आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Dog and heart health: घर में डॉग के होना क्या आपके दिल के लिए है अच्छा?

    Dog and heart health: घर में डॉग के होना क्या आपके दिल के लिए है अच्छा?

    कुत्ते यानी डॉग्स को मनुष्य का बेस्ट फ्रेंड माना जाता है। ऐसा भी माना जाता है कि यह सबसे वफादार जानवर है। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि एक लॉन्ग लाइफ के लिए भी डॉग्स बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं? यही नहीं, ऐसा भी पाया गया है कि डॉग अडॉप्ट करना मेंटल स्वास्थ्य और एंग्जायटी व अकेलेपन को दूर करने का एक बेहतरीन तरीका है। संक्षेप में कहा जाए तो घर में कुत्ते का होना अपने साथ खुशियां और हेल्थ ले कर आता है। आज हम बात करने वाले हैं डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health) के बारे में। डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health) के बीच के कनेक्शन के बारे में जाने विस्तार से।

    डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health): क्या है कनेक्शन जानिए?

    पालतू जानवरों के बारे में एक वंडरफुल बात यह है कि इससे हार्ट प्रॉब्लम के डेवलप होने का जोखिम कम हो सकता है। इसके साथ ही इससे आपको लम्बी और हैप्पी लाइफ जीने में मदद मिल सकती है। कई ऐसे तरीके हैं, जिनसे एक डॉग कम्पैनियन आपकी जीवनशैली को प्रभावित करके हार्ट हेल्थ (Heart health) को सुधार सकता है। डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health) के बीच में लिंक इस प्रकार है:

    और पढ़ें: लॉकडाउन में डॉग ट्रेनिंग कैसे करें, जानें आसान टिप्स

    डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health): एक्सरसाइज (Exercise)

    यह कोई सीक्रेट नहीं है कि एक एक्टिव जीवनशैली, बीमारी से बचने का एक लाभदायक तरीका है। अपने घर में एक डॉग लाकर आप अपनी रुटीन में एक्टिविटी लेवल को तुरंत बूस्ट कर सकते हैं। अगर आप एक डॉग के मालिक हैं, तो आप अपने डॉग को दिन में कुछ देर वॉक अवश्य कराएंगे। यानी, आप अन्य लोगों की तुलना में अधिक वॉक करेंगे। जिससे आपको संपूर्ण रूप से हेल्दी रहने में मदद मिलेगी, जिसमें हार्ट हेल्थ (Heart health) भी शामिल है।

    डॉग और हार्ट हेल्थ,Dog and heart health

    स्ट्रेस से रिलीफ मिलता है (Stress relief)

    स्टडीज यह भी बताती हैं कि अपने डॉग को पालने और उनके साथ कडलिंग करने से आपका हॉर्मोनल लेवल सही रहता है। इससे न केवल हमारा शरीर ऑक्सीटोसिन (Oxytocin) रिलीज करता है। बल्कि, इससे स्ट्रेस हॉर्मोन यानी कोर्टिसोल का लेवल भी ड्रॉप हो जाता है। यानी, आपको स्ट्रेस से आराम मिलता है। यह भी पाया गया है कि स्ट्रेस का सीधे तौर पर हार्ट पर असर होता है। एड्रेनालाईन-फ्यूलड, हॉर्मोन इंड्यूज्ड स्ट्रेस रिस्पांस से आप अनहेल्दी चीजों की तरफ आकर्षित हो सकते हैं जैसे स्मोकिंग, अधिक ड्रिंक करना या ओवरईटिंग आदि। इससे आपके हार्ट पर प्रभाव पड़ सकता है। ऐसे में इन चीजों से बचाव जरूरी है। डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health) के बारे में यह पॉइंट बेहद महत्वपूर्ण है

    और पढ़ें: गर्भावस्था में पालतू जानवर से हो सकती हैं ये बीमारियां, अगर नहीं बरतेंगे सावधानियां

    इम्यून रिस्पांस (Immune response)

    हालांकि, कुछ लोगों को डॉग पालने पर आंखों में खुजली और रनी नोज जैसी परेशानियां हो सकती है। लेकिन, रिसर्च यह बताती हैं आपका पेट अगर आपके पास हो, तो इससे आपका इम्यून सिस्टम बूस्ट हो सकता है। इम्यूनिटी बूस्ट होने से हार्ट हेल्थ (Heart health) भी सही रहती है। लेकिन, अगर आपको कुछ जानवरों से एलर्जी है, तो आप घर में पालतू जानवर रखने से बचें।

    डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health): बेहतर मूड (Better mood)

    डॉग न केवल आपके चेहरे पर स्माइल ले कर आते हैं, बल्कि आपके जीवन को एक नया मीनिंग भी दे सकते हैं। डॉग ऑनर आमतौर पर खुश रहते हैं और अन्य लोगों की तुलना में दूसरों पर अधिक भरोसा कर पाते हैं। डिप्रेशन और हार्ट डिजीज के बीच में गहरा संबंध है। यानी मूड अच्छा रहने और पॉजिटिव आउटलुक के कारण हार्ट पर शार्ट या लॉन्ग टर्म गुड इम्पेक्ट पड़ सकता है।

    और पढ़ें: बच्चों के लिए पेट्स: पालतू जानवरों को घर में लाने से पहले ध्यान रखें इन बातों का

    डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health): सोशल टाइम (Social time)

    अकेलेपन का आपके मानसिक, भावनात्मक और यहां तक कि आपके शारीरिक स्वास्थ्य पर भी प्रभाव पड़ सकता है। हाल के एक अध्ययन में पाया गया कि अकेलापन हार्ट पेशेंट में लो क्वालिटी लाइफस्टाइल से जुड़ा था। लेकिन, किसी एनिमल या डॉग की कंपनी में किसी का भी अकेलापन दूर हो सकता है, खासतौर पर अगर आप अकेले रहते हैं। यही नहीं, डॉग आपके लिए सोशल इंटरेक्शन का कारण बन सकता है। अपने कुत्ते के वॉक कराते हुए आपकी अन्य लोगों से कन्वर्सेशन और इंटरेक्शन होती है, जिससे आपको कम्युनिटी के साथ कनेक्ट होने में मदद मिलती है। यह तो थी जानकारी डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health) के बीच में कनेक्शन के बारे में। डॉग पालने के फायदे यहीं खत्म नहीं होते। इसके कुछ अन्य लाभ भी हैं, जैसे:

    और पढ़ें: इंसानों और जानवरों पर इस्तेमाल होने वाले मेडिकल डिवाइस अब ‘ड्रग्स’ की श्रेणी में

    डॉग के घर पर होने के अन्य लाभ क्या हैं?

    डॉग या किसी भी पालतू जानवर को घर में रखने से ऐसा माना जाता है कि घर के माहौल में एक पॉजिटिविटी आती है। इसके अन्य बहुत से फायदे हैं। अब जानिए इसके अन्य लाभों के बारे में:

    • स्टडीज बताती हैं कि डॉग ऑनर्स की नॉन-डॉग ऑनर्स की तुलना में उम्र अधिक होती है।
    • ऐसा माना जाता है कि डॉग ऑनर्स को नॉन-डॉग ऑनर्स हार्ट अटैक (Heart attack) और स्ट्रोक (Stroke) का जोखिम कम रहता है।
    • जो डॉग ऑनर्स जो रोजाना अपने डॉगी को वॉक कराते हैं, इनमें नॉन-डॉग ऑनर्स के मुकाबले डायबिटीज (Diabetes) का जोखिम एक तिहाई होता है
    • अगर आपके घर में डॉग है, तो समझ जाएं कि आपका बहुत जल्दी अपना वजन कम कर सकते हैं।
    • डॉग्स क्रॉनिक कंडिशंस (Chronic conditions) और डिजीज से बचाव में मदद कर सकते हैं।
    • डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health) के बारे में तो आप जान ही गए होंगे। अगर आप हार्ट डिजीज (Heart disease) या स्ट्रोक (Stroke) के शिकार हैं, तो डॉग ऑनर होने से आपको सोशल सपोर्ट पाने में मदद मिल सकती है।
    • ऐसा भी पाया गया है कि घर में पालतू जानवर होने से ब्लड प्रेशर लो रहने में मदद मिलती है।
    • डॉग्स के आसपास रहने से आपको हमेशा आराम महसूस होगा।

    डॉग और हार्ट हेल्थ,Dog and heart health

    और पढ़ें: जब घर में शिशु और पालतू जानवर दोनों हों तो किन-किन बातों का रखें ध्यान?

    उम्मीद है कि डॉग और हार्ट हेल्थ (Dog and heart health) के बारे में यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। जिन लोगों के घर में डॉग या अन्य पालतू जानवर हैं, वो इस बात को जरूर मानेंगे कि अपने डॉग की वजह से उनकी जिंदगी में बहुत से बदलाव आएं हैं। एक डॉग या पालतू जानवर आपको निस्वार्थ प्यार करता है। यही नहीं अगर आप अकेले रहते ,हैं तो यह आपके लिए बेहतरीन साथी भी साबित हो सकता है। डॉग में घर में होने के कई शारीरिक, भावनात्मक और मानसिक लाभ हैं। जिनमें से एक है हार्ट का हेल्दी रहना। अगर इस बारे में आपके मन में कोई भी सवाल है, तो डॉक्टर या एक्सपर्ट से इस बारे में अवश्य जानें। इसके साथ ही अपने डॉग या पालतू जानवर का भी पूरा ख्याल रखें।

    आप हमारे फेसबुक पेज पर भी अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    health-tool-icon

    टार्गेट हार्ट रेट कैल्क्यूलेटर

    जानें अपना साधारण और अधिकतम रेस्टिंग हार्ट रेट,आपकी उम्र और रोजाना एक्टिविटीज और अन्य एक्टिविटीज के दौरान प्राभावित होने वाली हार्ट रेट के बारे में।

    पुरुष

    महिला

    क्या आप खोज रहे हैं?

    आपकी रेस्टिंग हार्ट रेट क्या है? (बीपीएम)

    60

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    16 Science-Backed Reasons Adopting a Dog Could Be Good for Your Heart.https://www.heart.org/en/healthy-living/healthy-bond-for-life-pets/a-dog-could-be-good-for-your-heart .Accessed on 13/6/22

    The Friend Who Keeps You Young.https://www.hopkinsmedicine.org/health/wellness-and-prevention/the-friend-who-keeps-you-young .Accessed on 13/6/22

    How to Stay Healthy Around Pets.https://www.cdc.gov/healthypets/keeping-pets-and-people-healthy/how.html .Accessed on 13/6/22

    Why Having a Pet Can Boost Your Mood and Keep Your Brain Healthy.https://health.clevelandclinic.org/why-having-a-pet-of-any-kind-may-boost-your-mood-and-keep-your-brain-healthy/ .Accessed on 13/6/22

    Pet therapy: Animals as healers.https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/consumer-health/in-depth/pet-therapy/art-20046342 .Accessed on 13/6/22

    लेखक की तस्वीर badge
    AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 13/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: