backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना
Table of Content

Tamsulosin + Dutasteride : टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Mayank Khandelwal


Shikha Patel द्वारा लिखित · अपडेटेड 30/09/2020

Tamsulosin + Dutasteride : टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग

टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड (Tamsulosin + Dutasteride) का इस्तेमाल किसके लिए किया जाता है?

टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड का इस्तेमाल पुरुषों में बढ़े हुए प्रोस्टेट (बिनाईन प्रोस्टेटिक हाइपरट्रॉफी-बीपीएच) के लक्षणों का इलाज करने के लिए किया जाता है। डुटास्टेराइड दवा बढ़े हुए प्रोस्टेट के आकार को कम करती है। वहीं टेम्सुलोसिन,अल्फा-ब्लॉकर के रूप में जानी जाती है और यह दवा ब्लैडर और प्रोस्टेट की मांसपेशियों को शिथिल करके बीमारी पर काम करती है। यह प्रोडक्ट बीपीएच के लक्षणों को दूर करने में मदद करता है जैसे कि यूरिन पास करने  के दौरान शुरू में होने वाली कठिनाई, बार-बार या तुरंत यूरिन पास करने की आवश्यकता (मध्य रात्रि में में यूरिन आने की समस्या) आदि।

हालांकि, प्रोस्टेट कैंसर की रोकथाम के लिए डुटास्टेराइड का उपयोग नहीं किया जाता है। यह प्रोस्टेट कैंसर के गंभीर रूप को विकसित करने के जोखिम को थोड़ा-सा बढ़ा सकता है। इसके लाभ और दुष्प्रभाव के बारे में बात करें।

इस दवा का उपयोग महिलाओं या बच्चों को नहीं करना चाहिए।

और पढ़ें : Drotaverine : ड्रोटावेराइन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

आमतौर पर प्रतिदिन भोजन के 30 मिनट बाद या अपने डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देश के अनुसार ही इस दवा का सेवन करें। कैप्सूल को तोड़ें, चबाएं या खोलें नहीं, एक बार में ही उसे पूरा एक साथ निगल लें।

इस दवा के सेवन से आपका ब्लड प्रेशर कुछ कम हो सकता है, जिससे चक्कर या बेहोशी हो सकती है। यह दुष्प्रभाव तब अधिक होता है जब आप पहली बार दवा को लेना शुरू करते हैं या इसका सेवन बंद करने के बाद फिर से दवा लेना शुरू करते हैं।

इस दवा को नियमित रूप से लें ताकि इसका अधिक से अधिक लाभ मिल सके। दवा की एक भी खुराक न भूलें। इसके लिए हर दिन दवा को एक ही समय पर लें।

लक्षणों में सुधार आने में चार सप्ताह तक का समय लग सकता है। अपने डॉक्टर को बताएं अगर आपके लक्षण चार सप्ताह के बाद भी नहीं सुधरते या बदतर हो जाते हैं।

टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड को कैसे स्टोर करूं?

टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड को हमेशा रूम टेम्प्रेचर पर ही स्टोर करें। इसे धूप के सीधे संपर्क या नमी से दूर रखें। इस दवा के अलग-अलग ब्रांड हो सकते हैं जिनको स्टोर करने के दिशा-निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। स्टोर करने के लिए दवा के पैकेज पर लिखे हुए जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर, डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे न ही टॉयलेट में फ्लश करें और न ही नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

और पढ़ें : Estradiol : एस्ट्राडिओल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानियां और चेतावनी

टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

  • दवा लेने से पहले, अपने डॉक्टर को बताएं कि आपको टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड से एलर्जी है या नहीं या आपको कोई अन्य एलर्जी है। इस दवा में कुछ तत्व हो सकते हैं, जिससे एलर्जी या अन्य समस्याएं हो सकती हैं। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।
  • इस दवा का उपयोग करने से पहले, अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को अपनी मेडिकल हिस्ट्री बताएं, विशेष रूप से अगर आपको लो ब्लड-प्रेशर, आंखों की कुछ समस्याएं (मोतियाबिंद, ग्लूकोमा) हो।
  • दवा के इस्तेमाल से आपको चक्कर, सुस्ती या धुंधला दिखना जैसी समस्याएं हो सकती है। इसलिए दवा के उपयोग के बाद ड्राइव या मशीनरी कार्य न करें। इस दौरान मादक पेय पदार्थों को लेने से भी बचें।
  • सर्जरी (मोतियाबिंद का ऑपरेशन) होने से पहले, अपने डॉक्टर या डेंटिस्ट को बताएं कि आप इस दवा का सेवन कर रहे हैं या पहले दवा का उपयोग किया है। इसके साथ ही अन्य उपयोग किए जाने वाले उत्पादों के बारे में (जिनमें बिना प्रिस्क्रिप्शन या प्रिस्क्रिप्शन वाली दवाएं और हर्बल प्रोडक्ट्स भी शामिल हैं) भी बताएं।
  • ज्यादा उम्र के वयस्क इस दवा के दुष्प्रभावों के प्रति अधिक संवेदनशील हो सकते हैं। विशेषकर दवा के बाद सुस्ती जैसे लक्षण से गिरने का खतरा बढ़ सकता है।
  • जब आप इस दवा को ले रहे हों तो उपचार बंद करने के कम से कम छह महीने तक रक्त दान न करें।
और पढ़ें : Glimepiride : ग्लिमेपिराइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

[mc4wp_form id=’183492″]

जानिए इसके साइड इफेक्ट्स

टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड के दुष्प्रभाव क्या हैं?

  • दवा के उपयोग से चक्कर आना, घबराहट, सुस्ती, बहती नाक या नाक का भरा हुआ लगना, यौन समस्याएं (जैसे-सेक्स में अरुचि / क्षमता में कमी, शीघ्रपतन की समस्याएं, वीर्य / शुक्राणु की मात्रा में कमी), अंडकोष का दर्द / सूजन, स्तन का आकार बढ़ना या ब्रेस्ट का मुलायम होना आदि समस्याएं हो सकती हैं। इलाज बंद करने के बाद भी कुछ पुरुषों में यौन समस्याएं जारी रहती हैं। यदि इनमें से कोई भी प्रभाव लगातार बना रहता है या बिगड़ जाता है, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को तुरंत बताएं।
  • चक्कर आना या सिर चकराना जैसे दुष्प्रभावों को कम करने के लिए उठते समय धीरे-धीरे उठें।
  • डॉक्टर यह दवा आपके लिए तभी निर्धारित करते हैं जब उससे होने वाले लाभ साइड इफेक्ट्स से ज्यादा होते हैं। इस दवा का उपयोग करने वाले कई लोगों पर किसी तरह का कोई दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है।
  • अपने डॉक्टर को तुरंत बताएं यदि आपको कोई गंभीर दुष्प्रभाव जैसे-बेहोशी लगे।
  • शायद ही कभी, पुरुषों में चार घंटों या इससे अधिक समय तक दर्दनाक इरेक्शन हो सकता है। यदि ऐसा होता है, तो इस दवा का उपयोग तुरंत बंद कर दें और डॉक्टर से सहायता प्राप्त करें।
  • इस दवा से किसी प्रकार की गंभीर एलर्जी रिएक्शन कम ही होते हैं लेकिन, दाने, खुजली/सूजन (विशेषकर चेहरे/जीभ/गले पर), चक्कर आना, सांस लेने में परेशानी आदि लक्षण दिखाई दें तो डॉक्टर को तुरंत बताना चाहिए।
  • हालांकि, दवा का इस्तेमाल करने वाले सभी लोगों में ये लक्षण नजर आए ऐसा जरूरी नहीं है। कुछ साइड इफेक्ट्स ऐसे भी हैं, जिनके बारे में यहां पर नहीं बताया गया है। अगर आपको इससे होने वाले किसी भी तरह के साइड इफेक्ट को लेकर कोई सवाल है, तो आपने डॉक्टर से संपर्क करें
और पढ़ें : Mupirocin : मुपिरोसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इन जरूरी बातों को जानें

कौन-सी दवाएं टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

कुछ उत्पाद इस प्रोडक्ट के साथ रिएक्ट कर सकते हैं, जैसे-अन्य अल्फा ब्लॉकर ड्रग्स (जैसे -पेरोसोसिन, टेराजोसिन)।

यदि आप स्तंभन दोष (erectile dysfunction-ED) या पल्मोनरी हायपरटेंशन (जैसे-सिल्डेनाफिल, टैडालफिल) के इलाज के लिए दवा ले रहे हैं, तो आपका ब्लड प्रेशर बहुत कम हो सकता है जिससे चक्कर या बेहोशी हो सकती है। इस दुष्प्रभाव को कम करने के लिए डॉक्टर को आपकी दवाओं को समायोजित करने की आवश्यकता पड़ सकती है।

अन्य दवाएं इसके काम करने को प्रभावित कर सकती हैं। जैसे-एजोल एंटी-फंगल इट्राकोनाजोल, केटोकोनाजोल), बोसपर्विर, क्लीरिथ्रोमाइसिन, कैबोसिस्टैट, एचआईवी प्रोटीज इन्हिबिटर्स (जैसे लोपिनवीर, रिटोनावीर), राइबोसिक्लिब।

टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड के साथ अन्य दवा का इस्तेमाल रिएक्ट कर सकता है। किसी भी तरह के बुरे प्रभाव से बचने के लिए आपको उन सभी दवाओं की एक लिस्ट रखनी चाहिए जिनका आप उपयोग कर रहे हैं (जिसमें डॉक्टर के पर्चे वाली दवाएं, गैर-पर्चे वाली दवाएं और हर्बल प्रोडक्ट्स शामिल हैं) और इसे अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट को दिखाएं। अपनी सुरक्षा के लिए डॉक्टर की स्वीकृति के बिना किसी-भी दवा की खुराक को शुरू न करें, न ही दवा लेना बंद करें और न ही खुराक को बदलें।

और पढ़ें :  Hifenac P : हिफेनेक पी क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड का इस्तेमाल किया जा सकता है?

अगर किसी भी भोजन या एल्कोहॉल के साथ टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड का सेवन कर रहें हैं तो अपने डॉक्टर को इसके बारे में बताएं। कुछ मामलों में इसके परिणाम खतरनाक साबित हो सकते हैं।

टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड का इस्तेमाल सेहत के कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपनी मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Mayank Khandelwal


Shikha Patel द्वारा लिखित · अपडेटेड 30/09/2020

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement