरह से असर करें, इसके लिए रोजाना इस दवा का इस्तेमाल एक ही समय पर करें। दवा का इस्तेमाल करने के कुछ दिन बाद अगर आप अच्छा महसूस करने लगते हैं तो भी इसका सेवन जारी रखें। अचानक दवा का इस्तेमाल बंद होने से आपकी स्थिति पहले से खराब हो सकती है। दवा का इस्तेमाल करने के दौरान आपको थकान, सिरदर्द, नींद में बदलाव और बिजली के झटके के समान अटैक जैसे लक्षण भी महसूस हो सकते हैं। दवा का सेवन करने के दौरान आपकी स्थिति पहले से ज्यादा खराब होती है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

मैं सेर्ट्रालिन कैसे स्टोर करूं?

सेर्ट्रालिन को रूम टेम्प्रेचर पर ही स्टोर करना चाहिए। इसे धूप के सीधे प्रभाव या नमी में आने से बचा कर रखें। सेर्ट्रालिन को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह में न रखें। मार्केट में सेर्ट्रालिन के अलग-अलग ब्रांड हैं, जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा-निर्देशों को पढ़ें या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछे। सुरक्षा के लिहाज से, आपको सभी दवाइयों को बच्चे और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

बिना-निर्देश के सेर्ट्रालिन को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुकी है, तो इसका इस्तेमाल न करें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

सेर्ट्रालिन का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

अगर, आपको सेर्ट्रालिन के इस्तेमाल से किसी तरह की एलर्जी है, तो अपने डॉक्टर से इस बारे में बात करें। सेर्ट्रालिन के अलावा आपको किसी तरह की दवा से एलर्जी है तो इसके बारे में डॉक्टर को जानकारी दें। जैसेः

एलर्जीः अगर आपको किसी भी तरह की दवा से किसी तरह की एलर्जी है तो इस बारे में अपने डॉक्टर को जानकारी दें। अगर आपको किसी तरह की अन्य एलर्जी है या किसी खाद्य पदार्थ, डाई , प्रिजर्वेटिव्स और जानवर से किसी तरह की कोई समस्या है तो इसके बारे में डॉक्टर को जानकारी दें।

इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या फार्मासिस्ट को अपनी बीमारी के बारे में बताएं, खासतौर पर अगर आप नीचे बताई गई बीमारियों से पीड़ित हों :

इस दवा के सेवन से आपको चक्कर या नींद आ सकती है। साथ में एल्कोहॉल या मारिजुआना के उपयोग से चक्कर और ज्यादा नींद आने की समस्या और बढ़ सकती है। ऐसे में गाड़ी या कोई भी मशीनरी ना चलाएं, साथ ही ऐसा कोई काम ना करें जिसमें एलर्ट होने की जरूरत हो। एल्कोहॉल के सेवन से परहेज करें।

बच्चों के लिए : बच्चों के लिए यह दवा कितनी सुरक्षित है इसके बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं मिल पाई है। बच्चों को इस दवा का सेवन करवाने से पहले कृपया डॉक्टर से बातचीत करें। अब तक जो भी शोध हुए हैं उसमें इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है कि यह दवा बच्चों के लिए कितनी सुरक्षित है। हालांकि, 6 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में सुरक्षा और प्रभावकारिता स्थापित नहीं की गई है।

वृद्धावस्थाः यह दवा बढ़ती उम्र के लोगों और बुजुर्ग पर किस तरह का प्रभाव डालती है इस पर अभी पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। बुजुर्ग रोगी युवा वयस्कों की तुलना में इस दवा के प्रभाव के प्रति अधिक संवेदनशील हो सकते हैं और उनमें हाइपोनेट्रेमिया (खून में सोडियम की कमी) होने की अधिक संभावना होती है, जिससे सेर्ट्रालिन प्राप्त करने वाले रोगियों के लिए सावधानी और खुराक में समायोजन की आवश्यकता हो सकती है।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग से दौरान सेर्ट्रालिन लेना सुरक्षित है?

गर्भावस्था के दौरान इस दवा का इस्तेमाल तभी करना चाहिए जब बहुत जरूरी हो। यह दवा शिशु को नुकसान पहुंचा सकती है। जिन मांओं ने गर्भावस्था के आखिरी 3 महीनों में इस दवा का सेवन किया होता है उनके बच्चों में नींद से जुड़ी समस्याएं, सांस की तकलीफ, दौरे पड़ना, मांसपेशियों में जकड़न और हमेशा रोते रहने जैसी समस्याओं का खतरा हो सकता है। अगर आपको इनमें से कोई भी लक्षण नजर आएं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। डॉक्टर से इसके फायदों और नुकसान की चर्चा करें।

ये भी पढ़ें : Serratiopeptidase: सेरेसियोपेप्टाइडेज क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सेर्ट्रालिन के क्या साइड इफेक्ट हो सकते हैं?

अगर आपको स्किन पर चकत्ते, पित्ती, सांस लेने में परेशानी, चेहरे, होंठ, जीभ या गले की सूजन जैसी समस्या होती है तो तुरंत नजदीकी अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में जाएं।

दवा का सेवन करने के बाद मूड या व्यवहार में परिवर्तन, चिंता, घबराहट के दौरे, नींद की परेशानी, चिड़चिड़ाहट, एक्साइटमेंट, आक्रामकता, बेचैनी, अतिसक्रिय (मानसिक या शारीरिक रूप से) महसूस करते हैं या ज्यादा उदास महसूस करते हैं या आत्महत्या करने की कोशिश करते हैं या खुद को चोट पहुंचाने की कोशिश करते हैं तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

दवा का इस्तेमाल करने के बाद आपको मांसपेशियों का कठोर होना, तेज बुखार, पसीना, भ्रम, तेज या असामान्य हार्ट बीट्स या ऐसा महसूस होना कि आप मरने वाले हैं, तो तुरंत नजदीकी अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में जाएं या अपने डॉक्टर को फोन करें।

इस दवा का इस्तेमाल करने के बाद आपको मतिभ्रम, बुखार, अति सक्रिय सजगता, झटके; मतली, उल्टी, दस्त, भूख की कमी, अस्थिरता महसूस करना, सिरदर्द, ध्यान केंद्रित करने में परेशानी, याददाश्त की समस्या, कमजोरी, बेहोशी, दौरा, सांस लेने में परेशानी या सांस लेना बंद हो जाना जैसी चीजें महसूस हो सकते हैं, ज्यादा जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

कम गंभीर दुष्प्रभाव शामिल हो सकते हैं:

  • सुस्ती, चक्कर आना, थका हुआ महसूस होना।
  • हल्की मतली, पेट में दर्द, पेट खराब, कब्ज; ड्राय माउथ
  • भूख या वजन का कम या ज्यादा होना।
  • नींद की समस्याएं (अनिद्रा); या नपुंसकता या संबंध बनाने में परेशानी

ऐसा जरूर नहीं है इस दवा का इस्तेमाल करने के बाद आपको इसी तरह के साइड इफेक्ट महसूस हों। इस दवा से होने वाले सभी साइड इफेक्ट यहां नहीं बताए गए हैं। दवा का इस्तेमाल करने के बाद आपको किसी तरह की परेशानी होती है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

कौन-सी दवाएं सेट्रर्रालिन के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

अगर, आप वर्तमान में किसी दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो सेट्रर्रालिन इसे प्रभावित कर सकती है। यह आपकी वर्तमान दवाओं के प्रभाव को कम कर सकती है या इसके साइड इफेक्ट्स को बढ़ा सकती है। सेट्रर्रालिन का इस्तेमाल करने से पहले उन सभी दवाओं की लिस्ट तैयार कर लें, जिनका सेवन आप वर्तमान में कर रहे हैं। (प्रिस्क्रिप्शन ड्रग्स, नॉनस्प्रिस्क्रिप्शन ड्रग्स और हर्बल उत्पाद शामिल हैं) अपनी सुरक्षा के लिए बिना डॉक्टर की इजाजत के किसी भी दवा की खुराक को घटाएं या बढ़ाएं नहीं।

ये भी पढ़ें : सीफोटेक्सीम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ इस दवा का उपयोग करने की सलाह नहीं दी जाती है। आपका डॉक्टर इस दवा के साथ इलाज करने के लिए या आपके द्वारा ली जाने वाली कुछ अन्य दवाओं को बदलने का निर्णय ले सकता है।

  • क्लोजीली
  • फ्रजोलीडोन
  • इप्रोनाजेड
  • इसोकारबोक्सीजिड
  • लिनेजोलिद
  • मेथिलीन ब्लू
  • मोकलोबीमाइड
  • नीलामाइड
  • प्राजिलीन
  • फेनेलीजीन
  • पीमोजाइड
  • प्रोक्राबेजीन
  • रासाजीलीन
  • सेलेगलाइन
  • टोलोक्साटोन
  • ट्रायनसीप्रोमाइन

निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ इस दवा का उपयोग करने की सलाह नहीं देती है, लेकिन कुछ मामलों में आवश्यकता हो सकती है। यदि दोनों दवाएं एक साथ निर्धारित की जाती हैं, तो आपका डॉक्टर दवा की खुराक बदल सकता है और दोनों दवाओं को एक साथ सेवन किया जा सकता है।

  • एबसीमैब
  • एसनोकोमारोल
  • एक्रीवैसटाइन
  • एलमोट्रीटैन
  • ऐमिट्रिप्टिलाइन
  • एमोक्रापीन
  • एनाग्रेलाइड
  • एनक्रोड
  • एनीसीनोडीन
  • एंटीथ्रॉम्बिन III ह्यूमन
  • एपीक्साबेन
  • एस्टामाइजोल
  • बीवालेरूडीन
  • ब्यूप्रोपियन
  • सेट्रोपेरीन
  • सीलोटाजोल
  • साइटालाप्राम
  • क्लोमीफेराइन
  • क्लोपीडोग्रेल
  • क्लोजापाइन
  • साइक्लोबेजाप्राइन
  • डोलटेप्रैरीन
  • डेनाप्रैराइड
  • डेफेब्रोटीड
  • डरमेटेन सलफेट
  • डेसीप्रामीन
  • डेसीरूडीन
  • डेसवेनलाफैक्सीन
  • डेक्सफेनलूफ्रामाइन
  • डेक्सट्रोमेथ्रोफेन
  • डाईक्लोफेनाक
  • डिक्मारोल
  • डिफेरीमडोल
  • डोलासेट्रोन
  • डोथीपीन
  • डोक्सीपीन
  • ड्यूलोक्सटीन
  • ऐलेट्रीपेटैन
  • इनोक्सीपैरीन
  • एप्टीफीबैटाइड
  • एसीट्रालोप्राम
  • फेनफ्रूमाइन
  • फेनटायल
  • फ्लेमाइड
  • फ्लूक्सोटाइन
  • फ्लुक्सोमाइन
  • फोंडापारिनक्स
  • फोस्फीनाइटोइन
  • फ्रोवेट्रीपैन
  • ग्रानीसीट्रोन
  • हेलोपैरीडोल
  • हेपरिन
  • इमीप्रामीन
  • आईबैनगैन आई 123
  • लैवेमीलैनस्प्रीन
  • लोफेप्रामीन
  • लोरक्रासेरीन
  • मेपेरीडीन
  • मीलाचीप्रीन
  • मीट्राजेपीन
  • नेड्रोपेरीन
  • नेराट्रेपैन
  • नोर्ट्रिप्टीलीन
  • ओक्स्कार्बज़ेपिंन
  • ऑक्सीकोडोन
  • पेलोनोसेट्रोन
  • पेरनापैरीन
  • पारोएक्सीटीन
  • पेंटोसन पॉलीसल्फेट सोडियम
  • फेनीडाइोनीन
  • फीप्रोकोमोन
  • फिनाइटोइन
  • प्रेसूग्रेल
  • प्रोपेफेनोन
  • प्रोट्रेपीटीलीन
  • रीवीप्रीन
  • रिसपेरीडोन
  • रिटोनेवीर
  • रिजाट्रेपेटन
  • सीबूट्रामीन
  • सेंट जॉन वोर्ट
  • सुमाट्रिप्टान
  • टेमोक्सीफेन
  • टेपेटाडोल
  • टीक्लोपीडीन
  • टीनजैपेरीन
  • टीरोफाइबन
  • ट्रैमेडोल
  • ट्रैजोडोन
  • ट्रीमीप्राइमीन
  • ट्रीपोफोन
  • वेनलाफैक्सीन
  • वीलाजोडोन
  • वोरटीओक्सटीन
  • वाफर्रीन
  • जोलमीट्रीपेटन

निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ इस दवा का उपयोग करने से कुछ साइड इफेक्ट का खतरा बढ़ सकता है, लेकिन दोनों दवाओं को एक साथ लेना कई बार आपके लिए काफी बेहतर हो सकता है। अगर, आपका डॉक्टर दोनों दवाओं को एक साथ लेने के लिए कहता है तो दवाओं की खुराक बदली जा सकती है।

  • अल्प्राजोलम
  • कार्बामाजेपाइन
  • सिमेटिडाइन
  • डेरूनावीर
  • इफावरेन्ज
  • फ्लूपेनाजीन
  • जिन्कगो
  • लेमोट्रेजीन
  • लिथियम
  • मेटोक्रोप्रेमाइड
  • प्रोप्रानोलोल
  • रिफम्पिं
  • जोल्पीडेम

क्या भोजन और एल्कोहॉल के साथ सेर्ट्रालिन का इस्तेमाल किया जा सकता है?

इस दवा को डॉक्टर की सलाह अनुसार रोजाना सुबह या शाम को दिन में एक बार लें। इस टैबलेट या इसके लिक्विड फॉर्म को खाने के साथ या खाली पेट सेवन करें। आमतौर पर इसे खाने के साथ लेना अच्छा माना जाता है। कैप्सूल को निगल लें, इसे चबाएं या कुचलें नहीं। इस दवा के लिक्विड फॉर्म को हमेशा किसी दूसरे लिक्विड के साथ मिक्स करने के बाद ही उपयोग में लाएं।

सेर्ट्रालिन खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

सेर्ट्रालिन हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के साथ तालमेल बनाती है। अगर आप वर्तमान में किसी तरह की दवा का सेवन कर रहे हैं तो यह उसके असर को कम कर सकती है या उसके प्रभाव को उल्टा कर सकती है। अगर आप स्वास्थ्य से जुड़ी किसी भी तरह की स्थिति से गुजर रहे हैं, तो यह बेहद जरूरी है कि इसके बारे में आप अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से बात करें। जैसेः

  • बायपोलर डिसऑर्डर (उन्माद और डिप्रेशन)
  • ब्लीडिंग की रिस्क होना
  • डायबिटीज
  • ग्लूकोमा, एंगल-क्लोजर या
  • हाइपोनेट्रेमिया (खून में सोडियम का कम होना)
  • उन्माद या कभी हाइपोमेनिया रहा हो या
  • अगर, आप कभी दौरे का शिकार हुए हैं तो इसका इस्तेमाल सावधानी से करें। यह आपकी स्वास्थ्य स्थिति को पहले से भी खराब कर सकती है।
  • लिवर की समस्या वाले लोग भी इसका इस्तेमाल सावधानी से करें।

यह भी पढ़ें- डिलिवरी के बाद बॉडी को शेप में लाने के लिए महिलाएं करती हैं ये गलतियां

डॉक्टर की सलाह

नीचे दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

सेर्ट्रालिन कैसे उपलब्ध है?

सेर्ट्रालिन निम्नलिखित खुराकों के तौर पर उपलब्ध है:

टैबलेट 25 एमजी, 50 एमजी, 100 एमजी

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिति में लोकल इमरजेंसी सर्विस नंबर पर कॉल करें या नजदीकी इमरजेंसी वार्ड में जाएं।

  • ओवरडोज के लक्षणों में शामिल हैं
  • बाल झड़ना
  • सेक्स ड्राइव या क्षमता में बदलाव
  • तंद्रा
  • अत्यधिक थकान
  • सोने में कठिनाई होना
  • दस्त
  • उल्टी
  • तेज या अनियमित दिल की धड़कन
  • जी मिचलाना
  • चक्कर आना
  • एक्साइटमेंट
  • मतिभ्रम (आवाजें सुनना या ऐसी चीजें देखना जो मौजूद नहीं हैं)
  • बेहोशी की हालत
  • बेहोशी

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर एक खुराक लेना भूल जाते हैं, तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि अगर इसके कुछ समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो, तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें।

यह भी पढ़ें- क्या आप राइट टाइम सोते हैं ? अगर नहीं, तो सोने का सही समय आ गया है

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Sertraline Accessed July 15, 2016.

Sertraline Accessed July 15, 2016.

Sertraline Accessed July 15, 2016.

Sertraline Accessed on 09/12/2019

Sertraline, Oral Tablet Accessed on 09/12/2019

Sertraline Accessed on 09/12/2019

sertraline Accessed on 09/12/2019

What to know about sertraline Accessed on 09/12/2019

लेखक की तस्वीर badge
Anoop Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/05/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x