home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Spironolactone : स्पिरोनोलैक्टोन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

स्पिरोनोलैक्टोन का उपयोग किसलिए किया जाता है?|स्पिरोनोलैक्टोन (spironolactone) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?|स्पिरोनोलैक्टोन के क्या साइड इफेक्ट क्या हो सकते हैं?|कौन सी दवाएं स्पिरोनोलैक्टोन के साथ इस्तेमाल नहीं करनी चाहिए?|डॉक्टर की सलाह
Spironolactone : स्पिरोनोलैक्टोन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

स्पिरोनोलैक्टोन का उपयोग किसलिए किया जाता है?

स्पिरोनोलैक्टोन का उपयोग हाई ब्लड प्रेशर का इलाज करने के लिए किया जाता है। हाई ब्लड प्रेशर को कम करने या ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने से स्ट्रोक, हार्ट अटैक और किडनी की समस्याओं को रोकने में मदद मिलती है। इसका उपयोग सूजन (एडिमा) के उपचार के लिए किया जाता है, जो कुछ स्थितियों के कारण होती है (जैसे कोंजेस्टिव हार्ट फेलियर)। इसके अलावा इसका इस्तेमाल अतिरिक्त तरल पदार्थ को निकालने और सांस लेने में समस्या जैसे लक्षणों में सुधार लाने के लिए किया जाता है।

स्पिरोनोलैक्टोन दवा का उपयोग शरीर में कम पोटैशियम के स्तर और शरीर में प्राकृतिक रसायन का अधिक उपयोग होने पर उसके इलाज के लिए भी किया जाता है।

स्पिरोनोलैक्टोन को “वॉटर पिल” (पोटेशियम-स्पेरिंग डायुरेटिक) के रूप में जाना जाता है।

अन्य उपयोग : इस खंड में इस दवा के उपयोग शामिल हैं जो दवा के लिए बिना लेवलिंग के प्रोफेशनल द्वारा सूचीबद्ध नहीं किए गए हैं। अगर आप इस दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लें। केवल सूचीबद्ध परिस्थितियों में ही इस दवा का इस्तेमाल करें। जहां तक संभव हो इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लीजिए।

इस दवा का उपयोग पॉलीसिस्टिक अंडाशय की बीमारी वाली महिलाओं में बाल विकास (हिर्सुटिज्म) के इलाज के लिए भी किया जाता है।

मैं स्पिरोनोलैक्टोन (spironolactone) को कैसे इस्तेमाल करूं?

दवा का उपयोग डॉक्टर द्वारा जारी किए निर्देशों के अनुसार ही करें। अगर आपका पेट खराब है या पेट में किसी तरह की अपच की समस्या है तो दवा को खाने या दूध ने साथ ले सकते हैं। रात में आपको बार-बार पेशाब करने के लिए ना उठना पड़े इसलिए दवा का सेवन शाम 6 बजे से पहले करें। दवा से संबंधित आपके दिमाग में किसी तरह का कोई भी सवाल है तो तुरंत अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

स्पिरोनोलैक्टोन की खुराक आपकी स्थिति और चिकित्सा प्रतिक्रिया पर आधारित है। बच्चों में भी खुराक भी शरीर के वजन पर आधारित होती है।

इस दवा को नियमित रूप से लें ताकि इसका सबसे अधिक लाभ मिल सके। निर्देशित रूप में प्रत्येक दिन एक ही समय पर इसका उपयोग करना याद रखें। यदि आप ठीक महसूस करते हैं तो भी इस दवा को लेना जारी रखना महत्वपूर्ण है। हालांकि हाई ब्लड प्रेशर वाले ज्यादातर लोग बीमार महसूस नहीं करते हैं। इस स्थिति में डॉक्टर से सलाह लीजिए।

इस दवा को ठीक उसी तरह ले जैसा कि निर्धारित है। अपनी खुराक में वृद्धि न करें, इसे निर्धारित से अधिक बार ना लें या इस दवा का इस्तेमाल बिना डॉक्टर से परामर्श किए बंद न करें। अचानक दवा बंद करने से आपकी हेल्थ कंडिशन और भी ज्यादा खराब हो सकती है।

अगर आप रोजाना या सप्ताहिक स्तर पर अपना ब्लड प्रेशर चेक करते हैं और रीडिंग में वृद्धि पाते हैं तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

मैं स्पिरोनोलैक्टोन (spironolactone) को कैसे स्टोर करूं?

स्पिरोनोलैक्टोन को कमरे के तापमान पर रखना सबसे सही माना जाता है। दवा को संभंवत: सूरज की रोशनी या नमी जैसी जगहों पर नहीं रखना चाहिए। डॉक्टरों का कहना है कि स्पाइरिनलेक्टोन को फ्रीजर में स्टोर नहीं करना चाहिए। स्पाइरिनलेक्टोन के अलग-अलग ब्रांड हो सकते हैं जिनमें अलग-अलग स्टोरेज की आवश्यकता हो सकती है। स्टोरेज निर्देशों के लिए हमेशा उत्पाद पैकेज की जांच करना महत्वपूर्ण है या अपने फार्मासिस्ट से पूछें। सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

बिना निर्देश के स्पिरोनोलैक्टोन को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुका है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है तो इसका इस्तेमाल न करें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ें- अगर आपको टीबी है तो खुद को और दूसरों को ऐसे बचाएं

स्पिरोनोलैक्टोन (spironolactone) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

स्पिरोनोलैक्टोन का उपयोग करना सेहत के लिए जोखिम भरा हो सकता है। इसलिए इससे होने वाले फायदे के साथ-साथ इससे होने वाली हानियों को भी पूरी तरह से समझना चाहिए। इस्तेमाल से पहले एक बार जरूर डॉक्टर की सलाह लें।

एलर्जीः आपको अगर किसी तरह की दवा या अन्य हर्बल प्रोडक्ट्स से एलर्जी से तो इस दवा का सेवन करने से पहले इसकी जानकारी डॉक्टर को अवश्य दें। इसके अलावा आपको किसी तरह के खाने,जानवर, प्रिजर्वेटिव से एलर्जी है तो इसके बारे में भी डॉक्टर को जरूर बताएं। अगर आप सीधे काउंटर से कोई दवा खरीद रहे हैं तो लेबल पर दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ें।

बच्चों के लिएः बच्चों के लिए यह दवा कितनी सुरक्षित है इसके बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं मिल पाई है। बच्चों को इस दवा का सेवन करवाने से पहले कृपया डॉक्टर से बातचीत करें।

वृद्धावस्थाः यह दवा बढ़ती उम्र के लोगों और बुजुर्ग पर किस तरह का प्रभाव डालती है इस पर अभी पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान स्पिरोनोलैक्टोन (spironolactone) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इसके इस्तेमाल करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानियां हो सकती हैं इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं है। ऐसे में इसके इस्तेमाल से पहले हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

और पढ़ें- गर्भावस्था में पेरेंटल बॉन्डिंग कैसे बनाएं?

स्पिरोनोलैक्टोन के क्या साइड इफेक्ट क्या हो सकते हैं?

स्पिरोनोलैक्टोन के इस्तेमाल करने के दौरान आपको किसी भी तरह की तकलीफ होती है तो तुरंत अपने डॉक्टर या नजदीकी अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में संपर्क करें। स्पाइरिनलेक्टोन का इस्तेमाल करने के बाद आपको सांस लेने में तकलीफ, चेहरा, होंठ या गालों में सूजन आती है तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करिए।

स्पिरोनोलैक्टोन का इस्तेमाल करने के बाद आपको इस तरह की परेशानी आती है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें। इसमें शामिल है।

  1. अंग सुन्न हो जाना
  2. मांसपेशियों में दर्द या कमजोरी
  3. हार्ट बीट्स का तेज या कम होना
  4. सुस्ती, बेचैनी महसूस करना
  5. सामान्य से कम यूरिन पास होना या बिलकुल न होना
  6. सांस लेने में परेशानी
  7. झटके, भ्रम
  8. मतली, पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द, खुजली, भूख में कमी, डार्क कलर की यूरिन, पीलिया (त्वचा या आंखों का पीला होना) या
  9. मेजर स्किन साइड इफेक्ट्स- बुखार, गले में खराश, चेहरे या जीभ में सूजन, आपकी आंखों में जलन, स्किन पर लाल या बैंगनी रंग के चकत्ते दिखाई देते हैं जो फैलते हैं (विशेषकर चेहरे या ऊपरी शरीर में) और छाले और छीलने का कारण बनता है।

कम गंभीर दुष्प्रभाव :

इसके इस्तेमाल के कारण होने वाले सभी दुष्प्रभाव यहां पर नहीं बताएं गए हैं। अगर आप किसी भी तरह का जोखिम महसूस करते हैं तो अपने डॉक्टर से बात करें।

और पढ़ें- डैंड्रफ के लिए हेयर स्पा है फायदेमंद, घर पर ही करें ऐसे स्पा

कौन सी दवाएं स्पिरोनोलैक्टोन के साथ इस्तेमाल नहीं करनी चाहिए?

अगर आप वर्तमान में किसी भी तरह की दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो स्पिरोनोलैक्टोन लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। स्पिरोनोलैक्टोन आपकी वर्तमान दवाओं के साथ कुछ नकारात्मक प्रभाव शरीर पर डाल सकती है। दवाओं का कोई भी साइड इफेक्ट आपके शरीर पर न हो इसके लिए डॉक्टर से सलाह लेने से पहले पूरी लिस्ट तैयार कर लें। (जैसेः डॉक्टर के पर्चे की दवाएं, गैर-पर्चे वाली दवाएं और हर्बल उत्पाद आदि) और इसे अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट के साथ साझा करें। अपनी सेहत के लिए किसी भी दवा की खुराक को बिना डॉक्टर की सलाह के बढ़ाए या घटाएं नहीं।

आपका डॉक्टर इस दवा के साथ इलाज नहीं करने या आपके द्वारा ली जाने वाली कुछ अन्य दवाओं को बदलने का निर्णय ले सकता है।

  • एप्लेरेनन
  • ट्रैमटेरेन निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ इस दवा का उपयोग करना आमतौर पर अनुशंसित नहीं है, लेकिन कुछ मामलों में आवश्यक हो सकता है। यदि दोनों दवाएं एक साथ निर्धारित की जाती हैं, तो आपका डॉक्टर खुराक को बदल सकता है।
  • ऐलासीप्रील
  • आर्जीनाइन
  • आर्सेनिक ट्राईऑक्साइड
  • बेनाजेप्रिल
  • कैप्टोप्रिल
  • सिलाजप्री
  • डेलाप्रिल
  • डायजोक्सिन
  • ड्रोप्रीडोल
  • एनालाप्रिल मैलेट
  • फोसीनोप्रील
  • इमीडाप्रील
  • लेवोमेथीडिल
  • लीसीनोप्रिल
  • लिथियम
  • मोइक्सप्रिल
  • पेंटोप्रिल
  • परीनडोप्रिल
  • पोटेशियम
  • क्यूनाप्रिल
  • रैमीप्रिल
  • सोटोलोल
  • स्प्रीप्रिल
  • टैक्रोलीमस
  • टैमोक्राप्रिल
  • ट्रैंडोलाप्रिल
  • ट्रीमेथोप्रीम
  • जोफेनोप्रील

निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ इस दवा का उपयोग करने से आपको कुछ साइड इफेक्ट्स का खतरा हो सकता है, तो वहीं किसी दवा के साथ इसका उपयोग आपके उपचार को अच्छा परिणाम देने वाला हो सकता है।

  • एसिक्लोफेनाक
  • ऐसमेटासिन
  • अमोलमेटिन गुआसिल
  • एस्पिरिन
  • ब्रोमफेनेक
  • बूफेक्समेक
  • सेलोकोडिक्स
  • चोलिन सैलिसिलेट
  • क्लोनिक्सीन
  • डेक्सीबूप्रोफेन
  • डेक्सकेटोप्रोफेन
  • डाईक्लोफेनाक
  • डीफ्लूनीसल
  • डिजिटोनिक्स
  • डिपरियॉन
  • इटोकोलेक
  • इटोफेनामेट
  • इट्रोसोबिक्स
  • फेनोप्रोफेन
  • फेप्राडिनोल
  • फेप्राजोन
  • फलेक्टोफेनाइन
  • फ्लुफेनमिक एसिड
  • आइबूप्रोफेन
  • इबुप्रोफेन लाइसिन
  • इंडोमिथैसिन
  • कीटोप्रोफेन
  • केट्रोलेक
  • लिकोराइस
  • लोरनोक्सीकेम
  • लोक्सोप्रोफेन
  • लूमरिकाकोबिक्स
  • मेकलोफेनामेट
  • मेफ़ानामिक एसिड
  • मेलोक्सीकेम
  • मॉर्नीफ्लूमेट
  • नबूमेटोन
  • प्रोगलूमेटानिक
  • प्रोपीफेंजाजॉन
  • प्रोक्वाजोन
  • रोफेकोक्सिब
  • सलिसीक्लिक एसिड
  • सैल्सेलेट
  • सोडियम सैलिसिलेट
  • सलिनडैक
  • टियाप्रोफेनिक एसिड
  • टॉलफेनिक एसिड
  • टोल्मेटिन
  • वैल्ड़ेकॉक्सिब

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ स्पिरोनोलैक्टोन का इस्तेमाल किया जा सकता है?

अगर किसी भी भोजन या एल्कोहॉल के साथ स्पिरोनोलैक्टोन का सेवन किया जाए तो इसके परिणाम खतरनाक हो सकते हैं। इसलिए इसे किस तरह के खाद्य पदार्थों के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है इसके बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बातचीत करें।

स्पिरोनोलैक्टोन (spironolactone) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

स्पिरोनोलैक्टोन (spironolactone) आपकी स्वास्थ्य की स्थिती के अनुसार काम करता है। कई मामलों में यह दवा घातक भी साबित हो सकती है। इसलिए जरूरी है कि इसके इस्तेमाल से पहले अपने स्वास्थ्य की मौजूदा स्थिति और वर्तमान में ली जा रही दवाओं के बारे में डॉक्टर को बताएं। विशेष रूप से:

एडिसन रोग (एड्रेनल से जुड़ी समस्या )

यूरिन पास करने में परेशानी होना

हाइपरकैलेमिया (खून में पोटेशियम बढ़ जाना)

किडनी की गंभीर बीमारी – इन स्थितियों के रोगियों को दवा का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए।

इलेक्ट्रोलाइट असंतुलन (जैसे, कम क्लोराइड, मैग्नीशियम या सोडियम)

द्रव असंतुलन (डीहाइड्रेशन, उल्टी या दस्त के कारण)

लिवर की बीमारी, गंभीर (जैसे, लिवर सिरोसिस)

इन स्थितियों में दवा का सेवन करना आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

और पढ़ें- जानें क्यों रोज नहाना है जरूरी, नहीं नहाएंगे तो क्या होगा?

डॉक्टर की सलाह

नीचे दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

स्पिरोनोलैक्टोन (spironolactone) कैसे उपलब्ध है?

स्पिरोनोलैक्टोन निम्नलिखित खुराकों के तौर पर उपलब्ध है:

कैप्सूलः 25 मिलीग्राम; 50 मिलीग्राम; 100 मिलीग्राम

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी में वॉर्ड जाएं।

ओवरडोज के निम्नलिखित लक्षण देखें जा सकते हैः

  • सुस्ती
  • उलझन
  • लाल चकत्ते
  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • सिर चकराना
  • दस्त
  • हाथ और पैर में झुनझुनी
  • मसल टोन में कमजोरी
  • पैरों में कमजोरी या भारीपन
  • अनियमित या दिल की धड़कन धीमी होना

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर स्पिरोनोलैक्टोन की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें।

[mc4wp_form id=”183492″]

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Spironolacton Accessed on 15/07/2016

Spironolactone Accessed on 15/07/2016

Spironolactone Accessed on 15/07/2016

Spironolactone, Oral Tablet Accessed on 05/12/2019

Spironolactone Accessed on 05/12/2019

spironolactone Accessed on 05/12/2019

Spironolactone (Oral Route) Accessed on 05/12/2019

Oral Spironolactone in Post-teenage Female Patients with Acne Vulgaris Accessed on 05/12/2019

लेखक की तस्वीर
Anoop Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/08/2020 को
Mayank Khandelwal के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड